अगर 31 जनवरी 2018 तक IAS अधिकारी अपनी कमाई का विवरण नहीं देंगे तो उनका प्रमोशन नहीं होगा, क्या यह सही सज़ा है?...


play
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:14

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिल्कुल सही बात है क्योंकि देखिए सरकारी सिस्टम में आईएएस ऑफिसर्स काफी पावरफुल होते हैं और जैसा कि हम सभी जानते हैं कि बहुत सारे आईएएस ऑफिसर्स कर्रप्ट है और ना ही आईएएस ऑफिसर्स बल्कि सरकारी सिस्टम में बहुत सारे ऑफिस कर्रप्ट है तो क्यूंकि आईएएस ऑफिसर्स बहुत पावरफुल है और यह सबसे बड़ी प्रशासनिक सेवा है देश की, तो जो सफाई होनी थी जो क्लीनिंग होनी थी वो उपर लेवल से होनी थी यहl जब हमारे सुपीरियर सीनियर एग्जांपल देंगे सफाई का, ईमानदारी का, तो बाकी लोग को भी उसको फॉलो करना पड़ेगाl हम यह तो बोल सकते कि पहले सारे क्लेरिकल लेवल के लोग अपने एसेट्स डिक्लेयर करें, जब तक सीनियर ऑफिसर के एसेट्स डिक्लेयर नहीं होंगे तब तक जूनियर ऑफिसर को बोलने का एक क्लेरिकल लेवल के लोगों को बोलने का कोई मतलब नहीं है, तो हर अच्छे काम की शुरुआत ऊपर से होती है और यह बहुत अच्छे काम की शुरुआत है और मुझे लगता है की सभी सरकारी ऑफिसर्स को इस बात का सपोर्ट करना चाहिए और खासकर ईमानदार लोग हैं उन्हें तो इस बात से खुश होना चाहिए कि ऐसा कुछ हो रहा है, कि जिससे सिस्टम में ईमानदारी को और प्रमोशन मिलेगाl

ji haan bilkul sahi baat hai kyonki dekhiye sarkari system mein IAS officers kaafi powerful hote hain aur jaisa ki hum sabhi jante hain ki bahut saare IAS officers corrupt hai aur na hi IAS officers balki sarkari system mein bahut saare office corrupt hai toh kyunki IAS officers bahut powerful hai aur yah sabse badi prashaasnik seva hai desh ki toh jo safaai honi thi jo cleaning honi thi vo upar level se honi thi yah jab hamare Superior senior example denge safaai ka imaandaari ka toh baki log ko bhi usko follow karna padega hum yah toh bol sakte ki pehle saare klerikal level ke log apne esets declare kare jab tak senior officer ke esets declare nahi honge tab tak junior officer ko bolne ka ek klerikal level ke logo ko bolne ka koi matlab nahi hai toh har acche kaam ki shuruat upar se hoti hai aur yah bahut acche kaam ki shuruat hai aur mujhe lagta hai ki sabhi sarkari officers ko is baat ka support karna chahiye aur khaskar imaandaar log hain unhe toh is baat se khush hona chahiye ki aisa kuch ho raha hai ki jisse system mein imaandaari ko aur promotion milega

जी हां बिल्कुल सही बात है क्योंकि देखिए सरकारी सिस्टम में आईएएस ऑफिसर्स काफी पावरफुल होते

