क्या प्राणायाम से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार हो सकता है?...


user

Ajay Tiwari

Yoga Trainer

0:37
Play

Likes  57  Dislikes    views  630
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Prem Shankar

Yoga Expert

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बात कर सकते हैं वह करते हैं उसके बाद हम करते हैं मटकी फोड़ते हैं एकदम कपालभाति होती हॉस्पिटल में भर्ती है उसका पानी पूरा पूरा

ek baat kar sakte hain vaah karte hain uske baad hum karte hain mataki fodte hain ekdam kapalbhati hoti hospital mein bharti hai uska paani pura pura

एक बात कर सकते हैं वह करते हैं उसके बाद हम करते हैं मटकी फोड़ते हैं एकदम कपालभाति होती हॉस

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Pintu Bhagat

physical Trainer

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बन्नी के लिए सबसे पहले जो होता है कि आप पहले कुछ सहयोग करें पहले आप किसी ट्रेन के अंदर में आपको योगा अभ्यास करें जब आप खुद से आसन और युवा की जो पाठ से उसको करने में सफल होते हैं उसके बाद उस चढ़ी करिए उसके बारे में ठीक है थोड़ी सी फिजिकल नॉलेज होने चाहिए थोड़ी बॉडी एंड टोनी को पढ़ना चाहिए कि आश्रम आश्रम करने से क्या महत्व है जिनको करना चाहिए किन को नहीं करना चाहिए इसके बाद विस्तृत जानकारी हासिल करनी चाहिए उसके विषय में

bani ke liye sabse pehle jo hota hai ki aap pehle kuch sahyog karen pehle aap kisi train ke andar mein aapko yoga abhyas karen jab aap khud se aasan aur yuva ki jo path se usko karne mein safal hote hain uske baad us chadhi kariye uske bare mein theek hai thodi si physical knowledge hone chahiye thodi body and toni ko padhna chahiye ki aashram aashram karne se kya mahatva hai jinako karna chahiye kin ko nahi karna chahiye iske baad vistrit jaankari hasil karni chahiye uske vishay mein

बन्नी के लिए सबसे पहले जो होता है कि आप पहले कुछ सहयोग करें पहले आप किसी ट्रेन के अंदर में

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

Gyanchand Soni

Yoga Instructor.

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अनुलोम विलोम प्राणायाम जो होता है जितने भी प्राणायाम होते हैं हमारे लिए काफी लाभदायक होते हैं अगर ज्यादा प्रणाम नहीं करें तो दो प्रणब तो हमें अवश्य करना चाहिए एक बुक अनुलोम विलोम और दाम भी बनाया धीरे धीरे करना सही को मंद गति के साथ आपका दिन शुभ रहे

anulom vilom pranayaam jo hota hai jitne bhi pranayaam hote hain hamare liye kaafi labhdayak hote hain agar zyada pranam nahi kare toh do pranab toh hamein avashya karna chahiye ek book anulom vilom aur daam bhi banaya dhire dhire karna sahi ko mand gati ke saath aapka din shubha rahe

अनुलोम विलोम प्राणायाम जो होता है जितने भी प्राणायाम होते हैं हमारे लिए काफी लाभदायक होते

Romanized Version
Likes  241  Dislikes    views  1690
WhatsApp_icon
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है क्या प्राणायाम से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार हो सकता है इसका उत्तर है जी हां प्राणायाम करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता हमारी बढ़ जाती है अगर एक घंटा दो घंटा योग योग प्रतिरोधक क्षमता इतनी अधिक बढ़ जाएगी या कोई बीमारी किसी बीमारी का प्रभाव आपके ऊपर बिल्कुल पड़ेगा करे योग रहे निरोग

prashna hai kya pranayaam se logo ki pratiraksha me sudhaar ho sakta hai iska uttar hai ji haan pranayaam karne se rog pratirodhak kshamta hamari badh jaati hai agar ek ghanta do ghanta yog yog pratirodhak kshamta itni adhik badh jayegi ya koi bimari kisi bimari ka prabhav aapke upar bilkul padega kare yog rahe nirog

प्रश्न है क्या प्राणायाम से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार हो सकता है इसका उत्तर है जी हां

Romanized Version
Likes  98  Dislikes    views  1596
WhatsApp_icon
Likes  32  Dislikes    views  1116
WhatsApp_icon
user

Neelam Chauhan

Yoga Teacher

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या प्रणब से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार हो सकता है जहां हंड्रेड परसेंट सुधार होता है प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत बनता है रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है तो जरूर प्रणाम करें अनुलोम विलोम कपालभाति भस्त्रिका सूर्यभेदी प्राणायाम जरूर शामिल करें और अपने प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करें

kya pranab se logo ki pratiraksha me sudhaar ho sakta hai jaha hundred percent sudhaar hota hai pratiraksha tantra majboot banta hai rog pratirodhak kshamta badhti hai toh zaroor pranam kare anulom vilom kapalbhati bhastrika suryabhedi pranayaam zaroor shaamil kare aur apne pratiraksha tantra ko majboot kare

क्या प्रणब से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार हो सकता है जहां हंड्रेड परसेंट सुधार होता है प

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  289
WhatsApp_icon
user
0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार प्राणायाम लोगों की प्रतिरक्षा में बिल्कुल सुधार कर सकता है इसमें आप से पढ़े और सांस लेने की प्रक्रिया शामिल करेंगे तो मांस पेशियां स्वस्थ और मजबूत और सक्षम बन जाएंगी फेफड़ों की क्षमता मतलब लंच कैपेसिटी और शोषण क्षमता मतलब बाइटल कैपेसिटी बढ़ेगी प्राणायाम के अभ्यास के दौरान विविध दबाव जो होते हैं तरह-तरह से और जो परिवर्तन होते हैं उससे आपके इंटर पार्ट पर की क्षमता बढ़ेगी उसमें मॉलिश हो जाएगी और यह जो है प्राणायाम जवाब करेंगे तो आप के अभ्यास से रक्त की ऑक्सीजन सोच सोखने की क्षमता जो है वह बढ़ेगी तो इससे आपका रक्त जो है ज्यादा स्वस्थ होगा तो वह जब स्वस्थ होगा तो आपके मस्तिष्क और महत्वपूर्ण अंग जो है वह भी करेंगे तो इससे आप की प्रतिरक्षा हंड्रेड 1% बढ़ेगी धन्यवाद

