अगर दो दोस्त हैं और दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज़्यादा इंपोर्टेंस देगा या दोस्त को?...


user

RAJNISH SINGH

Teacher/Singer/Business.. What'sAp .7491907565

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विशेष का क्वेश्चन है कि अगर दो दोस्त है और दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपोर्टेंस देगा या दोस्त को अगर सच्चा दोस्त होगा तो वह पैसे का इंपॉर्टेंट नहीं देगा क्योंकि दोस्ती में पैसा नहीं देखा जाता है दोस्त दोस्त होता है

vishesh ka question hai ki agar do dost hai aur dono me bahut achi dosti hai kya dost paise ko zyada importance dega ya dost ko agar saccha dost hoga toh vaah paise ka important nahi dega kyonki dosti me paisa nahi dekha jata hai dost dost hota hai

विशेष का क्वेश्चन है कि अगर दो दोस्त है और दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

सपना शर्मा

सामाजिक कार्यकर्ता

2:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पेट में अगर दो दोस्त और दोनों की बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त कैसे को ज्यादा इंपॉर्टेंट देगा या दोस्तों को तो जो दोस्त होगा तो दोस्तों मैं कौन समझेगा इंर्पोटेंट समझेगा और यदि दोस्त नहीं होगा तो वह पैसे को महत्व देगा इसलिए यदि कभी आपसे संकट की स्थिति होती है यदि आपका दोस्त आप आपकी मदद करता है आपकी केयर करता है आपकी रक्षा करने के लिए वह कोई भी कष्ट उठा लेता है तो आप समझ जाइए कि आप जो कुछ करता है अपनी दोस्त के लिए कर रहा है तो यह सच्ची दोस्ती होती है और और जो दोस्त ऐसा लिखता है तो आपके पास खड़ा भी नहीं होगा आपको किसी भी प्रकार से कोई मदद नहीं करेगा ना पैसे से नसीबा सेना सहायता से क्योंकि मैं आपका दोस्त होगा ही नहीं वह बेटों की वजह से आप से जुड़ा था और पैसों की वजह से ही आपसे दूर हो गया तो आप इसलिए आज जो दोस्ती होती है वह पैसे की वजह से ही होती है कि सामने वाला पैसों से हमारी मदद करें लेकिन हर मदद पैसे से नहीं होती है कुछ मदद ऐसी भी होती है जिनके बिना पैसों से भी की जाती है लेकिन आजकल के जो दूर हैं उन्हें यह लगता है कि हमें पैसे से मदद ना करनी पड़ेगी इसलिए इसलिए वह पैसे को ज्यादा महत्व देते हैं दोस्त को नहीं देते मैं आज के समय की बात कर रही हूं पहले के समय में ऐसा नहीं था जो उसके लिए कुछ भी करना पड़े पहले तो उनके लिए एक जरूरी होता था लेकिन आज के समय के लिए दौड़ते हुए हैं उनके लिए दोस्त नहीं पैसा जरूरी होता है क्योंकि हर व्यक्ति के जीवन में हाय पैसा हाय पैसा ही पैसा होता है पैसे के लिए हर कोई कोई भी रिश्ता तोड़ सकता है फिर दोस्त हो आजकल कौन देखता है सपना शर्मा जय हिंद जय भारत आपका दिन शुभ रहे

aapka pet me agar do dost aur dono ki bahut achi dosti hai kya dost kaise ko zyada important dega ya doston ko toh jo dost hoga toh doston main kaun samjhega important samjhega aur yadi dost nahi hoga toh vaah paise ko mahatva dega isliye yadi kabhi aapse sankat ki sthiti hoti hai yadi aapka dost aap aapki madad karta hai aapki care karta hai aapki raksha karne ke liye vaah koi bhi kasht utha leta hai toh aap samajh jaiye ki aap jo kuch karta hai apni dost ke liye kar raha hai toh yah sachi dosti hoti hai aur aur jo dost aisa likhta hai toh aapke paas khada bhi nahi hoga aapko kisi bhi prakar se koi madad nahi karega na paise se nasiba sena sahayta se kyonki main aapka dost hoga hi nahi vaah beto ki wajah se aap se juda tha aur paison ki wajah se hi aapse dur ho gaya toh aap isliye aaj jo dosti hoti hai vaah paise ki wajah se hi hoti hai ki saamne vala paison se hamari madad kare lekin har madad paise se nahi hoti hai kuch madad aisi bhi hoti hai jinke bina paison se bhi ki jaati hai lekin aajkal ke jo dur hain unhe yah lagta hai ki hamein paise se madad na karni padegi isliye isliye vaah paise ko zyada mahatva dete hain dost ko nahi dete main aaj ke samay ki baat kar rahi hoon pehle ke samay me aisa nahi tha jo uske liye kuch bhi karna pade pehle toh unke liye ek zaroori hota tha lekin aaj ke samay ke liye daudte hue hain unke liye dost nahi paisa zaroori hota hai kyonki har vyakti ke jeevan me hi paisa hi paisa hi paisa hota hai paise ke liye har koi koi bhi rishta tod sakta hai phir dost ho aajkal kaun dekhta hai sapna sharma jai hind jai bharat aapka din shubha rahe

