प्रदुषण को रोकने और जनता को प्रदुषण रोकने के लिए जागरूक कैसे करें?...


user

Ankitaa17

Fitness Coach

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल ज्यादातर लोग सोशल प्लेटफॉर्म पर एक्टिव हैं आप चाहे तो आप अपने किस से ही सोशल प्लेटफॉर्म से स्टार्ट कर सकते हैं डिफरेंट कैंपस में शामिल होकर या आजकल फ्रेंड फ्रेंड जगह पर मैराथन ऑर्गेनाइज होती हैं और जस्ट यू कंट्रीब्यूट फॉर थे सोसायटी जिसमें आप ग्रीन मैराथन या या प्लांटेशन या स्त्री जिसे जितना ज्यादा चाय बूस्टप्प कर सकते हैं लोगों को कि वह अट लीस्ट एक पौधा जरूर लगाएं एनवायरमेंट डे पर आप आकर जागरूक कर सकते हैं लोगों को बता सकते हैं कि भैया चिनवा मंडे है या अर्थ डे है और हमें क्या कॉन्ट्रिब्यूशन करना चाहिए जिससे कि हमारी फ्यूचर जेनरेशन जो है वह अच्छे से रह पाए और उनको किसी भी चीज की कमी ना हो तो आप इस तरीके से लोगों को बता सकते हैं और अगर आप चाहे तो आप ड्रामा ऑर्गेनाइज कर सकते हैं आप लोग कर्नाटक में शामिल हो सकते हैं और वह लोग काफी अच्छे से अभिनय से स्टार्ट करते हैं और डिफरेंट डिफरेंट क्या-क्या चीजें चल रही है इंवॉल्वमेंट से रिलेटेड या या पोलूशन से रिलेटेड क्या-क्या प्रॉब्लम चल रही है उनको शेयर कीजिए अपनी सोशल प्लेटफॉर्म पर इससे आप लोगों को जागरूक कर सकते हैं

aajkal jyadatar log social platform par active hain aap chahen toh aap apne kis se hi social platform se start kar sakte hain different campus me shaamil hokar ya aajkal friend friend jagah par marathon organize hoti hain aur just you kantribyut for the sociaty jisme aap green marathon ya ya plantation ya stree jise jitna zyada chai bustapp kar sakte hain logo ko ki vaah attack list ek paudha zaroor lagaye environment day par aap aakar jagruk kar sakte hain logo ko bata sakte hain ki bhaiya chinva monday hai ya arth day hai aur hamein kya contribution karna chahiye jisse ki hamari future generation jo hai vaah acche se reh paye aur unko kisi bhi cheez ki kami na ho toh aap is tarike se logo ko bata sakte hain aur agar aap chahen toh aap drama organize kar sakte hain aap log karnataka me shaamil ho sakte hain aur vaah log kaafi acche se abhinay se start karte hain aur different different kya kya cheezen chal rahi hai invalwament se related ya ya pollution se related kya kya problem chal rahi hai unko share kijiye apni social platform par isse aap logo ko jagruk kar sakte hain

आजकल ज्यादातर लोग सोशल प्लेटफॉर्म पर एक्टिव हैं आप चाहे तो आप अपने किस से ही सोशल प्लेटफॉर

Romanized Version
Likes  278  Dislikes    views  1715
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पोस्ट बहुत अच्छा है क्योंकि वर्तमान हमारे भारत की प्रदूषण की समस्या बहुत ज्यादा है आप जल प्रदूषण ध्वनि प्रदूषण वायु प्रदूषण जल प्रदूषण चारों प्रकार प्रदूषण भारत में देख रहे हैं और चारो तरफ फैला हुआ है इसी के कारण से इसी से परेशान होकर के किसी को मिटाने के लिए हमारे वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वच्छता मिशन चालू किया है और अकेला नेता यह अकेला प्रधानमंत्री को कभी नहीं कर सकता इसके लिए हम देश के नागरिकों को उनको पूरा सहयोग देना चाहिए हम अपने पास पड़ोस में गंदगी ना फैलाएं ना फैलाने दे दूसरी बात हम हरे पेड़ों को काटने से रोकने जितना हो सके हमारे पेड़ लगाएं एक नागरिक यदि अपने जीवन में 10 पेड़ भीड़ लगाकर थी उनको बढ़ा कर देता है तो समझ ही पूछने 10 यज्ञ कर दी है यह पेड़ हमारे लिए बहुत लाभदायक है प्रदूषण को रोकने में बहुत बड़ी सहायक दूसरा हम जगह-जगह गड्ढे कर देते हैं हम लोगों ने पहाड़ को तोड़ डाला है नदियों के पानी को गंदा कर दिया है उसी में हम लेट्रिन करते हैं उसी में हम अब आप देखिए गंगा के किनारे जाएंगे आप हरिद्वार देखा है मैंने शुरू देखा है वहां लोग बाग नहीं खाना खाकर वहीं प्रकट पर ही सारी गंदी को छोड़ देते हैं यहां तक कि कुछ तो ऐसे धार्मिक व्यक्ति जाते हैं तो वहीं घाट पढ़ना थे और वही बैटिंग जाते हैं अब तुम सोचो कि तुम कितना गंदगी फैला रहे हो तुम तो करके चली जाओगी लेकिन जो आने वाला व्यक्ति है जो वहां बैठेगा अमित ने ठेका किस तरह बैठेगा यदि हम सभी अपने अपने ने खाया है तो मुझे दूध फेंकना चाहिए मुझे सांप जगह फेंकना चाहते स्वच्छ कहां पर करके जाना चाहिए प्रदूषण मुक्त

