हमारे देश का भूगोल क्या है?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश का भूगोल क्या है तो अगर मैं हमारे देश में भारत को समझो कि भारत का भूगोल क्या है तो भारत का भूगोल वास्तव में बहुत विविध है मां टॉनिक पंक्ति चाहिए भारत के विषय में उस पंक्ति को कोर्ट कर दो फिर मैं भारत का भूगोल क्या है इस पेपर संक्षिप्त में बताऊंगा मां ने कहा कि भारत मानव जाति का पालना मानव भाषा की जन्मस्थली इतिहास की जननी पौराणिक कथाओं की दादी और परंपरा की परदादी है मानव इतिहास में हमारी सर्वाधिक मूल्यवान और सर्वाधिक शिक्षा पर सामग्री का खजाना केवल भारत में निहित है वास्तव में भारत देश और संस्कृति वाला देश है और यहां विश्व की प्राचीनतम और महानतम सभ्यताओं में से एक है यह उत्तर में बर्फ से ढके हिमालय से लेकर दक्षिण में धूप से सराबोर तटवर्ती गांवों और दक्षिण पश्चिम तक आज शक्ति बनती जंगलों पूर्व में ब्रह्मपुत्र घाटी के उपजाऊ क्षेत्र से लेकर पश्चिम में थार रेगिस्तान तक पैदा हुआ है भारत का क्षेत्रफल लगभग 3287263 वर्ग किलोमीटर है अगर इसकी अक्षांशीय स्थिति देखें तो यह उत्तरी गोलार्ध में स्थित है इसकी मुख्य भूमि 8 डिग्री 4 मिनट से 37 डिग्री छम उत्तरी अक्षांश तथा 68 डिग्री 7 मिनट से 97 डिग्री 25 मिनट देशांतर पूर्व में उत्तर से दक्षिण तक इसका अक्षांशीय विस्तार करीब 3214 किलोमीटर और पूर्व से पश्चिम पश्चिम की ओर देशांतरीय विस्तार इसका 2933 किलोमीटर है इसकी स्थलीय सीमा करीब 15200 किलोमीटर है मुख्य भूमि लक्ष्य दीप समूह है अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह सहित तट रेखा की कुल लंबाई 7516.6 किमी है भारत के पड़ोसी देशों देशों को देखें तो भारत की सीमा उत्तर पश्चिम में अफगानिस्तान तथा पाकिस्तान से उत्तर में चीन भूटान तथा नेपाल से सुदूर पूर्व में म्यांमार और पूर्व में बांग्लादेश से लगती है पाक जलडमरूमध्य और मुन्ना की हानि से निर्मित एक तंग समुद्री चैनल श्रीलंका को भारत से पृथक करता है देश को मुख्य रूप शिक्षा अंचलों में उत्तरी दक्षिणी पूर्वी पश्चिमी मध्यवर्ती और उत्तर अंचलों में वर्गीकृत किया जाता है हमारे यहां आज 28 राज्य और 9 केंद्र शासित प्रदेश बाकी अगर इसकी प्राकृतिक संरचना को देखें तो विशाल हिमालय क्षेत्र गंगा और सिंधू का मैदानी भाग रेगिस्तानी क्षेत्र दक्षिण का प्रायद्वीपीय भाग भारत के लिए एक बहुत बड़ी पहचान है अगर नदियों में देखें तो हिमालय की नदियां हैं दक्षिण की नदियां हैं तटवर्ती नदियां हैं अंतरदेसी और बरसाती नदियां हैं इस प्रकार से भारत का भूगोल बहुत विविध है बहुत कम शब्दों में इसको नहीं बताया जा सकता फिर भी मैंने कोशिश की है कि भारत का भूगोल का संक्षिप्त परिचय दूं अगर जलवा इसकी देखें तो भारत की जगह उसने कटिबंधीय बरसाती प्रकार की जलवायु वनस्पति दृष्टि से देखें तो वनस्पतिक दृष्टि से अत्यंत सम्मिलित है उत्तर से लेकर दक्षिण तक विस्तार से भरा हुआ है हमारा भारत भारत के जनसंख्या देखें तो लगभग इस समय 121 करोड़ 2011 की जनगणना 121 करोड़ के करीब थी इसमें 130 करोड़ के करीब अनुमान लगाया जा रहा है अगर लिंगानुपात देखिए भारत का लिंगानुपात भारत की 2011 में 909 सप्ताह की साक्षरता दर भारत की देखें तो साक्षरता विभाग के 73 प्रसिद्ध देश में साक्षरता 73% है जिसमें 80 फ़ीसदी के करीब पुरुष और 64 फ़ीसदी करीब महिलाएं शिक्षित हो धन्यवाद