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन सबसे पहले तो हमें यह जानना होगा कि इस सवाल के मायने क्या है यह सवाल अपने आप में थोड़ा सा जटिल है यह सवाल पूछता है कि अगर 31 जनवरी 2018 तक आईएएस अधिकारी अपनी कमाई का पूर्ण विवरण नहीं देंगे तो उनका प्रमोशन नहीं होगा हर व्यक्ति को अपनी कमाई का विवरण देना ही पड़ता है और अगर कोई आय से अधिक संपत्ति कमाता है तो तो भी विवरण देना पड़ता है तो मैं समझता हूं कि अगर आईएएस अधिकारी अपनी कमाई का विवरण देने का यह जो फार्मूला अपनाया है इस फार्मूले को जारी रखना चाहिए और इसे सिर्फ आईएएस आईपीएस आईएएस आईएएस में सीमित मत कर लीजिए कि आप बोलेंगे साथ सिविल सेवा वालों को अगर कोई ट्रायल नियम चलता है तो उसे एकाकी रूप से पूरे देश में लागू कर दीजिए क्योंकि हम तो यह भी देखते सुनते हैं कि सरकारी विभाग के चपरासी बाबू के यहां से डेढ़ करोड़ ढाई करोड़ 10 करोड़ की संपत्ति बरामद हो गई चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में भ्रष्टाचार के पैसे आए हैं यह पल पर हुए पैसों की तादाद कितनी है और कितने लोगों में वितरित है तो यह बहुत ही अच्छा फैसला है और उसके बाद लागू करो कृषि के बाद लागू कीजिए इससे विधायिका पर बिल्कुल लेकर लागू करना बहुत ही जरूरी है विदाई का पर लागू होगा तो हमें भी तो पता चलेगा कि सब विधानसभा राज्यसभा लोकसभा में कितने लोग हैं जिनके पास आय से अधिक संपत्ति का स्त्रोत है धन्यवाद

lekin sabse pehle toh hamein yah janana hoga ki is sawaal ke maayne kya hai yah sawaal apne aap mein thoda sa jatil hai yah sawaal poochta hai ki agar 31 january 2018 tak IAS adhikari apni kamai ka purn vivran nahi denge toh unka promotion nahi hoga har vyakti ko apni kamai ka vivran dena hi padta hai aur agar koi aay se adhik sampatti kamata hai toh toh bhi vivran dena padta hai toh main samajhata hoon ki agar IAS adhikari apni kamai ka vivran dene ka yah jo formula apnaya hai is formulae ko jaari rakhna chahiye aur ise sirf IAS ips IAS IAS mein simit mat kar lijiye ki aap bolenge saath civil seva walon ko agar koi trial niyam chalta hai toh use ekaki roop se poore desh mein laagu kar dijiye kyonki hum toh yah bhi dekhte sunte hain ki sarkari vibhag ke chaprasi babu ke yahan se dedh crore dhai crore 10 crore ki sampatti baramad ho gayi chaturth shreni karmachariyon mein bhrashtachar ke paise aaye hain yah pal par hue paison ki tadad kitni hai aur kitne logo mein vitrit hai toh yah bahut hi accha faisla hai aur uske baad laagu karo krishi ke baad laagu kijiye isse vidhayika par bilkul lekar laagu karna bahut hi zaroori hai vidai ka par laagu hoga toh hamein bhi toh pata chalega ki sab vidhan sabha rajya sabha lok sabha mein kitne log hain jinke paas aay se adhik sampatti ka satrot hai dhanyavad

लेकिन सबसे पहले तो हमें यह जानना होगा कि इस सवाल के मायने क्या है यह सवाल अपने आप में थोड़

