क्या आपको नहीं लगता की आजकल के प्यार में प्यार कम और वासना ज़्यादा होती है?...


user

Umesh kumar

Lecturer & Brain Guru ,Finger Prints Consultant

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिलकुल आपका क्वेश्चन बहुत ही सही है इस प्रकार के जो कार से संबंधित क्वेश्चन मेरे पूछे जाते हैं वह कल बताओ मैं उनका जवाब देता हूं तो मेरा यह मानना रहता है कि आज का जो लव है वह प्यार है वह कल नहीं लास्ट है यानी कि प्यार नहीं पास में है और लास्ट में स्वार्थ होता है और स्वार्थ में जब कोई भी इंसान रहता है उसका स्वार्थ पूर्ण हो जाता है तो उसको अपने आप छोड़कर जाता है और फिर कहा जाता है कि उसने धोखा दिया उसने धोखा दिया जबकि हम समझ नहीं पाते हैं कि वह लाओ नहीं तक लास्ट था और आज के समय में यही प्रचलित है अधिक थी या नहीं उसमें का मास में रहती है और काम वासनाओं की पूर्ति होने के पश्चात हम दूरी बनाते हैं जिससे हमें दूसरे से काफी गिला शिकवा होता है यह बिल्कुल आपका बिल्कुल सही मानना है धन्य

bilkul aapka question bahut hi sahi hai is prakar ke jo car se sambandhit question mere pooche jaate hain vaah kal batao main unka jawab deta hoon toh mera yah manana rehta hai ki aaj ka jo love hai vaah pyar hai vaah kal nahi last hai yani ki pyar nahi paas me hai aur last me swarth hota hai aur swarth me jab koi bhi insaan rehta hai uska swarth purn ho jata hai toh usko apne aap chhodkar jata hai aur phir kaha jata hai ki usne dhokha diya usne dhokha diya jabki hum samajh nahi paate hain ki vaah laao nahi tak last tha aur aaj ke samay me yahi prachalit hai adhik thi ya nahi usme ka mass me rehti hai aur kaam vasnaon ki purti hone ke pashchat hum doori banate hain jisse hamein dusre se kaafi gila shikwa hota hai yah bilkul aapka bilkul sahi manana hai dhanya

बिलकुल आपका क्वेश्चन बहुत ही सही है इस प्रकार के जो कार से संबंधित क्वेश्चन मेरे पूछे जाते

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1240
WhatsApp_icon
16 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

डा आचार्य महेंद्र

Astroloser,Vastusastro,pravchankarta

0:55
Play

Likes  111  Dislikes    views  975
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:48
Play

Likes  185  Dislikes    views  6092
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

0:35
Play

Likes  565  Dislikes    views  4522
WhatsApp_icon
user

Dr.Paramjit Singh

Health and Fitness Expert/ Lecturer In Physical Education/

0:43
Play

Likes  116  Dislikes    views  746
WhatsApp_icon
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन समय के साथ समाज में और इंसान में परिवर्तन आता रहता है एक जनरेशन से दूसरे जनरेशन में आपको बहुत बड़ा फर्क दिखेगा बहुत बड़ा शिफ्ट दिखेगा आज पिछले तीन-चार डेट में तो बहुत ज्यादा शिफ्ट हुआ है इसमें क्या होता है कि इंसान के सोचने का तरीका उसका नजरिया उसका बर्ताव वह सारा कुछ चेंज होने लगता है चेंज हो गया है काव्य तक आज की तारीख में इंसान क्या ढूंढता है क्या वह लड़का है या लड़की वह फ्रीडम सुनता है सेफ्टी देखता है सिक्योरिटी देखता है किस एरिया में फ्रीडम टू स्पीच फ्रीडम टो वर्क भी देखता है कि क्या मैं सिर्फ और सिर्फ अपने चली सेफ एंड साउंड क्या में फिजिकली से हूं सिक्योरिटी 22 क्या सब ठीक-ठाक है या नहीं है काम करने में मुझे फिर पूरी फ्रीडम है आजादी है या नहीं यही देखता है कि मेरा कन्वीनियंस जो है वह बढ़ रहा है काम हो रहा है मैं अपनी कन्वीनियंस के हिसाब से चीजें करूंगा अब जब समाज में हो रहे भोजपुरी भोजपुरी नजरिया भी हाल बुरा है तो क्या होता है बाउंटीज डाइल्यूट हो जाती है क्यों डिलीट होती है क्योंकि मेरे पास वह फ्रीडम है जाने आने की पैसा खर्च करने की कुछ भी चीज के हमारे पास फ्रीडम फ्रीडम होती है तो बाउंड्री डिजाइन और डायबिटीज डायट हो रही है किन के बीच में जो इंसान के बीच में यह कौन है एक मेल है एक सिमिलर ऑप्शन सचिन की शुरू से ही ना छुले टेंडेंसी है गेट अट्रैक्टेड टुवर्ड्स थे स्नोमैन अब यह बोलना एकदम गलत होगा कि खाली प्यार है और लास्ट की तरफ बढ़ रहे हैं ऐसा नहीं है हालांकि यह दोनों एस्पेक्ट इंपॉर्टेंट है और यह लाइफ का पाठ है तो होता क्या कि किसी केस में आपको ऐसा लगेगा कि नहीं यह चाहेंगे कि अब चलो प्यार तो ठीक-ठाक है या हो रहा है जो भी कुछ है और फिजिकल प्रेशर तो इसमें कोई बुराई नहीं है ऐसा कुछ नहीं है लेकिन अगर खाली यही मोटी में तो शायद गलत है आजा भाई आजा पाटन पार्ट पार्ट ऑफ लाइफ

