वातावरण को शुद्ध करने के लिए क्या करें और दुसरों को कैसे जागरुक करें?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पोस्ट बहुत अच्छा है माताओं को शुद्ध करने के लिए और दूसरों को जागरूक करने के लिए हम सभी देशवासी बहुत बड़ी महती भूमिका अदा कर सकते हैं इन राजनीतिक ऐसी आशा मत कीजिए यह तो सब हम सब जिस दिन का मट्ठा में कर लेंगे ठग लेंगे उस दिन कर सकते हैं हम लोगों को सबसे पहले ही करना चाहिए धर्म जाति रिश्तेदारी या लोग लालच के आधार पर वोट ना दें हम अपनी आत्मा की आवाज मानकर की एक सच्चे ईमानदार स्वच्छ छवि वाले वर्क करने वाले नेता का सिलेक्शन करें उसको ही बहुत है ऐसी राजनीतिक पार्टियों को आगे बढ़ा है जब समय ऐसा करेंगे तो स्वाद दूसरा हमें ऐसे व्यक्तियों को दोष देना चाहिए जो हमारे देश के विकास में सहायक है उसके लिए हमें जाती धर्म अधिकारी आदि सब चीजें छोड़ नहीं होंगे एक ऐसी गंदी राजनीति से आप क्या लेंगे जो आपकी जाति का है या धर्म का है या रिश्तेदारी का है जो आपको उस समय तो पैदा कर लेगा लेकिन जीतने के बाद मैं आपको 5 साल तक शक्ल नहीं दिखाएगा तो ऐसे लोगों के वह हम को सुना दे फिर हम पर्यावरण को शुद्ध करने के लिए भी प्रयास करें ना तो गंदगी फैलाई गंदगी फैलाने दे मुझे एक ऐसा उदाहरण याद आ रहा है कि एक लड़की ने एक पत्नी मूंगफली खाते हुए मूंगफली के छिलके वहां पर दिए अपने आप जल की उठाई और उठा कर के फेंक उससे बदला तो यह सब अच्छे प्रयास है हम गंदगी ना फैलाएं न चलाने दें जरा मध्य प्रेड्स लगाएं लोगों से वैचारिक बातचीत करें उनको सुधारने के

aapka post bahut accha hai mataon ko shudh karne ke liye aur dusro ko jagruk karne ke liye hum sabhi deshwashi bahut badi mahati bhumika ada kar sakte hain in raajnitik aisi asha mat kijiye yeh toh sab hum sab jis din ka mattha mein kar lenge thug lenge us din kar sakte hain hum logo ko sabse pehle hi karna chahiye dharm jati rishtedaari ya log lalach ke aadhaar par vote na de hum apni aatma ki awaaz maankar ki ek sacche imaandaar swacch chhavi wale work karne wale neta ka selection karein usko hi bahut hai aisi raajnitik partiyon ko aage badha hai jab samay aisa karenge toh swaad doosra humein aise vyaktiyon ko dosh dena chahiye jo hamare desh ke vikas mein sahayak hai uske liye humein jati dharm adhikari aadi sab cheezen chod nahi honge ek aisi gandi rajneeti se aap kya lenge jo aapki jati ka hai ya dharm ka hai ya rishtedaari ka hai jo aapko us samay toh paida kar lega lekin jitne ke baad main aapko 5 saal tak shakl nahi dikhaega toh aise logo ke wah hum ko suna de phir hum paryavaran ko shudh karne ke liye bhi prayas karein na toh gandagi failai gandagi felane de mujhe ek aisa udaharan yaad aa raha hai ki ek ladki ne ek patni mungfaali khate hue mungfaali ke chilake wahan par diye apne aap jal ki uthayi aur utha kar ke fenk usse badla toh yeh sab acche prayas hai hum gandagi na failaen na chalane de jara madhya preds lagaye logo se vaicharik batchit karein unko sudhaarne ke

आपका पोस्ट बहुत अच्छा है माताओं को शुद्ध करने के लिए और दूसरों को जागरूक करने के लिए हम सभ

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  400
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वातावरण को शुद्ध करने के लिए बहुत सारी चीज हो सकती है क्योंकि थोड़ा मुश्किल है लेकिन पॉसिबल है कि जैसे कि अब हम देख सकते हैं कि सब कोई अपना अपना कार्ड निकाल कर सब आ भी जाते हैं एक कार में एक इंसान जाता लेकिन अगर भैया कारपूलिंग कर ले तू 4 कार की वजह जो है वही कार्विन समझा पाएंगे या फिर और अच्छा है कि मेट्रो या फिर बस का सहारा ले रोड पर ट्रैफिक कम होगा अगर कहीं नजदीक है तो वो केवल डिस्टेंस पर हम जाएं यह फैक्ट्री सेन की छुट्टी हम कुछ ज्यादा ऊपर बनाए यह छोटी-छोटी नहीं सीखी जाए तो ऐसा हो सकता है कि हमारे वातावरण शुद्ध वातावरण में हवा पानी की बातें कर रहे तो बहुत सारी चीज़ें किस तेज पोर्टल के बड़े-बड़े फैक्ट्री केमिकल फैक्टरीज के हॉस्पिटल के पीछे जाते हैं घर के व्यक्ति सीधे नदियों से मिल जाते जो मिलता है जिससे पानी बहुत ज्यादा गंदा होता तो है

vatavaran ko shudh karne ke liye bahut saree cheez ho sakti hai kyonki thoda mushkil hai lekin possible hai ki jaise ki ab hum dekh sakte hai ki sab koi apna apna card nikaal kar sab aa bhi jaate hai ek car mein ek insaan jata lekin agar bhaiya karpuling kar le tu 4 car ki wajah jo hai wahi karvin samjha payenge ya phir aur accha hai ki metro ya phir bus ka sahara le road par traffic kam hoga agar kahin nazdeek hai toh vo keval distance par hum jayen yah factory sen ki chhutti hum kuch zyada upar banaye yah choti choti nahi sikhi jaaye toh aisa ho sakta hai ki hamare vatavaran shudh vatavaran mein hawa paani ki batein kar rahe toh bahut saree chize kis tez portal ke bade bade factory chemical faiktarij ke hospital ke peeche jaate hai ghar ke vyakti sidhe nadiyon se mil jaate jo milta hai jisse paani bahut zyada ganda hota toh hai

वातावरण को शुद्ध करने के लिए बहुत सारी चीज हो सकती है क्योंकि थोड़ा मुश्किल है लेकिन पॉसिब

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  309
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!