मैं ऐसे पार्ट्नर के साथ कैसे रहूँ जो डिवेलप नहीं करता?...


play
user

Manisha Saikia

Counsellor

0:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर में हस्बैंड वाइफ रिलेशनशिप की बात करें अगर बारे में हम तो मेरे ख्याल से यह तो कंप्लीट ब्रेकिंग कर सकते हैं पार्टनर लाइफ पार्टनर मेरा टेबलेट नहीं हो रहा है इंग्लिश स्पीकिंग ऑनलाइन नहीं हुआ तो नहीं तो अनकाउंटेबल इन अवर इंडियन पंच ओपन कर दो जिंदगियों का सवाल है उनकी का सवाल है उनके बच्चों का सवाल है तो मेरे ख्याल से थोड़ी

agar mein husband wife Relationship ki baat kare agar bare mein hum toh mere khayal se yah toh complete breaking kar sakte hain partner life partner mera tablet nahi ho raha hai english speaking online nahi hua toh nahi toh anakauntebal in avar indian punch open kar do jindagiyon ka sawaal hai unki ka sawaal hai unke baccho ka sawaal hai toh mere khayal se thodi

अगर में हस्बैंड वाइफ रिलेशनशिप की बात करें अगर बारे में हम तो मेरे ख्याल से यह तो कंप्लीट

Romanized Version
Likes  112  Dislikes    views  1429
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Rajesh Rana

Educator, Lawyer

2:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक दोस्त अगर आप लाइफ पार्टनर की बात कर रहे हो तो आपको एक बात बता दें जो शादी जैसी संस्था है वही समझौते का दूसरा नाम है प्रशिक्षण किसी के पास नहीं होते ना तो पुरुष को प्रकट नारी मिलती हैं ना नानी को पर एक पुरुष बनता है जो उसके सपनों का होता है जो सोचता है लेकिन जो मिला है उसे समझौता करना पड़ता है कि जो मिला बहुत अच्छा लगा उसी में आपको सब कुछ देखना पड़ेगा हीरोइन भी देखनी पड़ेगी भगवान भी देखना पड़ेगा अच्छे इंसान की यही तो देखना पड़ेगा यह हमेशा याद रखना है आपको दूसरी बात यह है कि दोनों व्यक्ति कभी भी बराबर की सोच में सबसे बड़ी बात है अगर वह बराबर की सोच के लड़के मर जाएंगे इसलिए थोड़ा सा उतार-चढ़ाव जरूरी है एक थोड़ा काम में थोड़ा ज्यादा तो चीजों का बैलेंस बना रहता तो कुछ इधर से जाएगा तो कुछ तक चला जाएगा लेकिन अगर बराबर हुआ तो इधर से मारा कुछ भेजोगे तो वहां से टकराकर वापस आना और आपको इस बात को समझ ले पहले दूसरी बात है इतनी इंपोर्टेंट बात है लाइफ पार्टनर के बारे में आपको लाइफ पार्टनर क्यों चाहिए पत्नी को पति या पत्नी पति को पत्नी क्या बिजनेस चालू करने के लिए शादी की या फिर जिंदगी चलाने के लिए शादी थी दोनों अलग बातें तो जीवन की फिलॉस्फी को समझो आपकी प्रवृत्ति क्या है शादी करने में अगर लाइफ पार्टनर चाहिए तो फिर बिजनेस की बात मत करो मैं कुछ अपना बिजनेस आफ खुद करो आप की जिम्मेवारी चाहती हैं पत्नी और अगर आपने बिजनेस के लिए शादी की तो फिर पसंद है खाना बना कर भी आपको शादी के पार्टी में लेकर जाए आपके मायके जाए में नहीं होगा रोटी सेट करो रोटी क्या थी शादी करने पर अगर एग्जाम में शादी की है तो फिर से लगा रहेगा लगती है बिजनेस आपकी अपनी जिम्मेवारी

ek dost agar aap life partner ki baat kar rahe ho toh aapko ek baat bata de jo shadi jaisi sanstha hai wahi samjhaute ka doosra naam hai prashikshan kisi ke paas nahi hote na toh purush ko prakat nari milti hain na naani ko par ek purush banta hai jo uske sapno ka hota hai jo sochta hai lekin jo mila hai use samjhauta karna padta hai ki jo mila bahut accha laga usi mein aapko sab kuch dekhna padega heroine bhi dekhni padegi bhagwan bhi dekhna padega acche insaan ki yahi toh dekhna padega yah hamesha yaad rakhna hai aapko dusri baat yah hai ki dono vyakti kabhi bhi barabar ki soch mein sabse badi baat hai agar vaah barabar ki soch ke ladke mar jaenge isliye thoda sa utar chadhav zaroori hai ek thoda kaam mein thoda zyada toh chijon ka balance bana rehta toh kuch idhar se jaega toh kuch tak chala jaega lekin agar barabar hua toh idhar se mara kuch bhejoge toh wahan se takraakar wapas aana aur aapko is baat ko samajh le pehle dusri baat hai itni important baat hai life partner ke bare mein aapko life partner kyon chahiye patni ko pati ya patni pati ko patni kya business chaalu karne ke liye shadi ki ya phir zindagi chalane ke liye shadi thi dono alag batein toh jeevan ki philosophy ko samjho aapki pravritti kya hai shadi karne mein agar life partner chahiye toh phir business ki baat mat karo main kuch apna business of khud karo aap ki jimmewari chahti hain patni aur agar aapne business ke liye shadi ki toh phir pasand hai khana bana kar bhi aapko shadi ke party mein lekar jaaye aapke mayke jaaye mein nahi hoga roti set karo roti kya thi shadi karne par agar exam mein shadi ki hai toh phir se laga rahega lagti hai business aapki apni jimmewari

एक दोस्त अगर आप लाइफ पार्टनर की बात कर रहे हो तो आपको एक बात बता दें जो शादी जैसी संस्था ह

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!