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  456
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि यह बहुत ही सही निर्णय है कि अगर आईएएस ऑफिसर्स तो हमारे इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर हैं उन्होंने अगर जनवरी तक अपना आईपी आरजू मूवी में प्रॉपर्टी Returns है जो अपना कमाई का ब्यौरा है वह नहीं दिया तो उनकी प्रमोशन नहीं होगी लेकिन मैं मेरे हिसाब से जो Ias से वह देश की बहुत ही महत्वपूर्ण कड़ी है जो देश में छोटे-छोटे यह जो IAS ऑफिसर से यही बड़े-बड़े डिसीजन लेने में बहुत बड़ी भूमिका अदा करते हैं अगर यही लोग अपना टाइम पर इनकम टैक्स नहीं बनेंगे वह अपना अगर उनके पास लेकर कमाई होगी तो वह जनता के लिए कुछ नहीं कर पाएंगे और वह भ्रष्ट हो कर ही रह जाएंगे तो 2011 में डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग ट्रेनिंग में यह लिखा था सेंट्रल गवर्नमेंट डिपार्टमेंट को स्टेज पर यूनिट यूनियन टेरिटरी स्कीम 2000 18 तक सारे IAS ऑफिसर अपनी कमाई का ब्यौरा दें वरना उनकी जो भुज विजिलेंस ए उसकी मनाई हो जाएगी तो उनकी प्रमोशन नहीं हो पाएगी तो 2011 में कही गई थी और अब 2018 तक का छठा और मुझे लगता है कि यह सही ही निर्णय है क्योंकि जैसे कि मैंने कहा कि वह बहुत बड़ी पोस्ट पर है और अगर वही कोइली कल काम कर रहे होंगे तो वह देश की भलाई के लिए नहीं होगा तो यह सही है और यह आईएएस ऑफिसर्स को अपना ब्यौरा देना भी चाहिए अगर उन्होंने कोई गलती नहीं की है और अगर कोई गलती की है सरकार को फिर उस हिसाब से प्रॉपर्टी सीरियल प्ले कर दो एक ईमानदार आईएएस ऑफिसर है उसे उस पोस्ट पर बिठाना चाहिए

mujhe lagta hai ki yah bahut hi sahi nirnay hai ki agar IAS officers toh hamare indian administrative officer hai unhone agar january tak apna IP aaraju movie mein property Returns hai jo apna kamai ka byaura hai vaah nahi diya toh unki promotion nahi hogi lekin main mere hisab se jo Ias se vaah desh ki bahut hi mahatvapurna kadi hai jo desh mein chhote chhote yah jo IAS officer se yahi bade bade decision lene mein bahut baadi bhumika ada karte hai agar yahi log apna time par income tax nahi banenge vaah apna agar unke paas lekar kamai hogi toh vaah janta ke liye kuch nahi kar payenge aur vaah bhrasht ho kar hi reh jaenge toh 2011 mein department of personal and training training mein yah likha tha central government department ko stage par unit union Territory scheme 2000 18 tak saare IAS officer apni kamai ka byaura de varna unki jo bhuj vijilens a uski manai ho jayegi toh unki promotion nahi ho payegi toh 2011 mein kahi gayi thi aur ab 2018 tak ka chhata aur mujhe lagta hai ki yah sahi hi nirnay hai kyonki jaise ki maine kaha ki vaah bahut baadi post par hai aur agar wahi koili kal kaam kar rahe honge toh vaah desh ki bhalai ke liye nahi hoga toh yah sahi hai aur yah IAS officers ko apna byaura dena bhi chahiye agar unhone koi galti nahi ki hai aur agar koi galti ki hai sarkar ko phir us hisab se property serial play kar do ek imaandaar IAS officer hai use us post par bithana chahiye

मुझे लगता है कि यह बहुत ही सही निर्णय है कि अगर आईएएस ऑफिसर्स तो हमारे इंडियन एडमिनिस्ट्रे

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रितेश जी हां बिल्कुल मैं समझता हूं कि यह सही डिसीजन लिया है सरकार ने कि अगर 31 जनवरी 2018 तक जितने भी आईएएस अधिकारी हैं अगर वह अपनी कमाई का जो शोध और विवरण है वह नहीं देंगे तो उनका प्रमोशन नहीं होगा उनका प्रमोशन ऑफ दिया जाएगा तो मैं सोचा कि यह सही है कि प्रमोशन नहीं है सरकारी नौकरी में एक ऐसी चीज होती है जिसके लिए लोग बताओ 10 साल तक रखते हैं कई ऑफिसर स्कोर 2 साल 3 साल में भी मिल जाता है लेकिन प्रमोशन जो है एक बहुत इंपॉर्टेंट चीज होता है और प्रमोशन के लिए जो है वह आदमी कुछ भी कर सकता है सरकारी नौकरी का मैं बात कर रहा हूं क्योंकि यह हरे कांच की इच्छा होती है किस लेवल पर दोहे उसके ऊपर उसके लिए मैं समझता हूं कि बिल्कुल अलग होने के बाद जो मैं अपने कमरे का पेमेंट जरुर देंगे