namaskar pranayaam logo ki pratiraksha me bilkul sudhaar kar sakta hai isme aap se padhe aur saans lene ki prakriya shaamil karenge toh maas peshiyan swasth aur majboot aur saksham ban jayegi phephadon ki kshamta matlab lunch capacity aur shoshan kshamta matlab baital capacity badhegi pranayaam ke abhyas ke dauran vividh dabaav jo hote hain tarah tarah se aur jo parivartan hote hain usse aapke inter part par ki kshamta badhegi usme malish ho jayegi aur yah jo hai pranayaam jawab karenge toh aap ke abhyas se rakt ki oxygen soch sokhne ki kshamta jo hai vaah badhegi toh isse aapka rakt jo hai zyada swasth hoga toh vaah jab swasth hoga toh aapke mastishk aur mahatvapurna ang jo hai vaah bhi karenge toh isse aap ki pratiraksha hundred 1 badhegi dhanyavad

नमस्कार प्राणायाम लोगों की प्रतिरक्षा में बिल्कुल सुधार कर सकता है इसमें आप से पढ़े और सां

Romanized Version
Likes  105  Dislikes    views  933
WhatsApp_icon
play
user

Dr. Kartik Kumar

Yoga Instructor

0:43

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निश्चित रूप से करता है आप कम से कम 1 महीना प्राणायाम करें एक महीना नहीं करें उससे आपको पता चलेगा क्या टाइमिंग पावर क्या है खुद निर्णय ले सकेंगे इसमें किसी को बताने की जरूरत नहीं है एक महीना प्राणायाम से जीवन को स्टार्ट राशि एक महीना ब्लॉक कर दीजिए फिर देखिए बहुत सुंदर लाल तो आपको पता लगेगा कि हमें प्रणाम करना चाहिए या नहीं करना चाहिए हमको क्या बेनिफिट बताएगा नाड़ी शोधन प्राणायाम भाभी प्रणाम दो परिणामों को लेकर चर्चा कर देखिए आपको सही लगता है कि कोई ऊर्जा उनको रहे जो हम तो आपको रहा था उसको रहे

nishchit roop se karta hai aap kam se kam 1 mahina pranayaam karen ek mahina nahi karen usse aapko pata chalega kya timing power kya hai khud nirnay le sakenge isme kisi ko batane ki zaroorat nahi hai ek mahina pranayaam se jeevan ko start rashi ek mahina block kar dijiye phir dekhiye bahut sundar lal toh aapko pata lagega ki hamein pranam karna chahiye ya nahi karna chahiye hamko kya benefit batayega naadi sodhan pranayaam bhabhi pranam do parinamon ko lekar charcha kar dekhiye aapko sahi lagta hai ki koi urja unko rahe jo hum toh aapko raha tha usko rahe

निश्चित रूप से करता है आप कम से कम 1 महीना प्राणायाम करें एक महीना नहीं करें उससे आपको पता

Romanized Version
Likes  119  Dislikes    views  2524
WhatsApp_icon
user

Rajesh Yogi

Yogacharya in Shivyoga Chandigarh

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रणाम प्रणाम का मतलब के गद्दारों को आया आया जो मतलब प्राणों को जो जीत सके जो प्राणों को अपने बस में कंट्रोल में कर सके आमजन नॉरमल ब्रेकिंग लेते हैं तो वह केवल केवल स्वार्थ होती है क्या होती है आपकी जाति कौन रोते हैं प्राण प्राण प्राण हो जाते हमारे जितने भी प्रणाम करने से प्राणायाम करने से हमारी जुबान है वह स्टोन होना शुरू हो जाते हैं उनमें कल के जाने लगता है तो पूरा नाम एक अलग आयाम है जो मैं पूरी क्योंकि जब बॉडी के अंदर सबसे ज्यादा एनर्जी हमें हवा और पानी से मिलती है तो इसलिए प्राणायाम करने का उपाय प्राणायाम का है जो मजबूत होंगे उतना ही अच्छा पॉजिटिव कुछ भी प्राण की रामायण के अलग मेहता है योग में जो आसन के बाद में प्राणायाम का जो पड़ सकता है वही प्राणायाम उसको बोलते हैं

pranam pranam ka matlab ke gaddaaron ko aaya aaya jo matlab pranon ko jo jeet sake jo pranon ko apne bus mein control mein kar sake aamjan normal breaking lete hain toh vaah keval keval swartha hoti hai kya hoti hai aapki jati kaun rothe hain praan praan praan ho jaate hamare jitne bhi pranam karne se pranayaam karne se hamari jubaan hai vaah stones hona shuru ho jaate hain unmen kal ke jaane lagta hai toh pura naam ek alag aayam hai jo main puri kyonki jab body ke andar sabse zyada energy hamein hawa aur paani se milti hai toh isliye pranayaam karne ka upay pranayaam ka hai jo mazboot honge utana hi accha positive kuch bhi praan ki ramayana ke alag mehta hai yog mein jo aasan ke baad mein pranayaam ka jo pad sakta hai wahi pranayaam usko bolte hain

प्रणाम प्रणाम का मतलब के गद्दारों को आया आया जो मतलब प्राणों को जो जीत सके जो प्राणों को अ

