अमोल पालेकर ने ऐसी क्या टिप्पणी कि जिससे आर्ट गैलरी में उनका भाषण रोका गया?...


play
user

Bhuvi Jain

Engineer, Educator, Writer

1:52

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट एनजीएमए दिल्ली में 8 फरवरी 2019 को प्रभाकर 12 वि नाम के विनोद आर्टिस्ट के पेंटिंग एग्जीबिशन लगाई गई थी अमोल पालेकर जो कि ना सिर्फ एक फिल्म एक्टर डायरेक्टर के नाम से मशहूर है एक नामी आर्टिस्ट भी है अब एनजीएमए गवर्नमेंट ऑर्गेनाइजेशन है अमोल पालेकर ने अपनी स्पीच स्पीच में यह कहा कि बैठक में आने डिसाइड किया है कि शो पार्टिकुलर शो जो है यह एनजीएमए का लास्ट ऐसा शो होगा जिस में 8 दिन आर्टिस्ट क्यूरेट करेंगे यानी पेंटिंग्स को चुनकर एक्जीबिट करेंगे आर्टिस्ट खुद नवंबर अट्ठारह की मीटिंग में डिसाइड किया गया था कि अब से आर्टिस्ट एडवाइजरी कमेटी को स्क्रैप किया जाएगा रद्द किया जाएगा और गवर्नमेंट के नियुक्त लोग डिसाइड करेंगे कि कौन से आठ का प्रदर्शन किया जाना चाहिए और कैसे इस बात पर जैसल जी जो कि एनजीएमए की क्यूरेटर थी उन्होंने हमें अमोल पालेकर को अपनी बात कहने से मना करा दो कारों का और उन्हें यह कहा कि मैं 8:30 तक अपनी बात सीमित रखें और यह सब बातों के बारे में बात ना करें पालेकर जी को अपमान इस तरह से किया क्या कभी चीज़ के इसमें ऐसे बोलने से रोका जाता है क्या पालिका ने यह कहा किया अपमान वैसा ही है जैसे नयनतारा सहगल को ऑल इंडिया मराठी लेटर ई मीट में ना आने का आदेश मिला था वह बहुत प्रसिद्ध एक मराठी राइटर है जो की जवाहर लाल नेहरू की जांच करते हैं अब लेटेस्ट डेवलपमेंट किए हैं कि गवर्नमेंट ने आश्वासन दिया है कि कोई कमेटी डिटॉल नहीं होगी जैसे चल रही है वैसे चलेगी अमोल पालेकर की शायद जीत हो गई है इसमें

national gallery of modern art NGMA delhi mein 8 february 2019 ko prabhakar 12 we naam ke vinod artist ke painting exhibition lagayi gayi thi amol palekar jo ki na sirf ek film actor director ke naam se mashoor hai ek nami artist bhi hai ab NGMA government organization hai amol palekar ne apni speech speech mein yeh kaha ki baithak mein aane decide kiya hai ki show particular show jo hai yeh NGMA ka last aisa show hoga jis mein 8 din artist kyuret karenge yani Paintings ko chunkar ekjibit karenge artist khud november attharah ki meeting mein decide kiya gaya tha ki ab se artist advisory committee ko scrap kiya jayega radd kiya jayega aur government ke niyukt log decide karenge ki kaunsi aath ka pradarshan kiya jana chahiye aur kaise is baat par jaisal ji jo ki NGMA ki curator thi unhone humein amol palekar ko apni baat kehne se mana kara do kaaron ka aur unhein yeh kaha ki main 8:30 tak apni baat simith rakhen aur yeh sab baaton ke bare mein baat na karein palekar ji ko apman is tarah se kiya kya kabhi cheez ke ismein aise bolne se roka jata hai kya palika ne yeh kaha kiya apman waisa hi hai jaise nayantara sahgal ko all india marathi letter ee meat mein na aane ka aadesh mila tha wah bahut prasiddh ek marathi writer hai jo ki jawahar laal nehru ki jaanch karte hain ab latest development kiye hain ki government ne aashvaasan diya hai ki koi committee dettol nahi hogi jaise chal rahi hai waise chalegi amol palekar ki shayad jeet ho gayi hai ismein

नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट एनजीएमए दिल्ली में 8 फरवरी 2019 को प्रभाकर 12 वि नाम के विनोद आ

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1397
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!