आपका पेट में अगर दो दोस्त और दोनों की बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त कैसे को ज्यादा इंपॉर

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  451
WhatsApp_icon
user

vedprakash singh

Psychologist

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है अगर दो दोस्त है दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपॉर्टेंट देगा या दोस्त को दो दोस्त हैं बहुत अच्छी दोस्ती है दोनों दोस्त को ज्यादा इंपॉर्टेंट देगा या पैसे को इनमें सोचने की बात है वह दोस्तों को ज्यादा इंपॉर्टेंट देगा पैसे को नहीं क्योंकि दोस्ती दोबारा नहीं हो सकती एक दोस्ती तोड़ना और पैसे दोनों में बहुत अंतर है क्योंकि क्योंकि पैसे जाते हैं पता नहीं है लेकिन दोस्ती इंपॉर्टेंट है ना क्योंकि एक माता-पिता भी अच्छा दोस्त नहीं हो सकता क्योंकि दोस्त बनने के लिए दुनिया में कितने ही रिश्ते घर जाते हैं फिर दोस्त बनते हैं उन्हें पैसे को जाते इंपोर्टेंट नहीं देना चाहिए उन्हें दोस्ती को जाते हैं पटक देना चाहिए क्योंकि लेकिन दोस्ती बनाता है कॉन्फिडेंस भरोसी एटीट्यूड भी होनी चाहिए तो राइट होनी चाहिए और जो एटीट्यूट है वह प्लाटिट्यूड हो पता नहीं चाहिए स्किल कम्युनिकेशन अच्छा होना चाहिए तेल कम्युनिकेशन अच्छा होना चाहिए

aapka sawaal hai agar do dost hai dono mein bahut achi dosti hai kya dost paise ko zyada important dega ya dost ko do dost hain bahut achi dosti hai dono dost ko zyada important dega ya paise ko inmein sochne ki baat hai vaah doston ko zyada important dega paise ko nahi kyonki dosti dobara nahi ho sakti ek dosti todna aur paise dono mein bahut antar hai kyonki kyonki paise jaate hain pata nahi hai lekin dosti important hai na kyonki ek mata pita bhi accha dost nahi ho sakta kyonki dost banne ke liye duniya mein kitne hi rishte ghar jaate hain phir dost bante hain unhe paise ko jaate important nahi dena chahiye unhe dosti ko jaate hain patak dena chahiye kyonki lekin dosti banata hai confidence bharosi attitude bhi honi chahiye toh right honi chahiye aur jo etityut hai vaah platityud ho pata nahi chahiye skill communication accha hona chahiye tel communication accha hona chahiye

आपका सवाल है अगर दो दोस्त है दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपॉ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
user

Gupta family

logo Ki Madat Karna

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर दो दोस्त और दोनों दोस्तों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपॉर्टेंट जाएगा या दोस्त को तो यह तो पक्का है कि यदि कोई बहुत अच्छा दोस्त है तू कुछ दोस्त को इंपॉर्टेंट दे करना कि पैसे को क्योंकि दोस्त जो है तो दोस्त को अहमियत देता पैसे तो नहीं लेकिन आज की पिक भेजूं है तो लोग तो पैसे से भी दोस्ती करते हैं कोई जरूरी नहीं है कि यदि आपका अच्छा दोस्त है यदि आप उसे अच्छा समझते हैं कि जरूरी नहीं कि वह अच्छा ही है वह जो है तो पैसे को भी इंपॉर्टेंट दे सकते लेकिन जो एक अच्छा दोस्त होता है तो वह सिर्फ दोस्त को इंपॉर्टेंट देता है ना कि पैसे को

agar do dost aur dono doston mein bahut achi dosti hai kya dost paise ko zyada important jaega ya dost ko toh yah toh pakka hai ki yadi koi bahut accha dost hai tu kuch dost ko important de karna ki paise ko kyonki dost jo hai toh dost ko ahamiyat deta paise toh nahi lekin aaj ki pic bheju hai toh log toh paise se bhi dosti karte hain koi zaroori nahi hai ki yadi aapka accha dost hai yadi aap use accha samajhte hain ki zaroori nahi ki vaah accha hi hai vaah jo hai toh paise ko bhi important de sakte lekin jo ek accha dost hota hai toh vaah sirf dost ko important deta hai na ki paise ko

