क्यों हमेशा जो हम सोचते हैं उसका उल्टा होता है?...


play
user

Narinder Bhatia

Life Coach, Mentor, Blogger & Motivational Speaker

1:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देख ऐसा बिल्कुल नहीं है कि जो हम सोचते हैं हमेशा उसका उल्टा होता है यहां पर जरूरत है इस कड़ी को समझने की की कड़ी शुरू होती है हमारी सोच से खत्म होती है कुछ होने से अब वह जो कुछ आखिर में होता है या निकल कर आता है तो वह हमारी जिंदगी को सफल करता है या असफल करता है तो जब भी आपके दिमाग में सोच रहा कुछ समय कुछ शरण खुद सेकंड बताएं कि इस पर मुझे क्या एक्शन लिया कर्म करना चाहिए तो आपको जो कर्म है वह एक्शन है जो सोच के बाद आता है वही आप डिसाइड करता है कि उसका फल क्या निकलेगा फॉल आपके हित में निकलेगा या विपरीत निकलेगा इसलिए बजा यह सोचने की है कि मेरी सोच मेरे ख्याल ही इसकी जड़ है आप ध्यान दें कि उस खयाल के बाद जो आप एक्शन लेते हो वह इस रिजल्ट को डिसाइड कर रहा है इसीलिए जल्दबाजी ना करें और हमेशा कोशिश कर रहे हैं कि आप रियाद करें सोच समझ कर

dekh aisa bilkul nahi hai ki jo hum sochte hain hamesha uska ulta hota hai yahan par zarurat hai is kadi ko samjhne ki ki kadi shuru hoti hai hamari soch se khatam hoti hai kuch hone se ab wah jo kuch aakhir mein hota hai ya nikal kar aata hai toh wah hamari zindagi ko safal karta hai ya asafal karta hai toh jab bhi aapke dimag mein soch raha kuch samay kuch sharan khud second bataye ki is par mujhe kya action liya karm karna chahiye toh aapko jo karm hai wah action hai jo soch ke baad aata hai wahi aap decide karta hai ki uska fal kya niklega fall aapke hit mein niklega ya viprit niklega isliye baja yeh sochne ki hai ki meri soch mere khayal hi iski jad hai aap dhyan de ki us khayal ke baad jo aap action lete ho wah is result ko decide kar raha hai isliye jaldbaji na karein aur hamesha koshish kar rahe hain ki aap riyaad karein soch samajh kar

देख ऐसा बिल्कुल नहीं है कि जो हम सोचते हैं हमेशा उसका उल्टा होता है यहां पर जरूरत है इस कड

Romanized Version
Likes  136  Dislikes    views  1622
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे हमेशा जो हम सोचते हैं उसका उल्टा ही क्यों होता है इसका सही मायने में अर्थ होता है कि हम जो सोचते हैं वो सिर्फ सोचते हैं सिर्फ सपनों में ही रहते हैं उस पर हम धरातल पर या वास्तविक उन सोच पर उन उद्देश्यों पर हम काम नहीं करते तो स्वाभाविक सी बात है कि सपने तो सपने ही रहते पर काम करने पर भी वह हकीकत में बदलते नहीं तो उल्टा ही होता है

jaise hamesha jo hum sochte hain uska ulta hi kyon hota hai iska sahi maayne mein arth hota hai ki hum jo sochte hain vo sirf sochte hain sirf sapno mein hi rehte hain us par hum dharatal par ya vastavik un soch par un udyeshyon par hum kaam nahi karte toh swabhavik si baat hai ki sapne toh sapne hi rehte par kaam karne par bhi vaah haqiqat mein badalte nahi toh ulta hi hota hai

जैसे हमेशा जो हम सोचते हैं उसका उल्टा ही क्यों होता है इसका सही मायने में अर्थ होता है कि

