क्या मेकप से आत्मविश्वास बढ़ता है अगर हाँ तो कैसे?...


user

Crazera

Blogger/Influencer

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कब से अपना आत्मविश्वास थोड़ी देर के लिए जरूर पढ़ा सकते लेकिन अभी तक ले नहीं हां मेकअप से आत्मविश्वास बढ़ता है क्योंकि जिस चीज की कमियां में अपने शरीर में आपने पेज पर लगती है उसको हम पूरा करने के बाद सोचते हैं कि लोग हमसे बहस हो गए लेकिन वास्तव में लोग आपके मेकअप से नहीं आपकी बातों से आपके व्यवहार से मैं खुद हूं लेकिन मुझे आज तक कभी मेकअप की जरूरत नहीं पड़ी ना ही मुझे तो मैं यही चाहूंगा कि आप अपने ऊपर विश्वास रखते हैं ना कि उसने कपड़े या किसी वृत्त इन ब्यूटी पर

aapne kab se apna aatmvishvaas thodi der ke liye zaroor padha sakte lekin abhi tak le nahi haan makeup se aatmvishvaas badhta hai kyonki jis cheez ki kamiyan me apne sharir me aapne page par lagti hai usko hum pura karne ke baad sochte hain ki log humse bahas ho gaye lekin vaastav me log aapke makeup se nahi aapki baaton se aapke vyavhar se main khud hoon lekin mujhe aaj tak kabhi makeup ki zarurat nahi padi na hi mujhe toh main yahi chahunga ki aap apne upar vishwas rakhte hain na ki usne kapde ya kisi vritt in beauty par

आपने कब से अपना आत्मविश्वास थोड़ी देर के लिए जरूर पढ़ा सकते लेकिन अभी तक ले नहीं हां मेकअप

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
18 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

0:46
Play

Likes  147  Dislikes    views  2622
WhatsApp_icon
user

Dr. Archana Jain

RCI Registered Rehb Psychologist, Counselor, NLP Practitioner, Reiki Master

1:14
Play

Likes  9  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

Rony

Psychologist

1:55
Play

Likes  28  Dislikes    views  664
WhatsApp_icon
user

POOJA ( Psychologist )

Education Counselor

4:03
Play

Likes  10  Dislikes    views  314
WhatsApp_icon
user

Kiran Mukhija

director Of Preschool, Fashion Boutique Owner, Beauty Pageant Winner

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या मेकअप करने से आत्मविश्वास बढ़ता है अगर मैं कहूं तो कुछ हद तक यहां मेकअप करने से आत्मविश्वास बढ़ता है मारा क्योंकि हम इसे बहुत ऐसे लोग होते हैं जिनके चेहरे पर कुछ निशान होते हैं दाग होते हैं या हमारा चेहरा हमारे फीचर्स बहुत अच्छे होते हैं हमारा चेहरा इतना आकर्षक लगता नहीं है डर लगता है और हर इंसान चाहता है कि मैं खूबसूरत लगे अच्छा लगे और जब वह कहीं जाए तो कोई के चेहरे की वजह से क्या उसका पहले की डलनेस की वजह से उसको इग्नौर ना कर दे हर इंसान आजकल चाहता है कि उसे शब्दों की तवज्जो मिलनी चाहिए तो मेकअप ऐसी चीजें बंदी पुट ऑन मेकअप जब हम पर मेकअप कर कर अच्छे से तैयार होकर बाहर निकलते हैं तो हमारी बताओ दिया स्किन हो पिया चेहरा होता है वह प्रॉब्लम करता है अट्रैक्टिव लगता है आकर्षक लगता है उससे क्या होता है कि जो हम कहीं बाहर जाते हैं तो जो चिंता होती है ना दिमाग में कि मैं शाम कैसे लग रहे होंगे कोई हमारे फूफा के बारे में तो कुछ नहीं कह देगा हमारे चेहरे के दाग धब्बों के बारे में भी क्या सोचेगा वह सारी टेंशंस चिंता होती है वह मेरे दिमाग से निकल चुकी होती क्योंकि हमें पता है कि हम बहुत अच्छे लग रहे हैं और जब हम अच्छे लग रहे होते हैं तो हम बहुत कॉन्फिडेंस के साथ दूसरों के साथ बातें करते हैं खुद को रिप्रेजेंट करते हैं तो ऑटोमेटिक ली जब हम अच्छे लग रहे होते हैं तो हमारे अंदर कोई टेंशन नहीं होती और जो हमारे अंदर कोई टेंशन नहीं होती है तो हमारा आत्मविश्वास बढ़ जाता है

