अकेलापन को कैसे दूर करें?...


user

Pramod Kushwaha

famous Motivational Guru N Painter

0:22
Play

Likes  65  Dislikes    views  2157
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

S. M. Jha

Social Worker

2:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन से तात्पर्य दो चीजों की होती है एक फिजिकल अकेलापन एक मेंटल अकेलापन आज के परिपेक्ष में यदि आप अपने आप में अकेले हैं अकेलापन आप कहीं से भी महसूस नहीं कर सकते क्योंकि इस डिजिटल वर्ल्ड में आप हमेशा अपने डिजिटल फ्रेंड से जुड़े रह सकते हैं आप ऑनलाइन वीडियो कॉल कर सकते हैं अपनी भावनाओं को शेयर कर सकते हैं मानसी का खेल आता तो आप समझने की भीड़ में भी तनहा है लाखों में अकेले यदि आप मानसिक रूप से बेचैन है अवसाद से ग्रस्त हैं तो भले ही आपके इर्द-गिर्द लाखों लोग क्यों ना जमा हो आप उसमें दिलचस्पी ले ही नहीं सकते और आप अपने आप में अकेला महसूस करने लगते हैं जब बार-बार आपको हार्दिक और मानसिक तकलीफ मिलता रहे कष्ट मिलता रहे परेशान होते रहे हैं आप निश्चित रूप से आप मानसिक रूप से अकेलापन महसूस करने लगते हैं और इस अकेलेपन में आप कतिपय बीमारियों से भी ग्रस्त हो जाते हैं आपकी दीदी कम हो जाती है अतः करना यह है कि आप शारीरिक रूप से भले दूसरों से दूर रहे हैं मानसिक रूप से दूर ना रहे आप हमेशा मानसिक रूप से सामंजस्य बनाए रखने की कोशिश करेंगे तो कामयाबी भी जरूर होगी एक समय की बात है एक शिष्य एक रास्ते से गुजर रहा था तो उन्होंने देखा कि 2 फीट की दूरी में दो व्यक्ति आपस में बहुत जोर जोर से बात कर रहे थे इतनी ज्यादा चिल्ला चिल्ला कर बात कर रहे थे कि बहुत दूर तक उनकी आवाज जा रही थी सिस्टर को यह बहुत अटपटा सा लगा कि 2 फीट की दूरी पर वह धीरे-धीरे बोल करके भी अपनी बात एक-दूसरे तक पहुंचा सकते इसलिए चिल्ला क्यों रहे थे तूतिया पहुंचकर अपने गुरुदेव से उन्होंने पूछा कि 2 फीट की दूरी पर दो लोग आपस में बहुत जोर जोर से बात कर रहे थे जबकि संप्रेषण के लिए धीरे भी बात करना संभव था तो गुरुदेव ने पूछा क्या वह दोनों व्यक्ति गुस्से में थे जिसने काजी दोनों गुस्से में थे तो गुरु ने बहुत ही अच्छा उत्तर दिया कि जब व्यक्ति क्रोध आवेश में आता है तो दिल की दूरी बढ़ जाती है जब दिल की दूरी बढ़ जाती है उस दूरी को पाटने के लिए आवाज को ऊंचा उठाना ही पड़ता है इसलिए जब भी आप दो व्यक्तियों को चिल्लाते हुए देखे हैं आप भी अस्पष्टता महसूस कर सकते हैं कि दोनों के बीच दिल की दूरी बढ़ गई है हमें निश्चित रूप से अधिक दूरी हो तो कोई दिक्कत नहीं है लेकिन किसी के साथ भी दिल की दूरी नहीं बनानी है अन्यथा अकेलापन मानसिक अवसाद और चिल्लाने की आदत आ ही जाएगी धन्यवाद