Romanized Version
Likes  80  Dislikes    views  1385
WhatsApp_icon
user

Princy Sonik

Yoga Instructor

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल बतानी हम आपकी पूरी बॉडी पर एक डालता है सारे आपके इंटरनल ऑर्गन से जुड़ी हैं लार्ज इंटेस्टाइन लीवर किडनी फंक्शन सफर करते हैं क्योंकि आपकी पूरी बॉडी जो है वह किस बिल्डिंग से नामली एनिमल फंक्शन का डांस होता है वह पाठ एक्टिवेट विलोम कपालभाति कर रहे हैं काम कर रहे हैं यह सब करते हैं तो उसे कैसे लगाते हैं तो आपका और बढ़ता है तो आप कुछ कर रहे हैं पोलूशन इतना है आप बिना मां के किसी चीज के बाहर नहीं जा रहे हैं और अगर ब्लीडिंग पढ़ रहे हैं तो आपको कोई प्रॉब्लम नहीं होगी प्रॉब्लम नहीं आएगी

bilkul batani hum aapki puri body par ek dalta hai saare aapke internal organ se judi hain large intestine liver KIDNEY function safar karte hain kyonki aapki puri body jo hai vaah kis building se namli animal function ka dance hota hai vaah path activate vilom kapalbhati kar rahe hain kaam kar rahe hain yah sab karte hain toh use kaise lagate hain toh aapka aur badhta hai toh aap kuch kar rahe hain pollution itna hai aap bina maa ke kisi cheez ke bahar nahi ja rahe hain aur agar bleeding padh rahe hain toh aapko koi problem nahi hogi problem nahi aaegi

बिल्कुल बतानी हम आपकी पूरी बॉडी पर एक डालता है सारे आपके इंटरनल ऑर्गन से जुड़ी हैं लार्ज इ

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  957
WhatsApp_icon
user

Manoj Kumar Gudsele

Yoga Instructor

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राण ही जो है वह सभी चीजों को चलाएं मान रखता है तो प्राण पर नियंत्रण यानी कि आपके शरीर और मन पर नियंत्रण हमारे हठयोग में 1 लोग चले बातम चले सिस्टम ने चलमने चले भवेत् प्राण के चालान होने से ही मन चलाएं मानवता है अगर आपने प्राण पर नियंत्रण कर लिया तो मन भी नियंत्रण हो जाता है और 96% डिसीसेस जो है साइकोसोमेटिक होती है नहीं कि मन से ही वह आती हैं तो यदि आप प्राण पर नियंत्रण कर रहे हैं वह मन पर नियंत्रण कर रहे हैं तो अपने 90% डिफ्यूजर्स पर नियंत्रण कर रहे हैं तो यह प्राणायाम का अर्थ और उसका महत्व और उसके लाभ हैं

praan hi jo hai vaah sabhi chijon ko chalaye maan rakhta hai toh praan par niyantran yani ki aapke sharir aur man par niyantran hamare hathyog mein 1 log chale batam chale system ne chalmane chale bhavet praan ke chalan hone se hi man chalaye manavta hai agar aapne praan par niyantran kar liya toh man bhi niyantran ho jata hai aur 96 disises jo hai saikosometik hoti hai nahi ki man se hi vaah aati hain toh yadi aap praan par niyantran kar rahe hain vaah man par niyantran kar rahe hain toh apne 90 diffusers par niyantran kar rahe hain toh yah pranayaam ka arth aur uska mahatva aur uske labh hain

प्राण ही जो है वह सभी चीजों को चलाएं मान रखता है तो प्राण पर नियंत्रण यानी कि आपके शरीर और

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  333
WhatsApp_icon
user

Tajendra Singh Bawal

Yoga Instructor

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा कोई जिंदा है प्राण वायु ले रहा है इसलिए किसी भी मनुष्य का कोई अपडेट नहीं है यदि प्राण वायु का पर रूप से लेता है तो उसका शरीर का अंतिम टिशु ऑर्गन तक ऑक्सीजन पहुंचती है और ब्लड ब्लड सरकुलेशन पूरे शरीर में फैलता है प्राणायाम विभाग फिजिकल एक्सरसाइज करते हैं उनको अच्छे रूप से खरीदें पहुंचाना अभियंता शरीर में भेजना यह प्राणायाम के अंतर्गत होता है प्राणायाम से ही सीखता है कि उस जो पास में इतनी लंबी लेना चाहिए प्राण लेगा अंदर तक भरेगा उसको इतना ज्यादा फायदा होगा

bahut accha koi zinda hai praan vayu le raha hai isliye kisi bhi manushya ka koi update nahi hai yadi praan vayu ka par roop se leta hai toh uska sharir ka antim tissue organ tak oxygen pahunchati hai aur blood blood Circulation poore sharir mein failata hai pranayaam vibhag physical exercise karte hain unko acche roop se khariden pahunchana abhiyanta sharir mein bhejna yeh pranayaam ke antargat hota hai pranayaam se hi sikhata hai ki us jo paas mein itni lambi lena chahiye praan lega andar tak bharega usko itna zyada fayda hoga

बहुत अच्छा कोई जिंदा है प्राण वायु ले रहा है इसलिए किसी भी मनुष्य का कोई अपडेट नहीं है यदि

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  662
WhatsApp_icon
user

Meena Thakkar

Yoga Trainer

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं तो हंस बोल दो ना कि 14 साल में मैंने कैंसर और किडनी के रोग भी अच्छे किए हैं तीसरे और चौथे एशेज वाले कैंसर वालों को भी मैंने अच्छा किया जो अभी आया था 10 साल से अच्छे खासे घूम रहे हैं शर्त इतनी है कि प्राणायाम हमेशा और करना ही है रोग ठीक हो जाने के बाद छोड़ नहीं देना है उसे अभी फिर जीवन में हमेशा करोगे तो हमेशा निरोगी और स्वस्थ रह सकते कोई भी दो प्राणायाम से जा सकता है मैंने सफेद दाग तक निकाल निकाले हैं छोटे बड़े लोग तो काफी 248 15 दिन में निकल जाते हैं लेकिन खाए रोड है बीपी है शुगर है क्या नष्ट हो गए तो पेट में कुछ वायु के कोई तकलीफ है या फिर क्यों रहते हैं सफेद दाग है कैंसर के 20 शब्द रूप में यह प्राणायाम खास करके कपालभाति और अनुलोम विलोम काम आता है वोटों के अनुसार दिन में दो बार के पीला करना चाहिए जैसे बताते हैं कि कैंसिल है तो उसको पूरे दिन में कपालभाति रुक रुक के आने वह बहुत बिजी रहते हैं उनको भी देखती रहती है इसलिए उनको हम बताते हैं थोड़ी थोड़ी देर में आप पाच पाच मिनट तक नहीं उठाते कपालभाति पूरे दिन में एक घंटा करो पूरे दिन में एक घंटा अनुलोम-विलोम करो तो वह तीन से चार ज्यादा से ज्यादा 5 मिनट हो जाते हैं पूरा उनका रिपोर्ट नॉर्मल हो जाता है