kya makeup karne se aatmvishvaas badhta hai agar main kahun toh kuch had tak yahan makeup karne se aatmvishvaas badhta hai mara kyonki hum ise bahut aise log hote hain jinke chehre par kuch nishaan hote hain daag hote hain ya hamara chehra hamare features bahut acche hote hain hamara chehra itna aakarshak lagta nahi hai dar lagta hai aur har insaan chahta hai ki main khoobsurat lage accha lage aur jab vaah kahin jaaye toh koi ke chehre ki wajah se kya uska pehle ki dullness ki wajah se usko ignore na kar de har insaan aajkal chahta hai ki use shabdon ki tavajjo milani chahiye toh makeup aisi cheezen bandi put on makeup jab hum par makeup kar kar acche se taiyar hokar bahar nikalte hain toh hamari batao diya skin ho piya chehra hota hai vaah problem karta hai attractive lagta hai aakarshak lagta hai usse kya hota hai ki jo hum kahin bahar jaate hain toh jo chinta hoti hai na dimag me ki main shaam kaise lag rahe honge koi hamare fufa ke bare me toh kuch nahi keh dega hamare chehre ke daag dhabbon ke bare me bhi kya sochega vaah saari tenshans chinta hoti hai vaah mere dimag se nikal chuki hoti kyonki hamein pata hai ki hum bahut acche lag rahe hain aur jab hum acche lag rahe hote hain toh hum bahut confidence ke saath dusro ke saath batein karte hain khud ko represent karte hain toh Automatic li jab hum acche lag rahe hote hain toh hamare andar koi tension nahi hoti aur jo hamare andar koi tension nahi hoti hai toh hamara aatmvishvaas badh jata hai

क्या मेकअप करने से आत्मविश्वास बढ़ता है अगर मैं कहूं तो कुछ हद तक यहां मेकअप करने से आत्मव

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  231
WhatsApp_icon
user

ankit mehta

speaker/social activitie

2:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो यह जाने ले आत्मविश्वास मनुष्य की सहज प्रवृत्ति है जो किसी भी वस्तु के होने ना होने से कोई फर्क नहीं पड़ता इस पर आत्मविश्वास आपकी स्वयं की मानसिक ज्योति है जिसको आप को विकसित करना है और ज्योति कब जलती है जब उसने कोई ज्वलनशील पदार्थ ज्वलनशील पदार्थ आपको अपनी आत्मा से निकालना है कि आपकी सोच का निर्माण करना है आप तो विश्वास को बढ़ाना है मेकअप कोई जरूरी नहीं है बहुत से लोग जैसे एपीजे अब्दुल कलाम बिना मेकअप के बीच में साधारण रहते हुए भी देखा जाए तो उनका जो शारीरिक वर्णन था गंगता कोई बहुत ज्यादा अच्छा नहीं था उन्होंने कभी मेकअप नहीं किया फिर भी उसे बढ़ाने के लिए बड़े हुए बाल से देखा जाए तो उनका सांवला था लेकिन कभी उन्होंने उसकी परवाह नहीं की फिर भी उन्होंने उनके पास भरपूर आत्मविश्वास था चाहे तो किसी को भी देखने कोई भी व्यक्ति जो दुबला है पतला है नाता है मोटा है ग्रुप है आप हमसे गुस्सा नहीं पड़ता आप पर आपके शहर मनोवृति है जिसको आप को डेवलप करना यदि आप यह सोचे कि मेकअप से बढ़ेगा उसका मतलब सबसे पहले तो आप में आत्मविश्वास है ही नहीं तो बढ़ने का तो सवाल ही नहीं होता यदि आपने आत्मविश्वास है तो बिना मेकअप भी आप उसे बढ़ा सकती भटूरे थोड़ा सा कंप्यूटर चाहता है लेकिन आज के जमाने में मैं देखता हूं आदमी की क्वालिफिकेशन मायने रखती है आदमी का आत्मविश्वास मायने रखता है आदमी का बोलने का तरीका आदमी का दिल है कि मानता सिद्धांत जो मैंने लाइफ में अपना रखें जो मुझे जानते हैं उनके लिए मुझे मेकअप और कपड़ों की जरूरत नहीं है और जिनको मैं नहीं जानता हूं तुम मुझे नहीं जानते हो उनके लिए मेकअप और कपड़ों क्या बन सकते क्योंकि मैं उनसे बात नहीं करूंगा तो सारी बातें जो आपके आप लोगों को जानते हैं जो आपको जानते हैं और निश्चित रूप से आपके गुणों को देखेंगे आपके मेकअप मेकअप तो वैसे ही अलग जाता है और सौंदर्य आंतरिक होता है जो मनुष्य की सहज प्रवृत्ति से अच्छा लगता है धन्यवाद

