योनि को बढ़ाने के लिए क्या करें?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय राम जी की नमस्कार ध्यान दीजिए उन्हीं को बढ़ाने के लिए आपको आपको पता है किसी भी चीज को बढ़ाने के लिए उस पर प्रयास करना होता है शारीरिक संबंध जितने होंगे अपने आप ही चीजें बढ़ती जाती है शारीरिक संबंध नहीं होता तो यह बढ़ती नहीं किंतु इसमें अंदर गर्ल चीजों का उपयोग न करें इससे दुर्गति भी होती है इससे फिर आपको डॉक्टरों को चक्कर लगाना पड़ेगा फिर शर्म के मारे मरते रहेंगे गुप्तांगों की रक्षा करना व्यक्ति का स्वयं कर्तव्य है क्योंकि गुप्तांग एक ऐसी चीज है जो व्यक्ति हर जगह नहीं डरता सकता है मैं भारत की बात कर रहा हूं विश्व में और देशों की बात नहीं करता और देशों में तो नंदिता है भारत जैसे देश में तो पर्दा है भारत जैसे देश में तो लज्जा है इसलिए व्यक्ति को चाहिए कि प्रत्येक चीज को संभाल कर रखें उसके दुर्गति कराने से अपनी तो दुर्गति होती ही है फिर समाज के सामने उसकी मां नहीं होता नहीं होती इसलिए मुझे लगता है जो परमात्मा ने योनि की स्थिति बनाई है आकृति बनाई है उसको अपनी सीमा रहने दे उसको ज्यादा बड़ा करके आपको ऐसा ना हो कि डॉक्टर को चक्कर लगाना पड़े फिर समाज में आपका नाम रहेगा जय राम जी की नमस्कार

jai ram ji ki namaskar dhyan dijiye unhi ko badhane ke liye aapko aapko pata hai kisi bhi cheez ko badhane ke liye us par prayas karna hota hai sharirik sambandh jitne honge apne aap hi cheezen badhti jaati hai sharirik sambandh nahi hota toh yah badhti nahi kintu isme andar girl chijon ka upyog na kare isse durgati bhi hoti hai isse phir aapko doctoron ko chakkar lagana padega phir sharm ke maare marte rahenge guptango ki raksha karna vyakti ka swayam kartavya hai kyonki guptang ek aisi cheez hai jo vyakti har jagah nahi darta sakta hai main bharat ki baat kar raha hoon vishwa me aur deshon ki baat nahi karta aur deshon me toh nandita hai bharat jaise desh me toh parda hai bharat jaise desh me toh lajja hai isliye vyakti ko chahiye ki pratyek cheez ko sambhaal kar rakhen uske durgati karane se apni toh durgati hoti hi hai phir samaj ke saamne uski maa nahi hota nahi hoti isliye mujhe lagta hai jo paramatma ne yoni ki sthiti banai hai akriti banai hai usko apni seema rehne de usko zyada bada karke aapko aisa na ho ki doctor ko chakkar lagana pade phir samaj me aapka naam rahega jai ram ji ki namaskar

जय राम जी की नमस्कार ध्यान दीजिए उन्हीं को बढ़ाने के लिए आपको आपको पता है किसी भी चीज को ब

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1724
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!