ritesh ji haan bilkul main samajhata hoon ki yah sahi decision liya hai sarkar ne ki agar 31 january 2018 tak jitne bhi IAS adhikari hain agar vaah apni kamai ka jo shodh aur vivran hai vaah nahi denge toh unka promotion nahi hoga unka promotion of diya jaega toh main socha ki yah sahi hai ki promotion nahi hai sarkari naukri mein ek aisi cheez hoti hai jiske liye log batao 10 saal tak rakhte hain kai officer score 2 saal 3 saal mein bhi mil jata hai lekin promotion jo hai ek bahut important cheez hota hai aur promotion ke liye jo hai vaah aadmi kuch bhi kar sakta hai sarkari naukri ka main baat kar raha hoon kyonki yah hare kanch ki iccha hoti hai kis level par dohe uske upar uske liye main samajhata hoon ki bilkul alag hone ke baad jo main apne kamre ka payment zaroor denge

रितेश जी हां बिल्कुल मैं समझता हूं कि यह सही डिसीजन लिया है सरकार ने कि अगर 31 जनवरी 2018

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर में पूरा मामला देखें तो डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग में जितने भी सेंट्रल गवर्मेंट डिपार्टमेंट है राज्य की और यूनियन टेरिटरीज के उनको यह बोला है कि जो प्रॉपर्टी रिटर्न सुजुकी IAS ऑफिसर ओके है वह 31 जनवरी 2018 तक आना चाहिए अगर हमें पूरा मामला देखा तो यह बताता है कि जितने भी IAS ऑफिसर है उन्हें उनकी कितनी भी जमीन संपत्ति और शक्कर डिक्लेरेशन करने के लिए बोला है कि 3 दिसंबर 31 जनवरी 2018 तक इंस्ट्रक्शंस डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग में 4 अप्रैल 2011 में दिया था और तब से यह लागू नहीं हो पा रहा है तो अब उन्होंने यह बताएं कि अगर कोई भी अक्सर एक जन्म 31 जनवरी 2018 तक अपनी जमी जमी नहीं संपत्ति डिक्लेअर नहीं करता तो उन्हें फोन पोस्टिंग नहीं मिलेगी हाथों का प्रमोशन नहीं होगा मेरे हिसाब से सही है क्योंकि जितने भी आगे सब वे सर होने बस अपनी जमीन ही डिक्लेयर करनी है मैंने और कुछ डिक्लेअर नहीं करना है अगर वह IAS ऑफिसर करप्ट है या आपसे काला धन है उनके पास या फिर रिश्वत लेते होंगे तो पकड़े जाएंगे जो नहीं लेते होंगे तो मेरे से उन्हें उनके लिए तो कोई प्रॉब्लम नहीं है और उन्हें तो सामने आकर यह बता देना चाहिए क्योंकि समय ही संपत्ति कितनी है और कितनी नहीं है इसमें कुछ गलत नहीं है और यह तो कोई सजा से कुछ नहीं है यह तो बस में आग स्क्रीन होने का एक मौका मिला या तो IAS ऑफिसर को जितना अब क्लीन होने का मौका मिला है