main toh hans bol do na ki 14 saal mein maine cancer aur KIDNEY ke rog bhi acche kiye hain teesre aur chauthe Ashes wale cancer walon ko bhi maine accha kiya jo abhi aaya tha 10 saal se acche khase ghum rahe hain sart itni hai ki pranayaam hamesha aur karna hi hai rog theek ho jaane ke baad chhod nahi dena hai use abhi phir jeevan mein hamesha karoge toh hamesha nirogee aur swasth reh sakte koi bhi do pranayaam se ja sakta hai maine safed daag tak nikaal nikale hain chhote bade log toh kafi 248 15 din mein nikal jaate hain lekin khaye road hai BP hai sugar hai kya nasht ho gaye toh pet mein kuch vayu ke koi takleef hai ya phir kyon rehte hain safed daag hai cancer ke 20 shabd roop mein yeh pranayaam khas karke kapalbhati aur anulom vilom kaam aata hai voton ke anusaar din mein do baar ke peela karna chahiye jaise batatey hain ki cancel hai toh usko poore din mein kapalbhati ruk ruk ke aane wah bahut busy rehte hain unko bhi dekhti rehti hai isliye unko hum batatey hain thodi thodi der mein aap paanch paanch minute tak nahi uthate kapalbhati poore din mein ek ghanta karo poore din mein ek ghanta anulom vilom karo toh wah teen se char zyada se zyada 5 minute ho jaate hain pura unka report normal ho jata hai

मैं तो हंस बोल दो ना कि 14 साल में मैंने कैंसर और किडनी के रोग भी अच्छे किए हैं तीसरे और च

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  825
WhatsApp_icon
user

Ashutosh Mishra

Yoga Instructor

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राणायामा शटल जैसे हम सब एक बॉडी होती है फिजिकल बॉडी बोलते हैं दूसरी होती है पानी बॉडी बॉडी बॉडी सिस्टम है तो प्राणायाम के द्वारा इम्यून सिस्टम बढ़ता है क्योंकि हमारे शरीर में हड़ताल जारी है पूर्णिया में कैसे करते समय जो एनर्जी सप्लाई होती है ऑडिशन लेवल से सप्लाई होती ब्लड ब्लड में सप्लाई होती है विष्णु इमेज सिस्टम और एनर्जी दोनों को बैलेंस करता है

pranayama shatal jaise hum sab ek body hoti hai physical body bolte hain dusri hoti hai paani body body body system hai toh pranayaam ke dwara immune system badhta hai kyonki hamare sharir mein hartal jaari hai purniya mein kaise karte samay jo energy supply hoti hai audition level se supply hoti blood blood mein supply hoti hai vishnu image system aur energy dono ko balance karta hai

प्राणायामा शटल जैसे हम सब एक बॉडी होती है फिजिकल बॉडी बोलते हैं दूसरी होती है पानी बॉडी बॉ

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  318
WhatsApp_icon
user

Akhil

Yoga Expert

2:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राणायाम से क्या होता है हम तो शरीर में कौन सी असली सास को लेते हैं और छोड़ते हैं हमारा जो योग है और ध्यान है सभी अवनीश पर डिपेंड है इतना ज्यादा हम काम कर रहे हैं जो कि सामान्य से राहुल को ध्यान नहीं है सांस में तू उसको उतना बेनिफिट नहीं मिलेगा बजे उसके अगर कोई इंसान अगर नस के साथ साथ साथ ले रहा है जितनी क्या जाति थी कॉन्शियसली हम जो भी काम करते हैं उसमें हम ज्यादा अच्छे से कर पाते हैं उसके रिजल्ट अच्छे आते नहीं चाहिए योग में है हम अगर अवेंजर्स के साथ काम करते हैं तो यह हमारा पोस्ट पर पड़ जाए तो पढ़ने में क्या है हम श्वास कॉन्शियसली अंदर लेते हैं हमारा ध्यान स्वस्थ रहता है अंदर जाने में और बाहर जाने पर उसको अगर हम अपने शरीर के साथ जोड़ते हैं और सांस लेने के साथ-साथ अपने शरीर का ध्यान लेकर आते हैं तो हम किसी भी अंग में अगर प्राण की सप्लाई नहीं हो रही है तू उससे प्राण की सप्लाई कर सकते हैं कि रिटर्न भी प्राण को कम कमजोर है शरीर में उसके कारण इन सिस्टम कमजोर होता है तो हम रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए कुछ भी भी शरीर के अंग पर अपना ध्यान लेकर वहां पर विश्वास को केंद्रित करेंगे तो वह श्रीकांत सशक्त हो जाता है तो यह मेरे मन को सॉन्ग करता है क्योंकि मन प्राण और बॉडी तीनों एक चीज तीनों एक दूसरे से कनेक्टेड है तो अवेंजर्स जितना हमारा स्वास्थ्य मंत्री बॉडी पर रहता है उतना ज्यादा हमारा लाभ मिलता है म्यूजिक कनेक्शन का है क्योंकि माइंडबॉडी और व्रत कनेक्टेड है हम ब्रेड को ठीक करते हैं तो बॉडी पर उतना पहुंचने पर पड़ता है तो पेट को रेगुलेट करने से और फोकस करने से हमारा बॉडी पर इम्यून सिस्टम भी अच्छा हो सकता है

