आपको अपने दोस्तों में सब से अच्छे गुण कौन से लगते हैं?...


play
user

Bhavin J. Shah

Life Coach

0:47

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे मेरे दोस्तों में सबसे अच्छे गुण या लगते हैं कि वह मुझे कोई प्लस या कोई - से नहीं देखते हैं मैं जैसा हूं वैसा वह मुझे स्वीकार करते हैं और मेरे साथ वर्तमान में जीते हैं जब मैं उनके साथ होता हूं मुझे कोई भी दुख नहीं याद आता नहीं फ्यूचर की चिंता या जाति पास टो फ्यूचर दोनों भूल कर मैं अपनी मस्ती में उनके साथ फ्रीडम से रह सकता हूं तो मुझे मेरे दोस्तों के गुण सबसे अच्छे लगते हो तो यह है कि वह मैं जैसा हूं वैसा मुझे साथ बिहेव करते हैं नहीं मुझ को मुझ में कुछ बेहतर करने की कोशिश करता है नहीं कुछ मेरे में वीक करने की कोशिश करते हैं वह जैसा है वैसा ही मेरे साथ बीएफ करते हैं थैंक यू

mujhe mere doston mein sabse acche gun ya lagte hain ki vaah mujhe koi plus ya koi se nahi dekhte hain main jaisa hoon waisa vaah mujhe sweekar karte hain aur mere saath vartaman mein jeete hain jab main unke saath hota hoon mujhe koi bhi dukh nahi yaad aata nahi future ki chinta ya jati paas toe future dono bhool kar main apni masti mein unke saath freedom se reh sakta hoon toh mujhe mere doston ke gun sabse acche lagte ho toh yah hai ki vaah main jaisa hoon waisa mujhe saath behave karte hain nahi mujhse ko mujhse mein kuch behtar karne ki koshish karta hai nahi kuch mere mein weak karne ki koshish karte hain vaah jaisa hai waisa hi mere saath bf karte hain thank you

मुझे मेरे दोस्तों में सबसे अच्छे गुण या लगते हैं कि वह मुझे कोई प्लस या कोई - से नहीं देखत

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1091
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे अपने दोस्तों में जो कुछ अच्छे लगते हैं वह यह है कि जो मुझे उनकी मदद की जरूरत होती है तो वह मेरी मजाक करते हैं इसके अलावा जब मैं परेशान होती हूं किसी भी बात से और मैं उनसे बात करती हूं तुम मेरी बात सुनते हैं दिया वेरी गुड लिस्नर दो और यह होना बहुत जरूरी है जरूरी नहीं है कि सामने वाला हमेशा आपको हाल ही दे लेकिन जब आप अपने मन की बात किस से कर लेते हैं तो आपको बहुत बेहतर महसूस होता है

mujhe apne doston mein jo kuch acche lagte hain vaah yah hai ki jo mujhe unki madad ki zarurat hoti hai toh vaah meri mazak karte hain iske alava jab main pareshan hoti hoon kisi bhi baat se aur main unse baat karti hoon tum meri baat sunte hain diya very good lisnar do aur yah hona bahut zaroori hai zaroori nahi hai ki saamne vala hamesha aapko haal hi de lekin jab aap apne man ki baat kis se kar lete hain toh aapko bahut behtar mehsus hota hai

मुझे अपने दोस्तों में जो कुछ अच्छे लगते हैं वह यह है कि जो मुझे उनकी मदद की जरूरत होती है

