एक साइंस छात्र को UPSC इग्ज़ाम क्लियर करने के लिए कितना पढ़ना पड़ता हैं?...


play
user
2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूपीएससी एग्जाम क्लियर करने के लिए कितना पढ़ना पड़ता है अगर यह बात है तो यू पी सी एक्जाम कि वह सिलेबस को विस्तृत सिलेबस को देखते हुए यही कहा जा सकता है कि बहुत पढ़ना पड़ता है बहुत हद तक पढ़ना पड़ता है लेकिन अगर आप यही कहें कि कितना पढ़ना से अगर आप आ जाएं कि कैसे पढ़ना पड़ता है इस को रिप्लेस कर दें कैसे पढ़ना है तो कितना पढ़ना जो हम कहते हैं तो इसका मतलब हो जाता है कि इतना सिलेबस फास्ट है कि हम तीन-चार साल भी हो जाएंगे तब भी वह सिलेबस खत्म नहीं हो सकता तो हम यूपीएससी का सिलेबस स्टेट जिले में देखें एक रणनीति बनाकर देखें तो यह देखें कि उस सिलेबस को कैसे पढ़ना है कितना नहीं पढ़ना कैसे पढ़ना है कि हम यूपीएससी को क्रैक करें यह अप्रोच यूपीएससी क्रैक करने में मददगार साबित हो सकती है तो हम इसे कितना पढ़ना से हटाकर कैसे पढ़ना है इसलिए बस कोई इस पर अपना फोकस करें तो यह अप्रोच आ गई तो मददगार होगा दूसरा आप बोल रहे हैं आप साइंस स्ट्रीम से तो कुछ साइंस स्ट्रीम वालों को लगता है कि इसमें ही मरीज के सोशल साइंस के जी एस के सब्जेक्ट आते हैं तो यह आर्ट स्ट्रीम बालों के लिए मददगार होती है हिम्मत वालों के लिए मददगार होती है कुछ हद तक सही भी है कि आर्ट वालों के लिए होती है लेकिन और साइंस वालों की कोटक लग सकता है लेकिन दूसरा नजरिया दूसरा एस्पेक्ट यह भी कहता है कि जो साइंस स्ट्रीम की जो स्टूडेंट होते हैं या एंड जॉइनिंग बैकग्राउंड के होते हैं मेडिकल में अंडर ग्राउंड के होते हैं इनको साइंस इन की बहुत अच्छी होती है तो किसी भी सब्जेक्ट को जब यह पढ़ते हैं या किसी भी टॉपिक को पढ़ते हैं तो उसमें एक साइंटिफिक टच के साथ पढ़ते हैं वह एक लॉजिकल ढंग से पढ़ते एक टेक्निकल तरीके से पढ़ते हैं एक टेक्निक के साथ पढ़ते हैं तो यह अप्रोच यह आठ सब्जेक्ट के साथ भी लगा कर पढ़ सकते हैं मीटिंग के सभ्य के साथ भी पढ़ सकते हैं तो इस तरह से आठ सब्जेक्ट को बहुत जल्दी से खत्म किया जा सकता है

upsc exam clear karne ke liye kitna padhna padta hai agar yah baat hai toh you p si exam ki vaah syllabus ko vistrit syllabus ko dekhte hue yahi kaha ja sakta hai ki bahut padhna padta hai bahut had tak padhna padta hai lekin agar aap yahi kahein ki kitna padhna se agar aap aa jayen ki kaise padhna padta hai is ko replace kar de kaise padhna hai toh kitna padhna jo hum kehte hain toh iska matlab ho jata hai ki itna syllabus fast hai ki hum teen char saal bhi ho jaenge tab bhi vaah syllabus khatam nahi ho sakta toh hum upsc ka syllabus state jile mein dekhen ek rananiti banakar dekhen toh yah dekhen ki us syllabus ko kaise padhna hai kitna nahi padhna kaise padhna hai ki hum upsc ko crack kare yah approach upsc crack karne mein madadgaar saabit ho sakti hai toh hum ise kitna padhna se hatakar kaise padhna hai isliye bus koi is par apna focus kare toh yah approach aa gayi toh madadgaar hoga doosra aap bol rahe hain aap science stream se toh kuch science stream walon ko lagta hai ki isme hi marij ke social science ke ji s ke subject aate hain toh yah art stream balon ke liye madadgaar hoti hai himmat walon ke liye madadgaar hoti hai kuch had tak sahi bhi hai ki art walon ke liye hoti hai lekin aur science walon ki kotak lag sakta hai lekin doosra najariya doosra espekt yah bhi kahata hai ki jo science stream ki jo student hote hain ya and joining background ke hote hain medical mein under ground ke hote hain inko science in ki bahut achi hoti hai toh kisi bhi subject ko jab yah padhte hain ya kisi bhi topic ko padhte hain toh usme ek scientific touch ke saath padhte hain vaah ek logical dhang se padhte ek technical tarike se padhte hain ek technique ke saath padhte hain toh yah approach yah aath subject ke saath bhi laga kar padh sakte hain meeting ke sabhya ke saath bhi padh sakte hain toh is tarah se aath subject ko bahut jaldi se khatam kiya ja sakta hai

यूपीएससी एग्जाम क्लियर करने के लिए कितना पढ़ना पड़ता है अगर यह बात है तो यू पी सी एक्जाम क

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  195
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!