प्यार में अक्सर लोग दूर क्यों हो जाते हैं क्यों एक-दूसरे से झगड़ना स्टार्ट कर देते हैं इसके क्या कारण हैं?...


user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि प्यार में अक्सर लोग दूर क्यों हो जाते हैं क्यों एक दूसरे से झगड़ना स्टार्ट कर देते हैं के क्या कारण हैं तो आपको बता दें कि झगड़े तो तभी शुरू होते हैं जब आप हद से ज्यादा किसी से प्यार करेंगे किसी का भरोसा करेंगे विश्वास करेंगे क्योंकि आप ही एक्सपेक्टेशन सामने वाले से ज्यादा बढ़ जाती हैं और जब आप चेक पर टेशन के हिसाब से सामने वाला आपकी उम्मीदों पर खरा नहीं उतरता है आपकी उम्मीद नहीं कर पाता उस समय आपको बुरा लगता है और आप फिर उस से झगड़ना शुरू करते हैं और कमेंट शुरू कर देते हैं और अक्सर इतने ज्यादा बढ़ जाते हैं कि लोगों के बीच दूरियां भी बढ़ जाती हैं आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद

aapka sawaal hai ki pyar mein aksar log dur kyon ho jaate hain kyon ek dusre se jhagdana start kar dete hain ke kya karan hain toh aapko bata de ki jhagde toh tabhi shuru hote hain jab aap had se zyada kisi se pyar karenge kisi ka bharosa karenge vishwas karenge kyonki aap hi expectation saamne waale se zyada badh jaati hain aur jab aap check par teshan ke hisab se saamne vala aapki ummidon par Khara nahi utarata hai aapki ummid nahi kar pata us samay aapko bura lagta hai aur aap phir us se jhagdana shuru karte hain aur comment shuru kar dete hain aur aksar itne zyada badh jaate hain ki logo ke beech duriyan bhi badh jaati hain aapka din shubha rahe dhanyavad

आपका सवाल है कि प्यार में अक्सर लोग दूर क्यों हो जाते हैं क्यों एक दूसरे से झगड़ना स्टार्ट

Romanized Version
Likes  256  Dislikes    views  3350
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

0:48

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जब हम किसी से प्यार करते हैं और अपना जो है अपना समय उन पर व्यतीत करते हैं उनकी ज्यादा केयर करते हैं तो वही है ना हमारी एक पिटीशन से शुरू हो जाती हैं कि आप अपने आप हमने आपको को टाइम दे रहे हैं प्यार दे रे हवा कुमार लिए करिए आपने ऐसा क्यों नहीं किया अब हमारे लिए ही करिए जा अगर एक्सपेक्टेशन जीना हो तो नहीं लड़ाई ना हो शायद वहां रिश्ता भी ना हो हम किसी किसी अनजान व्यक्ति से तभी गुस्सा थोड़ी होते हैं हम तुम्हीं से गुस्सा होते हैं जिनसे हम प्यार करते हैं और उसके बाद जब हमारी एक्सपेक्टेशन पूरी नहीं होती तो लड़ाई अभी शुरू हो जाती है तुमने ऐसा क्यों नहीं कहा आपने यह क्यों कहा तु मेरी क्यों नहीं किया मैंने तो सोचा था आप यह मेरे लिए करोगे

dekhie jab hum kisi se pyar karte hain aur apna jo hai apna samay un par vyatit karte hain unki zyada care karte hain toh wahi hai na hamari ek petetion se shuru ho jati hain ki aap apne aap humne aapko ko time de rahe hain pyar de ray hawa kumar liye kariye aapne aisa kyon nahi kiya ab hamare liye hi kariye ja agar expectation jeena ho toh nahi ladai na ho shayad wahan rishta bhi na ho hum kisi kisi anjaan vyakti se tabhi gussa thodi hote hain hum tumhin se gussa hote hain jinse hum pyar karte hain aur uske baad jab hamari expectation puri nahi hoti toh ladai abhi shuru ho jati hai tumne aisa kyon nahi kaha aapne yeh kyon kaha tu meri kyon nahi kiya maine toh socha tha aap yeh mere liye karoge