pranayaam se kya hota hai hum toh sharir mein kaun si asli saas ko lete hain aur chodte hain hamara jo yog hai aur dhyan hai sabhi avnish par depend hai itna zyada hum kaam kar rahe hain jo ki samanya se rahul ko dhyan nahi hai saans mein tu usko utana benefit nahi milega baje uske agar koi insaan agar nas ke saath saath saath le raha hai jitni kya jati thi kanshiyasali hum jo bhi kaam karte hain usmein hum zyada acche se kar paate hain uske result acche aate nahi chahiye yog mein hai hum agar avengers ke saath kaam karte hain toh yah hamara post par pad jaaye toh padhne mein kya hai hum swas kanshiyasali andar lete hain hamara dhyan swasth rehta hai andar jaane mein aur bahar jaane par usko agar hum apne sharir ke saath jodte hain aur saans lene ke saath saath apne sharir ka dhyan lekar aate hain toh hum kisi bhi ang mein agar praan ki supply nahi ho rahi hai tu usse praan ki supply kar sakte hain ki return bhi praan ko kam kamjor hai sharir mein uske karan in system kamjor hota hai toh hum rog pratirodhak kshamta ko badhane ke liye kuch bhi bhi sharir ke ang par apna dhyan lekar wahan par vishwas ko kendrit karenge toh vaah shreekant sashakt ho jata hai toh yah mere man ko song karta hai kyonki man praan aur body teenon ek cheez teenon ek dusre se connected hai toh avengers jitna hamara swasthya mantri body par rehta hai utana zyada hamara labh milta hai music connection ka hai kyonki maindabadi aur vrat connected hai hum bread ko theek karte hain toh body par utana pahuchne par padta hai toh pet ko regulate karne se aur focus karne se hamara body par immune system bhi accha ho sakta hai

प्राणायाम से क्या होता है हम तो शरीर में कौन सी असली सास को लेते हैं और छोड़ते हैं हमारा ज

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user

Sushil Ranakoti

Yoga Expert

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखा जा सका पिनियंस चमके बात बोल रही है प्रतिरोधक क्षमता शरीर की मीटिंग है क्या कहते हैं हमसे नहीं सुधरेगा प्रणब केवल आप की प्राप्ति करवाता है शरीर की पूरी बॉडी की हिस्सों में प्राणायाम के थ्रू आप अपनी जान देते हो जलन पड़ जाता है और लंच के बाद खाटू से कम प्लाट के पास जाते हो ब्लड की शुरुआत उसे पंप पूरे शरीर में पहुंचा दें तो शायद के द्वारा ऑक्सीजन पूरी बॉडी में पहुंचे और प्राणायाम ऑक्सीजन पहुंचाने में बहुत बड़ी बेहतर बेहतर टेक्निक मेरे साथ से हमारा खाना अच्छा नहीं है आज की डेट में खाना अच्छा नहीं किसी पेस्टिसाइड खाने में मिलाया जा रहा है लेकिन अभी आना आज हमें प्राप्त हो रहे हैं उसमें लाई जा रहे हैं मगर बोते हैं तो उसको अगर हम उसे जो भी हमें पापा का मिलता है या उसके जो भी में बीज मिलते हैं वह दोबारा ही पौधा बनाने में सक्षम नहीं है तो कहीं ना कहीं जिस तरह से ब्रेट कर दिया है ना प्लांट को या अनाथो उसमें प्रॉब्लम करते हैं तो आपके लिए जो आपका प्रतिरोधक क्षमता है उसको हटाने में तो मेरे साथ खाना खाते हैं तो यहां पर ही आपको और आयुर्वेद की जरूरत थी कि आयुर्वेद क्या तारीख आना अच्छा खाई है और आप लोगों से दूर रहेंगे तो खाना इतना प्रयोग दो प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है ना कि आपका प्राणायाम प्राणायाम से शरीर को अच्छे से ऑक्सीजन प्राप्ति करवाता है

dekha ja saka chamke baat bol rahi hai pratirodhak kshamta sharir ki meeting hai kya kehte hain humse nahi sudhrega pranab keval aap ki prapti karwata hai sharir ki puri body ki hisson mein pranayaam ke through aap apni jaan dete ho jalan pad jata hai aur lunch ke baad khatoo se kam plot ke paas jaate ho blood ki shuruaat use pump poore sharir mein pahuncha dein toh shayad ke dwara oxygen puri body mein pahuche aur pranayaam oxygen pahunchane mein bahut badi behtar behtar technique mere saath se hamara khana accha nahi hai aaj ki date mein khana accha nahi kisi pesticide khane mein milaya ja raha hai lekin abhi aana aaj hamein prapt ho rahe hain usmein lai ja rahe hain magar bote hain toh usko agar hum use jo bhi hamein papa ka milta hai ya uske jo bhi mein beej milte hain vaah dobara hi paudha banaane mein saksham nahi hai toh kahin na kahin jis tarah se brett kar diya hai na plant ko ya anatho usmein problem karte hain toh aapke liye jo aapka pratirodhak kshamta hai usko hatane mein toh mere saath khana khate hain toh yahan par hi aapko aur ayurveda ki zaroorat thi ki ayurveda kya tarikh aana accha khai hai aur aap logon se dur rahenge toh khana itna prayog do pratirodhak kshamta badhata hai na ki aapka pranayaam pranayaam se sharir ko acche se oxygen prapti karwata hai

देखा जा सका पिनियंस चमके बात बोल रही है प्रतिरोधक क्षमता शरीर की मीटिंग है क्या कहते हैं ह

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
user
1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्लेन करना चाहिए प्रतिकारक क्षमता बढ़ती है कि संसार में एक ऐसी विद्या है जिसके द्वारा आप शारीरिक ऊर्जा को सबसे ज्यादा बढ़ा सकते हैं हमारे ऋषि ने दिखाया था कि काम करते सुपर पावरफुल बन सकते हैं हम करते हैं उसमें ज्यादा काम करने के लायक बन जाती है उन्हें एक से नहीं मिलती है एक ज्यादा कार्य करने के लिए हम सभी पर बहुत पॉजिटेड प्रभाव पड़ता है जिसमें न्यून पावर भी जो हमारी प्रतिरोधक क्षमता है उसमें बहुत इंक्रीमेंट जाता है जैसे हमारा नाड़ी शोधन प्राणायाम हुआ अल्टरनेट 9 सेटिंग कहते हैं हम करते हैं तो हमारे रोग होने की नहीं हम बिल्कुल स्वस्थ रहते हैं मेरे अनुसार जितने भी लोग हैं वह हमारे जो सांस लेने की प्रक्रिया है उसको चेंज करते हैं परिवर्तित करते हैं जैसे बुखार चढ़ता है तो ज्यादा तेज चलने लगता जुखाम होता तो साथ सबसे ज्यादा हो जाता है तो जितने भी लोग हैं वो लोग हमारी सांस लेने को चेंज कर देते हैं और प्रणाम करते हैं जब हम चेंज कर देते हैं तो जितने भी लोग हैं वह सारे शरीर से बाहर निकल जाते हैं प्रणाम करने