agar mein pura maamla dekhen toh department of personal and training mein jitne bhi central government department hai rajya ki aur union teritrij ke unko yah bola hai ki jo property return suzuki IAS officer ok hai vaah 31 january 2018 tak aana chahiye agar hamein pura maamla dekha toh yah batata hai ki jitne bhi IAS officer hai unhe unki kitni bhi jameen sampatti aur shakkar declaration karne ke liye bola hai ki 3 december 31 january 2018 tak instrakshans department of personal and training mein 4 april 2011 mein diya tha aur tab se yah laagu nahi ho paa raha hai toh ab unhone yah bataye ki agar koi bhi aksar ek janam 31 january 2018 tak apni jami jami nahi sampatti declare nahi karta toh unhe phone posting nahi milegi hathon ka promotion nahi hoga mere hisab se sahi hai kyonki jitne bhi aage sab ve sir hone bus apni jameen hi declare karni hai maine aur kuch declare nahi karna hai agar vaah IAS officer corrupt hai ya aapse kaala dhan hai unke paas ya phir rishwat lete honge toh pakde jaenge jo nahi lete honge toh mere se unhe unke liye toh koi problem nahi hai aur unhe toh saamne aakar yah bata dena chahiye kyonki samay hi sampatti kitni hai aur kitni nahi hai isme kuch galat nahi hai aur yah toh koi saza se kuch nahi hai yah toh bus mein aag screen hone ka ek mauka mila ya toh IAS officer ko jitna ab clean hone ka mauka mila hai

अगर में पूरा मामला देखें तो डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग में जितने भी सेंट्रल गवर्मे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  13
WhatsApp_icon
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां सर आपने कब एजुकेशन पूछा है अगर मैं अपना ऑफ नंदू तो यह जो तरीका है जो इस टाइम ही काफी अच्छा स्टाफ है हमें मानता हूं जो आज सोता है वह काफी एजुकेटेड क्या कहता है एजुकेटेड प्रसन्न होता है और हम लोगों को और वह एक ऐसा प्रतीत होता है क्योंकि एक पूरे राज्य को संभालता है तो हम लोग ऐसा हुआ उनके साथ ऐसा कैसे कर सकते हैं गवर्नमेंट ऐसा स्टेप उनके खिलाफ कैसे ले सकती है लेकिन मुझे लगता नहीं है कि अगर वह बंदा सही है ias है जो सही है तो क्या कहते हैं उनकी जो इनकम है उसमें ट्रांसपेरेंसी नहीं होनी चाहिए बिल्कुल होनी चाहिए उन किंग कम में भी ट्रांसपेरेंसी होनी चाहिए ताकि जो इन कम हो रही है ias कि वह पता चलती है और अगर इंक में ट्रांसपेरेंसी रहेगी वह गवर्नमेंट के अंडर में मॉनिटरिंग हो रही तो मुझे नहीं लगता कि अगर कोई गलत काम करने का भी सोचेंगे IAS या फिर कोई बड़ा अधिकारी तो वह नहीं करेगा तो यह अच्छी बात है और इस टाइप होना चाहिए ताकि जितने भी आईएएस और बड़े अधिकारी हैं उनकी जो इनकम है उसका पूरा पूरा मॉनिटरिंग हो ताकि वह सारे काम अपने अच्छे करें

haan sir aapne kab education poocha hai agar main apna of nandu toh yah jo tarika hai jo is time hi kaafi accha staff hai hamein manata hoon jo aaj sota hai vaah kaafi educated kya kahata hai educated prasann hota hai aur hum logo ko aur vaah ek aisa pratit hota hai kyonki ek poore rajya ko sambhalata hai toh hum log aisa hua unke saath aisa kaise kar sakte hain government aisa step unke khilaf kaise le sakti hai lekin mujhe lagta nahi hai ki agar vaah banda sahi hai ias hai jo sahi hai toh kya kehte hain unki jo income hai usme transparency nahi honi chahiye bilkul honi chahiye un king kam mein bhi transparency honi chahiye taki jo in kam ho rahi hai ias ki vaah pata chalti hai aur agar ink mein transparency rahegi vaah government ke under mein monitoring ho rahi toh mujhe nahi lagta ki agar koi galat kaam karne ka bhi sochenge IAS ya phir koi bada adhikari toh vaah nahi karega toh yah achi baat hai aur is type hona chahiye taki jitne bhi IAS aur bade adhikari hain unki jo income hai uska pura pura monitoring ho taki vaah saare kaam apne acche karen

हां सर आपने कब एजुकेशन पूछा है अगर मैं अपना ऑफ नंदू तो यह जो तरीका है जो इस टाइम ही काफी अ

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  127
WhatsApp_icon
user

Janak

An Enthusiastic Entrepreneur.

