ज़िंदगी में कुछ बनने के लिए आपको किससे प्रेरणा मिलती है?...


play
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

1:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन कुछ बनने की प्रेरणा जो है कुछ लोगों को बहुत पहले आ जाती है कुछ लोगों को काफी बाद में आती है आजकल कोई उम्र नहीं है कुछ बनने का कभी भी इंसान जब जागता है उसका कोई लक्ष्य दिखता है तो उसकी तरफ वह बट आगे बढ़ता है और उसे पाने की पूरी प्रयत्न करता है तो मेरे हिसाब से जो लोग जिन्होंने काफी प्लान बनाकर काफी कष्ट उठाकर एक लेटर एज में कुछ किया होता है वह लोग जो इक्कीस बाईस साल में अमीर बन जाते हैं वह मुझे प्रेरित नहीं करते लेकिन अगर एक बच्चा 7 साल का प्रशन है जिसने उसे एज में पढ़ाई करके थोड़े तकलीफ उठा कर अगर वह आज एक सक्सेसफुल पर्सन बना है तो ऐसे लोग मुझे बहुत प्रभावित करते हैं मैं इनके सर इस को फॉलो करती हूं और उनकी सीट को अपनाती हो और फिर अपनी लाइफ को उसके मुताबिक मैं डालती हूं फिट हूं फिट बॉक्स फाइंड विद मी टू यंग एज में कुछ बन जाते हैं यह तो बहुत अच्छी बात है ऐसे ही करना चाहिए लेकिन जो लोग बाद में जागते हैं जो लोग दिलीप दिलीप ऑफिस और फिर बिजनेस खोलते हैं या फिर कुछ नया करते हैं आपने जो फिफ्टी 50 साल के बाद जो लोग बे सक्सेसफुल कुछ नया सीखते हैं नया स्किल सीखते हैं कुछ बन जाते हैं ऐसे लोगों की स्टोरी स्टोरी मुझे बहुत ही प्रेरणा देती हैं और इनकी 24 को मैं फॉलो करती हूं आप भी सोचिए जरा अगर उस उम्र में अगर कुछ कोई इंसान कुछ हासिल कर रहा है जिसके कंपटीशन में यंग लोग है लेकिन फिर भी वह जीत रहा है तो वहीं स्टोरी जो है मुझे प्रेरित करती है आपको भी शायद करेगी आप जो सोच कर देखिए

lekin kuch banne ki prerna jo hai kuch logo ko bahut pehle aa jaati hai kuch logo ko kaafi baad mein aati hai aajkal koi umr nahi hai kuch banne ka kabhi bhi insaan jab jaagta hai uska koi lakshya dikhta hai toh uski taraf vaah but aage badhta hai aur use paane ki puri prayatn karta hai toh mere hisab se jo log jinhone kaafi plan banakar kaafi kasht uthaakar ek letter age mein kuch kiya hota hai vaah log jo ikkis baaisa saal mein amir ban jaate hai vaah mujhe prerit nahi karte lekin agar ek baccha 7 saal ka prashn hai jisne use age mein padhai karke thode takleef utha kar agar vaah aaj ek successful person bana hai toh aise log mujhe bahut prabhavit karte hai inke sir is ko follow karti hoon aur unki seat ko apanati ho aur phir apni life ko uske mutabik main daalti hoon fit hoon fit box find with me to young age mein kuch ban jaate hai yah toh bahut achi baat hai aise hi karna chahiye lekin jo log baad mein jagte hai jo log dilip dilip office aur phir business kholte hai ya phir kuch naya karte hai aapne jo fifty 50 saal ke baad jo log be successful kuch naya sikhate hai naya skill sikhate hai kuch ban jaate hai aise logo ki story story mujhe bahut hi prerna deti hai aur inki 24 ko main follow karti hoon aap bhi sochiye zara agar us umr mein agar kuch koi insaan kuch hasil kar raha hai jiske competition mein young log hai lekin phir bhi vaah jeet raha hai toh wahi story jo hai mujhe prerit karti hai aapko bhi shayad karegi aap jo soch kar dekhiye

लेकिन कुछ बनने की प्रेरणा जो है कुछ लोगों को बहुत पहले आ जाती है कुछ लोगों को काफी बाद में

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  848
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!