भगवत गीता के प्रथम अध्याय में कुल कितने श्लोक हैं?...


user

Hemant Priyadarshi

Writer | Philospher| Teacher |

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पूरी भागवत गीता 18 अध्याय ओं में है और कुल 18 अध्याय में 700 लोग हैं आपने जो प्रश्न पूछा है प्रथम अध्याय प्रथम अध्याय में कुल 40 747 श्लोक हैं और इसके पश्चात एक श्लोक है जो पूर्णाहुति है श्लोक हैं 47 लोग हैं गीता का प्रथम अध्याय अर्जुन विषाद योग के नाम से जाना जाता है यह प्रथम अध्याय अर्जुन विषाद योग कहा जाता है इसमें अर्जुन अपने मन की पीड़ा अर्थात उन्होंने जो शस्त्र त्याग दिया उस पीड़ा की उनकी शुरुआत वह पीड़ा का कथन उनका है शुरुआत में धृतराष्ट्र और संजय की बातचीत है देश राष्ट्र प्रश्न कुछ पूछते हैं कुल क्षेत्र के बारे में और संजय विस्तार शुरू करते हैं उत्तर देना शुरू करते हैं कुरुक्षेत्र की स्थिति क्या है कौन क्या कर रहा है और तत्पश्चात अर्जुन ने शस्त्र त्याग किया और वहां से वह क्यों उन्होंने शस्त्र त्याग और उनके मन में जो चल रहा था उनके अंदर क्या विषाद भर गए क्या दुख था यह जो कथन है यही प्रथम अध्याय हैं और इस प्रथम अध्याय में कुल 47 लोग हैं

puri bhagwat geeta 18 adhyay on me hai aur kul 18 adhyay me 700 log hain aapne jo prashna poocha hai pratham adhyay pratham adhyay me kul 40 747 shlok hain aur iske pashchat ek shlok hai jo purnahuti hai shlok hain 47 log hain geeta ka pratham adhyay arjun vishad yog ke naam se jana jata hai yah pratham adhyay arjun vishad yog kaha jata hai isme arjun apne man ki peeda arthat unhone jo shastra tyag diya us peeda ki unki shuruat vaah peeda ka kathan unka hai shuruat me Dhritarashtra aur sanjay ki batchit hai desh rashtra prashna kuch poochhte hain kul kshetra ke bare me aur sanjay vistaar shuru karte hain uttar dena shuru karte hain kurukshetra ki sthiti kya hai kaun kya kar raha hai aur tatpashchat arjun ne shastra tyag kiya aur wahan se vaah kyon unhone shastra tyag aur unke man me jo chal raha tha unke andar kya vishad bhar gaye kya dukh tha yah jo kathan hai yahi pratham adhyay hain aur is pratham adhyay me kul 47 log hain

पूरी भागवत गीता 18 अध्याय ओं में है और कुल 18 अध्याय में 700 लोग हैं आपने जो प्रश्न पूछा ह

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  1240
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!