plane karna chahiye pratikarak kshamta badhti hai ki sansar mein ek aisi vidya hai jiske dwara aap sharirik urja ko sabse zyada badha sakte hain hamare rishi ne dikhaya tha ki kaam karte super powerful ban sakte hain hum karte hain usmein zyada kaam karne ke layak ban jaati hai unhe ek se nahi milti hai ek zyada karya karne ke liye hum sabhi par bahut pajited prabhav padta hai jisme nyun power bhi jo hamari pratirodhak kshamta hai usmein bahut increment jata hai jaise hamara naadi sodhan pranayaam hua altaranet 9 setting kehte hain hum karte hain toh hamare rog hone ki nahi hum bilkul swasth rehte hain mere anusaar jitne bhi log hain vaah hamare jo saans lene ki prakriya hai usko change karte hain parivartit karte hain jaise bukhar chadhta hai toh zyada tez chalne lagta jukham hota toh saath sabse zyada ho jata hai toh jitne bhi log hain vo log hamari saans lene ko change kar dete hain aur pranam karte hain jab hum change kar dete hain toh jitne bhi log hain vaah saare sharir se bahar nikal jaate hain pranam karne

प्लेन करना चाहिए प्रतिकारक क्षमता बढ़ती है कि संसार में एक ऐसी विद्या है जिसके द्वारा आप श

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या परिणाम से ही लोगों की प्रतीक्षा में सुधार हो सकता है देखिए आपका क्वेश्चन बिल्कुल सही है और प्रणाम उसी के लिए खड़े आम का उत्पादन हुआ भाई पातंजल ने किया जो आपको ऐसा क्यों हो रहा है बिल्कुल प्रतिरक्षा ही करता है प्रणब कोई और औचित्य नहीं है और बिल्कुल प्रतिरक्षा की पद्धति है और सुधार तो छोड़ दीजिए बिल्कुल उसमें चार चांद लगा देगा प्रणाम मैं आप को डरने की जरूरत नहीं है प्रणाम इसीलिए कराया भी जाता है योग के योग के अंतर्गत पहले बाद में बीच में कभी भी प्रणाम जरूर लोगों को कर आना ही पड़ता है लोगों को क्योंकि उसमें प्रतिरक्षा क्षमता होती है उसमें सुधार होता है इसलिए आपको मेड आउट करने की जरूरत नहीं है बिल्कुल सुधार होता है धन्यवाद

aapka sawaal hai kya parinam se hi logon ki pratiksha mein sudhaar ho sakta hai dekhiye aapka question bilkul sahi hai aur pranam usi ke liye khade aam ka utpadan hua bhai patanjal ne kiya jo aapko aisa kyon ho raha hai bilkul pratiraksha hi karta hai pranab koi aur auchitya nahi hai aur bilkul pratiraksha ki paddhatee hai aur sudhaar toh chhod dijiye bilkul usmein char chand laga dega pranam main aap ko darane ki zaroorat nahi hai pranam isliye karaya bhi jata hai yog ke yog ke antargat pehle baad mein beech mein kabhi bhi pranam zaroor logon ko kar aana hi padta hai logon ko kyonki usmein pratiraksha kshamta hoti hai usmein sudhaar hota hai isliye aapko made out karne ki zaroorat nahi hai bilkul sudhaar hota hai dhanyavad

आपका सवाल है क्या परिणाम से ही लोगों की प्रतीक्षा में सुधार हो सकता है देखिए आपका क्वेश्चन

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  1210
WhatsApp_icon
user

Rohan Shroff

Yoga Expert

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल कर सकते हैं प्राणायाम ब्रीडिंग स्मार्ट प्राणायाम पहले तो यह समझना है का नाम का मतलब है कि जो एनर्जी है बॉडी में उसको रेगुलेट करना है इसको बैलेंस करता है तो हमारा जो मानसिक क्या कहते हैं क्या सिटी है या मानसिक स्टेट है उसको हम बैलेंस कर सकते हैं क्योंकि ग्रीटिंग कार्ड का सीधा कनेक्शन है आपके माइंड से तो अगर हम प्रणाम करते हैं और बैलेंस नहीं है मगर करते हैं सिंपल नाड़ी शोधन अनुलोम विलोम अगर करते हैं दोस्ती यह सारी चीज है यह जो प्राणों की तकलीफ है हाइपरटेंशन एसिडिटी ब्लड प्रेशर कंट्रोल हो सकते हैं एक्सरसाइज दिखाए गए हैं जो ही जनरेट करते हैं यह आग को नियंत्रित करते हैं यह सारे कुछ रीजन की वजह से बनाए गए यह रोज अगर हम क्या सूर्य धड़क-धड़क करो हमारी बोर्डिंग करता है उसको बाहर निकलते हैं प्राणायाम की वजह से हम इन सारी चीजों से अपने आप को बचा सकते हैं आजकल तो दिल्ली में हो रहा है जितना सलूशन है अगर हम प्राणायाम करेंगे आपको जाना है मस्त में करना है नहीं करना है तो नहीं हो रहे आप हमेशा काम माइंड में है और जब माइंड काम होता है तो डिसीजन भी सही ले सकता है