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मछली देखा जाए तो यह काफी सही सजा है उनके लिए क्योंकि जितने भी इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस के ऑफिस अर्ज है उन्होंने काफी सारा अपनी कमाई को छुपा के रखा है उनका की सारी कोशिश है जो कमाई के जो उन्होंने छुपा कर रखे हैं और जब डीमोनेटाइजेशन हुआ था तब भी वह लोग बचने के लिए थे क्योंकि उनके पास काफी सारा कांटेक्ट था और उनकी मनी सारी ट्रांसफर हो गए थे और सब शार्ट हो गया था बट अगर उन्होंने जैसे कि यह नया उन्होंने गांव में नेरुल निकाला है 31 जनवरी 2010 डिक्लेअर नहीं किया सब कुछ तो उनका प्रमोशन नहीं होगा और उन पर शायद हो सकता है कि इस फाइल हो जाए और इन्वेस्टिगेशन स्टार्ट हो जाए तो कोई सज़ा तो काफी सही है तू की प्रमोशन जब नहीं होगा तब इसीलिए उनको पता चल जाएगा और जब इंवेस्टिगेशन स्टार्ट होगी तो सब को पता चल जाएगा कि उनका क्या है उनका इनकम क्या है और उन्होंने अपनी कमाई का कमाई कैसे दिखाई है और कैसे यूज़ किया है और कितना बचाया है

machli dekha jaaye toh yah kaafi sahi saza hai unke liye kyonki jitne bhi indian administrative service ke office ares hai unhone kaafi saara apni kamai ko chupa ke rakha hai unka ki saree koshish hai jo kamai ke jo unhone chupa kar rakhe hain aur jab dimonetaijeshan hua tha tab bhi vaah log bachne ke liye the kyonki unke paas kaafi saara Contact tha aur unki money saree transfer ho gaye the aur sab shaart ho gaya tha but agar unhone jaise ki yah naya unhone gaon mein nerul nikaala hai 31 january 2010 declare nahi kiya sab kuch toh unka promotion nahi hoga aur un par shayad ho sakta hai ki is file ho jaaye aur investigation start ho jaaye toh koi saza toh kaafi sahi hai tu ki promotion jab nahi hoga tab isliye unko pata chal jaega aur jab investigeshan start hogi toh sab ko pata chal jaega ki unka kya hai unka income kya hai aur unhone apni kamai ka kamai kaise dikhai hai aur kaise use kiya hai aur kitna bachaya hai

मछली देखा जाए तो यह काफी सही सजा है उनके लिए क्योंकि जितने भी इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्वि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  10
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो यह दैनिक दारुल निकला है कि कल 30 जनवरी 2018 से पहले जितने भी आईएएस अधिकारी हैं उनको अपनी कमाई का विवरण देना होगा यह बिल्कुल सही कहा गया है क्योंकि अगर हम उन्हें ज्यादा टाइम देंगे और इस डेट को आगे बढ़ाएंगे तो वह किसी न किसी तकनीक तकनीकी से या किसी ने किसी टेक्निक से अपने जो उनका ब्लैक मनी होगा उसको वाइट पर दिखाने में सफल हो जाएंगे तो यह काफी सही टाइम दिया गया है एक महीने का जो भी लोग कर अपडेट नहीं है या जिन लोगों ने कुछ गलत अपने कामों से पैसा नहीं कमाया है उन्हें बिल्कुल दिक्कत नहीं होगी अपनी अपनी कमाई का विवरण दिखाने में पर जिन लोगों ने करप्शन करी है उन्हें बहुत दिक्कत होने वाली है तो इसी के होते हुए हमें यह अपेक्षा है की काफी लोग बाहर आएंगे काफी करप्ट लीडर जो अधिकारी हैं वह बाहर आएंगे और हम लोग करप्शन को कुछ कम कर पाएंगे तो मेरे हिसाब से तो यह बहुत ही अच्छा फैसला लिया गया है और हमें यह कामना और उम्मीद भी यही करते हैं कि करप्शन ऑफिसर इस तकनीक से काफी ज्यादा कम हो पाएंगे

