मेरे जीवन में ऐसे काफ़ी लोग आए जिनसे मुझे बहुत कुछ सिखने को मिला है।क्या आप ऐसी ही कोई घटना बता सकते है जब किसी व्यक्ति ने आपका जीवन बदल दिया हो?...


play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:59

Likes  64  Dislikes    views  1362
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ragini Kshatriya

Lifecoach@Lifezhonour

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे सबसे ज्यादा खुशी यह सुनकर हुआ कि आपके जीवन में आप बहुत लोगों से मिले हैं और उनसे आपने सीखा है बहुत भारी क्या होता है हम लोगों को मिलते हैं पर उनसे कुछ सीख नहीं पाते हम हमेशा उनके बारे में कुछ ने कितने बता देते हैं या अपना एक विनोद थॉट प्रोसेस रख लेते हैं बट उनसे जब सीखने की बात होती है तब हमें लगता है कि हमें सब कुछ आता है बट बिकॉज आपने कुछ सीखा है उसके लिए मैं आपको बहुत अप्रिशिएट करूंगी एंड थैंक यू वेरी मच क्या आपने मुझे रिमाइंड कर आया कि किसने मेरी लाइफ पर बहुत बड़ा हिमपात डाला है तो मैं इंसिडेंट शेयर करना चाहूंगी कि मेरे पास ऑर्गेनाइजेशन में मेरी एक बॉस थे बॉस नहीं है वह पूरी डिविजन के हेड थे उनसे मैंने यह सीखा कि जब आप एक लीडर की पोजीशन पर हो तब आपको बारीक से बारीक चीजों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है जबकि पहले मुझे लगा करता था कि आज लीडर मैं तो आपको क्या पड़ी है मैं तो आप कुछ भी इतना कि काम सही से होना चाहिए उन्होंने मेरा यह थॉट प्रोसेस चेंज किया मैं आपको एग्जांपल दूंगी तो हम जब भी कोई टीम मीटिंग के लिए जाते थे कोई टीम में डिनर ऐडमिशन डिनर है तो अगर वहां पर एक बफेट मेनू डिसाइडेड है और उन्होंने नोट किया कि तीन से चार लोगों ने गुलाब जामुन नहीं खाए थे वह सब के पास जाएंगे अरे आपने स्वीट डिश नहीं खाया यह वह दिल से कि नहीं सर हम यह चीज नहीं खाते में बुफे डिनर जुबली 4 6 महीने बाद वह बैठ वही चीज जरूर ध्यान में रखेंगे कि हमें गुलाब जामुन के साथ एक और सुदेश और शारीरिक और स्वीट है ताकि नोबडी लेफ्ट आउट खुद के उन चीजों में आगे आएंगे अगर छुट्टी मांगेंगे किसी भी चीज का कारण देंगे अगर आप बताएंगे कि आपकी फैमिली में कुछ प्रॉब्लम है वह आपको 10 दिन बाद 1 महीने बाद और 2 महीने बाद तक उस पर पूछते रहेंगे कि हाउ इज इट गोइंग अभी सब कुछ ठीक है यू नीड सम हेल्प तो

mujhe sabse zyada khushi yah sunkar hua ki aapke jeevan mein aap bahut logo se mile hain aur unse aapne seekha hai bahut bhari kya hota hai hum logo ko milte hain par unse kuch seekh nahi paate hum hamesha unke bare mein kuch ne kitne bata dete hain ya apna ek vinod thought process rakh lete hain but unse jab sikhne ki baat hoti hai tab hamein lagta hai ki hamein sab kuch aata hai but because aapne kuch seekha hai uske liye main aapko bahut aprishiet karungi and thank you very match kya aapne mujhe remind kar aaya ki kisne meri life par bahut bada himpat dala hai toh main incident share karna chahungi ki mere paas organization mein meri ek boss the boss nahi hai vaah puri divison ke head the unse maine yah seekha ki jab aap ek leader ki position par ho tab aapko baarik se baarik chijon par dhyan dena bahut zaroori hai jabki pehle mujhe laga karta tha ki aaj leader main toh aapko kya padi hai toh aap kuch bhi itna ki kaam sahi se hona chahiye unhone mera yah thought process change kiya main aapko example dungi toh hum jab bhi koi team meeting ke liye jaate the koi team mein dinner admission dinner hai toh agar wahan par ek buffet menu decided hai aur unhone note kiya ki teen se char logo ne gulab jamun nahi khaye the vaah sab ke paas jaenge are aapne sweet dish nahi khaya yah vaah dil se ki nahi sir hum yah cheez nahi khate mein buffet dinner jubilee 4 6 mahine baad vaah baith wahi cheez zaroor dhyan mein rakhenge ki hamein gulab jamun ke saath ek aur sudesh aur sharirik aur sweet hai taki nobody left out khud ke un chijon mein aage aayenge agar chhutti mangege kisi bhi cheez ka karan denge agar aap batayenge ki aapki family mein kuch problem hai vaah aapko 10 din baad 1 mahine baad aur 2 mahine baad tak us par poochhte rahenge ki how is it going abhi sab kuch theek hai you need some help toh