hamare desh ka bhugol kya hai toh agar main hamare desh mein bharat ko samjho ki bharat ka bhugol kya hai toh bharat ka bhugol vaastav mein bahut vividh hai maa tonic pankti chahiye bharat ke vishay mein us pankti ko court kar do phir main bharat ka bhugol kya hai is paper sanshipta mein bataunga maa ne kaha ki bharat manav jati ka paalna manav bhasha ki janmasthali itihas ki janani pouranik kathao ki dadi aur parampara ki pardadi hai manav itihas mein hamari sarvadhik mulyavan aur sarvadhik shiksha par samagri ka khajana keval bharat mein nihit hai vaastav mein bharat desh aur sanskriti vala desh hai aur yahan vishwa ki prachintam aur mahantam sabhyatao mein se ek hai yah uttar mein barf se dhake himalaya se lekar dakshin mein dhoop se sarabor tatvarti gaon aur dakshin paschim tak aaj shakti banti jungalon purv mein brahmaputra ghati ke upajau kshetra se lekar paschim mein thar registan tak paida hua hai bharat ka kshetrafal lagbhag 3287263 varg kilometre hai agar iski akshanshiya sthiti dekhen toh yah uttari golardh mein sthit hai iski mukhya bhoomi 8 degree 4 minute se 37 degree cham uttari akshansh tatha 68 degree 7 minute se 97 degree 25 minute deshantar purv mein uttar se dakshin tak iska akshanshiya vistaar kareeb 3214 kilometre aur purv se paschim paschim ki aur deshantariya vistaar iska 2933 kilometre hai iski sthaliya seema kareeb 15200 kilometre hai mukhya bhoomi lakshya deep samuh hai andaman aur nicobar dweepasamuh sahit tat rekha ki kul lambai 7516 6 kilometre hai bharat ke padosi deshon deshon ko dekhen toh bharat ki seema uttar paschim mein afghanistan tatha pakistan se uttar mein china bhutan tatha nepal se sudoor purv mein myanmar aur purv mein bangladesh se lagti hai pak jaldamarumadhya aur munna ki hani se nirmit ek tang samudri channel sri lanka ko bharat se prithak karta hai desh ko mukhya roop shiksha anchalon mein uttari dakshini purvi pashchimi madhyavarti aur uttar anchalon mein vargikrit kiya jata hai hamare yahan aaj 28 rajya aur 9 kendra shasit pradesh baki agar iski prakirtik sanrachna ko dekhen toh vishal himalaya kshetra ganga aur sindhu ka maidaani bhag registani kshetra dakshin ka prayadvipiye bhag bharat ke liye ek bahut badi pehchaan hai agar nadiyon mein dekhen toh himalaya ki nadiyan hain dakshin ki nadiyan hain tatvarti nadiyan hain antaradesi aur barsathi nadiyan hain is prakar se bharat ka bhugol bahut vividh hai bahut kam shabdon mein isko nahi bataya ja sakta phir bhi maine koshish ki hai ki bharat ka bhugol ka sanshipta parichay doon agar jalwa iski dekhen toh bharat ki jagah usne katibandhiya barsathi prakar ki jalvayu vanaspati drishti se dekhen toh vanaspatik drishti se atyant sammilit hai uttar se lekar dakshin tak vistaar se bhara hua hai hamara bharat bharat ke jansankhya dekhen toh lagbhag is samay 121 crore 2011 ki janganana 121 crore ke kareeb thi isme 130 crore ke kareeb anumaan lagaya ja raha hai agar linganupat dekhiye bharat ka linganupat bharat ki 2011 mein 909 saptah ki saksharta dar bharat ki dekhen toh saksharta vibhag ke 73 prasiddh desh mein saksharta 73 hai jisme 80 fisadi ke kareeb purush aur 64 fisadi kareeb mahilaye shikshit ho dhanyavad

हमारे देश का भूगोल क्या है तो अगर मैं हमारे देश में भारत को समझो कि भारत का भूगोल क्या है

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  102
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!