sabse pehle toh yah jaane le aatmvishvaas manushya ki sehaz pravritti hai jo kisi bhi vastu ke hone na hone se koi fark nahi padta is par aatmvishvaas aapki swayam ki mansik jyoti hai jisko aap ko viksit karna hai aur jyoti kab jalti hai jab usne koi jwalanshil padarth jwalanshil padarth aapko apni aatma se nikalna hai ki aapki soch ka nirmaan karna hai aap toh vishwas ko badhana hai makeup koi zaroori nahi hai bahut se log jaise apj abdul kalam bina makeup ke beech me sadhaaran rehte hue bhi dekha jaaye toh unka jo sharirik varnan tha gangata koi bahut zyada accha nahi tha unhone kabhi makeup nahi kiya phir bhi use badhane ke liye bade hue baal se dekha jaaye toh unka sanvala tha lekin kabhi unhone uski parvaah nahi ki phir bhi unhone unke paas bharpur aatmvishvaas tha chahen toh kisi ko bhi dekhne koi bhi vyakti jo dubla hai patla hai nataa hai mota hai group hai aap humse gussa nahi padta aap par aapke shehar manovriti hai jisko aap ko develop karna yadi aap yah soche ki makeup se badhega uska matlab sabse pehle toh aap me aatmvishvaas hai hi nahi toh badhne ka toh sawaal hi nahi hota yadi aapne aatmvishvaas hai toh bina makeup bhi aap use badha sakti bhature thoda sa computer chahta hai lekin aaj ke jamane me main dekhta hoon aadmi ki qualification maayne rakhti hai aadmi ka aatmvishvaas maayne rakhta hai aadmi ka bolne ka tarika aadmi ka dil hai ki maanta siddhant jo maine life me apna rakhen jo mujhe jante hain unke liye mujhe makeup aur kapdo ki zarurat nahi hai aur jinako main nahi jaanta hoon tum mujhe nahi jante ho unke liye makeup aur kapdo kya ban sakte kyonki main unse baat nahi karunga toh saari batein jo aapke aap logo ko jante hain jo aapko jante hain aur nishchit roop se aapke gunon ko dekhenge aapke makeup makeup toh waise hi alag jata hai aur saundarya aantarik hota hai jo manushya ki sehaz pravritti se accha lagta hai dhanyavad

सबसे पहले तो यह जाने ले आत्मविश्वास मनुष्य की सहज प्रवृत्ति है जो किसी भी वस्तु के होने ना

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  170
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या मेकअप में आपके मेकअप में आत्मविश्वास बढ़ता है वह कैसे यह सब मानसिक स्थिति है इंसान की जो सोचता कि मैं प्रकृति प्रदत सुंदर हूं भले ही वह सुंदर ना हो लेकिन उसे विश्वास है तो उसका वही में काम है कोई जरूरी नहीं कि मैं सबको इतना महत्वपूर्ण नहीं है सबसे पहले तो हमारी जो मानसिक स्थिति है और सबसे महत्वपूर्ण है और हम मानसिक स्थिति से अवगत अपने आप को सुंदर मानते हैं अच्छा मानते रामोस और प्रयास भी करते हैं विद्वान मानते तो निश्चय ही हम मेकअप से भी सुंदर दिखते हैं

kya makeup me aapke makeup me aatmvishvaas badhta hai vaah kaise yah sab mansik sthiti hai insaan ki jo sochta ki main prakriti pradat sundar hoon bhale hi vaah sundar na ho lekin use vishwas hai toh uska wahi me kaam hai koi zaroori nahi ki main sabko itna mahatvapurna nahi hai sabse pehle toh hamari jo mansik sthiti hai aur sabse mahatvapurna hai aur hum mansik sthiti se avgat apne aap ko sundar maante hain accha maante ramos aur prayas bhi karte hain vidhwaan maante toh nishchay hi hum makeup se bhi sundar dikhte hain

