मैं कितनी भी कोशिश कर लूँ , पर मुझे पढ़ने में बिलकुल भी मन नहीं लगता है, ऐसे में मुझे क्या करना चाहिए?...


user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपको बहुत ही आसान सा एक उपाय बताती हूं आप एक कागज कलम ले और उसको दो हिस्सों में बांट के एक हिस्से पर आपकी ए लिखें कि अगर आप इसी तरह अपनी पढ़ाई से जी चुराते रहेंगे आपका मन नहीं लगेगा तो फ्यूचर मैं आपके साथ क्या-क्या होने वाला है और इस आदत का आपके जीवन के हर एरिया पर क्या असर पड़ेगा जैसे आपके दोस्तों पर क्या इंटरेस्ट होगा आपके परिवार के बीच कैसा रहेगा आप आगे जाकर कितनी उन्नति कर सकेंगे और आपकी हेल्थ कैसी रहेगी आप परेशान होंगे आप खुश रहेंगे जो भी चीजें अगर आप इसी आदत को कंटिन्यू रखते हैं तो उसके क्या क्या रिजल्ट फ्यूचर हो सकते हैं आप उसको नोट डाउन करें और दूसरे हिस्से पर यह लिखें कि अगर आपका पढ़ने में बहुत अच्छे से मन लग जाए तो क्या होगा आपको क्यों पढ़ना चाहिए और क्यों पढ़ना चाहिए इस बात के बहुत सॉलिड और वाजिब रीजन आफ सारे उसके अंदर लिखें और फिर उस पेपर को उठा कर थोड़ी देर के लिए कहीं छोड़ दे कहीं रख दे अभी थोड़ी देर बाद वापस आकर आप उस पेपर को दोनों विश्व को अलग-अलग एक ही बार करके पूरा पूरा पढ़ें और देखिए आप का मन लगता है या नहीं लगता पढ़ने में

main aapko bahut hi aasaan sa ek upay batati hoon aap ek kagaz kalam le aur usko do hisson mein baant ke ek hisse par aapki a likhen ki agar aap isi tarah apni padhai se ji churate rahenge aapka man nahi lagega toh future main aapke saath kya kya hone vala hai aur is aadat ka aapke jeevan ke har area par kya asar padega jaise aapke doston par kya interest hoga aapke parivar ke beech kaisa rahega aap aage jaakar kitni unnati kar sakenge aur aapki health kaisi rahegi aap pareshan honge aap khush rahenge jo bhi cheezen agar aap isi aadat ko continue rakhte hain toh uske kya kya result future ho sakte hain aap usko note down kare aur dusre hisse par yah likhen ki agar aapka padhne mein bahut acche se man lag jaaye toh kya hoga aapko kyon padhna chahiye aur kyon padhna chahiye is baat ke bahut solid aur wajib reason of saare uske andar likhen aur phir us paper ko utha kar thodi der ke liye kahin chod de kahin rakh de abhi thodi der baad wapas aakar aap us paper ko dono vishwa ko alag alag ek hi baar karke pura pura padhen aur dekhiye aap ka man lagta hai ya nahi lagta padhne mein

मैं आपको बहुत ही आसान सा एक उपाय बताती हूं आप एक कागज कलम ले और उसको दो हिस्सों में बांट

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  348
KooApp_icon
WhatsApp_icon
12 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!