मध्यकाल में यूरोप वासियों के बाद आक्रमण के क्या कारण थे?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारी आपसे तब से लेकर आज तक चाहिए परिवारों सहित समाज को चाहिए तो चाहिए चाहे देश हमेशा अगर कोई आकर करता है तो हमारी आप सब को हमारी आपसी द्वेष हमारा झगड़ा हम धन धन से संपन्न है लेकिन आपस में लड़ रहे इसलिए हमको बाहरी लोग आकर के मीठे मीठे को लूटेंगे कैसे जब तक हम को हत्या नहीं बनाएंगे हम को हथियार बनाए इसके बाद हम भी पी लेंगे हम आपस में लड़ते रहे मर जाएंगे अपना सब कुछ गंवा बैठे हैं उनका सिद्धांत सिद्धांत हिंदुस्तानी

hamari aapse tab se lekar aaj tak chahiye parivaron sahit samaj ko chahiye toh chahiye chahen desh hamesha agar koi aakar karta hai toh hamari aap sab ko hamari aapasi dvesh hamara jhagda hum dhan dhan se sampann hai lekin aapas me lad rahe isliye hamko bahri log aakar ke meethe meethe ko lutenge kaise jab tak hum ko hatya nahi banayenge hum ko hathiyar banaye iske baad hum bhi p lenge hum aapas me ladte rahe mar jaenge apna sab kuch ganva baithe hain unka siddhant siddhant hindustani

हमारी आपसे तब से लेकर आज तक चाहिए परिवारों सहित समाज को चाहिए तो चाहिए चाहे देश हमेशा अगर

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  796
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!