क्या मेकअप में आपके मेकअप में आत्मविश्वास बढ़ता है वह कैसे यह सब मानसिक स्थिति है इंसान की

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या मेकअप से आत्मविश्वास बढ़ता है अगर हां तो कैसे जी नहीं मैं कब से कभी भी आत्मविश्वास नहीं बढ़ता है आत्मविश्वास अपने अंदर होना चाहिए मन के अंदर होना चाहिए अगर आपके मन के अंदर आत्मविश्वास है तो आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा अगर आप मानसिक और शारीरिक तरीके से फिट है तो आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा अगर आप पॉजिटिव सोचते हो तो आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा लेकिन अब ज्यादा नेगेटिव सोचते हो तो आप आत्मा विश्वास कभी नहीं बढ़ेगा इसलिए हमेशा पॉजिटिव सोचो ठीक है पोजिटिव सोचने के लिए आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमेशा मेडिटेशन करिए ध्यान धरिए तो जरूर फायदा होता है ठीक है मेकअप करने से कभी आत्मविश्वास नहीं बढ़ता ओके कि आपका भ्रम है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

aapka prashna hai kya makeup se aatmvishvaas badhta hai agar haan toh kaise ji nahi main kab se kabhi bhi aatmvishvaas nahi badhta hai aatmvishvaas apne andar hona chahiye man ke andar hona chahiye agar aapke man ke andar aatmvishvaas hai toh aapka aatmvishvaas badhega agar aap mansik aur sharirik tarike se fit hai toh aapka aatmvishvaas badhega agar aap positive sochte ho toh aapka aatmvishvaas badhega lekin ab zyada Negative sochte ho toh aap aatma vishwas kabhi nahi badhega isliye hamesha positive socho theek hai pojitiv sochne ke liye aatmvishvaas badhane ke liye hamesha meditation kariye dhyan dhariye toh zaroor fayda hota hai theek hai makeup karne se kabhi aatmvishvaas nahi badhta ok ki aapka bharam hai aapka din shubha ho dhanyavad

आपका प्रश्न है क्या मेकअप से आत्मविश्वास बढ़ता है अगर हां तो कैसे जी नहीं मैं कब से कभी भी

Romanized Version
Likes  262  Dislikes    views  4402
WhatsApp_icon
play
user

Nidi Sharma

Beauty Blogger|Reviewer|GK

1:13

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह प्रश्न का उत्तर आप पर निर्भर करता है क्या आपको ऐसा लगता है कि हां मेकअप लगाने से आप अच्छा फील गुड फील करते हैं मेकअप यूजुअली दोगी नहीं जैसे लगाते हैं या फिर आपको अच्छा दिखना अच्छा फील करना है या फिर अपनी जो कुछ कमियां होती है ना चेहरे पर वह हम ढकने के लिए करते हैं ताकि उससे हमें अच्छा फील हो लेकिन इधर एक सही बात बोली तो आदमी का संदेशा देना कि मेकअप से अगर आप हार लगता है कि आप कैसे भी रहे कोई भी आप कंफर्टेबल चीज मेरे वहां से वहां से आत्मविश्वास आता है लोगों को लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें अच्छा नहीं लगता कि जैसे चेहरे पर दाग धब्बे यह सब लोग जांच करेंगे उनके चेहरे पर अनचाहे चेहरे पर क्या है उनका उनके चेहरे पर कैसे बोलते हैं यह सब मिलाकर उनका आत्मविश्वास दिखता है सब बिल्कुल नहीं में कपास को एक व्हाट्सएप पॉइंट है कि हां आप अच्छे हैं आप कर सकते हैं उसमें प्लस प्वाइंट डेट उसमें मेकअप सिर्फ सुंदरता के लिए आत्मविश्वास से लेना देना कुछ भी नहीं तो इसका उत्तर आप खुद ढूंढे तो बेहतर होगा

