जीरो सेशन होता क्या है प्लीज समझा?...


play
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चंदन जी आप ने सवाल पूछा है जीरो सेशन क्या होता है दरअसल यह जीरो आवर है यानी शून्य काल संसद में विपक्ष सरकार से सवाल पूछता है पर सवाल पूछ कर प्रशासन और सरकार के कार्यों पर नजर बनाए रखता है प्रश्न पूछने का मूल उद्देश्य आम आदमी से जुड़े महत्वपूर्ण मामलों पर जानकारी हासिल करना होता है संसद का सत्र शुरू होता है तो सबसे पहले प्रश्नकाल होता है प्रश्नकाल से संसद की कार्यवाही शुरु होती है प्रश्नकाल के लिए 11:00 से 12:00 बजे तक का समय निर्धारित होता है प्रश्नकाल के बाद शुरू होता है सुनने का क्योंकि 12:00 बजे के बाद शुरू होता है और 1:00 बजे तक किस जलता है संसद के नियमों में हल्की शून्य काल का कहीं कोई दिक्कत नहीं है दर्शन सुनने काल की परंपरा 1960 से 70 के बीच बिना अनुमति के या बिना पूर्व सूचना के लोक महत्व के विषय उठाने से भागने अखबारों ने इसे शून्यकाल का नाम दिया चुकी है दोपहर 12:00 बजे शुरू होता है इसलिए से शून्य काल का नया पैसे सुनने काल में उठने वाले प्रश्नों पर तुरंत कार्रवाई की अपेक्षा की जाती है

chandan ji aap ne sawaal poocha hai zero session kya hota hai darasal yah zero hour hai yani shunya kaal sansad mein vipaksh sarkar se sawaal poochta hai par sawaal puch kar prashasan aur sarkar ke karyo par nazar banaye rakhta hai prashna poochne ka mul uddeshya aam aadmi se jude mahatvapurna mamlon par jaankari hasil karna hota hai sansad ka satra shuru hota hai toh sabse pehle prashnakal hota hai prashnakal se sansad ki karyavahi shuru hoti hai prashnakal ke liye 11 00 se 12 00 baje tak ka samay nirdharit hota hai prashnakal ke baad shuru hota hai sunne ka kyonki 12 00 baje ke baad shuru hota hai aur 1 00 baje tak kis jalta hai sansad ke niyamon mein halki shunya kaal ka kahin koi dikkat nahi hai darshan sunne kaal ki parampara 1960 se 70 ke beech bina anumati ke ya bina purv soochna ke lok mahatva ke vishay uthane se bhagne akhbaron ne ise shunyakal ka naam diya chuki hai dopahar 12 00 baje shuru hota hai isliye se shunya kaal ka naya paise sunne kaal mein uthane waale prashnon par turant karyawahi ki apeksha ki jaati hai

चंदन जी आप ने सवाल पूछा है जीरो सेशन क्या होता है दरअसल यह जीरो आवर है यानी शून्य काल संसद

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जीरो सेशन क्या होता है पूछा है तो वह आखरी उससे वीरवार बोलते हैं या शून्यकाल भारतीय संसद के दोनों सदनों में प्रश्नकाल के बाद का समय शून्य काल होता है इसका समय 12:00 बजे से लेकर 1:00 बजे तक होता है दोपहर 12:00 बजे आरंभ होने के कारण इसे शून्य काल कहा जाता है शून्य काल का आरंभ 1961 के दशकों में हुआ जब बिना पूर्व सूचना के अभिलंब अन्य लोग महत्व के विषय उठाने की प्रथा विकसित हुई शून्य काल के समय उठाने वाले प्रश्नों पर संसद सदस्य तुरंत कार्यवाही चाहते हैं

aapne zero session kya hota hai poocha hai toh vaah aakhri usse virvar bolte hain ya shunyakal bharatiya sansad ke dono sadano mein prashnakal ke baad ka samay shunya kaal hota hai iska samay 12 00 baje se lekar 1 00 baje tak hota hai dopahar 12 00 baje aarambh hone ke karan ise shunya kaal kaha jata hai shunya kaal ka aarambh 1961 ke dashakon mein hua jab bina purv soochna ke abhilamb anya log mahatva ke vishay uthane ki pratha viksit hui shunya kaal ke samay uthane waale prashnon par sansad sadasya turant karyavahi chahte hain

आपने जीरो सेशन क्या होता है पूछा है तो वह आखरी उससे वीरवार बोलते हैं या शून्यकाल भारतीय सं

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  5
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
zero session meaning in hindi ; जीरो सेशन ; zero session kya hota hai ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!