bilkul kar sakte hain pranayaam Breeding smart pranayaam pehle toh yah samajhna hai ka naam ka matlab hai ki jo energy hai body mein usko regulate karna hai isko balance karta hai toh hamara jo mansik kya kehte hain kya city hai ya mansik state hai usko hum balance kar sakte hain kyonki Greeting card ka seedha connection hai aapke mind se toh agar hum pranam karte hain aur balance nahi hai magar karte hain simple naadi sodhan anulom vilom agar karte hain dosti yah saree cheez hai yah jo pranon ki takleef hai hypertension acidity blood pressure control ho sakte hain exercise dekhiye gaye hain jo hi generate karte hain yah aag ko niyantrit karte hain yah saare kuch reason ki wajah se banaye gaye yah roj agar hum kya surya dhadak dhadak karo hamari boarding karta hai usko bahar nikalte hain pranayaam ki wajah se hum in saree chijon se apne aap ko bacha sakte hain aajkal toh delhi mein ho raha hai jitna salution hai agar hum pranayaam karenge aapko jana hai mast mein karna hai nahi karna hai toh nahi ho rahe aap hamesha kaam mind mein hai aur jab mind kaam hota hai toh decision bhi sahi le sakta hai

बिल्कुल कर सकते हैं प्राणायाम ब्रीडिंग स्मार्ट प्राणायाम पहले तो यह समझना है का नाम का मतल

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user

Dr Shruti Raut

Yoga Trainer

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इन नेटिव बहुत सारे फैक्टर से बढ़ती है उसमें सेट पर आना है मैं जरूरी नहीं कि मैं ऐसा नहीं बोल सकती कि सिर्फ प्राणायाम करने से आपके इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ-साथ आपको बाकी के सेक्टर उसको भी ध्यान देना पड़ेगा एग्जांपल अगर कोई श्वास श्वास में अस्थमा का पेशेंट है तो मैं उसको ऐसा नहीं उस कमेंट करता हूं सिर्फ आप प्रेम करो तो आप काफी बढ़ जाएगी आपको उसके साथ आपके मेडिसिंस आपका डाइट चकिया की न्यूट्रिशन इस सब का भी ध्यान रखना पड़ेगा अपने सिर पर आना है मैं एक चीज नहीं है यूनिटी बढ़ाने के लिए उसके साथ बाकी के फैक्टर इंपॉर्टेंट है लेकिन इंपॉर्टेंट फेक्टर इन डेवलपिंग

in native bahut saare factor se badhti hai usmein set par aana hai main zaroori nahi ki main aisa nahi bol sakti ki sirf pranayaam karne se aapke immunity badhane ke saath saath aapko baki ke sector usko bhi dhyan dena padega example agar koi swas swas mein asthama ka patient hai toh main usko aisa nahi us comment karta hoon sirf aap prem karo toh aap kafi badh jayegi aapko uske saath aapke medisins aapka diet chakkiyan ki nutrition is sab ka bhi dhyan rakhna padega apne sir par aana hai main ek cheez nahi hai unity badhane ke liye uske saath baki ke factor important hai lekin important fektar in developing

इन नेटिव बहुत सारे फैक्टर से बढ़ती है उसमें सेट पर आना है मैं जरूरी नहीं कि मैं ऐसा नहीं ब

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes

Physiotherapist and Yoga therapist

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रणाम इम्यून सिस्टम को प्रभावित करता है इसमें दो राय नहीं है उन्हें अनेकों प्रकार के होते हैं और सत्य चरण प्रणाम है लोम विलोम योग काफी प्रचलित सभी लोगों के बीच और इसके अलावा कौन है नाम है सुरेंद्र भाई प्रणाम जितने भी प्रणाम हैं आपके इम्यून सिस्टम को डिवेलप करता है जागृत करता है और आप को स्वस्थ रखने में दर्द होता है लेकिन अगर हम लोग की भाषा में हमने तो प्रणाम प्रणाम के अनेकों प्रकार जितने महत्वपूर्ण प्रणाम आप अगर करेंगे तो इनसे आपका न्यू नरोदा

pranam immune system ko prabhavit karta hai ismein do rai nahi hai unhein anekon prakar ke hote hain aur satya charan pranam hai lom vilom yog kafi prachalit sabhi logon ke beech aur iske alava kaun hai naam hai surendra bhai pranam jitne bhi pranam hain aapke immune system ko develop karta hai jaagarrit karta hai aur aap ko swasth rakhne mein dard hota hai lekin agar hum log ki bhasha mein humne toh pranam pranam ke anekon prakar jitne mahatvapurna pranam aap agar karenge toh inse aapka new naroda

प्रणाम इम्यून सिस्टम को प्रभावित करता है इसमें दो राय नहीं है उन्हें अनेकों प्रकार के होते

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  608
WhatsApp_icon
user

xyz

nothing

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां प्रणाम से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार होता है मन शांत होता है बिना निया कम से कम होती है आनंद का अनुभव होता है सारा शरीर में एलर्जी होती है सारे शरीर के सर्च को प्राप्त पर ऑक्सीजन मिलती है जिससे सभी होता है

ji haan pranam se logon ki pratiraksha mein sudhaar hota hai man shaant hota hai bina niya kam se kam hoti hai anand ka anubhav hota hai saara sharir mein allergy hoti hai saare sharir ke search ko prapt par oxygen milti hai jisse sabhi hota hai

जी हां प्रणाम से लोगों की प्रतिरक्षा में सुधार होता है मन शांत होता है बिना निया कम से कम

Romanized Version
Likes  134  Dislikes    views  1919
WhatsApp_icon
user

Sri Gurudev

Yoga & Meditation Guru

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पुराने मैंने पहले भी जैसे बताया कि श्वास ऑक्सीजन बहुत जरूरी है और जितना भी प्राणायाम है प्राणायाम सांस का आना अंदर पास इतना भी तर जाएगा वर्जन जितना भी कर जाएगा हमारे पेट तक ना अभी तक उतनी ही ज्यादा हमारी बॉडी में मेडिसिन इंटरनेट होगी मेडिसिन कौन थी जो हमारी बॉडी के बीमारियों से लड़ती है हमारा इम्यून सिस्टम स्ट्रांग कर दिया हम करेंगे उतना ज्यादा ऑक्सीजन लेंगे इतना ज्यादा हो

purane maine pehle bhi jaise bataya ki swas oxygen bahut zaroori hai aur jitna bhi pranayaam hai pranayaam saans ka aana andar paas itna bhi tar jaega version jitna bhi kar jaega hamare pet tak na abhi tak utani hi zyada hamari body mein medicine internet hogi medicine kaun thi jo hamari body ke bimariyon se ladati hai hamara immune system strong kar diya hum karenge utana zyada oxygen lenge itna zyada ho

