मुझे बहुत ग़ुस्सा आता है और ऐसे में मैं अपना ही नुक़सान कर बैठता हूँ।मैं अपने ग़ुस्से को क़ाबू कैसे करूँ?...


user

vivek sharma

BANK PO| Astrologer | Mutual Fund Advisor। Career Counselor

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे गुस्सा बहुत आता है और ऐसे में अपने को नुकसान कर बैठता हूं मैं अपने गुस्से को काबू कैसे करें आप अपने गुस्से को काबू में करने के लिए योग को अपने जीवन में उतारें योग करें अपने जीवन में पहले तो निरोगी रहेंगे धीमे-धीमे आपका तो दिमाग प्रेस लेवल कम होता जाएगा हमें गुस्सा आने का एक सबसे बड़ा कारण होता है इसका मतलब गुस्सा नहीं है इस ऑलवेज हमारे दिमाग के अंदर कहीं ना कहीं थोड़ा सा टेस्ट होता है हमारे अंदर कहीं ना कहीं तो फिर क्या होता है कुछ भी चीज होती तो बहुत ही दिमाग को बैलेंस कमेंट में लाता है योग करें प्राणायाम करें आपका गुस्सा निश्चित ही काबू में आएगा आप विटामिन सी का उपयोग भी करें खाए आंवला आंवला जूस और संतरे मौसमी पाइनएप्पल या आप रेगुलर से अच्छी मात्रा में आप बहुत ही जल्दी आपको फायदा पड़ेगा

mujhe gussa bahut aata hai aur aise me apne ko nuksan kar baithta hoon main apne gusse ko kabu kaise kare aap apne gusse ko kabu me karne ke liye yog ko apne jeevan me utaarein yog kare apne jeevan me pehle toh nirogee rahenge dhime dhime aapka toh dimag press level kam hota jaega hamein gussa aane ka ek sabse bada karan hota hai iska matlab gussa nahi hai is always hamare dimag ke andar kahin na kahin thoda sa test hota hai hamare andar kahin na kahin toh phir kya hota hai kuch bhi cheez hoti toh bahut hi dimag ko balance comment me lata hai yog kare pranayaam kare aapka gussa nishchit hi kabu me aayega aap vitamin si ka upyog bhi kare khaye aawla aawla juice aur santre mausamee pineapple ya aap regular se achi matra me aap bahut hi jaldi aapko fayda padega

मुझे गुस्सा बहुत आता है और ऐसे में अपने को नुकसान कर बैठता हूं मैं अपने गुस्से को काबू कैस

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  718
WhatsApp_icon
18 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:29
Play

Likes  260  Dislikes    views  2211
WhatsApp_icon
user

Mohit

Legal Expert/ Career Guide/ Motivational Speaker/Enterpreneur Coach

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए कुत्ता बड़ा स्वभाविक होता है और यह बात भी साफ है कि गुस्से का कभी रिजल्ट से नहीं आता और आपका कहना बिल्कुल सही है कि गुस्से पर जो व्यक्ति गुस्सा करता है उसे यह तो लगता है कि मेरे को मेरा गुस्सा गलत है मुझे से काबू पाना चाहिए क्योंकि गुस्से के बाद बहुत पैसे ले लेते हैं बहुत कुछ बोल देते उसमें अपना खुद का ही नुकसान हो जाता है लेकिन यह प्रॉब्लम बहुत लोगों के साथ रही मेरे साथ भी रही पहले बहुत तुम्हें बहुत अच्छी तरह से समझ सकता हूं कि अपने गुस्से पर काबू कैसे करें देखें गुस्से में काबू करने के लिए कुछ टिप्स में आपको देता हूं पहले तो यह है कि आप मेडिटेशन सबसे पहले स्टार्ट करें सुबह एक नियम बनाएं उठ करके आप 15 से 20 मिनट कम से कम आधा घंटा कैसे बैठना चाहिए शुरुआत में आप इतना ही बैठे और बैठ करके सीधे पोषण बैठ कर के और आप अपनी सांस पर ही ध्यान दें नाक के नथुने से जो सांसद आर्य भारत केवल उस पर ध्यान देना शुरू मुश्किल होगा लेकिन धीरे-धीरे करके आप इसमें आसान महसूस करना शुरू कर देंगे और उसके बाद देखिए जिंदगी के कुछ गोल बनने पर जरूरी है आप छोटे छोटे छोटे छोटे कुछ उद्देश्य बनाई अपनी जिंदगी के आप नोट करेंगे कि जब यह उद्देश्य में लाकर क्या काम करेंगे या जब आपको कोई अपना इंटरेस्ट का मिल जाएगा आप उसमें ध्यान देने लगेंगे तो जिन छोटी मोटी बातों पर आपको गुस्सा आता था वह गुस्सा आपको अब नहीं आएगा क्योंकि आपका माइंड कहीं और डाइवर्ट हो गया है मेरे खुद की लाइफ में किसी मैंने अपने गूगल पर सेट करें उसके बाद जब कोई कुछ बोलता था करता तो मुझे लगता था यह इतनी बड़ी बात नहीं है यह तो छोटी सी बात है तो यह उसमें बहुत कार्य किसी को अपना ही है और आपको इसे बहुत बेनिफिट होगा और जब भी गुस्सा आता है उस समय वैसे तो कुछ भी करने का मन नहीं करता लेकिन अगर हो सके तो सादा पानी जो है वह थोड़ा थोड़ा सा तितली लेकर के पीते रहिए कोशिश करिए गुस्से के समय कोई फैसला ना गुस्से के समय में फैसला लिया था हमेशा गलत ही होता है जब भी फैसला लें आप इंतजार करिए मेरा गुस्सा शांत हो जाएगा उसके बाद ही मैं फैसल लूंगा ठीक है धन्यवाद