Romanized Version
Likes  619  Dislikes    views  7921
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आज के टाइम में दोस्त के ऊपर आप विश्वास करेंगे तो कुछ नहीं है दोस्त मिलते हैं उनके गुणों को सीखिए उनकी अच्छाइयों को सीखिए क्योंकि दोस्त आपके साथ हैं कुछ नहीं कह सकते समय ऐसा गया है कि दोस्त तो सिर्फ मतलब की होते हैं और जितने दिन भी आप उनके साथ रहते हैं उनके अच्छाइयों से सीखिए जैसे मेरा एक दोस्त था उसने एक मेरे को रूटीन बताया कि आप जितनी जल्दी सुबह उठ सकते हैं उठते ही अब सो जाइए वृक्ष करिए चाहिए उसके बाद फिर से कम था और जो काम करने आपका नाश्ता करना है पूजा करना है वह आप करिए और मुझे यह बात उसकी बड़ी अच्छी लगी क्योंकि उससे पहले मैं जब था 9:00 बजे 8:00 बजे 7:00 बजे और छुट्टी वाले दिन तो यह होता था कई बार मैं नहाता ही नहीं था उसकी भेजो भाई यह बात बताइए और वह मेरे दिल में बसी बैठ गई थी तब से मैंने रूटीन बना लिया कि मेरा सबसे पहला काम उठना है बाथरूम जाना है ब्रश करना है नहाना है और उसके बाद स्वच्छ कपड़े पहन के जो चलानी है अब वह काफी टाइम से ही बात को मानता हूं तो दोस्तों में कोई अच्छी बातें हैं उससे वहां एक दोस्त था जैसे मैं कोई सलाह दी कि जितना आप काम आते हैं उसका थोड़ा सा हिस्सा आप इधर या उधर बैंक में एफडी में या आईडी में रिकरिंग डिपॉजिट में जमा करते रहे यह आपके कभी ना कभी काम आएगा कोई तरीका मैंने अपना या अपनी आईडी खोली उसमें हर महीने कुछ न कुछ पैसे जाता था और जब मुझे पता लगा तो 5 साल बाद कुछ अमाउंट मेरे हाथ आया तो मुझे बहुत अच्छा लगा उसकी मैंने उसी बैंक में एफडी करा दी जिसका मुझे 8:00 से 10:00 परसेंट पर इंटरेस्ट मिला उसके बाद मुझे समझ आया कि पहले जिंदगी में जितना कमाते हैं कुछ जब करना बहुत जरूरी है इसलिए बहुत से दोस्त हैं दिल से कुछ सीखते हैं और कुछ बातें ऐसी होती है जो दोस्तों में बिगड़ते भी है बुरी चीजें सिखाते हैं आप उनको वाइट करिए उनको छोड़िए और दोस्तों से अच्छे ज्ञान की बातें दीजिए

dekhiye aaj ke time mein dost ke upar aap vishwas karenge toh kuch nahi hai dost milte hai unke gunon ko sikhiye unki acchhaiyon ko sikhiye kyonki dost aapke saath hai kuch nahi keh sakte samay aisa gaya hai ki dost toh sirf matlab ki hote hai aur jitne din bhi aap unke saath rehte hai unke acchhaiyon se sikhiye jaise mera ek dost tha usne ek mere ko routine bataya ki aap jitni jaldi subah uth sakte hai uthte hi ab so jaiye vriksh kariye chahiye uske baad phir se kam tha aur jo kaam karne aapka nashta karna hai puja karna hai vaah aap kariye aur mujhe yah baat uski baadi achi lagi kyonki usse pehle main jab tha 9 00 baje 8 00 baje 7 00 baje aur chhutti waale din toh yah hota tha kai baar main nahata hi nahi tha uski bhejo bhai yah baat bataye aur vaah mere dil mein basi baith gayi thi tab se maine routine bana liya ki mera sabse pehla kaam uthna hai bathroom jana hai brush karna hai nahaana hai aur uske baad swachh kapde pahan ke jo chalani hai ab vaah kaafi time se hi baat ko manata hoon toh doston mein koi achi batein hai usse wahan ek dost tha jaise main koi salah di ki jitna aap kaam aate hai uska thoda sa hissa aap idhar ya udhar bank mein FD mein ya id mein recurring deposit mein jama karte rahe yah aapke kabhi na kabhi kaam aayega koi tarika maine apna ya apni id kholi usme har mahine kuch na kuch paise jata tha aur jab mujhe pata laga toh 5 saal baad kuch amount mere hath aaya toh mujhe bahut accha laga uski maine usi bank mein FD kara di jiska mujhe 8 00 se 10 00 percent par interest mila uske baad mujhe samajh aaya ki pehle zindagi mein jitna kamate hai kuch jab karna bahut zaroori hai isliye bahut se dost hai dil se kuch sikhate hai aur kuch batein aisi hoti hai jo doston mein bigadte bhi hai buri cheezen sikhaate hai aap unko white kariye unko chodiye aur doston se acche gyaan ki batein dijiye

देखिए आज के टाइम में दोस्त के ऊपर आप विश्वास करेंगे तो कुछ नहीं है दोस्त मिलते हैं उनके गु

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  544
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!