मुझे सबसे ज्यादा खुशी यह सुनकर हुआ कि आपके जीवन में आप बहुत लोगों से मिले हैं और उनसे आपने

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  821
WhatsApp_icon
user

Maruti Makwana

Performance Strategist

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो मैं यह बताना चाहूंगा कि मैंने भी अपनी जिंदगी में बहुत सारे लोगों से मिलजुल के बहुत सारी चीजें उनसे सीखी है कुछ लोगों ने कुछ अच्छी चीज देख करके मुझे सिखाया है और कुछ लोगों ने कुछ बुरी चीजों से भी मुझे बहुत सारी चीजें दिखाई है हमेशा सीखते रहना यह जिंदगी का पार्ट है तो मैं अपने अगर एक ऐसी चीज जो मैंने देखी है वह शेयर करना चाहूं तो जब मैं खुद स्कूल में पढ़ता था उस टाइम पर मेरे टीचर ने मुझे सिखाया था वह मैं आपके साथ शेयर करना चाहूंगा उन्होंने बोला था कि कॉन्फिडेंस जिंदगी की बहुत ही इंपॉर्टेंट चीज है तो जब भी आपको ही काम कर रहे हो आप उसमें नार्मल लोगों को इतना कॉन्फिडेंस होता है उससे भी ज्यादा कॉन्फिडेंट रखो लोग बोलते हैं ओवर कॉन्फिडेंस वह हमेशा कहते थे कि आप हमेशा ओवरकॉन्फिडेंस रहो तो भी चलेगा और कॉन्फिडेंस वाले इंसान को अगर कभी कोई गलती से नुकसान हो जाए या फिर वह फेल हो जाए तो भी वह 1 लेवल डाउन आकर कॉन्फ्रेंस में तो रहता ही है जबकि ज्यादातर लोगों को देखा गया है कि जब उनको सिर्फ कॉन्फिडेंस उनके पास होता है और वह जो फेल होते हैं तो वह डिप्रेशन में चले जाते हैं तो मेरी टीचर हमेशा बोलते थे कि आपके अंदर इतना सारा कॉन्फिडेंस होना चाहिए कि आपको ही नहीं बाकी सब को भी लगे कि नहीं यार यही जीतेगा और यही कामयाब होगा और वह हमेशा बोलते थे कि कोई बात नहीं अगर आप ओवर कॉन्फिडेंस पर हो तो ओवरकॉन्फिडेंस में रहना डिप्रेशन में रहने दो तो बहुत ही अच्छा है तो यही एक बात है जो मैंने अपनी पूरी जिंदगी में फलों की है और इसीलिए शायद मुझे कभी भी डिप्रेशन या निराशा वाली चीजों का सामना नहीं करना पड़ा