lekin samay ke saath samaj mein aur insaan mein parivartan aata rehta hai ek generation se dusre generation mein aapko bahut bada fark dikhega bahut bada shift dikhega aaj pichle teen char date mein toh bahut zyada shift hua hai isme kya hota hai ki insaan ke sochne ka tarika uska najariya uska bartaav vaah saara kuch change hone lagta hai change ho gaya hai kavya tak aaj ki tarikh mein insaan kya dhundhta hai kya vaah ladka hai ya ladki vaah freedom sunta hai safety dekhta hai Security dekhta hai kis area mein freedom to speech freedom toe work bhi dekhta hai ki kya main sirf aur sirf apne chali safe and sound kya mein physically se hoon Security 22 kya sab theek thak hai ya nahi hai kaam karne mein mujhe phir puri freedom hai azadi hai ya nahi yahi dekhta hai ki mera convenience jo hai vaah badh raha hai kaam ho raha hai apni convenience ke hisab se cheezen karunga ab jab samaj mein ho rahe bhojpuri bhojpuri najariya bhi haal bura hai toh kya hota hai bounties dailyut ho jaati hai kyon delete hoti hai kyonki mere paas vaah freedom hai jaane aane ki paisa kharch karne ki kuch bhi cheez ke hamare paas freedom freedom hoti hai toh boundary design aur diabetes diet ho rahi hai kin ke beech mein jo insaan ke beech mein yah kaun hai ek male hai ek similar option sachin ki shuru se hi na chule tendency hai gate attracted tuvards the snowman ab yah bolna ekdam galat hoga ki khaali pyar hai aur last ki taraf badh rahe hain aisa nahi hai halaki yah dono espekt important hai aur yah life ka path hai toh hota kya ki kisi case mein aapko aisa lagega ki nahi yah chahenge ki ab chalo pyar toh theek thak hai ya ho raha hai jo bhi kuch hai aur physical pressure toh isme koi burayi nahi hai aisa kuch nahi hai lekin agar khaali yahi moti mein toh shayad galat hai aajad bhai aajad patan part part of life

लेकिन समय के साथ समाज में और इंसान में परिवर्तन आता रहता है एक जनरेशन से दूसरे जनरेशन में

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1764
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या आपको नहीं लगता कि आजकल के प्यार में प्यार कब और रात में ज्यादा होती है आजकल के प्यार में प्यार कम और वासना ज्यादा होती इस से मैं सहमत हूं मुझे यही लगता है जिसमें से 35% प्यार नहीं करते सिर्फ वासना ही उनको इंपॉर्टेंट लगती है और उनको वह प्यार का नाम देते हैं लेकिन यह गलत चीज है वासना को कभी प्यार का नाम नहीं देना चाहिए कि प्यार प्यार है प्यार में कभी पास नहीं होती है इसलिए दोनों चीज अलग होनी चाहिए दोनों पहलू अलग है और यह गलत है तो प्यार को कभी बदनाम नहीं करना चाहिए आपका दिन शुभ हो धन्यवाद गुल्लक पर लाइव टेक केयर एंड एंजॉय

aapka prashna hai kya aapko nahi lagta ki aajkal ke pyar mein pyar kab aur raat mein zyada hoti hai aajkal ke pyar mein pyar kam aur vasana zyada hoti is se main sahmat hoon mujhe yahi lagta hai jisme se 35 pyar nahi karte sirf vasana hi unko important lagti hai aur unko vaah pyar ka naam dete hain lekin yah galat cheez hai vasana ko kabhi pyar ka naam nahi dena chahiye ki pyar pyar hai pyar mein kabhi paas nahi hoti hai isliye dono cheez alag honi chahiye dono pahaloo alag hai aur yah galat hai toh pyar ko kabhi badnaam nahi karna chahiye aapka din shubha ho dhanyavad gullak par live take care and enjoy

