क्या ये सच है कि इंडियन मीडिया बिक चुकी है और यहां के जर्नलिस्ट वही ख़बर छापते है जो उन्हें कहा जाता है?...


user

aasim

Social Worker

2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समान है परेशानी क्या यह सच है कि इंडियन मीडिया बिक चुकी है और यहां के चना लिस्ट वही खबर छापते हैं जो उन्हें कहा जाता है देखे कहीं ना कहीं इस बात में बहुत सच्चाई और आप इसका इनकार नहीं कर सकते अगर आप न्यूज़ चैनल रोज के देखने वाले अंदाजा हो जाएगा कि देश के इतने बड़े बड़े मुद्दे छोड़कर आज मीडिया अपडेट इन चीजों को टारगेट करती है और किन चीजों पर आपको डिबेट वगैरह दिखती है इस बात से आप खुद अंदाजा लगा लिया किसके इशारे पर काम कर रहा है किस से कहने में काम कर रहा है यह सब हम और आप अच्छे से जानते हैं मैं नाम नहीं लेना चाहता लेकिन आप और हम बहुत अच्छे से जानते हैं कि मैं आज की मीडिया के कहने पर किसके इशारे पर खबरें शाह की जा रही है खबरें दिखाई जा रही है इनके डिबेट आप देख लीजिए वह क्या देखा जा रहा है बड़ी शर्मनाक बात लगती है हमें मीडिया बहुत बड़ा रोल होता है किसी भी देश में इसी नंबर में स्कोर चौथा स्तंभ कहा जाता है फोर व्हीलर मीडिया को माना जाता है अगर देश की मीडिया सच्चाई सामने आ जाएगी सही तस्वीर सामने आएगी तो बताइए फिर देश का विकास कैसे होगा लोगों की आवाज कहां तक पहुंचाने का काम करती है जब वही उल्टी सीधी चीजें दिखाना शुरू कर दे और लोगों में दौड़ने वाली चीज है लोगों में भड़काऊ चीजें लोगों में आपस में नफरत फैलाने का काम करना शुरू कर दी तो फिर कैसे देश तरक्की कर सकते हैं तो कहीं ना कहीं इस बात में बहुत सच्चाई है कि मेरी हरीश चुका है आज के डेट में सेवाएं चंद चैनल को छोड़कर और जर्नलिस्ट्स खबरें दिखाए थे जो उन्हें कहा जाता है और उनको मायने नहीं रखता देश में क्या हो रहा है क्या नहीं हो रहा सब को सब कुछ पता है लेकिन उनको अपने चैनल की टीआरपी बढ़ाने के लिए उनको चैनल की टीआरपी चाहिए उसके लिए वही दिखाते हैं जिससे उनके चैनल की टीआरपी पड़े अब देश में आग लगती है लगती रहें देश में जो कुछ हो रहा है मां प्यार मोहब्बत खत्म हो रही है नफरत है बढ़ रही है उनको इस चीज से कोई लेना देना नहीं है धन्यवाद

saman hai pareshani kya yah sach hai ki indian media bik chuki hai aur yahan ke chana list wahi khabar chapte hain jo unhe kaha jata hai dekhe kahin na kahin is baat me bahut sacchai aur aap iska inkar nahi kar sakte agar aap news channel roj ke dekhne waale andaja ho jaega ki desh ke itne bade bade mudde chhodkar aaj media update in chijon ko target karti hai aur kin chijon par aapko debate vagera dikhti hai is baat se aap khud andaja laga liya kiske ishare par kaam kar raha hai kis se kehne me kaam kar raha hai yah sab hum aur aap acche se jante hain main naam nahi lena chahta lekin aap aur hum bahut acche se jante hain ki main aaj ki media ke kehne par kiske ishare par khabren shah ki ja rahi hai khabren dikhai ja rahi hai inke debate aap dekh lijiye vaah kya dekha ja raha hai badi sharmnaak baat lagti hai hamein media bahut bada roll hota hai kisi bhi desh me isi number me score chautha stambh kaha jata hai four wheeler media ko mana jata hai agar desh ki media sacchai saamne aa jayegi sahi tasveer saamne aayegi toh bataiye phir desh ka vikas kaise hoga logo ki awaaz kaha tak pahunchane ka kaam karti hai jab wahi ulti seedhi cheezen dikhana shuru kar de aur logo me daudne wali cheez hai logo me bhadkau cheezen logo me aapas me nafrat felane ka kaam karna shuru kar di toh phir kaise desh tarakki kar sakte hain toh kahin na kahin is baat me bahut sacchai hai ki meri harish chuka hai aaj ke date me sevayen chand channel ko chhodkar aur journalists khabren dekhiye the jo unhe kaha jata hai aur unko maayne nahi rakhta desh me kya ho raha hai kya nahi ho raha sab ko sab kuch pata hai lekin unko apne channel ki trp badhane ke liye unko channel ki trp chahiye uske liye wahi dikhate hain jisse unke channel ki trp pade ab desh me aag lagti hai lagti rahein desh me jo kuch ho raha hai maa pyar mohabbat khatam ho rahi hai nafrat hai badh rahi hai unko is cheez se koi lena dena nahi hai dhanyavad

समान है परेशानी क्या यह सच है कि इंडियन मीडिया बिक चुकी है और यहां के चना लिस्ट वही खबर छा

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  412
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!