dekhiye kutta bada swabhavik hota hai aur yah baat bhi saaf hai ki gusse ka kabhi result se nahi aata aur aapka kehna bilkul sahi hai ki gusse par jo vyakti gussa karta hai use yah toh lagta hai ki mere ko mera gussa galat hai mujhe se kabu paana chahiye kyonki gusse ke baad bahut paise le lete hain bahut kuch bol dete usme apna khud ka hi nuksan ho jata hai lekin yah problem bahut logo ke saath rahi mere saath bhi rahi pehle bahut tumhe bahut achi tarah se samajh sakta hoon ki apne gusse par kabu kaise kare dekhen gusse me kabu karne ke liye kuch tips me aapko deta hoon pehle toh yah hai ki aap meditation sabse pehle start kare subah ek niyam banaye uth karke aap 15 se 20 minute kam se kam aadha ghanta kaise baithana chahiye shuruat me aap itna hi baithe aur baith karke sidhe poshan baith kar ke aur aap apni saans par hi dhyan de nak ke nathune se jo saansad arya bharat keval us par dhyan dena shuru mushkil hoga lekin dhire dhire karke aap isme aasaan mehsus karna shuru kar denge aur uske baad dekhiye zindagi ke kuch gol banne par zaroori hai aap chote chote chote chote kuch uddeshya banai apni zindagi ke aap note karenge ki jab yah uddeshya me lakar kya kaam karenge ya jab aapko koi apna interest ka mil jaega aap usme dhyan dene lagenge toh jin choti moti baaton par aapko gussa aata tha vaah gussa aapko ab nahi aayega kyonki aapka mind kahin aur Divert ho gaya hai mere khud ki life me kisi maine apne google par set kare uske baad jab koi kuch bolta tha karta toh mujhe lagta tha yah itni badi baat nahi hai yah toh choti si baat hai toh yah usme bahut karya kisi ko apna hi hai aur aapko ise bahut benefit hoga aur jab bhi gussa aata hai us samay waise toh kuch bhi karne ka man nahi karta lekin agar ho sake toh saada paani jo hai vaah thoda thoda sa titli lekar ke peete rahiye koshish kariye gusse ke samay koi faisla na gusse ke samay me faisla liya tha hamesha galat hi hota hai jab bhi faisla le aap intejar kariye mera gussa shaant ho jaega uske baad hi main faissal lunga theek hai dhanyavad

देखिए कुत्ता बड़ा स्वभाविक होता है और यह बात भी साफ है कि गुस्से का कभी रिजल्ट से नहीं आता

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  353
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपको बहुत ही सिंपल और आसान सा एक उपाय बताना चाहती हूं आप इसको ट्राई करें जिस वक्त आपको गुस्सा आ रहा हूं उस वक्त आप सिर्फ चीज को अब साफ करें कि वह गुस्सा आपके शरीर में किस तरीके से क्या चेंज करके आपको यह फील हो रहा है कि गुस्सा आ रहा है आप अपने आप से सिर्फ यह सवाल करो कि मुझे यह गुस्सा कैसे आ रहा है जैसे किसी को यह लगता है कि सर में बहुत प्रसन्न हो जाता है किसी को लगता है कि जब उनको गुस्सा आता है तो उनको ऐसे लगता है कि सर फट जाएगा तो आपकी सर के सर में या बॉडी की किसी भी पाठ में किस जगह यह गुस्सा एक फीलिंग के रूप में क्रिएट होता है तो आपको उसको अब्जॉर्ब करना है और जब उसको आप बहुत ध्यान से ऑब्जर्व करोगे कि अच्छा ऐसा हो रहा है इसलिए मुझे गुस्सा फील हो रहा है तो पहले यह सब कंप्लीट करें और फिर हो सके तो मुझे जवाब दें आपकी प्रॉब्लम बहुत आसानी से सॉल्व हो जाएगी

main aapko bahut hi simple aur aasaan sa ek upay bataana chahti hoon aap isko try kare jis waqt aapko gussa aa raha hoon us waqt aap sirf cheez ko ab saaf kare ki vaah gussa aapke sharir mein kis tarike se kya change karke aapko yah feel ho raha hai ki gussa aa raha hai aap apne aap se sirf yah sawaal karo ki mujhe yah gussa kaise aa raha hai jaise kisi ko yah lagta hai ki sir mein bahut prasann ho jata hai kisi ko lagta hai ki jab unko gussa aata hai toh unko aise lagta hai ki sir phat jaega toh aapki sir ke sir mein ya body ki kisi bhi path mein kis jagah yah gussa ek feeling ke roop mein create hota hai toh aapko usko abjarb karna hai aur jab usko aap bahut dhyan se abjarv karoge ki accha aisa ho raha hai isliye mujhe gussa feel ho raha hai toh pehle yah sab complete kare aur phir ho sake toh mujhe jawab de aapki problem bahut aasani se solve ho jayegi

मैं आपको बहुत ही सिंपल और आसान सा एक उपाय बताना चाहती हूं आप इसको ट्राई करें जिस वक्त आपको

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  683
WhatsApp_icon
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्से के ऊपर में पूरा एक दिन बात कर सकता हूं लेकिन टाइम के अभाव से मैं आपको यह बताता हूं कि गुस्सा बाहर से नहीं आता सिचुएशन होती है जो हमें मजबूर कर देती हैं गुस्सा होने पर राइट सॉरी गुस्सा बाहर से कोई हमें नहीं देता ह मिलाओ करते हैं उस सिचुएशन को हम पर हावी होने के लिए और हम उस गुस्से वाली अवस्था में पहुंच जाते हैं हम खुद गुस्सा क्रिएट करते हैं और वह भी अलग-अलग मात्रा में हमें पता भी नहीं है कि हम इतने गुस्से वाले कैसे हो गए यहां ने कैसे सीखा है कि गुस्सा कैसे करते हैं चलिए अब यह बात छोड़ कर हम यह बात करते हैं गुस्सा कैसे बात करना चाहिए तो सबसे पहले तो नहीं देखना है कि मैं उसे इक्वेशन में ही राजा हूं जहां पर जांच लें कि मैं अपना आपा खो दूं अगर यह पॉसिबल है तो अग्नि और मुझे वहां जाना है कैसे हो यह जगह जगह क्यों लोग जो टॉपिक है जिसमें डिस्कशन हो गया वह काम है जो भी है उस पर चांसेस हैं कि मैं अपना आपा खो दूं तो आप मेंटल है प्रीपेड होकर चाहिए कि मैं ऐसा कोई भी काम है करूं जिससे काम बिगड़ जाए दूसरा ही आप कहां जाएं क्या करें दूसरी भाषा अपने आप को स्विच ऑफ कीजिए स्विच ऑफ कैसे कर सकते हैं कट ऑफ कीजिए थोड़ी देर बाद शुरू होने वाला हूं तो सबसे पहले कि आते के बाद कर सकते हैं दूसरा अगर आपको आपको पता लगने लगा कि अब मैं गुस्सा होने वाला हूं तो वहां से डिस्टिक कीजिए और निकालिए