आपका प्रश्न है क्या आपको नहीं लगता कि आजकल के प्यार में प्यार कब और रात में ज्यादा होती है

Romanized Version
Likes  374  Dislikes    views  4541
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आपको नहीं लगता कि आजकल के प्यार में प्यार कब मुरवास ना जाओ जी हम सबको लगता है कि आजकल के प्यार में प्यार की भावना कम है और स्वार्थ या वासना एक दूसरे की भावना जाता है कि लोगों की सोच हर समाज में फ्रीडम मिला है वह भी एक बहुत बड़ा कारण सोशल मीडिया बीच में अपना पार्ट अपना रोल अदा करता है हमारी सिनेमा है वह भी रोल अदा करती हमारी जो टीवी क्षेत्र है अगर मीडिया में तो वह भी अपना रोल अदा करती है लोगों की सोच बदलती है समय-समय पर हद 10 हफ्ते में बदलती है पहले क्या लड़के नहीं हुआ करते थे पहले क्या लड़कियों का सेक्सी पहले जब ऐसा नहीं था तो अब ऐसा क्यों यही सोचकर वातावरण कथा श्री राम कथा इसी कारण से जो एक्शन होता है शरीर का टशन इश्क होता है कि मुझे पढ़ाई करनी है मुझको एक्सपीरियंस करना है सब लोगों को जल्दी से एक्सपीरियंस बन जाना है चाहे वह उम्र कोई भी सब लोगों को एक्सपेरिमेंट करना है सब लोगों को फ्रीडम चाहिए और सब लोगों को सेफ्टी भी चाहिए पहले इतने सारे गर्मी हो सकता कर नहीं थे अब प्रेगनेंसी टेस्ट की कोई कितनी आती थी अब वह भी आती है ₹50 में आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं अब तो बिस्तर पर जाने की जरूरत नहीं और अगर प्रेगनेंसी हो गई तो आप चाहते हो संदीप करवा सकते हैं डेढ़ महीने पहले इतना ज्यादा नहीं थी छूट नहीं थी इतना बता दो कहां से कहां जाते हैं लोगों की जरूरतें अब रोटी कपड़ा और मकान के बाद यह हो गई है मोबाइल चाहिए और साथ में शरीर की जरूरत है और लोगों को पेमेंट करना है इंजॉय करना है वो वक्त हमारा समाज की तरफ बढ़ता है ऐसा नहीं हो पाता इस समय की मांग है ऐसा भी हम नहीं कहेंगे तो मैं बीमार नहीं पड़ता हम यूरोपीय सभ्यता से अभिप्रेत होकर और हम यह सब अगर करें तो हमारी चोर नैतिक पतन होने जा रहा है या नैतिक स्वतंत्रता में पता है यह जरूरी नहीं होती सब चीज अच्छी नहीं होती

kya aapko nahi lagta ki aajkal ke pyar mein pyar kab murvas na jao ji hum sabko lagta hai ki aajkal ke pyar mein pyar ki bhavna kam hai aur swarth ya vasana ek dusre ki bhavna jata hai ki logo ki soch har samaj mein freedom mila hai vaah bhi ek bahut bada karan social media beech mein apna part apna roll ada karta hai hamari cinema hai vaah bhi roll ada karti hamari jo TV kshetra hai agar media mein toh vaah bhi apna roll ada karti hai logo ki soch badalti hai samay samay par had 10 hafte mein badalti hai pehle kya ladke nahi hua karte the pehle kya ladkiyon ka sexy pehle jab aisa nahi tha toh ab aisa kyon yahi sochkar vatavaran katha shri ram katha isi karan se jo action hota hai sharir ka tashan ishq hota hai ki mujhe padhai karni hai mujhko experience karna hai sab logo ko jaldi se experience ban jana hai chahen vaah umr koi bhi sab logo ko experiment karna hai sab logo ko freedom chahiye aur sab logo ko safety bhi chahiye pehle itne saare garmi ho sakta kar nahi the ab pregnancy test ki koi kitni aati thi ab vaah bhi aati hai Rs mein aap pregnancy test kar sakte hain ab toh bistar par jaane ki zarurat nahi aur agar pregnancy ho gayi toh aap chahte ho sandeep karva sakte hain dedh mahine pehle itna zyada nahi thi chhut nahi thi itna bata do kahaan se kahaan jaate hain logo ki jaruratein ab roti kapda aur makan ke baad yah ho gayi hai mobile chahiye aur saath mein sharir ki zarurat hai aur logo ko payment karna hai enjoy karna hai vo waqt hamara samaj ki taraf badhta hai aisa nahi ho pata is samay ki maang hai aisa bhi hum nahi kahenge toh main bimar nahi padta hum european sabhyata se abhipret hokar aur hum yah sab agar kare toh hamari chor naitik patan hone ja raha hai ya naitik swatantrata mein pata hai yah zaroori nahi hoti sab cheez achi nahi hoti

