ओवैसी ने ट्रिपल तलाक़ से पीड़ित महिलाओं को हर महीने 15000 रुपए देने का प्रस्ताव रखा है, क्या यह उचित है? कोई बेहतर सुझाव?...


play
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

0:47

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है ट्रिपल तलाक से पीड़ित महिलाओं को आर्थिक आजादी देने का समय आ गया है मैं यह मानता नहीं करता कि हर महिला को बिना उनकी क्वालिफिकेशन की जॉब दे देनी चाहिए लेकिन हर महीने ₹15000 अगर मान लीजिए वह व्यक्ति जेल में चला गया तो क्या उपाय करे कि सरकार सरकार अपनी फंड्स में से ₹15000 देगी तो कब तक पैसे देते रहेगी इसके लिए जो कानून बनाया गया वह इस तरह का बनाया जाना चाहिए कि जिसे आप सजा देना चाहें सजा भी मिल जाए और मेला कोलकाता कार्मिक तो इस चीज में थोड़ा सोचने की जरूरत है संशोधन करने की आवश्यकता है इसीलिए शायद राज्यसभा में बिल समिति द्वारा एक और अच्छा भी आएगा और

mujhe lagta hai triple talak se peedit mahilaon ko aarthik azadi dene ka samay aa gaya hai yah manata nahi karta ki har mahila ko bina unki qualification ki job de deni chahiye lekin har mahine Rs agar maan lijiye vaah vyakti jail mein chala gaya toh kya upay kare ki sarkar sarkar apni funds mein se Rs degi toh kab tak paise dete rahegi iske liye jo kanoon banaya gaya vaah is tarah ka banaya jana chahiye ki jise aap saza dena chahain saza bhi mil jaaye aur mela kolkata karmik toh is cheez mein thoda sochne ki zarurat hai sanshodhan karne ki avashyakta hai isliye shayad rajya sabha mein bill samiti dwara ek aur accha bhi aayega aur

मुझे लगता है ट्रिपल तलाक से पीड़ित महिलाओं को आर्थिक आजादी देने का समय आ गया है मैं यह मान

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कहां देखे जाते ट्रिपल तलाक का मुद्दा जो है सुप्रीम कोर्ट पर सरकार के पास गया और सरकार ने इस काबिल बनाया ट्रिपल तलाक का जो है जब लोकसभा में पास हुआ तब से कई लोगों ने इस पर बहुत सारे छेद में नेगेटिव पॉजिटिव समर्थन में पोजीशन में तो इसी बहाने जो है कम से कम इसी को तो ख्याल आया कि ट्रिपल तलाक के पीड़ितों को कुछ देना चाहिए तो उसे नाम पर हो हर महीने ₹15000 का जो है देने का प्रस्ताव रखा है तो मैं समझता ही उचित है अगर रिश्ते बढ़ाया जा सके तो तब भी अच्छा है आगे ना बढ़ाया जा सकता है कम से कम कुछ महिलाओं की मदद करोगे जो आज अपने हस्बैंड के ऊपर डिपेंड रहते थे और उन्होंने उनको तलाक दे दिया

kahaan dekhe jaate triple talak ka mudda jo hai supreme court par sarkar ke paas gaya aur sarkar ne is kaabil banaya triple talak ka jo hai jab lok sabha mein paas hua tab se kai logo ne is par bahut saare ched mein Negative positive samarthan mein position mein toh isi bahaane jo hai kam se kam isi ko toh khayal aaya ki triple talak ke piditon ko kuch dena chahiye toh use naam par ho har mahine Rs ka jo hai dene ka prastaav rakha hai toh main samajhata hi uchit hai agar rishte badhaya ja sake toh tab bhi accha hai aage na badhaya ja sakta hai kam se kam kuch mahilaon ki madad karoge jo aaj apne husband ke upar depend rehte the aur unhone unko talak de diya

कहां देखे जाते ट्रिपल तलाक का मुद्दा जो है सुप्रीम कोर्ट पर सरकार के पास गया और सरकार ने इ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  170
WhatsApp_icon
user

Sameer Tripathy

Political Critic

1:53
Play

Likes    Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!