gusse ke upar mein pura ek din baat kar sakta hoon lekin time ke abhaav se main aapko yah batata hoon ki gussa bahar se nahi aata situation hoti hai jo hamein majboor kar deti hain gussa hone par right sorry gussa bahar se koi hamein nahi deta h milao karte hain us situation ko hum par haavi hone ke liye aur hum us gusse wali avastha mein pohch jaate hain hum khud gussa create karte hain aur vaah bhi alag alag matra mein hamein pata bhi nahi hai ki hum itne gusse waale kaise ho gaye yahan ne kaise seekha hai ki gussa kaise karte hain chaliye ab yah baat chod kar hum yah baat karte hain gussa kaise baat karna chahiye toh sabse pehle toh nahi dekhna hai ki main use equation mein hi raja hoon jaha par jaanch le ki main apna aapa kho doon agar yah possible hai toh agni aur mujhe wahan jana hai kaise ho yah jagah jagah kyon log jo topic hai jisme discussion ho gaya vaah kaam hai jo bhi hai us par chances hain ki main apna aapa kho doon toh aap mental hai prepaid hokar chahiye ki main aisa koi bhi kaam hai karu jisse kaam bigad jaaye doosra hi aap kahaan jayen kya kare dusri bhasha apne aap ko switch of kijiye switch of kaise kar sakte hain cut of kijiye thodi der baad shuru hone vala hoon toh sabse pehle ki aate ke baad kar sakte hain doosra agar aapko aapko pata lagne laga ki ab main gussa hone vala hoon toh wahan se district kijiye aur nikaliye

गुस्से के ऊपर में पूरा एक दिन बात कर सकता हूं लेकिन टाइम के अभाव से मैं आपको यह बताता हूं

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  403
WhatsApp_icon
play
user

Anshuman Sharma

Fitness Guide & Health coach

1:59

Likes  48  Dislikes    views  429
WhatsApp_icon
user

ASHOKBHAI METALIYA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बुशरा मींस आप किसी से गुस्सा करते हो उसके व्हाट्सएप जाकर करना पड़ेगा कि आपने गुस्सा किस सन में किया था और कौन सी संधि और कौन इस टॉपिक पर तो ध्यान से उतर के आया था और क्यू आया था और उसका नाम क्या था

bushra means aap kisi se gussa karte ho uske whatsapp jaakar karna padega ki aapne gussa kis san mein kiya tha aur kaun si sandhi aur kaun is topic par toh dhyan se utar ke aaya tha aur kyun aaya tha aur uska naam kya tha

बुशरा मींस आप किसी से गुस्सा करते हो उसके व्हाट्सएप जाकर करना पड़ेगा कि आपने गुस्सा किस सन

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  451
WhatsApp_icon
user

Dr ARVIND BARAD

Psychiatrist

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब भी कोई आपको ऐसे इरिटेटिंग मूवमेंट हो या कोई गुस्से की आने के लिए कुछ फ्रॉक कर रहा हो तो आप उसको कैसे कंट्रोल कर सकते यू हैव टो स्पॉइल थोड़े समय के लिए आप रुके और यह किस बात पर आपको रेट फोन करना है और किस बात पर आपको रिएक्शन करना है गैरी गैरी सकते हैं ब्रीडिंग भी कर सकते हैं एक गिलास बोतल पी सकते हैं इसके अलावा कोई बढ़िया सकते हैं कुछ टाइम के लिए आप वहां से रिमूव होकर दूर जाती है कुछ 18 किलोमीटर वॉक करके आ सकते हैं नेचर के पास जा सकते हैं कोई गार्डन पार्क नियर को अपने बात कर सकते हैं इस पर आप पर कुछ समय के लिए जो है वह कंट्रोल हो जाता है

jab bhi koi aapko aise irritating movement ho ya koi gusse ki aane ke liye kuch frock kar raha ho toh aap usko kaise control kar sakte you have toe spoil thode samay ke liye aap ruke aur yah kis baat par aapko rate phone karna hai aur kis baat par aapko reaction karna hai gairi gairi sakte hain Breeding bhi kar sakte hain ek gilas bottle p sakte hain iske alava koi badhiya sakte hain kuch time ke liye aap wahan se remove hokar dur jaati hai kuch 18 kilometre walk karke aa sakte hain nature ke paas ja sakte hain koi garden park near ko apne baat kar sakte hain is par aap par kuch samay ke liye jo hai vaah control ho jata hai

जब भी कोई आपको ऐसे इरिटेटिंग मूवमेंट हो या कोई गुस्से की आने के लिए कुछ फ्रॉक कर रहा हो तो