क्या आपको नहीं लगता कि आजकल के प्यार में प्यार कब मुरवास ना जाओ जी हम सबको लगता है कि आजकल

Romanized Version
Likes  39  Dislikes    views  1198
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यस मैं आपसे सहमत हूं आज के लड़के लड़कियों में प्रेम कम नजर आता है वास्तविक नजर आती है और यह भी कहना गलत नहीं होगा कि आज की लड़कियां लड़कों से चाह रहा था कि लड़का शादी से पहले 1020 लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करते हो शादी से पहले से ही हो जाते हैं उनमें लड़के लड़कियां बराबर से सही है इसी को आज आज की पिक्चरें देख देख करके गंदी तरह देख देख कर किसी को प्रेम कहते हैं बुझी को पैर नहीं बाय-बाय आवश्यक मैं आपसे सहमत हूं

Yes main aapse sahmat hoon aaj ke ladke ladkiyon mein prem kam nazar aata hai vastavik nazar aati hai aur yah bhi kehna galat nahi hoga ki aaj ki ladkiyan ladko se chah raha tha ki ladka shadi se pehle 1020 ladkiyon ki zindagi barbad karte ho shadi se pehle se hi ho jaate hain unmen ladke ladkiyan barabar se sahi hai isi ko aaj aaj ki pikcharen dekh dekh karke gandi tarah dekh dekh kar kisi ko prem kehte hain bujhi ko pair nahi bye bye aavashyak main aapse sahmat hoon

यस मैं आपसे सहमत हूं आज के लड़के लड़कियों में प्रेम कम नजर आता है वास्तविक नजर आती है और य

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1330
WhatsApp_icon
play
user

Norang sharma

Social Worker

1:59

Likes  18  Dislikes    views  423
WhatsApp_icon
user

dr Avnindra kumar upadhyay

Physiotherapist & Yoga Instructor

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सही है आपका विचार भी सही है वासना ज्यादा है लेकिन शो में जो है 0.1 0.20 पर्चा मोहब्बत होता है जो बहुत ही लिया है उसी को कहते हैं मोहब्बत खुदा की इबादत है मोहब्बत ईमान है ना कि जो है बात ना फिल्म देखने को ही मिला है कि ज्यादातर वासना सही जो है प्रेरित होकर जो है कोई भी मोहब्बत करता मोहब्बत का आज प्रयार ही बन चुका है मोहब्बत कामवासना जो आकर्षण मोहब्बत कहा जाता है लेकिन मोहब्बत तो दो दिलों में उत्पन्न होने वाला है जिसमें वासना

sahi hai aapka vichar bhi sahi hai vasana zyada hai lekin show me jo hai 0 1 0 20 parcha mohabbat hota hai jo bahut hi liya hai usi ko kehte hain mohabbat khuda ki ibadat hai mohabbat iman hai na ki jo hai baat na film dekhne ko hi mila hai ki jyadatar vasana sahi jo hai prerit hokar jo hai koi bhi mohabbat karta mohabbat ka aaj prayar hi ban chuka hai mohabbat kaamvasna jo aakarshan mohabbat kaha jata hai lekin mohabbat toh do dilon me utpann hone vala hai jisme vasana

सही है आपका विचार भी सही है वासना ज्यादा है लेकिन शो में जो है 0.1 0.20 पर्चा मोहब्बत होता

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  358
WhatsApp_icon
user

santosh Kumar santosh

College Chairman

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल आजकल के प्यार प्यार नहीं एक्सट्रैक्शन लेकर आएंगे बिल्कुल प्यार प्यार नहीं होता ऐसा ना होता है इसलिए नॉट एग्री विद यू

bilkul aajkal ke pyar pyar nahi extraction lekar aayenge bilkul pyar pyar nahi hota aisa na hota hai isliye not agree with you

बिल्कुल आजकल के प्यार प्यार नहीं एक्सट्रैक्शन लेकर आएंगे बिल्कुल प्यार प्यार नहीं होता ऐसा

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  223
WhatsApp_icon
user

Vinamrata Mishra

Scollar(IISC)