jo yah dainik darul nikala hai ki kal 30 january 2018 se pehle jitne bhi IAS adhikari hai unko apni kamai ka vivran dena hoga yah bilkul sahi kaha gaya hai kyonki agar hum unhe zyada time denge aur is date ko aage badhaenge toh vaah kisi na kisi taknik takniki se ya kisi ne kisi technique se apne jo unka black money hoga usko white par dikhane mein safal ho jaenge toh yah kaafi sahi time diya gaya hai ek mahine ka jo bhi log kar update nahi hai ya jin logo ne kuch galat apne kaamo se paisa nahi kamaya hai unhe bilkul dikkat nahi hogi apni apni kamai ka vivran dikhane mein par jin logo ne corruption kari hai unhe bahut dikkat hone wali hai toh isi ke hote hue hamein yah apeksha hai ki kaafi log bahar aayenge kaafi corrupt leader jo adhikari hai vaah bahar aayenge aur hum log corruption ko kuch kam kar payenge toh mere hisab se toh yah bahut hi accha faisla liya gaya hai aur hamein yah kamna aur ummid bhi yahi karte hai ki corruption officer is taknik se kaafi zyada kam ho payenge

जो यह दैनिक दारुल निकला है कि कल 30 जनवरी 2018 से पहले जितने भी आईएएस अधिकारी हैं उनको अपन

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  17
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि यह निर्णय सराहनीय है क्योंकि 2 मिनट और सिस्टम में ट्रांसपेरेंसी लाना चाहती है और इसके लिए बहुत अच्छा तरीका है क्योंकि अगर सरकारी अधिकारियों को ही अपनी आय घोषित करने पड़े तो करप्ट इसे ऑन करप्शन ऑफिसर निकालना ढूंढना बहुत इजी हो जाएगा

mujhe lagta hai ki yah nirnay sarahniya hai kyonki 2 minute aur system mein transparency lana chahti hai aur iske liye bahut accha tarika hai kyonki agar sarkari adhikaariyo ko hi apni aay ghoshit karne pade toh corrupt ise on corruption officer nikalna dhundhana bahut easy ho jaega

मुझे लगता है कि यह निर्णय सराहनीय है क्योंकि 2 मिनट और सिस्टम में ट्रांसपेरेंसी लाना चाहती

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  15
WhatsApp_icon
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

31 जनवरी 2018 तक IAS ऑफिसर अध्याय ऑफिसर अगर अपनी कमाई का विवरण नहीं देंगे तो उनका प्रमोशन नहीं होगा यह का बहुत एक सही सजा है और एक अच्छा कदम उठाया गया है अभी जो गवर्नमेंट में सरकार में जो करप्शन होता है भ्रष्टाचार होता है वो अक्सर ब्यूरोक्रेट्स के द्वारा ही होता है किसी प्रोजेक्ट के लिए परमिशन वगैरह चाहिए होगी वह ब्यूरोक्रेट से लेनी होगी और या तो फिर कोई टेंडर पास कराना होगा अभी ऑर्डर के लिए तो इन सब के लिए ब्यूरोक्रेट्स को अच्छी खासी रकम दी जाती है ताकि वह आर्डर भ्रष्टाचारी के पास आता के पास आ सके भ्रष्टाचारी बिजनेस स्टडी विशेषण के पास आ सके तो यह जो संस्थाओं की काफी हद तक सही सजा है और यदि और लोग यदि उनके कमाई के विवरण में कुछ गड़बड़ दिखाई दे तो उन्हें रिमोट भी किया जाना चाहिए रिमोट भी किया जाना चाहिए और यदि पूरी तरह से एक जान की तरह दिखाई दे रहा है इतना सारा काला धन नगर प्राप्त हो तो उसे तो निकाह वैसे ऑफिस इसको तो आए बनने के लायक ही नहीं है उन्हें निकाल देना चाहिए

