मुझे जीवन में बहुत कुछ करने का मन करता है। पर जब करने जाता हूँ तो समझ नही आता क्या करूँ।क्या आप मुझे बता सकते है की अपने जुनून को जानने का सबसे अच्छा तरीका क्या है?...


user

Vikas Singh

Political Analyst

3:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें जब भी आप कुछ काम करने के लिए जाते हैं तो आपको समझ में नहीं आता क्या करूं क्या नहीं करूं आप अपने जुनून को जानना चाहते हैं देखे हर व्यक्ति का अलग-अलग इंटरेस्ट होता है कुछ लोग गेम खेलना पसंद करते हैं कुछ लोग बिजनेस में इंटरेस्ट देते हैं कुछ लोग जॉब करना पसंद करते हैं कुछ लोग सरकारी जॉब करना पसंद करते हैं सबका अपना-अपना अलग-अलग विचार होता है जैसे मैं हूं मैंने बी टेक मैकेनिकल से किया उसके बाद कैड कैम भी किया फ्रॉम सीटीटीसी भुवनेश्वर उसके बाद मैंने इंडिया किया और मैं सेल्समैन जॉब कर रहा हूं मैं सेल्स में इसलिए जॉब कर रहा हूं क्योंकि मुझे इसमें फ्री टाइम मिलता है और मैं राजनीति वर्क करता हूं मैं राजनीति में शुरू से ही इंटरेस्टेड मतलब लेता आया हूं इसलिए मैं राजनीति में ही जाना चाहता हूं और मेरा पिक टारगेट एकदम फिक्स है कि मैं पॉलिटिक्स में ही अपना पूरा जीवन समर्पित करूंगा चाहे मुझे कोई उपलब्धि मिले चाहे ना मिले मैं अपना कर्म करते रहूंगा जैसे किसी का टारगेट बन जाता है कि मैं यूपीएससी क्वालीफाई करके आईएस करूंगा उसका ड्रीम होता है तो उसका टारगेट फिक्स होता है कि मैं बोलूंगा तो आईएससी बनूंगा नहीं तो कुछ नहीं बनूंगा तो वॉइस बनता भी है तो उसी तरह आपको अपना टारगेट फिक्स करना होगा कि आप क्या करना चाहते हो आपका किस फील्ड में इंटरेस्ट है आप किस फील्ड में इंटरेस्ट लेते हो अगर आप जिस फिल्म में इंटरेस्ट लेते हो उस फील्ड में अगर आप काम करोगे अपना हंड्रेड परसेंट इनपुट दोगे तो आउटपुट भी लगभग हंड्रेड परसेंट सकारात्मक ही होगा सृष्टि सबसे पहले आपको क्या काम करना है किस क्षेत्र में काम करना है कैसा काम करना है आप अपने दिल दिमाग से अकेले में जाकर पूछे और जब आप का टारगेट फिक्स हो जाए तो बस उस कार्य को शुरू कर दीजिए तो कार्य शुरू करोगे तो आपको बहुत सीखने को मिलेगा और बहुत सीखने के बाद जब आप एक्सपीरियंस हो जाओगे तो वह काम आप बहुत आसानी से कर सकोगे और आगे का जीवन आपका अच्छा हो जाएगा अभी क्या है कि आप कोई भी काम शुरू कर कर देते हो तो आपको कंफ्यूजन होता है जिस काम में आपका इंटरेस्ट नहीं है वह भी काम आप शुरू कर देते हो तो यह तो स्वाभाविक सी बात है कि जिसमें आपका इंटरेस्ट नहीं है वह काम करने का आप का मन ही नहीं करेगा तो आप अपना टारगेट फिक्स करिए और उस टारगेट को अचीव करने के लिए उस टारगेट के पीछे दौड़ना स्टार्ट करिए स्टार्ट करें इमानदारी से कर कर्म करोगे तो रिजल्ट हंड्रेड परसेंट सही होगा धन्यवाद

dekhen jab bhi aap kuch kaam karne ke liye jaate hain toh aapko samajh me nahi aata kya karu kya nahi karu aap apne junun ko janana chahte hain dekhe har vyakti ka alag alag interest hota hai kuch log game khelna pasand karte hain kuch log business me interest dete hain kuch log job karna pasand karte hain kuch log sarkari job karna pasand karte hain sabka apna apna alag alag vichar hota hai jaise main hoon maine be take mechanical se kiya uske baad Cad kaim bhi kiya from CTTC bhubaneswar uske baad maine india kiya aur main salesman job kar raha hoon main sales me isliye job kar raha hoon kyonki mujhe isme free time milta hai aur main raajneeti work karta hoon main raajneeti me shuru se hi interested matlab leta aaya hoon isliye main raajneeti me hi jana chahta hoon aur mera pic target ekdam fix hai ki main politics me hi apna pura jeevan samarpit karunga chahen mujhe koi upalabdhi mile chahen na mile main apna karm karte rahunga jaise kisi ka target ban jata hai ki main upsc qualify karke ias karunga uska dream hota hai toh uska target fix hota hai ki main boloonga toh ISC banunga nahi toh kuch nahi banunga toh voice banta bhi hai toh usi tarah aapko apna target fix karna hoga ki aap kya karna chahte ho aapka kis field me interest hai aap kis field me interest lete ho agar aap jis film me interest lete ho us field me agar aap kaam karoge apna hundred percent input doge toh output bhi lagbhag hundred percent sakaratmak hi hoga shrishti sabse pehle aapko kya kaam karna hai kis kshetra me kaam karna hai kaisa kaam karna hai aap apne dil dimag se akele me jaakar pooche aur jab aap ka target fix ho jaaye toh bus us karya ko shuru kar dijiye toh karya shuru karoge toh aapko bahut sikhne ko milega aur bahut sikhne ke baad jab aap experience ho jaoge toh vaah kaam aap bahut aasani se kar sakoge aur aage ka jeevan aapka accha ho jaega abhi kya hai ki aap koi bhi kaam shuru kar kar dete ho toh aapko confusion hota hai jis kaam me aapka interest nahi hai vaah bhi kaam aap shuru kar dete ho toh yah toh swabhavik si baat hai ki jisme aapka interest nahi hai vaah kaam karne ka aap ka man hi nahi karega toh aap apna target fix kariye aur us target ko achieve karne ke liye us target ke peeche daudana start kariye start kare imaandari se kar karm karoge toh result hundred percent sahi hoga dhanyavad

देखें जब भी आप कुछ काम करने के लिए जाते हैं तो आपको समझ में नहीं आता क्या करूं क्या नहीं क

Romanized Version
Likes  371  Dislikes    views  5780
KooApp_icon
WhatsApp_icon
17 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!