yah prashna ka uttar aap par nirbhar karta hai kya aapko aisa lagta hai ki haan makeup lagane se aap accha feel good feel karte hain makeup usually dogi nahi jaise lagate hain ya phir aapko accha dikhana accha feel karna hai ya phir apni jo kuch kamiyan hoti hai na chehre par vaah hum dhakane ke liye karte hain taki usse hamein accha feel ho lekin idhar ek sahi baat boli toh aadmi ka sandesha dena ki makeup se agar aap haar lagta hai ki aap kaise bhi rahe koi bhi aap Comfortable cheez mere wahan se wahan se aatmvishvaas aata hai logo ko lekin kuch log aise bhi hote hain jinhen accha nahi lagta ki jaise chehre par daag dhabbe yah sab log jaanch karenge unke chehre par anchahe chehre par kya hai unka unke chehre par kaise bolte hain yah sab milakar unka aatmvishvaas dikhta hai sab bilkul nahi mein kapaas ko ek whatsapp point hai ki haan aap acche hain aap kar sakte hain usme plus point date usme makeup sirf sundarta ke liye aatmvishvaas se lena dena kuch bhi nahi toh iska uttar aap khud dhundhe toh behtar hoga

यह प्रश्न का उत्तर आप पर निर्भर करता है क्या आपको ऐसा लगता है कि हां मेकअप लगाने से आप अच्

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  437
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

m.a. कब तक दिखावा है कोई इसमें आसपास किसी प्रकार कोई फायदा नहीं है आजकल उजले शंकर चौक चला है सब दिखावा है मेकअप से कोई है नहीं अगर हो सुंदर हो मटकी पीली मिट्टी से आप जाओ उसमें आपका चेहरा साफ रहेगा

m a kab tak dikhawa hai koi isme aaspass kisi prakar koi fayda nahi hai aajkal ujale shankar chauk chala hai sab dikhawa hai makeup se koi hai nahi agar ho sundar ho mataki pili mitti se aap jao usme aapka chehra saaf rahega

m.a. कब तक दिखावा है कोई इसमें आसपास किसी प्रकार कोई फायदा नहीं है आजकल उजले शंकर चौक चला

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मैं कब से आत्मविश्वास बढ़ता है सही बात है चेहरा जितना भी खेलेगा पाकिस्तान अगर चेहरा इतना ज्यादा खिलेगा उतना आत्मविश्वास बढ़ेगा इसीलिए तो मेकअप करते हैं पर मेकअप करें अच्छा अच्छे देखेंगे कोई तारीफ करेगा साथ में स्वास्थ्य बड़ा नहीं इसलिए मेकअप से आत्मविश्वास बढ़ता है

haan main kab se aatmvishvaas badhta hai sahi baat hai chehra jitna bhi khelega pakistan agar chehra itna zyada khilega utana aatmvishvaas badhega isliye toh makeup karte hain par makeup kare accha acche dekhenge koi tareef karega saath me swasthya bada nahi isliye makeup se aatmvishvaas badhta hai

हां मैं कब से आत्मविश्वास बढ़ता है सही बात है चेहरा जितना भी खेलेगा पाकिस्तान अगर चेहरा इत