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  529
WhatsApp_icon
user

Indu Indira Lala

Motivational Speaker and Life Coach

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

झांसी जंक्शन भी गई मैंने भी कहा कि पार्टी पूरा इंडक्शन ऑन किया पानी उबाला बागी जाना उसको रुमलिया मस्त मसाला बाटी बनाया उसके बाद मैंने एक्सेप्ट किया खाना नहीं मैंने क्या किया किया जब तक नहीं कर रही थी कि खाना नहीं है क्या कर रही थी गुस्सा कर रही थी कि कुछ नहीं है कमरे में चिल्ला रही थी एक्सेप्ट किया कहीं खाना नहीं मिला अब मैं प्यार जिसे भी झगड़िया कैंटीन बाद इसी में रखते हुए वापस आए और अपना अलमारी को फुलाना घी का पैकेट खोला मैंने यह करना शुरू किया मेरा गुस्सा ख़त्म होने लगा जैसे ही मैंने एक्सेप्ट किया खाना नहीं है मेरा हाथ उस मैगी के पैकेट पर गया मैंने वह 10 मिनट लगाए उसे खोल मैगी बनाना शुरू किया वैसे वैसे मेरा गुस्सा खत्म होगा तब तक हम गुस्सा गुस्सा नहीं बोलते हैं पर चेक कर लेते हैं हमारे गुस्सा हो जाता भी बहुत गुस्सा आता था इसलिए मुझे

jhansi junction bhi gayi maine bhi kaha ki party pura induction on kiya paani ubala baagi jana usko rumliya mast masala bati banaya uske baad maine except kiya khana nahi maine kya kiya kiya jab tak nahi kar rahi thi ki khana nahi hai kya kar rahi thi gussa kar rahi thi ki kuch nahi hai kamre mein chilla rahi thi except kiya kahin khana nahi mila ab main pyar jise bhi jhagadia canteen baad isi mein rakhte hue wapas aaye aur apna alamari ko phulana ghee ka packet khola maine yah karna shuru kiya mera gussa khatam hone laga jaise hi maine except kiya khana nahi hai mera hath us maggi ke packet par gaya maine vaah 10 minute lagaye use khol maggi banana shuru kiya waise waise mera gussa khatam hoga tab tak hum gussa gussa nahi bolte hain par check kar lete hain hamare gussa ho jata bhi bahut gussa aata tha isliye mujhe

झांसी जंक्शन भी गई मैंने भी कहा कि पार्टी पूरा इंडक्शन ऑन किया पानी उबाला बागी जाना उसको र

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon
user

Sanjay D Goyal

Motivational Speaker and Life Coach

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो मेरा अनुभव है और कंफर्टेबल होते हैं क्या आपको आपके मन की नहीं होती है व्हाट्सएप का कोई आता है तो नहीं होता है आता है आपको अलग अलग अलग अलग तरीके से करते हैं और वही तरीका उनको जिंदगी में आगे बढ़ा सकता है तो मैं करा दूंगा कि एक कॉल समय देने की जरूरत है हमारे सामने आती है और करना है उसके बीच में चोट आ जाए तो फोन करना हम लोग उसके लिए

jo mera anubhav hai aur Comfortable hote kya aapko aapke man ki nahi hoti hai whatsapp ka koi aata hai toh nahi hota hai aata hai aapko alag alag alag alag tarike se karte hain aur wahi tarika unko zindagi mein aage badha sakta hai toh main kara dunga ki ek call samay dene ki zarurat hai hamare saamne aati hai aur karna hai uske beech mein chot aa jaaye toh phone karna hum log uske liye

जो मेरा अनुभव है और कंफर्टेबल होते हैं क्या आपको आपके मन की नहीं होती है व्हाट्सएप का कोई

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
user

Dr. Chanchala Jain

Career Counselor & Lecturer

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने लिखा आपको बहुत गुस्सा आता है और ऐसे होने पर अपने संकल्प का प्रश्न है आप गुस्से पर काबू कैसे पाए गुस्सा बहुत ही खराब चीज है जो हमारी शारीरिक स्वास्थ्य को भी हानि पहुंचाते हैं और हमारे मानसिक स्वास्थ्य को भी हानि पहुंचाता है इस पर कंट्रोल करने के लिए आपको सेल्फ अवेयरनेस होना बहुत इंपॉर्टेंट है और उसके साथ self-control चल कमीनी है कि आप बिल्कुल जागरूक रहें जब भी आपको स्वयं पर नियंत्रण करने के लिए आंखें बंद करके ब्रीडिंग टेक्निक्स करें बहुत लंबी सांस लें और थोड़े और उसके अलावा आप रिवर्स काउंटिंग भी स्टार्ट कर सकते हैं जैसे कि आप 50 से 1:00 तक आ सकते हैं 50 फुट 9 फुट 7 फुट 6 फुट 5 फुट 4 फुट 3 फुट 2 फुट और ऐसा करते-करते 1:00 तक आपको आना है ऐसा करने से आपका मन जो है वह डाइवर्ट हो जाएगा और आप उस गुस्से से बाहर निकल आएंगे उसे भी हो सकता है कि जब भी आपको गुस्सा आए आप स्थान को छोड़ दीजिए जहां में जहां पर गुस्सा आ रहा है उसको छोड़ दीजिए जिस कंपनी में जिन लोगों के साथ ही उनका साथ छोड़ दीजिए और अपने मन को डायवर्ट कीजिए ऐसा करने से आपका गुस्सा धीरे-धीरे कम होगा और ब्रिटेन टेक्निक करना बहुत इंपॉर्टेंट है अगर आप ऐड करते हैं तो आपको बहुत लाभ मिलेगा और क्रिया गुस्से पर काबू पाया काबू पा पाएंगे इसके अलावा मेडिटेशन मेडिटेशन से दिमाग शांत रहता है उसका काम आता है और उसे जब काम आएगा तो काबू रखना इतना मुश्किल नहीं होगा

aapne likha aapko bahut gussa aata hai aur aise hone par apne sankalp ka prashna hai aap gusse par kabu kaise paye gussa bahut hi kharab cheez hai jo hamari sharirik swasthya ko bhi hani pahunchate hain aur hamare mansik swasthya ko bhi hani pohchta hai is par control karne ke liye aapko self awareness hona bahut important hai aur uske saath self control chal kamini hai ki aap bilkul jagruk rahein jab bhi aapko swayam par niyantran karne ke liye aankhen band karke Breeding techniques kare bahut lambi saans le aur thode aur uske alava aap reverse counting bhi start kar sakte hain jaise ki aap 50 se 1 00 tak aa sakte hain 50 feet 9 feet 7 feet 6 feet 5 feet 4 feet 3 feet 2 feet aur aisa karte karte 1 00 tak aapko aana hai aisa karne se aapka man jo hai vaah Divert ho jaega aur aap us gusse se bahar nikal aayenge use bhi ho sakta hai ki jab bhi aapko gussa aaye aap sthan ko chod dijiye jaha mein jaha par gussa aa raha hai usko chod dijiye jis company mein jin logo ke saath hi unka saath chod dijiye aur apne man ko divert kijiye aisa karne se aapka gussa dhire dhire kam hoga aur britain technique karna bahut important hai agar aap aid karte hain toh aapko bahut labh milega aur kriya gusse par kabu paya kabu paa payenge iske alava meditation meditation se dimag shaant rehta hai uska aata hai aur use jab kaam aayega toh kabu rakhna itna mushkil nahi hoga

