प्रतिज्ञान और शपथ में क्या अंतर है?...


play
user

Geet Awadhiya

Aspiring Software Developer

1:04

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं इन दोनों के बीच का अर्थ आपको एक बहुत ही साधारण उदाहरण से बताना चाहूंगा यदि कोई व्यक्ति किसी प्वाइंट को किसी चीज को सिद्ध करना चाहता है तो वह कसम खाता है किसी भी चीज की कि मैं भगवान की कसम खाता हूं मैं मां की कसम खाता हूं तू जो कसम खाना होता है उसे जब अदालत में या किसी ऑफिशियल वर्क के लिए इस्तेमाल किया जाता है तू चीज को शपथ कहते हैं शपथ ज्यादातर तक खाई जाती है जब पीछे धर्म होता है जैसे की अदालत में कोई मुजरिम जब बात करने जाता है तो अपने धर्म के नाम पर चाहे योगिता हो चाहे वह कुरान हो उसकी शपथ खाता है शपथ लेता है वही प्रतिज्ञा जो होती है प्रतिज्ञा हम इसलिए लेते हैं ताकि हम कुछ जो नियम होते हैं उनका पालन निष्ठा पूर्वक कर सकें प्रतिज्ञा सच या झूठ बोलने के लिए यह साबित करने के लिए नहीं होती है प्रतिज्ञा कर्तव्यों का पालन करने के लिए ली जाती है

main in dono ke beech ka arth aapko ek BA hut hi sadhaaran udaharan se BA taana chahunga yadi koi vyakti kisi point ko kisi cheez ko siddh karna chahta hai toh vaah kasam khaata hai kisi bhi cheez ki ki main bhagwan ki kasam khaata hoon main maa ki kasam khaata hoon tu jo kasam khana hota hai use jab adalat mein ya kisi official work ke liye istemal kiya jata hai tu cheez ko shapath kehte hai shapath jyadatar tak khai jaati hai jab peeche dharm hota hai jaise ki adalat mein koi mujarim jab BA at karne jata hai toh apne dharm ke naam par chahen yogita ho chahen vaah quraan ho uski shapath khaata hai shapath leta hai wahi pratigya jo hoti hai pratigya hum isliye lete hai taki hum kuch jo niyam hote hai unka palan nishtha purvak kar sake pratigya sach ya jhuth bolne ke liye yah saabit karne ke liye nahi hoti hai pratigya kartavyon ka palan karne ke liye li jaati hai

मैं इन दोनों के बीच का अर्थ आपको एक बहुत ही साधारण उदाहरण से बताना चाहूंगा यदि कोई व्यक्ति

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  333
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
शपथ और प्रतिज्ञान के बीच का अंतर ; shapath ; bhagwan ki pratigya ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!