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  60
WhatsApp_icon
user

Neelesh Soni

Business Owner

0:49
Play

Likes  3  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user

vedprakash singh

Psychologist

3:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या मेकअप से आत्मविश्वास बढ़ता है और अगर हां तो कैसे मेकअप से आत्मविश्वास नहीं भरते हैं मेकअप करने से आप अपना आत्मविश्वास नहीं दूसरे का बनाना चाहते हैं मेकअप करने साहब का आत्मविश्वास कभी नहीं भरता मेकअप करने से एक बचपन आहट बचकाना आदत होती है तो आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए आपको फिजिकल और मेंटल मतलब सादिक और मानसिक दोनों थकावट होना जरूरी है दोनों थकावट होना जरूरी है खेल चौक आत्मविश्वास बढ़ सकते हैं लेकिन मैं कब से नहीं भरता है मैं कब से आपका नहीं भरता है जैसे किसी दूसरे आदमी को जानना है तो उसके पास जाकर बैठते हैं अपने आपको जानना तो हाथ में बैठते हैं उसी तरीके से हमें आत्मविश्वास बढ़ाना अपने अंदर ध्यान में डूब ना होगा कम है वह हमारा नहीं किसी और का है इसलिए कर्म पर हमें भी ध्यान देते हैं तो कल भी हमारा अपना हो जाता फिर हमको आत्मविश्वास भर उदाहरण के लिए हम मानते हैं कि जैसे मछलियां समुद्र में या पोखर में रहती है और बचपन सूची बनाने को अमरदीप उसी में उसी तरीके से हमारे अंदर आत्मा मतलब भगवान भी है भगवान हमारे अंदर हैं हमारे अंदर भगवान है उसी में उसी में सारे कुछ हो जाता है रह जाते हैं उनका मर भी जाते हैं फिर लोग बोलता है कि भगवा निकल जाते आत्मा कर जाती है आत्मा को भगवान मान लेते हैं तो लेकिन हमारी छाया बाहर हमसा को पकड़ने का प्रयास था लेकिन अंदर नहीं देखते यदि हम अपने अंदर देखे तो आत्मविश्वास बढ़ा सकते हैं आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए हमें प्रेम होना जरूरी है जिसके अंदर प्रेम ने उसके अंदर आत्मा की झलक ने जिस अंतरात्मा की झलक ने उसके अंदर परमात्मा की जय लगने इसलिए हमें प्रेम को जानना जरूरी है ना कि मेकअप को जानना जरूरी है प्रेम में मेकअप ऊपर कुछ नहीं होता है यदि मेकअप करके प्रेम होता है तो मेकअप पर ही राजा इसीलिए प्रेम को जानना जरूरी है और प्रेम में सिर्फ देना हो तो लेना नहीं यह नहीं कि हम किसी को अपने आप ही कुछ देने लगे उसका लेने का भाग भी होना चाहिए जिसका लेने का भाव सिर्फ अब्दुल एक अलग बात अब हम दे रहे हैं दे ले ले भी लिया तो क्या पता और लोग से ले रहे हैं क्या लेना नहीं लेना आप जैसा सोचते हो आपको वैसा ही परिणाम मिलता है अब किसी को देते हुए सोचकर क्योंकि प्यार मिलेगा तक वसई प्यार मिले आप किसी को देते हो उनको जिनको देना चाहिए और जरूरतमंद को आप उसी हिसाब से आपको भी उसका फल मिलेगा इसीलिए मैं कब से आत्मविश्वास नहीं भरता आत्मविश्वास तो आपके अंदर से देखते हैं आंतरिक स्थिति है प्रेम जवाब किसी से करते हो तो उसे क्या होता है प्रेम से आपका अपना जन्म लेते हैं और आंतों से आत्मविश्वास जब आत्मविश्वास जन्म लेते हैं

aapka sawaal hai kya makeup se aatmvishvaas badhta hai aur agar haan toh kaise makeup se aatmvishvaas nahi bharte hain makeup karne se aap apna aatmvishvaas nahi dusre ka banana chahte hain makeup karne saheb ka aatmvishvaas kabhi nahi bharta makeup karne se ek bachpan aahat bachkana aadat hoti hai toh aatmvishvaas badhane ke liye aapko physical aur mental matlab sadik aur mansik dono thakawat hona zaroori hai dono thakawat hona zaroori hai khel chauk aatmvishvaas badh sakte hain lekin main kab se nahi bharta hai kab se aapka nahi bharta hai jaise kisi dusre aadmi ko janana hai toh uske paas jaakar baithate hain apne aapko janana toh hath mein baithate hain usi tarike se hamein aatmvishvaas badhana apne andar dhyan mein doob na hoga kam hai vaah hamara nahi kisi aur ka hai isliye karm par hamein bhi dhyan dete hain toh kal bhi hamara apna ho jata phir hamko aatmvishvaas bhar udaharan ke liye hum maante hain ki jaise machhliyan samudra mein ya pokhar mein rehti hai aur bachpan suchi banane ko amardweep usi mein usi tarike se hamare andar aatma matlab bhagwan bhi hai bhagwan hamare andar hain hamare andar bhagwan hai usi mein usi mein saare kuch ho jata hai reh jaate hain unka mar bhi jaate hain phir log bolta hai ki bhagva nikal jaate aatma kar jaati hai aatma ko bhagwan maan lete hain toh lekin hamari chhaya bahar hamsa ko pakadane ka prayas tha lekin andar nahi dekhte yadi hum apne andar dekhe toh aatmvishvaas badha sakte hain aatmvishvaas badhane ke liye hamein prem hona zaroori hai jiske andar prem ne uske andar aatma ki jhalak ne jis antaraatma ki jhalak ne uske andar paramatma ki jai lagne isliye hamein prem ko janana zaroori hai na ki makeup ko janana zaroori hai prem mein makeup upar kuch nahi hota hai yadi makeup karke prem hota hai toh makeup par hi raja isliye prem ko janana zaroori hai aur prem mein sirf dena ho toh lena nahi yah nahi ki hum kisi ko apne aap hi kuch dene lage uska lene ka bhag bhi hona chahiye jiska lene ka bhav sirf abdul ek alag baat ab hum de rahe hain de le le bhi liya toh kya pata aur log se le rahe kya lena nahi lena aap jaisa sochte ho aapko waisa hi parinam milta hai ab kisi ko dete hue sochkar kyonki pyar milega tak vasai pyar mile aap kisi ko dete ho unko jinako dena chahiye aur jaruratmand ko aap usi hisab se aapko bhi uska fal milega isliye main kab se aatmvishvaas nahi bharta aatmvishvaas toh aapke andar se dekhte hain aantarik sthiti hai prem jawab kisi se karte ho toh use kya hota hai prem se aapka apna janam lete hain aur anton se aatmvishvaas jab aatmvishvaas janam lete hain