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
user

Kannu Pandey

Only Red

0:42
Play

Likes  8  Dislikes    views  94
WhatsApp_icon
user

Nachiket Kale

UPSC Ascirant

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम सबका यह सवाल होता है कि हम जो सोचते उसका उल्टा क्यों होता है इसका एक में कारण है कि हम जो सोचते हैं उस पर हमारा पूरा विश्वास नहीं होता हमें हमेशा पॉजिटिव थिंकिंग होनी चाहिए यदि हम पॉजिटिव थिंकिंग देखे तो हमारा सोचना कभी भी उल्टा नहीं होगा और पूरे विश्वास से हमें अपने विचार रखने चाहिए

hum sabka yah sawaal hota hai ki hum jo sochte uska ulta kyon hota hai iska ek mein karan hai ki hum jo sochte hain us par hamara pura vishwas nahi hota hamein hamesha positive thinking honi chahiye yadi hum positive thinking dekhe toh hamara sochna kabhi bhi ulta nahi hoga aur poore vishwas se hamein apne vichar rakhne chahiye

हम सबका यह सवाल होता है कि हम जो सोचते उसका उल्टा क्यों होता है इसका एक में कारण है कि हम

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  442
WhatsApp_icon
user

Rajesh

Me ias ki teyari kar rha hu

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो हम हमेशा सोचते हैं उसका उल्टा नहीं होता है हां उल्टा होता है उन लोगों के लिए जो उनके मन में उस कार्य को सोचते तो लेकिन वह करते नहीं है तो उनके लिए वह उल्टा होता है लेकिन आप सोचो तो उस कार्य को करो भी शरीर पूरा आत्मविश्वास पूरी ईमानदारी के साथ करो मेहनत कर कर करो तो आप सफल जरुर होंगे सोचो यदि झांसी की रानी लक्ष्मीबाई है महात्मा गांधी है यदि यह सब यही सोचते रहते कि हम अपने देश को आजाद करेंगे ऐसे करेंगे उसे करेंगे तो वह सोचते रह जाते हैं और वह देश को आजाद नहीं कर पाएंगे उम्र में 1 दिन से ताकि हम इस कार्य को सफल करने में पूरा प्रयत्न करेंगे पूरी कोशिश करें और वह आज उन्होंने कर दिखाया उस कार्य को किसी ने कहा है कि सपने वह सच नहीं होते जो रात को सोते वक्त देखे जाते सपने वह सच होते हैं जिनके लिए आप सोना छोड़ देते अर्थात आप जो सोचते हो जिस कार्य में आप सफल होना चाहते हैं उसके लिए आपको सोचना रात को सोते वक्त आप सपना मत देखिए गा उसको करने के लिए आप रात को सोना छोड़ दीजिएगा उस पर यह अध्ययन कीजिएगा

jo hum hamesha sochte hain uska ulta nahi hota hai haan ulta hota hai un logo ke liye jo unke man mein us karya ko sochte toh lekin vaah karte nahi hai toh unke liye vaah ulta hota hai lekin aap socho toh us karya ko karo bhi sharir pura aatmvishvaas puri imaandaari ke saath karo mehnat kar kar karo toh aap safal zaroor honge socho yadi jhansi ki rani lakshmibai hai mahatma gandhi hai yadi yah sab yahi sochte rehte ki hum apne desh ko azad karenge aise karenge use karenge toh vaah sochte reh jaate hain aur vaah desh ko azad nahi kar payenge umr mein 1 din se taki hum is karya ko safal karne mein pura prayatn karenge puri koshish kare aur vaah aaj unhone kar dikhaya us karya ko kisi ne kaha hai ki sapne vaah sach nahi hote jo raat ko sote waqt dekhe jaate sapne vaah sach hote hain jinke liye aap sona chod dete arthat aap jo sochte ho jis karya mein aap safal hona chahte hain uske liye aapko sochna raat ko sote waqt aap sapna mat dekhiye jaayega usko karne ke liye aap raat ko sona chod dijiyega us par yah adhyayan kijiega

जो हम हमेशा सोचते हैं उसका उल्टा नहीं होता है हां उल्टा होता है उन लोगों के लिए जो उनके मन

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  458
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!