अगर दो दोस्त और दोनों दोस्तों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपॉर्टें

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  173
WhatsApp_icon
user

Neha

Student

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कुछ ना कर दो दोस्त हैं और दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपोर्टेंट देगा या दोस्त को नहीं देखी जब दोस्त हैं दो दोस्त हैं तो और दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं तो दोस्ती को इंपोर्टर में थे वैसे बोल रही क्योंकि पैसे क्या है वैसे आज है कल नहीं रहेगा अगर दोस्त रहेगा तो आपको मरते तक जब तक आपका साथ देगा और पैसा किए तो पैसा तो कभी भी आ सकता है पर एक बार दोस्त चला जाए तुमको भी वापस नहीं आ सकते हैं वैसा दोस्त मानते हैं इंसान बहुत मिलते हैं लेकिन हां जो पहले हम लोग हो देते हैं तो कहीं तो कभी नहीं मिल पाएगा हमको दोस्त भी मिलेगा हमको इंर्पोटेंट इन दीघा पर जो पहले मेरा दोस्त हो चुका कोई प्यार नहीं कर सकता है उससे अच्छा कोई दोस्ती नहीं निभा सकते वही एक दोस्त है जो पहले पहले मिलता है वही सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट देना चाहिए दोस्त को पैसे को नहीं आप लोग कब मर्जी

aapka kuch na kar do dost hain aur dono mein bahut achi dosti hai kya dost paise ko zyada important dega ya dost ko nahi dekhi jab dost hain do dost hain toh aur dono bahut acche dost hain toh dosti ko importer mein the waise bol rahi kyonki paise kya hai waise aaj hai kal nahi rahega agar dost rahega toh aapko marte tak jab tak aapka saath dega aur paisa kiye toh paisa toh kabhi bhi aa sakta hai par ek baar dost chala jaaye tumko bhi wapas nahi aa sakte hain waisa dost maante hain insaan bahut milte hain lekin haan jo pehle hum log ho dete hain toh kahin toh kabhi nahi mil payega hamko dost bhi milega hamko important in digha par jo pehle mera dost ho chuka koi pyar nahi kar sakta hai usse accha koi dosti nahi nibha sakte wahi ek dost hai jo pehle pehle milta hai wahi sabse zyada important dena chahiye dost ko paise ko nahi aap log kab marji

आपका कुछ ना कर दो दोस्त हैं और दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इं

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

8080989011

Student

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

22 से जो अच्छी दोस्ती है तो सोच में पड़े हैं हमें गम को पैसे देने दोस्ती में दोस्त बहुत काम आते हैं मगर पैसे लेने दो कोई काम नहीं आता है यह बात सोच ले दोस्त होते बहुत काम आते क्या मगर बाकी दोस्तों काम नहीं आते दोस्ती बात कहती है मैं घर हो तो कैसे हो जो टाइम पर काम आज ऐसी दोस्ती अच्छी है अच्छी दोस्त के खिलाफ कोई मतलब नहीं है मां-बाप को पता नहीं हम क्या करें मगर समझ में आता है कि लोग क्या करते हैं अच्छा करते हैं जो तक जाते हैं उसकी बहन के साथ चार चक्का चलाते चलाते हैं अच्छी तो दूसरी बन के रहो

22 se jo achi dosti hai toh soch mein pade hain hamein gum ko paise dene dosti mein dost bahut kaam aate hain magar paise lene do koi kaam nahi aata hai yah baat soch le dost hote bahut kaam aate kya magar baki doston kaam nahi aate dosti baat kehti hai ghar ho toh kaise ho jo time par kaam aaj aisi dosti achi hai achi dost ke khilaf koi matlab nahi hai maa baap ko pata nahi hum kya kare magar samajh mein aata hai ki log kya karte hain accha karte hain jo tak jaate hain uski behen ke saath char chakka chalte chalte hain achi toh dusri ban ke raho

