प्रियंका गांधी अगर पहले से राजनीति में सक्रिय होती तो उत्तर प्रदेश में क्या अलग होता?...


user

Sunil Kumar Pandey

Editor And Writer

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उत्तर प्रदेश में कांग्रेसका लगभग सांप के कगार में है यदि प्रियंका गांधी पहले से भी उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय होती तो कोई विशेष बदलाव नहीं हुआ था क्योंकि तब देश की राजनीति में भोजन समाज पार्टी समाजवादी पार्टी तथा भारतीय जनता पार्टी के बाद ही कांग्रेसका नंबर आता है जब देश में तीनों पार्टियों का पर्याप्त मत है कांग्रेश अपना विश्वास उत्तर प्रदेश में पूरी तरह कुछ भी है क्योंकि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आए 30 साल से अधिक समय बीत चुके हैं धन्यवाद

uttar pradesh me kangresaka lagbhag saap ke kagar me hai yadi priyanka gandhi pehle se bhi uttar pradesh ki raajneeti me sakriy hoti toh koi vishesh badlav nahi hua tha kyonki tab desh ki raajneeti me bhojan samaj party samajwadi party tatha bharatiya janta party ke baad hi kangresaka number aata hai jab desh me tatvo partiyon ka paryapt mat hai congress apna vishwas uttar pradesh me puri tarah kuch bhi hai kyonki uttar pradesh me congress ki sarkar aaye 30 saal se adhik samay beet chuke hain dhanyavad

उत्तर प्रदेश में कांग्रेसका लगभग सांप के कगार में है यदि प्रियंका गांधी पहले से भी उत्तर प

Romanized Version
Likes  112  Dislikes    views  865
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Govind Saraf

Entrepreneur

1:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें प्रियंका गांधी अगर पहले से राजनीति में सक्रिय होती तो उत्तर प्रदेश में क्या लोग होता है यह तो मैं एक चुटकी के बताना चाहूंगा एक विदेशी अखबार ने गांधीजी के लिए प्रिंट किया उन्होंने महासचिव बनाया गया कांग्रेसमें उनके लिए प्रिंट किया कि प्रियंका गांधी जॉइंट फैमिली फॉर्म ठीक है तो मैं देखिए कांग्रेस के विरुद्ध ऐसी कुछ बात नहीं करना चाह रहा हूं लेकिन जब मीडिया नहीं ऐसा बात दिखाओ वह भी विदेशी मीडिया ने आप समझ सकते हो कि कांग्रेसी क्या कांग्रेस है आज ठीक है इतना सोने बताना चाहता हूं आप किसी को देते हो तो आप उसे ही पद क्यों देते हो तो सब गांधी परिवार का हो अपना गांधी परिवार वालों को भी पद क्यों नहीं देते हो बड़े सोचा सोचा बड़ा से बड़ा पद उनकी क्वालिटी को देखकर उनके दो सबसे सक्रिय कब बात कर रहे हैं किस जगह पर आकर्षक उत्तर प्रदेश में क्या लाभ होता है आप खुद समझ लेना जिस पार्टी में कुछ अलग नहीं हो पा रहा है आज तक ना भी तो कुछ समझ पा रहे हैं आजादी कितने सालों बाद तक की परिवारवाद छोड़कर भी अगर तरक्की की ओर बढ़ना है तो परिवार वह छोड़ना पड़ेगा हमें जो पार्टी के बाद समझ नहीं पा रही है तब क्या क्या मैं आपको बताऊं कि अगर उस सक्रिय होती तो उत्तर प्रदेश में क्या लाभ होता है जो पार्टी के समझे कि परिवारवाद से हटके इंसान की काबिलियत उसे पोस्ट देना चाहिए जब यह देश समझ जाएगा कि जाने का बिल उसे नौकरी मिलनी चाहिए ना की आरक्षण पर तभी यह देश में कुछ बदलाव आएगा वरना आज भी हम लड़ते थे लड़ेंगे आरक्षण के लिए यह हमारा यह हमारे हमारा समय ऐसा आ गया है