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल और पुराने जमाने का प्यार क्या होता है अरे भाई पर प्यार है तो बस उसे प्यार होता है एक दूसरे के लिए की है रोता है रिस्पेक्ट होता है एक दूसरे में दूसरे बदमाश जो 2 लोग होते हैं उनको एक दूसरे से इंपॉर्टेंट किसी को देता ही नहीं है और यह वासना वाली चीज है यह तो है ही नहीं वहां पर इसका एक सस्पेंस जीरो है ठीक है आजकल कहां हो पुराने जमाने का हो अगर प्यार था पुराने जमाने में भी तीज का महत्व बहुत दम जीरो था कोई मतलब ही नहीं था अगर था जिसका इंपॉर्टेंट बहुत कम स्कोर पर पॉइंट गेट बहुत कम ठीक है प्रेमी प्रेम होना जरूरी है तू आजकल का हो या पुराने जमाने का मौका भी कहो ठीक है तो यह धारणा गलत है कि आजकल के प्यार में जो है वासना ज्यादा होती है अगर तुम प्यार ही नहीं करते हैं बस यूज करते हैं तो करते हैं यही तो करते हैं यही तो प्यार है तो जमाने के लोगों का तो प्यार करते नहीं हैं या लड़कियां भी ऐसी हो गई है पता नहीं क्यों और लड़कों का तो नाम ही छोड़ दो ऐसा नहीं है प्यार के नाम बदनाम कर रहे हो

aajkal aur purane jamane ka pyar kya hota hai are bhai par pyar hai toh bus use pyar hota hai ek dusre ke liye ki hai rota hai respect hota hai ek dusre me dusre badamash jo 2 log hote hain unko ek dusre se important kisi ko deta hi nahi hai aur yah vasana wali cheez hai yah toh hai hi nahi wahan par iska ek suspense zero hai theek hai aajkal kaha ho purane jamane ka ho agar pyar tha purane jamane me bhi teej ka mahatva bahut dum zero tha koi matlab hi nahi tha agar tha jiska important bahut kam score par point gate bahut kam theek hai premi prem hona zaroori hai tu aajkal ka ho ya purane jamane ka mauka bhi kaho theek hai toh yah dharana galat hai ki aajkal ke pyar me jo hai vasana zyada hoti hai agar tum pyar hi nahi karte hain bus use karte hain toh karte hain yahi toh karte hain yahi toh pyar hai toh jamane ke logo ka toh pyar karte nahi hain ya ladkiya bhi aisi ho gayi hai pata nahi kyon aur ladko ka toh naam hi chhod do aisa nahi hai pyar ke naam badnaam kar rahe ho

आजकल और पुराने जमाने का प्यार क्या होता है अरे भाई पर प्यार है तो बस उसे प्यार होता है एक

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
user

satyaveer singh

Satya Traders

0:57
Play

Likes  10  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
user

Aditya kumar

Love Guru 9304976130

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां आप कह सकते हैं कि ऐसा होता है मगर कुछ लोग होते हैं प्यार करते हैं कुछ लोगों के बस जरूरत है चाहिए क्योंकि के युवा लोग बचपन से ही उस लेवल तक पहुंचाते हैं जो दे अलग-अलग इंटरनेट पर देख कर वह बातें याद वीडियो देखते जीत हो जाते हैं और वह उसे चीज को खोजने लग जाते हैं इसी वजह से उन्हें लगता है कि इस तरीका से प्यार के तरीके से बने मिल सकता है लड़की अभी वैसे ही सोचती है तैयारी तरह से वह काम करने के लिए राजस्थानी तो आप सही हो प्यार कम किया जा रहा है वासना ज्यादा हो रहा है

haan aap keh sakte hain ki aisa hota hai magar kuch log hote hain pyar karte hain kuch logo ke bus zarurat hai chahiye kyonki ke yuva log bachpan se hi us level tak pahunchate hain jo de alag alag internet par dekh kar vaah batein yaad video dekhte jeet ho jaate hain aur vaah use cheez ko khojne lag jaate hain isi wajah se unhe lagta hai ki is tarika se pyar ke tarike se bane mil sakta hai ladki abhi waise hi sochti hai taiyari tarah se vaah kaam karne ke liye rajasthani toh aap sahi ho pyar kam kiya ja raha hai vasana zyada ho raha hai

हां आप कह सकते हैं कि ऐसा होता है मगर कुछ लोग होते हैं प्यार करते हैं कुछ लोगों के बस जरूर

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user

Meena bai

Housewife

0:30
Play

Likes  22  Dislikes    views  583
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!