31 january 2018 tak IAS officer adhyay officer agar apni kamai ka vivran nahi denge toh unka promotion nahi hoga yah ka bahut ek sahi saza hai aur ek accha kadam uthaya gaya hai abhi jo government mein sarkar mein jo corruption hota hai bhrashtachar hota hai vo aksar bureaucrats ke dwara hi hota hai kisi project ke liye permission vagera chahiye hogi vaah Bureaucrat se leni hogi aur ya toh phir koi tender paas krana hoga abhi order ke liye toh in sab ke liye bureaucrats ko achi khasee rakam di jaati hai taki vaah order bhrashtachaari ke paas aata ke paas aa sake bhrashtachaari business study visheshan ke paas aa sake toh yah jo sasthaon ki kaafi had tak sahi saza hai aur yadi aur log yadi unke kamai ke vivran mein kuch gadbad dikhai de toh unhe remote bhi kiya jana chahiye remote bhi kiya jana chahiye aur yadi puri tarah se ek jaan ki tarah dikhai de raha hai itna saara kaala dhan nagar prapt ho toh use toh nikah waise office isko toh aaye banne ke layak hi nahi hai unhe nikaal dena chahiye

31 जनवरी 2018 तक IAS ऑफिसर अध्याय ऑफिसर अगर अपनी कमाई का विवरण नहीं देंगे तो उनका प्रमोशन

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि जिस तरह का फैसला सरकार द्वारा किया गया है अपने जो अब तक की कमाई है उसका पूरा विवरण अगर आईएएस अधिकारी को देना है तो मुझे लगता है इससे अच्छी कोई बात और हो ही नहीं सकती इससे ट्रांसपेरेंसी हमारे सिस्टम के अंदर आएगी दूसरा जो करा टायर्स ऑफिस हैं उनके खिलाफ सरकार को एक मौका मिलेगा एक्शन लेने का तो जिस से अगर SMS ऑफिसर जो करप्शन में लिप्त होंगे उनके खिलाफ जब एक्शन होगा तो जो Ias ऑफिस इस तरह के कामों को करने का सोच भी रहेंगे तो सुधर जाएंगे तो मुझे लगता है कि अगर सरकार ने इस तरह की बात का यह तो बहुत ही अच्छी बात है अगर इस तरह IAS ऑफिसर करप्शन करेंगे तो डेफिनेटली उनके प्रमोशन को रोकना चाहिए और उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए जो आने वाले वर्षों के लिए एक सबक बने इस तरह के काम में ना पड़ें

mujhe lagta hai ki jis tarah ka faisla sarkar dwara kiya gaya hai apne jo ab tak ki kamai hai uska pura vivran agar IAS adhikari ko dena hai toh mujhe lagta hai isse achi koi baat aur ho hi nahi sakti isse transparency hamare system ke andar aayegi doosra jo kara tires office hai unke khilaf sarkar ko ek mauka milega action lene ka toh jis se agar SMS officer jo corruption mein lipt honge unke khilaf jab action hoga toh jo Ias office is tarah ke kaamo ko karne ka soch bhi rahenge toh sudhar jaenge toh mujhe lagta hai ki agar sarkar ne is tarah ki baat ka yah toh bahut hi achi baat hai agar is tarah IAS officer corruption karenge toh definetli unke promotion ko rokna chahiye aur unke khilaf sakht se sakht karyawahi ki jani chahiye jo aane waale varshon ke liye ek sabak bane is tarah ke kaam mein na paden

मुझे लगता है कि जिस तरह का फैसला सरकार द्वारा किया गया है अपने जो अब तक की कमाई है उसका पू

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  18
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!