dekhen priyanka gandhi agar pehle se raajneeti mein sakriy hoti toh uttar pradesh mein kya log hota hai yah toh main ek chutakee ke bataana chahunga ek videshi akhbaar ne gandhiji ke liye print kiya unhone mahasachiv banaya gaya kangresamen unke liye print kiya ki priyanka gandhi joint family form theek hai toh main dekhiye congress ke viruddh aisi kuch baat nahi karna chah raha hoon lekin jab media nahi aisa baat dikhaao vaah bhi videshi media ne aap samajh sakte ho ki congressi kya congress hai aaj theek hai itna sone bataana chahta hoon aap kisi ko dete ho toh aap use hi pad kyon dete ho toh sab gandhi parivar ka ho apna gandhi parivar walon ko bhi pad kyon nahi dete ho bade socha socha bada se bada pad unki quality ko dekhkar unke do sabse sakriy kab baat kar rahe hai kis jagah par aakarshak uttar pradesh mein kya labh hota hai aap khud samajh lena jis party mein kuch alag nahi ho paa raha hai aaj tak na bhi toh kuch samajh paa rahe hai azadi kitne salon baad tak ki parivaarvaad chhodkar bhi agar tarakki ki aur badhana hai toh parivar vaah chhodna padega hamein jo party ke baad samajh nahi paa rahi hai tab kya kya main aapko bataun ki agar us sakriy hoti toh uttar pradesh mein kya labh hota hai jo party ke samjhe ki parivaarvaad se hatake insaan ki kabiliyat use post dena chahiye jab yah desh samajh jaega ki jaane ka bill use naukri milani chahiye na ki aarakshan par tabhi yah desh mein kuch badlav aayega varna aaj bhi hum ladte the ladenge aarakshan ke liye yah hamara yah hamare hamara samay aisa aa gaya hai

देखें प्रियंका गांधी अगर पहले से राजनीति में सक्रिय होती तो उत्तर प्रदेश में क्या लोग होता

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  1317
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रियंका गांधी अगर कांग्रेस में पूर्व से ही सक्रिय रहती तो निश्चित रूप से इसका लाभ कांग्रेस को मिलता है और प्रत्येक उत्तर प्रदेश में कांग्रेसी अच्छा प्रदर्शन कर पाती लेकिन प्रियंका गांधी के सक्रिय नहीं होने से इसका नुकसान कांग्रेस को हुआ है

priyanka gandhi agar congress mein purv se hi sakriy rehti toh nishchit roop se iska labh congress ko milta hai aur pratyek uttar pradesh mein congressi accha pradarshan kar pati lekin priyanka gandhi ke sakriy nahi hone se iska nuksan congress ko hua hai

प्रियंका गांधी अगर कांग्रेस में पूर्व से ही सक्रिय रहती तो निश्चित रूप से इसका लाभ कांग्रे

Romanized Version
Likes  48  Dislikes    views  941
WhatsApp_icon
user
0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रियंका गांधी अगर राजनीति में पहले से सकरी होती तो भी वर्तमान परिस्थितियों में कुछ खास बदलाव नहीं आता इस बार चुनाव लोकसभा का भाजपा ने राष्ट्रवाद के मुद्दे को लेकर नारा था और राष्ट्रवाद एक ऐसा विषय है जिस पर पूरा देश एक होता है और इस कारण ही मोदी जी की भारी बहुमत से जीत हुई थी

priyanka gandhi agar raajneeti mein pehle se sakari hoti toh bhi vartaman paristhitiyon mein kuch khaas badlav nahi aata is baar chunav lok sabha ka bhajpa ne rashtravad ke mudde ko lekar naara tha aur rashtravad ek aisa vishay hai jis par pura desh ek hota hai aur is karan hi modi ji ki bhari bahumat se jeet hui thi

प्रियंका गांधी अगर राजनीति में पहले से सकरी होती तो भी वर्तमान परिस्थितियों में कुछ खास बद

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  344
WhatsApp_icon
user

Nitish Kumar

RRB Railway JE

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक्चुअली प्रियंका गांधी अगर पहले से सक्रिय होती तो यूपी में आज हो सकता है कि प्रियंका गांधी की सरकार बनी रहती

actually priyanka gandhi agar pehle se sakriy hoti toh up mein aaj ho sakta hai ki priyanka gandhi ki sarkar bani rehti

एक्चुअली प्रियंका गांधी अगर पहले से सक्रिय होती तो यूपी में आज हो सकता है कि प्रियंका गांध

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Kesharram

Teacher

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां प्रियंका गांधी अगर पहले से राजनीतिक ली होती तो उत्तर प्रदेश में क्या अलग होता है इस बार तो जीवन में लिखा हुआ है और उसमें कुछ अलग होने वाला नहीं था उसका प्रभाव पड़ेगा और अलग हो जाएगा और मोदी जी आदरणीय प्रियंका गांधी होता है राहुल गांधी हो वह अपने कार्य में सक्रिय रहेंगे उनको सफलता मिलेगी धन्यवाद

haan priyanka gandhi agar pehle se raajnitik li hoti toh uttar pradesh mein kya alag hota hai is baar toh jeevan mein likha hua hai aur usme kuch alag hone vala nahi tha uska prabhav padega aur alag ho jaega aur modi ji adaraniya priyanka gandhi hota hai rahul gandhi ho vaah apne karya mein sakriy rahenge unko safalta milegi dhanyavad

हां प्रियंका गांधी अगर पहले से राजनीतिक ली होती तो उत्तर प्रदेश में क्या अलग होता है इस बा

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  431
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!