आपने लिखा आपको बहुत गुस्सा आता है और ऐसे होने पर अपने संकल्प का प्रश्न है आप गुस्से पर काब

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1471
WhatsApp_icon
user

VEENU

CLINICAL PSYCHOLOGIST

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंदर जो है किस कारण से यदि कोई बालिग है तो उसका सलूशन ही बता रही है बिना बात की आ रही है आपको किसी न किसी ताकत हेल्प लेने का जरूरत है वहां वह आपको मेरी किस्मत के थ्रू और यदि आप किसी क्लिनिकल साइकोलॉजी के पास जाते हैं तो वह आपको थेरेपी की टेक्निक फॉर रिलैक्सेशन टेक्निक है वह आपको बताएंगे इसके अंदर को कंट्रोल कर सकते हैं

andar jo hai kis karan se yadi koi balig hai toh uska salution hi bata rahi hai bina baat ki aa rahi hai aapko kisi na kisi takat help lene ka zarurat hai wahan vaah aapko meri kismat ke through aur yadi aap kisi clinical psychology ke paas jaate hain toh vaah aapko therapy ki technique for Relaxation technique hai vaah aapko batayenge iske andar ko control kar sakte hain

अंदर जो है किस कारण से यदि कोई बालिग है तो उसका सलूशन ही बता रही है बिना बात की आ रही है आ

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  690
WhatsApp_icon
user

Mr.NARESH TRIVEDI

PSYCHOLOGIST

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्सा बहुत आता है और जो मैंने सवाल किया कि डांस आपको कौन से शरीर के कौनसे भाग से आता है तो जवान है डांस आता नहीं है डांस करता है आती है आती है तो नहीं किया जाता है और जाती है उसको हम कर सकते हम पेट्रोल पंप है क्या कर रहे हैं

gussa bahut aata hai aur jo maine sawaal kiya ki dance aapko kaun se sharir ke kaun se bhag se aata hai toh jawaan hai dance aata nahi hai dance karta hai aati hai aati hai toh nahi kiya jata hai aur jaati hai usko hum kar sakte hum petrol pump hai kya kar rahe hain

गुस्सा बहुत आता है और जो मैंने सवाल किया कि डांस आपको कौन से शरीर के कौनसे भाग से आता है त

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  439
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपको अपनी पुस्तकों का भी करना है तो आप रेगुलर की प्रैक्टिस करना प्रारंभ कर दी आप जब रेगुलर प्रैक्टिस करेंगे तो आप अपने गुस्से को काबू कर सके यह काम नहीं करना है कि मुझे अपनी उसी के पास रखना तो आप इस तरह कंट्रोल ट्रक सकते हैं

agar aapko apni pustakon ka bhi karna hai toh aap regular ki practice karna prarambh kar di aap jab regular practice karenge toh aap apne gusse ko kabu kar sake yah kaam nahi karna hai ki mujhe apni usi ke paas rakhna toh aap is tarah control truck sakte hain

अगर आपको अपनी पुस्तकों का भी करना है तो आप रेगुलर की प्रैक्टिस करना प्रारंभ कर दी आप जब रे