akelapan se tatparya do chijon ki hoti hai ek physical akelapan ek mental akelapan aaj ke paripeksh me yadi aap apne aap me akele hain akelapan aap kahin se bhi mehsus nahi kar sakte kyonki is digital world me aap hamesha apne digital friend se jude reh sakte hain aap online video call kar sakte hain apni bhavnao ko share kar sakte hain mansi ka khel aata toh aap samjhne ki bheed me bhi tanha hai laakhon me akele yadi aap mansik roop se bechain hai avsad se grast hain toh bhale hi aapke ird gird laakhon log kyon na jama ho aap usme dilchaspi le hi nahi sakte aur aap apne aap me akela mehsus karne lagte hain jab baar baar aapko hardik aur mansik takleef milta rahe kasht milta rahe pareshan hote rahe hain aap nishchit roop se aap mansik roop se akelapan mehsus karne lagte hain aur is akelepan me aap katipay bimariyon se bhi grast ho jaate hain aapki didi kam ho jaati hai atah karna yah hai ki aap sharirik roop se bhale dusro se dur rahe hain mansik roop se dur na rahe aap hamesha mansik roop se samanjasya banaye rakhne ki koshish karenge toh kamyabi bhi zaroor hogi ek samay ki baat hai ek shishya ek raste se gujar raha tha toh unhone dekha ki 2 feet ki doori me do vyakti aapas me bahut jor jor se baat kar rahe the itni zyada chilla chilla kar baat kar rahe the ki bahut dur tak unki awaaz ja rahi thi sister ko yah bahut atpataa sa laga ki 2 feet ki doori par vaah dhire dhire bol karke bhi apni baat ek dusre tak pohcha sakte isliye chilla kyon rahe the tutiya pahuchkar apne gurudev se unhone poocha ki 2 feet ki doori par do log aapas me bahut jor jor se baat kar rahe the jabki sampreshan ke liye dhire bhi baat karna sambhav tha toh gurudev ne poocha kya vaah dono vyakti gusse me the jisne kaji dono gusse me the toh guru ne bahut hi accha uttar diya ki jab vyakti krodh aavesh me aata hai toh dil ki doori badh jaati hai jab dil ki doori badh jaati hai us doori ko patne ke liye awaaz ko uncha uthana hi padta hai isliye jab bhi aap do vyaktiyon ko chillate hue dekhe hain aap bhi aspashtata mehsus kar sakte hain ki dono ke beech dil ki doori badh gayi hai hamein nishchit roop se adhik doori ho toh koi dikkat nahi hai lekin kisi ke saath bhi dil ki doori nahi banani hai anyatha akelapan mansik avsad aur chillane ki aadat aa hi jayegi dhanyavad

अकेलापन से तात्पर्य दो चीजों की होती है एक फिजिकल अकेलापन एक मेंटल अकेलापन आज के परिपेक्ष

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  84
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:35

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है अकेलापन को कैसे दूर करें अगर आपको अपना अकेलापन दूर करना है तो अपनी फैमिली में बातचीत करें दोस्तों से बातचीत करिए अपने मनपसंद शौक प्ले करें जैसे किताब पढ़ना म्यूजिक सुनना गाने सुनना मूवीस देखना है सीरियल देखने वाला भेजो ना एक फोटो सेंड करना हर उस मोड़ के मेडिटेशन करना है सोने से पहले मेडिटेशन करना यह सब कुछ अब करो पिता का किला पंचुका एम सॉरी मेरी करंट अफेयर की करिए जरूर फायदा होगा आपका दिन शुभ हो धन्यवाद कोल्हापुर लाइफ केयर एंड एंजॉय

aapka prashna hai akelapan ko kaise dur kare agar aapko apna akelapan dur karna hai toh apni family mein batchit kare doston se batchit kariye apne manpasand shauk play kare jaise kitab padhna music sunana gaane sunana Movies dekhna hai serial dekhne vala bhejo na ek photo send karna har us mod ke meditation karna hai sone se pehle meditation karna yah sab kuch ab karo pita ka kila panchuka M sorry meri current affair ki kariye zaroor fayda hoga aapka din shubha ho dhanyavad kolhapur life care and enjoy

आपका प्रश्न है अकेलापन को कैसे दूर करें अगर आपको अपना अकेलापन दूर करना है तो अपनी फैमिली म

Romanized Version
Likes  259  Dislikes    views  5365
WhatsApp_icon
user

Ashwani Thakur

👤Teacher & Advisor🙏

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पूजा का प्रश्न है अकेलेपन को कैसे दूर करें फेसबुक पर आपको कल पूछ सकते हैं आपको आपके प्रश्न का उत्तर दिया जाता है

aapka puja ka prashna hai akelepan ko kaise dur kare facebook par aapko kal puch sakte hain aapko aapke prashna ka uttar diya jata hai

आपका पूजा का प्रश्न है अकेलेपन को कैसे दूर करें फेसबुक पर आपको कल पूछ सकते हैं आपको आपके प

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  587
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन को दूर करना है तो किस तिथि को अपने साथ रखें कोई साथी जिसके साथ आपको मजा आता है टाइम जल्दी स्टैंड बताओ उन लोगों के साथ रहे आजकल इंटरनेट का जमाना है यूट्यूब फेसबुक हमेशा से कनेक्ट कर सकते हैं

akelapan ko dur karna hai toh kis tithi ko apne saath rakhen koi sathi jiske saath aapko maza aata hai time jaldi stand batao un logo ke saath rahe aajkal internet ka jamana hai youtube facebook hamesha se connect kar sakte hain