आपका सवाल है क्या मेकअप से आत्मविश्वास बढ़ता है और अगर हां तो कैसे मेकअप से आत्मविश्वास नह

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  186
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी दिखावटी चीज से आत्मविश्वास एवं अस्थाई तौर पर पड़ता है विश्वास केवल खुद की योग्यता के अनुसार सही बढ़ता प्रतियोगिता की खूबसूरती पर ही पड़ सकता है

kisi bhi dikhavati cheez se aatmvishvaas evam asthai taur par padta hai vishwas keval khud ki yogyata ke anusaar sahi badhta pratiyogita ki khoobsoorti par hi pad sakta hai

किसी भी दिखावटी चीज से आत्मविश्वास एवं अस्थाई तौर पर पड़ता है विश्वास केवल खुद की योग्यता

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  98
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्मविश्वास हमारी प्रतिभा पर हमारे मन पर नियंत्रण पर निर्भर करता है मेकअप बाहरी वस्तु

aatmvishvaas hamari pratibha par hamare man par niyantran par nirbhar karta hai makeup bahri vastu

आत्मविश्वास हमारी प्रतिभा पर हमारे मन पर नियंत्रण पर निर्भर करता है मेकअप बाहरी वस्तु

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्मविश्वास का सीधा मतलब है खुद पर विश्वास और खुद पर विश्वास तभी बढ़ सकता है जब आपको आप उन कामों को करने में माहिर हो जिनको आप करने से आपको खुशी मिलती है आ रही बाद में कब की है अगर मेकअप में आत्मा ही रहे हैं अगर मेकअप करने से आपको खुशी मिलती है तो सोते ही आपका आत्मविश्वास बढ़ता है और अगर आप मेकअप करके खुश होती हैं आप खुद को आइने के सामने देखी आपको खुद ब खुद अच्छा फील होगा मेकअप किस महिला को अच्छा नहीं लगता मेकअप करने के बाद आप खुश होती हैं और बताइए आपका आत्मविश्वास बढ़ता है

aatmvishvaas ka seedha matlab hai khud par vishwas aur khud par vishwas tabhi badh sakta hai jab aapko aap un kaamo ko karne me maahir ho jinako aap karne se aapko khushi milti hai aa rahi baad me kab ki hai agar makeup me aatma hi rahe hain agar makeup karne se aapko khushi milti hai toh sote hi aapka aatmvishvaas badhta hai aur agar aap makeup karke khush hoti hain aap khud ko aaene ke saamne dekhi aapko khud bsp khud accha feel hoga makeup kis mahila ko accha nahi lagta makeup karne ke baad aap khush hoti hain aur bataiye aapka aatmvishvaas badhta hai

आत्मविश्वास का सीधा मतलब है खुद पर विश्वास और खुद पर विश्वास तभी बढ़ सकता है जब आपको आप उन

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  265
WhatsApp_icon
play
user

Neeta

Teacher

4:27

Likes  2  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!