भारत में भविष्य की शिक्षा प्रणाली कैसी होनी चाइए?...


user

Prakhar Srivastava

IAS Aspirant

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है भारत में भविष्य की शिक्षा प्रणाली के लिए कुछ जरुरी नियम आनी चाहिए जैसा कि हर कक्षा के बच्चों का जो बस्ते का बोझ है वह फिक्स करना चाहिए वह कम है ठीक है मिश्रा जी की कक्षा में जब शिक्षक या शिक्षिका पड़ा है तो वह उनके आम जीवन से जोड़कर चीजों को पढ़ाएं ऐसा सिलेबस को तीसरा पढ़ाई के अतिरिक्त स्कूल में खेल कूद और एक्स्ट्रा एक्टिविटीज भी हो जिससे अगर किसी छात्र में पढ़ने के अलावा कोई और रुचि हो या किसी और में उसका टैलेंट तो वह घर के सामने आ सके खेल कूद और संगीत हो ड्राइंग हो यह सब चीजें बहुत ही रहनी चाहिए समय-समय पर भरपूर मात्रा में और हर स्कूल में जो एक टीचिंग होती अभी तक वह टेक्स्ट बुक पर सेंटर्ड होती है वह स्टूडेंट सेंटर होनी चाहिए मतलब की शिक्षा का केंद्र होना चाहिए वह बच्चा है या नहीं विद्यार्थी होना चाहिए ना कि शिक्षा क्या स्कूल की पाठ्यपुस्तक ठीक है और कुछ चीजें है कि वह बच्चों को छोटे बच्चे होते मत बराबरी फर्स्ट सेकंड पार्ट तक उनको बहुत ज्यादा होमवर्क नहीं देना चाहिए उनको ऐसे मत देना चाहिए जो मौके जो उनके अपनी लाइफ से जुड़े हो जैसे वह अगर मैं दादा दादी से बात करते हैं तो क्या बातें करते हैं उनसे कहानी सुनकर है इस टाइप की होनी चाहिए जिससे बच्चों का पढ़ाई में स्कूल आने में मन लगे उन पर बुलाओ उनके मानसिक और शारीरिक दोनों बॉस को कम करने वाला एक करिकुलम सरकार को तैयार करना चाहिए और उसी दर पर स्कूल की पार्टी पुस्तक की होनी चाहिए ठीक है तो यह सब मेरी तरफ से है अगर ऐसी शिक्षा होगी तो भारत बहुत आगे बढ़ जाएगा और 21 और कर सकते कि स्कूलों में धर्म जाति जेंडर इन सब के ऊपर भी एक क्लास लगा सकते कम से कम 36 से ऊपर वाले बच्चों के लिए ताकि वह समाज के इन दुर्गुणों से दूर रह सके और सीख सकें और भारत बदल सकेंगे

mujhe lagta hai bharat mein bhavishya ki shiksha pranali ke liye kuch zaroori niyam aani chahiye jaisa ki har kaksha ke baccho ka jo baste ka bojh hai vaah fix karna chahiye vaah kam hai theek hai mishra ji ki kaksha mein jab shikshak ya shikshika pada hai toh vaah unke aam jeevan se jodkar chijon ko padhaaein aisa syllabus ko teesra padhai ke atirikt school mein khel kud aur extra activities bhi ho jisse agar kisi chatra mein padhne ke alava koi aur ruchi ho ya kisi aur mein uska talent toh vaah ghar ke saamne aa sake khel kud aur sangeet ho drying ho yah sab cheezen bahut hi rehni chahiye samay samay par bharpur matra mein aur har school mein jo ek teaching hoti abhi tak vaah text book par centered hoti hai vaah student center honi chahiye matlab ki shiksha ka kendra hona chahiye vaah baccha hai ya nahi vidyarthi hona chahiye na ki shiksha kya school ki paathyapustak theek hai aur kuch cheezen hai ki vaah baccho ko chote bacche hote mat barabari first second part tak unko bahut zyada homework nahi dena chahiye unko aise mat dena chahiye jo mauke jo unke apni life se jude ho jaise vaah agar main dada dadi se baat karte hain toh kya batein karte hain unse kahani sunkar hai is type ki honi chahiye jisse baccho ka padhai mein school aane mein man lage un par bulao unke mansik aur sharirik dono boss ko kam karne vala ek curriculum sarkar ko taiyar karna chahiye aur usi dar par school ki party pustak ki honi chahiye theek hai toh yah sab meri taraf se hai agar aisi shiksha hogi toh bharat bahut aage badh jaega aur 21 aur kar sakte ki schoolon mein dharm jati gender in sab ke upar bhi ek class laga sakte kam se kam 36 se upar waale baccho ke liye taki vaah samaj ke in durgunon se dur reh sake aur seekh sake aur bharat badal sakenge

मुझे लगता है भारत में भविष्य की शिक्षा प्रणाली के लिए कुछ जरुरी नियम आनी चाहिए जैसा कि हर

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  290
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!