sabse pehle toh main yah bataana chahunga ki maine bhi apni zindagi mein bahut saare logo se miljul ke bahut saree cheezen unse sikhi hai kuch logo ne kuch achi cheez dekh karke mujhe sikhaya hai aur kuch logo ne kuch buri chijon se bhi mujhe bahut saree cheezen dikhai hai hamesha sikhate rehna yah zindagi ka part hai toh main apne agar ek aisi cheez jo maine dekhi hai vaah share karna chahu toh jab main khud school mein padhata tha us time par mere teacher ne mujhe sikhaya tha vaah main aapke saath share karna chahunga unhone bola tha ki confidence zindagi ki bahut hi important cheez hai toh jab bhi aapko hi kaam kar rahe ho aap usme normal logo ko itna confidence hota hai usse bhi zyada confident rakho log bolte hain over confidence vaah hamesha kehte the ki aap hamesha ovarakanfidens raho toh bhi chalega aur confidence waale insaan ko agar kabhi koi galti se nuksan ho jaaye ya phir vaah fail ho jaaye toh bhi vaah 1 level down aakar conference mein toh rehta hi hai jabki jyadatar logo ko dekha gaya hai ki jab unko sirf confidence unke paas hota hai aur vaah jo fail hote hain toh vaah depression mein chale jaate hain toh meri teacher hamesha bolte the ki aapke andar itna saara confidence hona chahiye ki aapko hi nahi baki sab ko bhi lage ki nahi yaar yahi jitega aur yahi kamyab hoga aur vaah hamesha bolte the ki koi baat nahi agar aap over confidence par ho toh ovarakanfidens mein rehna depression mein rehne do toh bahut hi accha hai toh yahi ek baat hai jo maine apni puri zindagi mein falon ki hai aur isliye shayad mujhe kabhi bhi depression ya nirasha wali chijon ka samana nahi karna pada

सबसे पहले तो मैं यह बताना चाहूंगा कि मैंने भी अपनी जिंदगी में बहुत सारे लोगों से मिलजुल के

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  715
WhatsApp_icon
user

ysvagrecha

Former Clinical Psychologist and a Teacher

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे जीवन में कई कई लोग आते हैं हमारे जीवन में हमारी इज्जत होते हैं दूसरे लोग होते हैं बहुत से लोग होते हैं तो वह लोग हमारे बेहतरी के लिए कंट्रीब्यूट करते हैं करते कुछ का इंप्रेशन हमारे जीवन में बहुत ज्यादा का हमारे जीवन में बहुत ज्यादा रहता है लेकिन कोई किसी एक इंसान इंसान को सबसे बढ़िया मांगता

hamare jeevan mein kai kai log aate hain hamare jeevan mein hamari izzat hote hain dusre log hote hain bahut se log hote hain toh vaah log hamare behatari ke liye kantribyut karte hain karte kuch ka impression hamare jeevan mein bahut zyada ka hamare jeevan mein bahut zyada rehta hai lekin koi kisi ek insaan insaan ko sabse badhiya mangta

हमारे जीवन में कई कई लोग आते हैं हमारे जीवन में हमारी इज्जत होते हैं दूसरे लोग होते हैं बह

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  524
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अपने जीवन भी स्पोर्ट्स बन रहा शुरू से ही बच्चों से खेलने का शौक था एक्सरसाइज का शौक था बॉडी को फिट रखने का शौक था और उसी पर मैं जब क्रिकेट की ट्रेनिंग देता था तो मेरे कोच ने एक बात कही थी कि आप कॉलिंग करें या बैटिंग करें यकृत आपका सारा कंसंट्रेशन उस दिन पर होना चाहिए क्रिकेट की गेंद पर होना चाहिए आपको बाहर से क्या कमेंट मिलते हैं कौन शोर मचा रहा है कौन आपको गालियां दे रहा है वहां मन आपको बुरा भला कह रहा है इसका कोई ध्यान ना दें और जब तक आप यह करेंगे आप सफलता का फोन फायदा उठाएंगे यही बात उसके बाद मैंने बैडमिंटन खेलना शुरू करो उसको दिया जब मैं कोर्ट में उत्तर तथा मैसेज दिखा मुझे कुछ समझ नहीं आता था कि मेरे पास कौन है कौन नहीं है कौन किस तरह बैठा है कौन किस रब दी है मुझे सिर्फ सामने वाला पुनजब उसकी वीकनेस घूमता था मैं उसके बीच में ढूंढ के अपने गेम को इंप्रूव करता था और अपने गेम को जीता था तो सिर्फ कंसंट्रेशन के बेस पर ही आदमी सब कुछ कर सकता है जिस काम को करो कंसंट्रेशन उसमें घर में आपने देखा होगा या मार रोटी बनाती है तो वह सिर्फ एक काम करती है उसका ध्यान आने पर ही होता है उस पर कहावत यह है कि अन्नपूर्णा मां जो है उसी के खाने में स्वाद डालती है जो मां अन्नपूर्णा की इज्जत करके सारा ध्यान जो है खाने में लगा दिया कि आज तक का टाइम तो रानी एक्जाम से काम कर सके आजकल महिलाएं जो हैं जबकि वाली तरह नहीं सब नौकरी वाली है इसलिए कभी भी कोई काम करो टेंशन तो शेयर करो आप पढ़ने बैठो कंसल्टेशन से बैठो पेपर दे दे मैं तो कम से कम एक पेपर देना है उसमें सब आपको याद होता रहेगा ध्यान ड्राइवर भी हुआ अच्छा हुआ कंसंट्रेशन के लिए जो मैं आज करता हूं और मैं आपको भी कहूंगा कहूंगा करें पूरी सफलता मिलेगी