Romanized Version
Likes  93  Dislikes    views  796
WhatsApp_icon
user

Anjana Baliga

Counselor

6:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्सा का इंग्लिश में है एंगर जैसे ही आप उसमें भी जोड़ देते हैं वह बन जाता है डेंजर तो गुस्साए एक नकारात्मक प्रतिक्रिया है और इसको काबू करना थोड़ा मुश्किल है पर नामुमकिन नहीं तो सबसे पहले आप एक कागज कलम डीजे और कुछ प्रश्नों के उत्तरों के जवाब लिखिए और आप देखेंगे जैसे ही आप इन प्रश्नों के उत्तर लिख लेते हैं कुछ ही समय में आप काहे गुस्सा खत्म हो जाएगा तो पहला प्रश्न लिखिए कि आपको गुस्सा कब आता है इनके आप कम से कम पांच जवाब लिखिए कि कब-कब आपको गुस्सा आता दूसरा आप लिखिए आप पहली बार कब गुस्सा हुए थे सबसे पहले बचपन में आपको गुस्सा कब हुआ था फिर लिखिए कम से कम ऐसी 5 घटनाएं लिखिए बचपन की जब आपको गुस्सा हुआ आया था जब आप इस तरह के सवालों के प्रश्न लिख लेते हैं तो आप एक चीज इस नतीजे पर पहुंचते हैं कि आप एक सेल्फी ड है मतलब आप अपने आप से बहुत नफरत करते हैं और जब आप दूसरों पर उंगली उठाते हैं तो 4 उंगली आपकी तरह ही उठेगी तो आपको गुस्सा तब तब आया होगा जब किसी ने आप की बात नहीं मानी होगी या आपकी कोई इच्छा अधूरी रह गई है तब आपको गुस्सा आया होगा या बहुत जिद्दी रहे होंगे और आपकी जिद पूरी नहीं की गई होगी तो आप भी यह मान लिया है कि मैं ऐसा ही हूं कोई मेरी बात मानता ही नहीं जब आप अपने लिए एक इस तरह की छवि बना लेते हैं तो आप गुस्सैल व्यक्ति हो जाते हैं तो आप गुस्से का विपरीत शांत तो आप बार-बार रात को सोने से पहले यह धो रही है कि मैं शांत स्वरूप व्यक्ति हूं और शांति मेरा स्वरूप है दूसरा जब भी आपको गुस्सा आए आपको सिर्फ मुट्ठी बंद करके एक से 10 की गिनती गिन्नी है और वह भी उल्टी 1098 और हर गिनती के साथ आप कहेंगे कि आपका मन शांत हो रहा है शांत हो रहा है सुबह शाम दोनो टाइम प्राणायाम करिए और सांसो पर नियंत्रण पाने की कोशिश करिए जब आप इस तरह करते हैं जैसे ही आपकी सांसे बदलेंगे आपकी प्रतिक्रिया सांस लेने की बदल जाएगी आपका गुस्सा भी कम होगा अधिक से अधिक मात्रा में पानी पीजिए जिससे कि आपके अंदर का तापमान शांत रहे दूसरा आप एक अच्छी सी छवि बनाई है कि मैं अपने आपसे बहुत प्यार करता हूं और मेरे अंदर यह यह कमियां नहीं यह है मैं इंदर बहुत सारी शक्तियां है ट्रेन है कि बच्चा देख सकता हूं क्या सुन सकता मैं अच्छा व्यक्ति हूं अच्छा पहन सकता हूं और जब आप यह देखेंगे और अपने बचपन पर जो आपने सूची बनाई है उन घटनाओं पर थोड़ा सा गौर करिए और उनको बदलने की कोशिश करिए कि मैंने ऐसा क्या किया था कि मेरे मां-बाप ने मेरी उस बात को क्यों नहीं माना शायद मेरी गलती हुई होगी उसी घटना में जाकर अपने आप से खूब प्यार करिए और सोचिए कि मैं एक शांत व्यक्ति हूं और मैंने मेरी सारी इच्छाएं पूर्ण होगी उस टाइम पर जो भी उन्होंने किया वही सही था उस घटना में जब आप बचपन में जाकर अपने गुस्सैल सभी को ठीक करते चले जाएंगे तो आपका गुस्सा धीरे-धीरे कम होने लगेगा जब आप अपने आप से प्यार करेंगे और शांति को महसूस करेंगे तो आपका गुस्सा कम हुआ इसमें कुछ समय जरूर लगता है परंतु इस वास्तविक इलाज थोड़ा सा शांति लाना और अलग तरह के म्यूजिक को सुनना की कोशिश करिए गुस्सा कम करने के संगीत अगर आप गूगल में यह डालेंगे तो आपको बहुत सारे संगीत ऐसे मिलेंगे जो मधुर होंगे जैसे की बांसुरी की आवाज हारमोनियम की आवाज पियानो की आवाज बारिश का पानी इस तरह के संगीत को सुनिए कुछ समय तक निरंतर कम से कम 21 22 दिन तक आप अलग म्यूजिक जो क्लासिकल होता है उसको सुन धीरे-धीरे आपके स्वभाव में बहुत ही बदलाव आएगा और आपका गुस्सा शांत होने लगेगा गुस्सा तभी आता है जब हम खुद से प्यार नहीं करते हम अंदर ही अंदर खड़े होते हैं हम खुद से नफरत कर रहे होते हैं और वह चीज हम दूसरों पर व्यक्त करते हैं क्योंकि अंदर ही कुछ ठीक नहीं है तो हम बाहर कैसे आप यह देखिए आपके अंदर जो भी प्रतिक्रिया हो रही है चाय आपके अंदर प्यार की हो चाहे खुशी की हो चाहे गुस्से की वह कहां हो रही हो प्रतिक्रिया और सभी प्रतिक्रिया आपके मन के अंदर हो रही है ना कि बाहर जब अंदर ही व्यक्ति खुश नहीं है तो बाहर कैसे अपने आप को शांत स्वरूप दिखाएगा तो शांति आपको पहले अंदर लानी पड़ेगी इसलिए शांति लाने के लिए जवाब संगीत सुनेंगे अपने मन को शांत करने लगेंगे जैसे ही मन शांत होने लगेगा आपके अंदर ने संचार होगा नई ऊर्जा जागृत होगी जब आप अपने आप से प्यार करने में तो आपको दुनिया भी ऐसे ही मिलेगी जिस तरह कि आप है हमारा मन एक आईना होता है जैसे ही हम सोचते हैं वैसे ही हमें यह दुनिया दिखती हैं अगर अपने आप से प्यार करेंगे तो आपको प्यार करने वाले लोग ही मिलेंगे और आपका गुस्सा भी धीरे धीरे गायब हो जाएगा धन्यवाद

