क्या जल्लीकट्टू पशु अधिकारों का उल्लंघन है?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चलिए सबसे पहले तो हम यह जानते हैं कि चली कार्टून होता क्या है चलेगा 21 फेस्टिवल है यह लोकेशन है जो तमिलनाडु में मनाया जाता है जिसमें जिसमें होता है क्या है जो बोल सकते हैं उसके लिए सादा ग्राउंड में बहुत ही ज्यादा किसमें ज्यादा लोग होते हैं और उसमें होता क्या है कि जो लोग होते हैं वफा करने की कोशिश करते हैं उन्हें टीम करने की कोशिश करते हैं कि मेरे और उन्हें उनके साथ खेलने की कोशिश करते हैं तो इसमें मैं यह नहीं कह सकते कि जल्दी खाटू स्पेशल है वह पशु अधिकारों का उल्लंघन है जी नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि अगर मैं भूलना सिर्फ खेल ही रहे हैं उन्हें बिना कोई हानि नहीं पहुंचा है तो इसमें कुछ पशु के अधिकारों का उल्लंघन नहीं थे कभी उनको कभी उससे पूछ कर देंगे कभी उनकी जो बोल कर दो और सींग होते हैं कभी उसके चीर देंगे कभी उसके साथ मेरे भागने की कोशिश करेंगे कपिल से लड़ेंगे तो यह मस्ती होती है फेस्टिवल होता है तो इसमें कुछ गलत नहीं है और इस पर पशुओं के अधिकारों का उल्लंघन तो फिर कोई भी नहीं है

chaliye sabse pehle toh hum yah jante hain ki chali cartoon hota kya hai chalega 21 festival hai yah location hai jo tamil nadu mein manaya jata hai jisme jisme hota hai kya hai jo bol sakte hain uske liye saada ground mein bahut hi zyada kisme zyada log hote hain aur usme hota kya hai ki jo log hote hain wafa karne ki koshish karte hain unhe team karne ki koshish karte hain ki mere aur unhe unke saath khelne ki koshish karte hain toh isme main yah nahi keh sakte ki jaldi khatoo special hai vaah pashu adhikaaro ka ullanghan hai ji nahi aisa bilkul nahi hai kyonki agar main bhoolna sirf khel hi rahe hain unhe bina koi hani nahi pohcha hai toh isme kuch pashu ke adhikaaro ka ullanghan nahi the kabhi unko kabhi usse puch kar denge kabhi unki jo bol kar do aur sing hote hain kabhi uske chir denge kabhi uske saath mere bhagne ki koshish karenge kapil se ladenge toh yah masti hoti hai festival hota hai toh isme kuch galat nahi hai aur is par pashuo ke adhikaaro ka ullanghan toh phir koi bhi nahi hai

चलिए सबसे पहले तो हम यह जानते हैं कि चली कार्टून होता क्या है चलेगा 21 फेस्टिवल है यह लोके

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

PK सबसे पहले तो जानिए कि जलीकट्टू है क्या अखिलेश में क्या होता है कि बहुत सारे सांडू को छोड़ दिया जाता है और बहुत सारे लोगों को भी और स्थान किसे के ऊपर जो कपड़ा बंद होता है वह खोलना होता और जो भी व्यक्ति हूं से खुलता है उससे अलग अलग तरह के पुरस्कार मिलते हैं 3 साल पहले कानून ने जलीकट्टू के ऊपर रोक लगा दी गई थी लेकिन पर तमिलनाडु में सरकार ने उन से अनुरोध किया कि यह सिर्फ खेल नहीं है उनके लिए यह उनका रिलिजन है तो इस पर रोक नहीं लगाई जाए तो इस बार 14 से 16 जनवरी तक 24 बड़े और 200 साल छोटे आयोजन हुए 3 दिन में राज्य में करीब 25000 साल और 100000 प्रतियोगियों ने हिस्सा लिया और जो और जो अजब टीसीएम है उन्होंने जलीकट्टू को हरी झंडी दिखाई देता है जो एनिमल लाइफ के लिए काम करता है वह जलीकट्टू का विरोध करता है हमेशा से उनके कोडिंग इसके अंदर बोल के साथ शुरू होती है उनके साथ गलत व्यवहार होता है और उन्हें बाद में प्लॉट कैसे जाता है या नहीं क्यों ने बाद में उनकी कुर्बानी दे दी जाती है दूसरा यह बात है कि इसके ऊपर सट्टा लगता है बताओ सट्टा तो निकल ही गलत है तो वह भी गलत चीज है एक और किसने बुल्स को ना बहुत परेशान करा दे आदत मैंने पढ़ा है जितना रिसर्च में नहीं किया है कि जो बोलते उनको 6 महीने उनके खूब खातेदारी की जाती है लेकिन अभी की एक किस्त अब जो भी खेल खेल रहे हैं तो लोगों के साथ सद्गुरु को भी तो चोट लगेगी ना उन्हें भी तो परेशानी होगी तो इस तरह से यह जो खेल है मेरे मुताबिक तो यह एनिमल लाइफ के अगेंस्ट है क्योंकि किसी भी जानवर को सिर्फ अपने एंटरटेनमेंट के लिए प्रपोज के लिए यूज करना अपने फायदे के लिए उस करना वह गलत ही है चाहे वह फिर खेल हो या कुछ और

PK sabse pehle toh janiye ki jalikattu hai kya akhilesh mein kya hota hai ki bahut saare sandu ko chod diya jata hai aur bahut saare logo ko bhi aur sthan kise ke upar jo kapda band hota hai vaah kholna hota aur jo bhi vyakti hoon se khulta hai usse alag alag tarah ke puraskar milte hain 3 saal pehle kanoon ne jalikattu ke upar rok laga di gayi thi lekin par tamil nadu mein sarkar ne un se anurodh kiya ki yah sirf khel nahi hai unke liye yah unka religion hai toh is par rok nahi lagayi jaaye toh is baar 14 se 16 january tak 24 bade aur 200 saal chote aayojan hue 3 din mein rajya mein kareeb 25000 saal aur 100000 pratiyogiyon ne hissa liya aur jo aur jo ajab TCM hai unhone jalikattu ko hari jhandi dikhai deta hai jo animal life ke liye kaam karta hai vaah jalikattu ka virodh karta hai hamesha se unke coding iske andar bol ke saath shuru hoti hai unke saath galat vyavhar hota hai aur unhe baad mein plot kaise jata hai ya nahi kyon ne baad mein unki kurbani de di jaati hai doosra yah baat hai ki iske upar satta lagta hai batao satta toh nikal hi galat hai toh vaah bhi galat cheez hai ek aur kisne bulls ko na bahut pareshan kara de aadat maine padha hai jitna research mein nahi kiya hai ki jo bolte unko 6 mahine unke khoob khatedari ki jaati hai lekin abhi ki ek kist ab jo bhi khel khel rahe hain toh logo ke saath sadguru ko bhi toh chot lagegi na unhe bhi toh pareshani hogi toh is tarah se yah jo khel hai mere mutabik toh yah animal life ke against hai kyonki kisi bhi janwar ko sirf apne Entertainment ke liye propose ke liye use karna apne fayde ke liye us karna vaah galat hi hai chahen vaah phir khel ho ya kuch aur

PK सबसे पहले तो जानिए कि जलीकट्टू है क्या अखिलेश में क्या होता है कि बहुत सारे सांडू को छो

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

Sameer Tripathy

Political Critic

1:58
Play

Likes  1  Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!