main apne jeevan bhi sports ban raha shuru se hi baccho se khelne ka shauk tha exercise ka shauk tha body ko fit rakhne ka shauk tha aur usi par main jab cricket ki training deta tha toh mere coach ne ek baat kahi thi ki aap Calling kare ya batting kare yakrit aapka saara kansantreshan us din par hona chahiye cricket ki gend par hona chahiye aapko bahar se kya comment milte hain kaun shor macha raha hai kaun aapko galiya de raha hai wahan man aapko bura bhala keh raha hai iska koi dhyan na de aur jab tak aap yah karenge aap safalta ka phone fayda uthayenge yahi baat uske baad maine Badminton khelna shuru karo usko diya jab main court mein uttar tatha massage dikha mujhe kuch samajh nahi aata tha ki mere paas kaun hai kaun nahi hai kaun kis tarah baitha hai kaun kis rab di hai mujhe sirf saamne vala punajab uski weakness ghoomta tha main uske beech mein dhundh ke apne game ko improve karta tha aur apne game ko jita tha toh sirf kansantreshan ke base par hi aadmi sab kuch kar sakta hai jis kaam ko karo kansantreshan usme ghar mein aapne dekha hoga ya maar roti banati hai toh vaah sirf ek kaam karti hai uska dhyan aane par hi hota hai us par kahaavat yah hai ki annpurna maa jo hai usi ke khane mein swaad daalti hai jo maa annpurna ki izzat karke saara dhyan jo hai khane mein laga diya ki aaj tak ka time toh rani exam se kaam kar sake aajkal mahilaye jo hain jabki wali tarah nahi sab naukri wali hai isliye kabhi bhi koi kaam karo tension toh share karo aap padhne baitho kansalteshan se baitho paper de de main toh kam se kam ek paper dena hai usme sab aapko yaad hota rahega dhyan driver bhi hua accha hua kansantreshan ke liye jo main aaj karta hoon aur main aapko bhi kahunga kahunga kare puri safalta milegi

मैं अपने जीवन भी स्पोर्ट्स बन रहा शुरू से ही बच्चों से खेलने का शौक था एक्सरसाइज का शौक था

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  597
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत सारी घटनाएं जीवन चक्र में ऐसी मिली है इज्जत से बहुत कुछ सीखने को मिला है मेरे मित्र थे जिनके पास में बैठा था और उन्होंने मुझे साहित्यकार बना दिया मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला और वे आजकल कभी कहां है कहानी यहां तक कि मैं एक पत्रिका का संपादक बन गया हूं मेरे परिवर्तन करने का मौका मिला

bahut saari ghatnaye jeevan chakra mein aisi mili hai izzat se bahut kuch sikhne ko mila hai mere mitra the jinke paas mein baitha tha aur unhone mujhe sahityakaar bana diya mujhe bahut kuch sikhne ko mila aur ve aajkal kabhi kaha hai kahani yahan tak ki main ek patrika ka sampadak ban gaya hoon mere parivartan karne ka mauka mila

बहुत सारी घटनाएं जीवन चक्र में ऐसी मिली है इज्जत से बहुत कुछ सीखने को मिला है मेरे मित्र थ

Romanized Version
Likes  145  Dislikes    views  1636
WhatsApp_icon
user

Abhijeet Kumar

Teacher & Student Both.

