पाखंड तथा झूठी पूजा क्या है?...


user

stvan Das

मजदूर

2:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीर्थ मंदिर मस्जिद महंत फकीरा दी पलटू साहिब ने संसार में प्रचलित अनेक प्रकार की बाहर मुखी पूजा तथा झूठी भक्ति का बड़ी गिलहरी से खंडन किया है आप कहते हैं कि तीनों में पत्थर तथा पानी के सिवाय कुछ नहीं है यह दुकानदारी के अड्डे हैं जहां सच्ची आध्यात्मिकता का भाव है भूतों प्रेतों की पूजा करना भारी मूर्खता है की पूजा करने वाले भूत प्रेत बनेंगे वह प्रभु हमारे अंदर है तथा अंदर ही उसकी खोज करनी चाहिए उसे प्रभु को छोड़कर अनेक देवी देवताओं तथा ईस्ट आदि की मूर्तियों की पूजा करना व्यर्थ है क्योंकि बहुत से पुरुषों की संगति करने वाली नारी पतिव्रता तथा पुत्रवती नहीं बन सकती वह बाज़ तथा दो हागिन रह जाती है प्रत्येक प्रकार की बाहर मुखी पाखंड की भक्ति का त्याग करके तथा किसी पूर्ण संत श्री प्रभु भक्ति का सच्चा मार्ग प्राप्त करके तन व मन से उस पर चलना चाहिए यही प्रभु की प्राप्ति का मार्ग

tirth mandir masjid mahant fakira di palatu sahib ne sansar me prachalit anek prakar ki bahar mukhi puja tatha jhuthi bhakti ka badi gilahari se khandan kiya hai aap kehte hain ki tatvo me patthar tatha paani ke shivaay kuch nahi hai yah dukandari ke adde hain jaha sachi aadhyatmikta ka bhav hai bhooton prato ki puja karna bhari murkhta hai ki puja karne waale bhoot pret banenge vaah prabhu hamare andar hai tatha andar hi uski khoj karni chahiye use prabhu ko chhodkar anek devi devatao tatha east aadi ki murtiyon ki puja karna vyarth hai kyonki bahut se purushon ki sangati karne wali nari PATIVRATA tatha putravati nahi ban sakti vaah baaz tatha do hagin reh jaati hai pratyek prakar ki bahar mukhi pakhand ki bhakti ka tyag karke tatha kisi purn sant shri prabhu bhakti ka saccha marg prapt karke tan va man se us par chalna chahiye yahi prabhu ki prapti ka marg

तीर्थ मंदिर मस्जिद महंत फकीरा दी पलटू साहिब ने संसार में प्रचलित अनेक प्रकार की बाहर मुखी

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!