22 से जो अच्छी दोस्ती है तो सोच में पड़े हैं हमें गम को पैसे देने दोस्ती में दोस्त बहुत का

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  183
WhatsApp_icon
user

Aman

Student

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि दो दोस्त है और दोनों में इतनी अच्छी दोस्ती है कि एक दोस्त दूसरे के लिए जान भी दे दे तो वह दोस्त दोस्ती को पैसे से ज्यादा महत्व देगा क्योंकि एक दोस्त ही होता है जिससे हम कुछ भी नहीं छुपाते एक दोस्त हमारे मुसीबतों में काम आता है परंतु यदि वह दोस्त सच्चा हो तो

yadi do dost hai aur dono mein itni achi dosti hai ki ek dost dusre ke liye jaan bhi de de toh vaah dost dosti ko paise se zyada mahatva dega kyonki ek dost hi hota hai jisse hum kuch bhi nahi chhupaate ek dost hamare musibaton mein kaam aata hai parantu yadi vaah dost saccha ho toh

यदि दो दोस्त है और दोनों में इतनी अच्छी दोस्ती है कि एक दोस्त दूसरे के लिए जान भी दे दे तो

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
user

RP Pal

Student

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो डियर फ्रेंड्स अपने पूछेगा तो दोस्त में दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे को ज्यादा इंपोर्टेंस देगा या दोस्त हो ना तो मेरा मानना है कि अगर दो दोस्त हैं और दोनों बहुत अच्छी दोस्ती है तो पैसों को ध्यान ही नहीं देंगे परसों को बच्चों का नाम पॉइंट नहीं देंगे क्योंकि तभी तो दो अच्छे दोस्त हैं और दोस्ती में कोई अच्छे धन के इंपोर्टेंट नहीं देखा जाता है अगर फ्रेंडशिप हो गई है दोस्ती हो गई और अच्छे दोस्त हैं तो पैसे को बिल्कुल ध्यान नहीं देंगे तुझे मेरे प्रश्न ग्रंथों में भी देखा जा रहा है राम और केवट की दोस्ती सब भगवान श्री कृष्ण और सुदामा की दोस्ती ऐसी बहुत ही मिसाले हैं तो दोस्ती की रास्ते पैसे को इंपॉर्टेंट मिलना उतना आसान नहीं है ओके थैंक्स

hello dear friends apne puchhega toh dost mein dono mein bahut achi dosti hai kya dost paise ko zyada importance dega ya dost ho na toh mera manana hai ki agar do dost hain aur dono bahut achi dosti hai toh paison ko dhyan hi nahi denge parso ko baccho ka naam point nahi denge kyonki tabhi toh do acche dost hain aur dosti mein koi acche dhan ke important nahi dekha jata hai agar friendship ho gayi hai dosti ho gayi aur acche dost hain toh paise ko bilkul dhyan nahi denge tujhe mere prashna granthon mein bhi dekha ja raha hai ram aur kevat ki dosti sab bhagwan shri krishna aur sudama ki dosti aisi bahut hi misale hain toh dosti ki raste paise ko important milna utana aasaan nahi hai ok thanks

हेलो डियर फ्रेंड्स अपने पूछेगा तो दोस्त में दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती है क्या दोस्त पैसे

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
play
user
0:31

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोनों में अच्छी दोस्ती है तो बहुत ही अच्छी बात है और दोस्त लोग जो है भाई लोग होते हैं तो उसमें पैसे की कोई बात नहीं होती है पैसे का लेनदेन तो चलता रहता है उसी हिसाब बराबर रखी है और दोस्ती भी बराबर चलेगी तो दोनों जो लाइफ में चीज है वह एकदम इक्वल इक्वल उससे ज्यादा प्रॉब्लम नहीं आएगी फिर आगे तो इसलिए दोस्ती तो दोस्ती होती है

dono mein achi dosti hai toh bahut hi achi baat hai aur dost log jo hai bhai log hote hain toh usme paise ki koi baat nahi hoti hai paise ka lenden toh chalta rehta hai usi hisab barabar rakhi hai aur dosti bhi barabar chalegi toh dono jo life mein cheez hai vaah ekdam equal equal usse zyada problem nahi aayegi phir aage toh isliye dosti toh dosti hoti hai

दोनों में अच्छी दोस्ती है तो बहुत ही अच्छी बात है और दोस्त लोग जो है भाई लोग होते हैं तो उ

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  233
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
aurdiono ; दो दोस्त ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!