प्राचीन भारतीय इतिहास के निर्माण में अभिलेख के कोई चार महत्व लिखिए?...


user

Prince

Jnv Student

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राचीन भारतीय इतिहास के अभिलेख के महत्व के बारे में चार महत्वपूर्ण बिंदु कौन कौन सी है तो सबसे पहले हम जानते हैं कि अभिलेख किसे कहते हैं ताम्रपत्र ऊपर कम राशि जाने वाली अनीता पत्रों पत्रों में तांबे के भक्तों पर लिखी जाने वाली लिस्ट को अभिलेख कहते हैं मतलब अगर कोई पर चीन कल मेरा जाए कोई विकास कार्य करता है कोई अच्छा कार्य करता है तू राजा की प्रशंसा में रोहित लोग अभिलेख लिखा करते थे मिस्टर मालूम चलता है वर्तमान के समय में किए राजा उस समय कौन-कौन से काम किए थे यह कोई जूलरी हुआ तो उस चीज के बारे में विवरण लिखा जाता है राजा की प्रशंसा में आजा इस पर संसद को देखकर खुशी में होकर पुरोहित को भारी-भरकम दान दक्षिणा भी देते तो वर्तमान के समय में प्राचीन काल के अभिलेखों का बहुत महत्वपूर्ण है जिसे इतिहासकार पुरातत्वविद अनुमान लगाते हैं कि यह अभिलेख कितना पुराना है या कोई कोई जीव है या कोई काम या कोई प्राचीन स्थल या धरोहर कितना पुराना है इसे मालूम चलता है धन्यवाद

prachin bharatiya itihas ke abhilekh ke mahatva ke bare me char mahatvapurna bindu kaun kaun si hai toh sabse pehle hum jante hain ki abhilekh kise kehte hain tamrapatra upar kam rashi jaane wali anita patron patron me tambe ke bhakton par likhi jaane wali list ko abhilekh kehte hain matlab agar koi par china kal mera jaaye koi vikas karya karta hai koi accha karya karta hai tu raja ki prashansa me rohit log abhilekh likha karte the mister maloom chalta hai vartaman ke samay me kiye raja us samay kaun kaun se kaam kiye the yah koi julri hua toh us cheez ke bare me vivran likha jata hai raja ki prashansa me aajad is par sansad ko dekhkar khushi me hokar purohit ko bhari bharakam daan dakshina bhi dete toh vartaman ke samay me prachin kaal ke abhilekho ka bahut mahatvapurna hai jise itihaaskar puratatwavid anumaan lagate hain ki yah abhilekh kitna purana hai ya koi koi jeev hai ya koi kaam ya koi prachin sthal ya dharohar kitna purana hai ise maloom chalta hai dhanyavad

प्राचीन भारतीय इतिहास के अभिलेख के महत्व के बारे में चार महत्वपूर्ण बिंदु कौन कौन सी है तो

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  439
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!