gussa ka english me hai anger jaise hi aap usme bhi jod dete hain vaah ban jata hai danger toh gussaye ek nakaratmak pratikriya hai aur isko kabu karna thoda mushkil hai par namumkin nahi toh sabse pehle aap ek kagaz kalam DJ aur kuch prashnon ke utaron ke jawab likhiye aur aap dekhenge jaise hi aap in prashnon ke uttar likh lete hain kuch hi samay me aap kaahe gussa khatam ho jaega toh pehla prashna likhiye ki aapko gussa kab aata hai inke aap kam se kam paanch jawab likhiye ki kab kab aapko gussa aata doosra aap likhiye aap pehli baar kab gussa hue the sabse pehle bachpan me aapko gussa kab hua tha phir likhiye kam se kam aisi 5 ghatnaye likhiye bachpan ki jab aapko gussa hua aaya tha jab aap is tarah ke sawalon ke prashna likh lete hain toh aap ek cheez is natije par pahunchate hain ki aap ek selfie d hai matlab aap apne aap se bahut nafrat karte hain aur jab aap dusro par ungli uthate hain toh 4 ungli aapki tarah hi uthegee toh aapko gussa tab tab aaya hoga jab kisi ne aap ki baat nahi maani hogi ya aapki koi iccha adhuri reh gayi hai tab aapko gussa aaya hoga ya bahut jiddi rahe honge aur aapki jid puri nahi ki gayi hogi toh aap bhi yah maan liya hai ki main aisa hi hoon koi meri baat maanta hi nahi jab aap apne liye ek is tarah ki chhavi bana lete hain toh aap gussail vyakti ho jaate hain toh aap gusse ka viprit shaant toh aap baar baar raat ko sone se pehle yah dho rahi hai ki main shaant swaroop vyakti hoon aur shanti mera swaroop hai doosra jab bhi aapko gussa aaye aapko sirf mutthi band karke ek se 10 ki ginti ginni hai aur vaah bhi ulti 1098 aur har ginti ke saath aap kahenge ki aapka man shaant ho raha hai shaant ho raha hai subah shaam dono time pranayaam kariye aur saanso par niyantran paane ki koshish kariye jab aap is tarah karte hain jaise hi aapki sanse badalenge aapki pratikriya saans lene ki badal jayegi aapka gussa bhi kam hoga adhik se adhik matra me paani PGA jisse ki aapke andar ka taapman shaant rahe doosra aap ek achi si chhavi banai hai ki main apne aapse bahut pyar karta hoon aur mere andar yah yah kamiyan nahi yah hai main indar bahut saari shaktiyan hai train hai ki baccha dekh sakta hoon kya sun sakta main accha vyakti hoon accha pahan sakta hoon aur jab aap yah dekhenge aur apne bachpan par jo aapne suchi banai hai un ghatnaon par thoda sa gaur kariye aur unko badalne ki koshish kariye ki maine aisa kya kiya tha ki mere maa baap ne meri us baat ko kyon nahi mana shayad meri galti hui hogi usi ghatna me jaakar apne aap se khoob pyar kariye aur sochiye ki main ek shaant vyakti hoon aur maine meri saari ichhaen purn hogi us time par jo bhi unhone kiya wahi sahi tha us ghatna me jab aap bachpan me jaakar apne gussail sabhi ko theek karte chale jaenge toh aapka gussa dhire dhire kam hone lagega jab aap apne aap se pyar karenge aur shanti ko mehsus karenge toh aapka gussa kam hua isme kuch samay zaroor lagta hai parantu is vastavik ilaj thoda sa shanti lana aur alag tarah ke music ko sunana ki koshish kariye gussa kam karne ke sangeet agar aap google me yah daalenge toh aapko bahut saare sangeet aise milenge jo madhur honge jaise ki bansuri ki awaaz Harmonium ki awaaz piano ki awaaz barish ka paani is tarah ke sangeet ko suniye kuch samay tak nirantar kam se kam 21 22 din tak aap alag music jo classical hota hai usko sun dhire dhire aapke swabhav me bahut hi badlav aayega aur aapka gussa shaant hone lagega gussa tabhi aata hai jab hum khud se pyar nahi karte hum andar hi andar khade hote hain hum khud se nafrat kar rahe hote hain aur vaah cheez hum dusro par vyakt karte hain kyonki andar hi kuch theek nahi hai toh hum bahar kaise aap yah dekhiye aapke andar jo bhi pratikriya ho rahi hai chai aapke andar pyar ki ho chahen khushi ki ho chahen gusse ki vaah kaha ho rahi ho pratikriya aur sabhi pratikriya aapke man ke andar ho rahi hai na ki bahar jab andar hi vyakti khush nahi hai toh bahar kaise apne aap ko shaant swaroop dikhaega toh shanti aapko pehle andar lani padegi isliye shanti lane ke liye jawab sangeet sunenge apne man ko shaant karne lagenge jaise hi man shaant hone lagega aapke andar ne sanchar hoga nayi urja jagrit hogi jab aap apne aap se pyar karne me toh aapko duniya bhi aise hi milegi jis tarah ki aap hai hamara man ek aaina hota hai jaise hi hum sochte hain waise hi hamein yah duniya dikhti hain agar apne aap se pyar karenge toh aapko pyar karne waale log hi milenge aur aapka gussa bhi dhire dhire gayab ho jaega dhanyavad

गुस्सा का इंग्लिश में है एंगर जैसे ही आप उसमें भी जोड़ देते हैं वह बन जाता है डेंजर तो गुस

Romanized Version
Likes  205  Dislikes    views  1727
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

2:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कहना है कि मुझे गुस्सा बहुत आता है और मैं अपना नुकसान कर बैठता हूं तो नेचुरली गुस्से में नुकसान होगा गुस्सा तो वह चीज है कि जैसे एक माचिस की तीली है पहले खुद जलती है फिर दूसरों को जगाती है तो जब खुद जलेंगे तब तो नुकसान है यार और किसी को जलाएंगे तो ज्यादा नुकसान हो जाएगा और कई बार तो हम गुस्से में ऐसे शब्द बोल जाते हैं कि उसकी फिर भरपाई करना बहुत मुश्किल है मतलब शब्द तो एक बार चले गए ना वह तो जैसे तीर चला गया बाहर निकल गया तो उसके बाद में फिर वह वापस आएगा फिल्म कितनी भी सफाई देते रहे लेकिन सामने वाले के मन तो खराब हो गया तो गुस्सा आता है इसके दो तीन कारण है नंबर वन तो यह है कि हमारी हेल्थ ठीक नहीं रहती है और हमको लगता है कि जो चाहते हैं हम ऐसा काम नहीं कर सकते तो हमें गुस्सा आता नंबर तो यह है कि हमको लगता है हम और यह गलत है हमारे मन मुताबिक काम क्यों नहीं कर रहा है इसलिए भी बहुत गुस्सा आता है वह तीसरी जब हमारी घर में चलती नहीं है और सामने वाले की चल रही है और हम नहीं चाहते हुए भी वह सब देख रहे हैं जो हम कर नहीं पाते 3223 कारण है कोई गुस्सा आने के बहुत सारे कारण नहीं है कभी-कभी हमारी एक्सपेक्टेशन जो रहती है वह पूरी नहीं हो पाती है तभी गुस्सा आता एक चीज को एक जैसे प्रॉब्लम को सॉल्व करते हैं नंबर वन नंबर 2 नंबर 3 नंबर 4 उसी तरह से तीन चार पॉइंट से पता चल जाएगा गुस्सा क्यों आया सपोर्ट आज आपको गुस्सा शांति से बैठेगी तो पता चल जाएगा मुझे आज गुस्सा क्यों आया उसका सलूशन अपने पास ही है किसी और के पास सलूशन नहीं है सोचेंगे तो अभी गुस्सा आने का तो कोई कारण ही नहीं था बिना मतलब आया मैंने सिचुएशन बिगाड़ी हेलो ज्ञान एक्सटेंड वह नहीं आएगा पड़ेगा कि मुझे गुस्सा आया उसका कारण क्या है एक्चुअली हम कभी अपने अंदर झांकने की कोशिश नहीं करते हैं हम अपने अंदर की गंदगी को देखना ही नहीं चाहते कि हमारे अंदर क्या गंदगी सब कुछ हमारे अंदर एक्सपेक्टेशन लोगों से लोगों से जो वह आशाएं हैं वह पूरी नहीं हो पाती है कभी कभी किसी की खुशियां देखकर जलन किसी की उन्नति किसी का पैसा देखकर अपने आप पर कंट्रोल करना कोई बात नहीं है लेकिन कम से कम अपने आप को देखना पड़ेगा कि क्यों आ रहा है और आ रहा है तो फिर नियंत्रण करना कोई मुश्किल बात ही नहीं है और नियंत्रण हम ही कर सकते हैं और उसकी कोई बाजार में गोली नहीं मिलेगी या कोई ऐसा नहीं है कि कोई हम जादू वाला पानी पी ले उससे हमारा गुस्सा ठीक हो जाएगा बस थोड़ी सी मेहनत करनी पड़ेगी और एकदम काम आसान हो जाता

aapka kehna hai ki mujhe gussa bahut aata hai aur main apna nuksan kar baithta hoon toh nechurali gusse mein nuksan hoga gussa toh vaah cheez hai ki jaise ek machis ki tili hai pehle khud jalti hai phir dusro ko jagati hai toh jab khud jalenge tab toh nuksan hai yaar aur kisi ko jalayenge toh zyada nuksan ho jaega aur kai baar toh hum gusse mein aise shabd bol jaate hain ki uski phir bharpai karna bahut mushkil hai matlab shabd toh ek baar chale gaye na vaah toh jaise teer chala gaya bahar nikal gaya toh uske baad mein phir vaah wapas aayega film kitni bhi safaai dete rahe lekin saamne waale ke man toh kharab ho gaya toh gussa aata hai iske do teen karan hai number van toh yah hai ki hamari health theek nahi rehti hai aur hamko lagta hai ki jo chahte hain hum aisa kaam nahi kar sakte toh hamein gussa aata number toh yah hai ki hamko lagta hai hum aur yah galat hai hamare man mutabik kaam kyon nahi kar raha hai isliye bhi bahut gussa aata hai vaah teesri jab hamari ghar mein chalti nahi hai aur saamne waale ki chal rahi hai aur hum nahi chahte hue bhi vaah sab dekh rahe hain jo hum kar nahi paate 3223 karan hai koi gussa aane ke bahut saare karan nahi hai kabhi kabhi hamari expectation jo rehti hai vaah puri nahi ho pati hai tabhi gussa aata ek cheez ko ek jaise problem ko solve karte hain number van number 2 number 3 number 4 usi tarah se teen char point se pata chal jaega gussa kyon aaya support aaj aapko gussa shanti se baithegi toh pata chal jaega mujhe aaj gussa kyon aaya uska salution apne paas hi hai kisi aur ke paas salution nahi hai sochenge toh abhi gussa aane ka toh koi karan hi nahi tha bina matlab aaya maine situation bigadi hello gyaan eksatend vaah nahi aayega padega ki mujhe gussa aaya uska karan kya hai actually hum kabhi apne andar jhankane ki koshish nahi karte hain hum apne andar ki gandagi ko dekhna hi nahi chahte ki hamare andar kya gandagi sab kuch hamare andar expectation logo se logo se jo vaah ashaen hain vaah puri nahi ho pati hai kabhi kabhi kisi ki khushiya dekhkar jalan kisi ki unnati kisi ka paisa dekhkar apne aap par control karna koi baat nahi hai lekin kam se kam apne aap ko dekhna padega ki kyon aa raha hai aur aa raha hai toh phir niyantran karna koi mushkil baat hi nahi hai aur niyantran hum hi kar sakte hain aur uski koi bazaar mein goli nahi milegi ya koi aisa nahi hai ki koi hum jadu vala paani p le usse hamara gussa theek ho jaega bus thodi si mehnat karni padegi aur ekdam kaam aasaan ho jata

आपका कहना है कि मुझे गुस्सा बहुत आता है और मैं अपना नुकसान कर बैठता हूं तो नेचुरली गुस्से

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  472
WhatsApp_icon
user

Anil

Paneer Dilar

1:11
Play

Likes  2  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आप सब गुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग और गुरुदेव का ध्यान कीजिए आपका गुरुदेव से दीक्षा ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं और आप उनके बारे में व्हाट्सएप के बारे में देख सकते हैं यूट्यूब पर धर्मेंद्र भाई जी का वीडियो मिल जाएगा आपको और भी बहुत सारे वीडियो सर्वेंद्र भाई जी व्हाट्सएप करते हैं बात करते हैं और उसके बारे में

dekhiye aap sab gurudev shri ramlal ji siyag aur gurudev ka dhyan kijiye aapka gurudev se diksha online prapt kar sakte hain aur aap unke bare me whatsapp ke bare me dekh sakte hain youtube par dharmendra bhai ji ka video mil jaega aapko aur bhi bahut saare video sarvendra bhai ji whatsapp karte hain baat karte hain aur uske bare me

देखिए आप सब गुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग और गुरुदेव का ध्यान कीजिए आपका गुरुदेव से दीक्षा

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!