aapka post bahut accha hai kyonki vartaman hamare bharat ki pradushan ki samasya bahut zyada hai aap jal pradushan dhwani pradushan vayu pradushan jal pradushan charo prakar pradushan bharat mein dekh rahe hai aur charo taraf faila hua hai isi ke kaaran se isi se pareshan hokar ke kisi ko mitne ke liye hamare vartaman Pradhanmantri shri narendra modi ji ne swachhta mission chalu kiya hai aur akela neta yeh akela Pradhanmantri ko kabhi nahi kar sakta iske liye hum desh ke nagriko ko unko pura sahyog dena chahiye hum apne paas pados mein gandagi na failaen na felane de dusri baat hum hare pedon ko katne se rokne jitna ho sake hamare pedh lagaye ek nagarik yadi apne jeevan mein 10 pedh bheed lagakar thi unko badha kar deta hai toh samajh hi poochne 10 yagya kar di hai yeh pedh hamare liye bahut labhdayak hai pradushan ko rokne mein bahut baadi sahayak doosra hum jagah jagah gaddhe kar dete hai hum logo ne pahad ko tod dala hai nadiyon ke pani ko ganda kar diya hai usi mein hum latrine karte hai usi mein hum ab aap dekhie ganga ke kinare jaenge aap haridwar dekha hai maine shuru dekha hai wahan log bagh nahi khana khakar wahi prakat par hi saree gandi ko chod dete hai yahan tak ki kuch toh aise dharmik vyakti jaate hai toh wahi ghat padhna the aur wahi batting jaate hai ab tum socho ki tum kitna gandagi faila rahe ho tum toh karke chali jaogi lekin jo aane vala vyakti hai jo wahan baithega amit ne theka kis tarah baithega yadi hum sabhi apne apne ne khaya hai toh mujhe doodh phenkana chahiye mujhe saap jagah phenkana chahte swacch kahaan par karke jana chahiye pradushan mukt

आपका पोस्ट बहुत अच्छा है क्योंकि वर्तमान हमारे भारत की प्रदूषण की समस्या बहुत ज्यादा है आप

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  371
WhatsApp_icon
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जनता को अंगना प्रदूषण से जागरूक होने की बात करेंगे तो सबसे बड़े जरूरी है कि शिक्षा प्रेरक शिक्षक समाज में रहेंगे तो आप वहां पर जो है ज्ञान आसानी पर बैठ सकेंगे जो भी लोग हैं उनको चाहिए कि वह जो है कम से कम साधनों का उपयोग करें यानी कि अगर कहीं पर जाना है तो अगर कॉमन वहीकल यूज करेंगे तो ज्यादा उसे प्रभाव होगा और जो है हमारे पृथ्वी को हमारे इन्वायरमेंट को भी उससे फायदा होगा

janta ko angna pradushan se jagruk hone ki baat karenge toh sabse bade zaroori hai ki shiksha prerak shikshak samaj mein rahenge toh aap wahan par jo hai gyaan aasani par baith sakenge jo bhi log hain unko chahiye ki vaah jo hai kam se kam saadhano ka upyog kare yani ki agar kahin par jana hai toh agar common vahikal use karenge toh zyada use prabhav hoga aur jo hai hamare prithvi ko hamare environment ko bhi usse fayda hoga

जनता को अंगना प्रदूषण से जागरूक होने की बात करेंगे तो सबसे बड़े जरूरी है कि शिक्षा प्रेरक

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  304
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!