बाबा रामदेव अब पतंजलि को बेचने के लिए विदेशी वित्त से चल र है ऑनलाइन विक्रेताओं का इस्तेमाल कर र है हैं। क्या आप इस कदम से सहमत हैं? क्यूं?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से यह तो बाबा रामदेव ने यह जो कदम उठाया है मेरे से बिल्कुल सहमत हूं क्योंकि अगर बाबा रामदेव पतंजलि को बेचने के लिए विदेशी मंत्र चल रहे हैं मतलब कि वह ऑनलाइन अश्लील कर रहे हैं तो इसमें कुछ गलत नहीं है इसमें अगर पतंजलि देखा जाए तो इसके जो पतंजलि जो कंपनी है जो बाबा रामदेव ने शुरू की थी इसके प्रोडक्ट साथी अच्छे होते हैं और इससे सब का बहुत ही ज्यादा फायदा होता है यह आदमी बहुत ही ज्यादा जैसा हमें सुनने में आता है कि यह तो बहुत ही सदुपयोग और लास्ट अक्षर होते हैं तो अगर बाबा रामदेव एक और टेक्निक अपना रहे हैं कि वह अपने अच्छे प्रोडक्ट को जो सबका फायदा ही कर रहे हैं इसको ज्यादा से ज्यादा कीजिए और उन लोगों का लोगों के काम में आ इ ई प्रोडक्ट तो इसमें कुछ बुरा नहीं है अगर उन्हें एक नया अगर उन्होंने एक नया कदम उठाया ही है तो क्योंकि वैसे देखा जाए तो आज कल का यूज़ है जो आजकल के लोग हैं वह ज्यादा ऑनलाइन शॉपिंग को है प्यार तेरा है जबकि ऑनलाइन शॉपिंग को ज्यादा प्रेजेंट दी जाती है उसकी वजह से हम जाकर कोई चीज खरीद के ले जाए क्योंकि ऑनलाइन शॉपिंग ही बता दे अब बहुत ज्यादा अपने अलग फायदे हैं हम उसे काट सेवन कर सकते हैं और बहुत ही ज्यादा ऑनलाइन पेमेंट करने के बहुत से तरीके हैं तुम एक बहुत ज्यादा कमी नहीं लगता है तो मेरे हिसाब से तो यह बाबा रामदेव ने पतंजलि को बेचने के लिए जुड़े नई-नई तकनीक अपनाई है इस कदम से बिल्कुल सहमत हूं

mere hisab se yah toh baba ramdev ne yah jo kadam uthaya hai mere se bilkul sahmat hoon kyonki agar baba ramdev patanjali ko bechne ke liye videshi mantra chal rahe hain matlab ki vaah online ashleel kar rahe hain toh isme kuch galat nahi hai isme agar patanjali dekha jaaye toh iske jo patanjali jo company hai jo baba ramdev ne shuru ki thi iske product sathi acche hote hain aur isse sab ka bahut hi zyada fayda hota hai yah aadmi bahut hi zyada jaisa hamein sunne mein aata hai ki yah toh bahut hi sadupyog aur last akshar hote hain toh agar baba ramdev ek aur technique apna rahe hain ki vaah apne acche product ko jo sabka fayda hi kar rahe hain isko zyada se zyada kijiye aur un logo ka logo ke kaam mein aa e ee product toh isme kuch bura nahi hai agar unhe ek naya agar unhone ek naya kadam uthaya hi hai toh kyonki waise dekha jaaye toh aaj kal ka use hai jo aajkal ke log hain vaah zyada online shopping ko hai pyar tera hai jabki online shopping ko zyada present di jaati hai uski wajah se hum jaakar koi cheez kharid ke le jaaye kyonki online shopping hi bata de ab bahut zyada apne alag fayde hum use kaat seven kar sakte hain aur bahut hi zyada online payment karne ke bahut se tarike hain tum ek bahut zyada kami nahi lagta hai toh mere hisab se toh yah baba ramdev ne patanjali ko bechne ke liye jude nayi nayi taknik apnai hai is kadam se bilkul sahmat hoon

मेरे हिसाब से यह तो बाबा रामदेव ने यह जो कदम उठाया है मेरे से बिल्कुल सहमत हूं क्योंकि अगर

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  131
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!