देखिए जब हम किसी से प्यार करते हैं और अपना जो है अपना समय उन पर व्यतीत करते हैं उनकी ज्याद

Romanized Version
Likes  690  Dislikes    views  8619
WhatsApp_icon
user
2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्यार में अक्सर लोग दूर हो जाते हैं उसके पीछे कई रीजन है और जब मैं यहां इस आंसर में सिर्फ बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड है हस्बैंड वाइफ के प्यार को नहीं ऑन एंड एवरेज कोई भी रिश्ता हो उसके बारे में डिस्कस करूंगी प्यार हमारा कम हो जाता है किसी भी रिश्ते में जब सबसे पहले हम फॉर ग्रांटेड लेने लगते हैं सामने वाले को कि यह तो है और जो हमें उसको वैल्यू देनी चाहिए जो तवज्जो देनी चाहिए हम वह नहीं देते दूसरा इनसिक्योरिटीज जब हम इन सिक्योर हो जाते हैं सामने वाले के साथ की वजह से यहां के हमारे अंदर हीन भावना आ जाती है तीसरा है एक्सपेक्टेशन एक्सपेक्टशंस बहुत जरूरी है किसी भी रिश्ते को बनाए रखने के लिए मगर जब एक्सपेक्टेशन ज्यादा बढ़ जाए हम तो बहुत गड़बड़ हो जाती है तो हमें इंक बैलेंस करके चलना चाहिए उसके बाद है जब हम दूसरे को समझना ही बंद कर देते हैं उसके उसके नजरिए से सोचना बंद कर देते हैं तब बहुत बड़ी दिक्कत होती है क्योंकि एक दूसरे को समझना बहुत जरूरी है वह किसी भी रिश्ते का पेड़ अगर किसी ने कुछ किया है तो उसके पीछे क्या वजह होगी हमें यह समझना है और वह सुबह से को उसके हालात को समझ कर हमें विश्वास कायम रखना है उसके ऊपर और उसके बाद आता है इगो इगो यानी कि हम जब हम अपने हमारा अहम हमारे प्यार से बड़ा हो जाता है तो कोई भी रिश्ता कर नहीं पचता तो इन सबको दूर कीजिए और एक खुशहाल जीवन बताइए अपने सभी प्यार वालों के साथ चाहे परिवार हो या कोई

pyar mein aksar log dur ho jaate hai uske peeche kai reason hai aur jab main yahan is answer mein sirf boyfriend girlfriend hai husband wife ke pyar ko nahi on end average koi bhi rishta ho uske bare mein disky karungi pyar hamara kam ho jata hai kisi bhi rishte mein jab sabse pehle hum for granted lene lagte hai saamne wale ko ki yeh toh hai aur jo humein usko value deni chahiye jo tavajjo deni chahiye hum wah nahi dete doosra inasikyoritij jab hum in secure ho jaate hai saamne wale ke saath ki wajah se yahan ke hamare andar heen bhavna aa jati hai teesra hai expectation eksapektashans bahut zaroori hai kisi bhi rishte ko banaye rakhne ke liye magar jab expectation zyada badh jaye hum toh bahut gadbad ho jati hai toh humein ink balance karke chalna chahiye uske baad hai jab hum dusre ko samajhna hi band kar dete hai uske uske nazariye se sochna band kar dete hai tab bahut baadi dikkat hoti hai kyonki ek dusre ko samajhna bahut zaroori hai wah kisi bhi rishte ka pedh agar kisi ne kuch kiya hai toh uske peeche kya wajah hogi humein yeh samajhna hai aur wah subah se ko uske haalaat ko samajh kar humein vishwas kayam rakhna hai uske upar aur uske baad aata hai ego ego yani ki hum jab hum apne hamara aham hamare pyar se bada ho jata hai toh koi bhi rishta kar nahi pachta toh in sabko dur kijiye aur ek khushahal jeevan bataiye apne sabhi pyar walon ke saath chahe parivar ho ya koi

प्यार में अक्सर लोग दूर हो जाते हैं उसके पीछे कई रीजन है और जब मैं यहां इस आंसर में सिर्फ

Romanized Version
Likes  111  Dislikes    views  1365
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!