पुराने मैंने पहले भी जैसे बताया कि श्वास ऑक्सीजन बहुत जरूरी है और जितना भी प्राणायाम है प्

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  476
WhatsApp_icon
user

Kamal Kumar

Owner of Fitness Point

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन सबसे पहले तो जब हो हम तो स्कूल के बंदर बच्चा आता है तो उनको हम एबीसी लगाते हैं कि कहीं और क्लास के ऐसे योगा के आसन होते हैं जो शुरू से सपा से चलते हैं उनको एक ही प्रश्न बताया जाता है उसको उसकी तकलीफ के बारे में बताते पर बताया जाता है तो कैसे रखना हाथ कैसे रखना साफ कैसे छोड़ दिए जैसे-जैसे उम्र बढ़ता जा रहा है उसके बारे में बताते हैं

lekin sabse pehle toh jab ho hum toh school ke bandar baccha aata hai toh unko hum ABC lagate hain ki kahin aur class ke aise yoga ke aasan hote hain jo shuru se sapa se chalte hain unko ek hi prashna bataya jata hai usko uski takleef ke bare mein batatey par bataya jata hai toh kaise rakhna hath kaise rakhna saaf kaise chhod diye jaise jaise umr badhta ja raha hai uske bare mein batatey hain

लेकिन सबसे पहले तो जब हो हम तो स्कूल के बंदर बच्चा आता है तो उनको हम एबीसी लगाते हैं कि कह

Romanized Version
Likes  73  Dislikes    views  1326
WhatsApp_icon
user

Honey

Yoga Trainer

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राणायाम से आप हर चीज एक ऐसी चीज है जो आपकी बॉडी में 99% काम करता है आपके घर आपका डाइजेस्टिव सिस्टम पर काम करेंगे उतनी आपकी बॉडी काम करें

pranayaam se aap har cheez ek aisi cheez hai jo aapki body mein 99% kaam karta hai aapke ghar aapka digestive system par kaam karenge utani aapki body kaam karein

प्राणायाम से आप हर चीज एक ऐसी चीज है जो आपकी बॉडी में 99% काम करता है आपके घर आपका डाइजेस्

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  622
WhatsApp_icon
user
0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जान सकते हैं प्रणब से माइग्रेन प्रणब से हर एक बीमारी प्रणब से हमारे सर दर्द ट्रेन के नाम पर एक ट्वीट किया है हमने प्रणाली माइग्रेन की पत्ती के फायदे

jaan sakte hain pranab se Migraine pranab se har ek bimari pranab se hamare sar dard train ke naam par ek tweet kiya hai humne pranali Migraine ki patti ke fayde

जान सकते हैं प्रणब से माइग्रेन प्रणब से हर एक बीमारी प्रणब से हमारे सर दर्द ट्रेन के नाम प

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  661
WhatsApp_icon
user

Ved Prakash Gupta

Yoga Instructor

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसके द्वारा संचालित अच्छे से कितनी तारीख की पड़ेगी और किसी भी काम को करने के लिए ग्राम प्रधान कितने प्रकार के होते हैं

iske dwara sanchalit acche se kitni tarikh ki padegi aur kisi bhi kaam ko karne ke liye gram pradhan kitne prakar ke hote hain

इसके द्वारा संचालित अच्छे से कितनी तारीख की पड़ेगी और किसी भी काम को करने के लिए ग्राम प्र

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  578
WhatsApp_icon
user

Deepak Rajoriya

Yoga Instructor

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां तो प्रतिकारक शक्ति में प्राणायाम सिद्धू की सभा में प्रारंभिक स्तर के माध्यम से समझ पाते प्राण का आयामों की चर्चा करते हुए छात्रों को प्रेरित करते हुए करते करते हुए हम लंबे जीवन की ओर अग्रसर रहते हैं जो आंतरिक आपके लिए संसाधन है और जो हार गए और गए हैं आप उनको डिलीट कर पाते हैं और प्राणायाम से आप अपने बिजनेस को आप की कसम खिला बाप ने क्यों उसको बीच को आप कंट्रोल कर सकते हैं और लोंग ने कोशिश की जा सकते

haan toh pratikarak shakti mein pranayaam sidhu ki sabha mein prarambhik sthar ke maadhyam se samajh paate praan ka aayamon ki charcha karte hue chhatro ko prerit karte hue karte karte hue hum lambe jeevan ki aur agrasar rehte hain jo aantarik aapke liye sansadhan hai aur jo haar gaye aur gaye hain aap unko delete kar paate hain aur pranayaam se aap apne business ko aap ki kasam kila baap ne kyon usko beech ko aap control kar sakte hain aur long ne koshish ki ja sakte

हां तो प्रतिकारक शक्ति में प्राणायाम सिद्धू की सभा में प्रारंभिक स्तर के माध्यम से समझ पात

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  665
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिल्कुल यूनिटी पावर का सीधा सीधा संबंध आप के लंच बॉक्स कंपनी वर्क करते हो गई बुखार हो गया है तो जवाब तो प्राणायाम जवाब याद करते हैं तो आप की नीति पूछ होती है और उसकी वजह से आपकी तेरे को रोका तो मैटिक चली जाती

ji haan bilkul unity power ka seedha seedha sambandh aap ke lunch box company work karte ho gayi bukhar ho gaya hai toh jawab toh pranayaam jawab yaad karte hain toh aap ki niti poochh hoti hai aur uski wajah se aapki tere ko roka toh matic chali jaati

जी हां बिल्कुल यूनिटी पावर का सीधा सीधा संबंध आप के लंच बॉक्स कंपनी वर्क करते हो गई बुखार

Romanized Version
Likes  98  Dislikes    views  1571
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!