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निकी मेरे साथ तो वैसा कोई मेजर घटना नहीं हुआ है हां मगर जब भी अभी परेशानी में आता हूं या फिर लगता है कि लाइफ कुछ ज्यादा ही बिजी हो गया है टाइम नहीं मिल पाता तो मुझे एक घटना बहुत याद आती है जब मैं क्लास 8 में था तो मेरे प्रिंसिपल सर जो थे वह कभी-कभी क्लास लेने आ जाते थे तो प्रिंसिपल सर एक बार क्लास ले रहे थे और फिर उस दिन होमवर्क दिए थे और दूसरे दिन होमवर्क चेक की तो संजोग से मेरा होमवर्क नहीं किया हुआ था तो प्रिंसिपल सर ने हमसे रीजन पूछा तो हम उनको रीजन बताएं सर कल काफी बिजी थे कुछ काम था इसलिए मतलब को काम भी बताएं प्रॉपर काम नहीं बताया कि सर इधर बिजी थे इसलिए होमवर्क नहीं कर पाए तो प्रिंसिपल सर एक बात हमसे बोले थे उस टाइम मतलब उनका जो ट्यून था वह गुस्सा करके या फिर कहिए कि वह डॉट के या फिर समझा कर के हम को बोल रहे थे कि अगर लाइफ में बिजी नहीं रहना है तो चपरासी बन जाओ सबसे अच्छा है अगर पीएम बन जाते ऑफिस का तो सुबह जाना है ऑफिस को होगा पानी पिलाना होगा सेटेलाइट में कोई टेंशन है यार ऑफिसर बनोगे तो टेंशन होगा तो आज जब भी लाइफ में कभी बिजी अभी जब भी कभी बिजी होता हूं या फिर जब भी कभी उगता हो तो यह बात हमेशा सर का याद रहता है कि सर बोले थे कि अगर चपरासी बनोगे तो टेंशन नहीं है तुम जितना ही ऊपर जाते हो आप जितना ही ऊपर जाते हो हाई लेवल के पोस्ट पर जा तो टेंशन आपको नहीं बढ़ते जाते हैं तो वह भी अभी बिजी होता हूं तो सरकार यह बात हमेशा याद रखता है और अंदर से थोड़ा सा शांति मिलता है कि आई एम बिजी डेट मींस आई एम राइट वर्ड कैन आई एम ऑन द राइट प्लेस अच्छा लगता है और यह बहुत ज्यादा प्रेरणा देता है थैंक यू

niki mere saath toh waisa koi major ghatna nahi hua hai haan magar jab bhi abhi pareshani mein aata hoon ya phir lagta hai ki life kuch zyada hi busy ho gaya hai time nahi mil pata toh mujhe ek ghatna bahut yaad aati hai jab main class 8 mein tha toh mere principal sir jo the vaah kabhi kabhi class lene aa jaate the toh principal sir ek baar class le rahe the aur phir us din homework diye the aur dusre din homework check ki toh sanjog se mera homework nahi kiya hua tha toh principal sir ne humse reason poocha toh hum unko reason bataye sir kal kaafi busy the kuch kaam tha isliye matlab ko kaam bhi bataye proper kaam nahi bataya ki sir idhar busy the isliye homework nahi kar paye toh principal sir ek baat humse bole the us time matlab unka jo tune tha vaah gussa karke ya phir kahiye ki vaah dot ke ya phir samjha kar ke hum ko bol rahe the ki agar life mein busy nahi rehna hai toh chaprasi ban jao sabse accha hai agar pm ban jaate office ka toh subah jana hai office ko hoga paani pilaana hoga satellite mein koi tension hai yaar officer banogey toh tension hoga toh aaj jab bhi life mein kabhi busy abhi jab bhi kabhi busy hota hoon ya phir jab bhi kabhi ugata ho toh yah baat hamesha sir ka yaad rehta hai ki sir bole the ki agar chaprasi banogey toh tension nahi hai tum jitna hi upar jaate ho aap jitna hi upar jaate ho high level ke post par ja toh tension aapko nahi badhte jaate hain toh vaah bhi abhi busy hota hoon toh sarkar yah baat hamesha yaad rakhta hai aur andar se thoda sa shanti milta hai ki I M busy date means I M right word can I M on the right place accha lagta hai aur yah bahut zyada prerna deta hai thank you

निकी मेरे साथ तो वैसा कोई मेजर घटना नहीं हुआ है हां मगर जब भी अभी परेशानी में आता हूं या फ

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  381
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!