क्या जल्लीकट्टू पशु अधिकारों का उल्लंघन है?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चलिए सबसे पहले तो हम यह जानते हैं कि चली कार्टून होता क्या है चलेगा 21 फेस्टिवल है यह लोकेशन है जो तमिलनाडु में मनाया जाता है जिसमें जिसमें होता है क्या है जो बोल सकते हैं उसके लिए सादा ग्राउंड में बहुत ही ज्यादा किसमें ज्यादा लोग होते हैं और उसमें होता क्या है कि जो लोग होते हैं वफा करने की कोशिश करते हैं उन्हें टीम करने की कोशिश करते हैं कि मेरे और उन्हें उनके साथ खेलने की कोशिश करते हैं तो इसमें मैं यह नहीं कह सकते कि जल्दी खाटू स्पेशल है वह पशु अधिकारों का उल्लंघन है जी नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि अगर मैं भूलना सिर्फ खेल ही रहे हैं उन्हें बिना कोई हानि नहीं पहुंचा है तो इसमें कुछ पशु के अधिकारों का उल्लंघन नहीं थे कभी उनको कभी उससे पूछ कर देंगे कभी उनकी जो बोल कर दो और सींग होते हैं कभी उसके चीर देंगे कभी उसके साथ मेरे भागने की कोशिश करेंगे कपिल से लड़ेंगे तो यह मस्ती होती है फेस्टिवल होता है तो इसमें कुछ गलत नहीं है और इस पर पशुओं के अधिकारों का उल्लंघन तो फिर कोई भी नहीं है

chaliye sabse pehle toh hum yah jante hain ki chali cartoon hota kya hai chalega 21 festival hai yah location hai jo tamil nadu mein manaya jata hai jisme jisme hota hai kya hai jo bol sakte hain uske liye saada ground mein bahut hi zyada kisme zyada log hote hain aur usme hota kya hai ki jo log hote hain wafa karne ki koshish karte hain unhe team karne ki koshish karte hain ki mere aur unhe unke saath khelne ki koshish karte hain toh isme main yah nahi keh sakte ki jaldi khatoo special hai vaah pashu adhikaaro ka ullanghan hai ji nahi aisa bilkul nahi hai kyonki agar main bhoolna sirf khel hi rahe hain unhe bina koi hani nahi pohcha hai toh isme kuch pashu ke adhikaaro ka ullanghan nahi the kabhi unko kabhi usse puch kar denge kabhi unki jo bol kar do aur sing hote hain kabhi uske chir denge kabhi uske saath mere bhagne ki koshish karenge kapil se ladenge toh yah masti hoti hai festival hota hai toh isme kuch galat nahi hai aur is par pashuo ke adhikaaro ka ullanghan toh phir koi bhi nahi hai

चलिए सबसे पहले तो हम यह जानते हैं कि चली कार्टून होता क्या है चलेगा 21 फेस्टिवल है यह लोके

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  148
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!