अकेलापन को दूर करना है तो किस तिथि को अपने साथ रखें कोई साथी जिसके साथ आपको मजा आता है टाइ

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  390
WhatsApp_icon
user

munmun

Volunteer

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन को जो है सबसे बड़ा कारण यह है कि मन पर काबू ना होना और कई बार जो है आप मन के माध्यम से जो हैसियत कथन यह जो है भावनाओं में बह जाते हैं जिनमें आप अकेले पन और मुश्किलों की जो है अनुभव करते हैं इसकी जगह विचारों को जो अपने से दूर रखने की कोशिश करें और अपने जीवन में अच्छी बातों पर ध्यान केंद्रित करें और कहीं दूर निकल जाए अगर आप को अकेलापन लग रहा है तो आप कहीं घूमने भी जा सकते हैं जिसे जो है आपका माइंड डाइवर्ट हो जाएगा और यह जो है खुद को प्यार करना सीखें अगर अकेलेपन को जो है दूर करने का सही तरीका यह है कि आपको जो है अपने आप से प्यार करना चाहिए और आपको स्वयं से जो है ज्यादा एंजॉय शिकायत कभी नहीं होगी और जो आप अपने आप को किसी ने आपको खुद से ज्यादा जो है कोई नहीं जानता होगा और इसलिए जो है अपनी इच्छा या बुरी चीजों का जो है समझे और जरूरत पड़ने पर जो है उसमें बदलाव भी करें और उसके बाजू में थोड़ा वेल क्रिएटिव हो जाए कि अपना जो आपके अंदर जो टैलेंट है उसको बाहर निकाले आपको जो अच्छा लगता है करना आप वह काम कीजिए जिसमें जो है आपकी रुचि हो और जो है सूरज की रोशनी का जो है सूरज की रोशनी को खोले नीचे क्योंकि अकेलेपन को दूर करने के लिए जो सुबह की सैर करने के लिए जाए और सुबह सूर्य के प्रकाश के जो है संपर्क में आने से जो है शरीर में विटामिन डी का स्तर बढ़ जाता है और विटामिन डी जो है अवसाद से लड़ने में यह मदद करता है और इसके अलावा जो है बाहर का खुशनुमा माहौल आप को सुकून दे और आपको अच्छा लगेगा

akelapan ko jo hai sabse bada karan yah hai ki man par kabu na hona aur kai baar jo hai aap man ke madhyam se jo haisiyat kathan yah jo hai bhavnao mein wah jaate hain jinmein aap akele pan aur mushkilon ki jo hai anubhav karte hain iski jagah vicharon ko jo apne se dur rakhne ki koshish kare aur apne jeevan mein achi baaton par dhyan kendrit kare aur kahin dur nikal jaaye agar aap ko akelapan lag raha hai toh aap kahin ghoomne bhi ja sakte hain jise jo hai aapka mind Divert ho jaega aur yah jo hai khud ko pyar karna sikhe agar akelepan ko jo hai dur karne ka sahi tarika yah hai ki aapko jo hai apne aap se pyar karna chahiye aur aapko swayam se jo hai zyada enjoy shikayat kabhi nahi hogi aur jo aap apne aap ko kisi ne aapko khud se zyada jo hai koi nahi jaanta hoga aur isliye jo hai apni iccha ya buri chijon ka jo hai samjhe aur zarurat padane par jo hai usme badlav bhi kare aur uske baju mein thoda well creative ho jaaye ki apna jo aapke andar jo talent hai usko bahar nikale aapko jo accha lagta hai karna aap vaah kaam kijiye jisme jo hai aapki ruchi ho aur jo hai suraj ki roshni ka jo hai suraj ki roshni ko khole niche kyonki akelepan ko dur karne ke liye jo subah ki sair karne ke liye jaaye aur subah surya ke prakash ke jo hai sampark mein aane se jo hai sharir mein vitamin d ka sthar badh jata hai aur vitamin d jo hai avsad se ladane mein yah madad karta hai aur iske alava jo hai bahar ka khushnuma maahaul aap ko sukoon de aur aapko accha lagega

अकेलापन को जो है सबसे बड़ा कारण यह है कि मन पर काबू ना होना और कई बार जो है आप मन के माध्य

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user

shekhar11

Volunteer

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप अपना अकेलापन दूर करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पहले तो यह एक कारण जानें कि आप किस लिए अकेलापन फील कर रहा है उसके बाद आप लोगों से मेलजोल बढ़ाए अपनी दोस्ती बना है फिर अपने परिवार वालों से बात कर सकते हैं आप कुछ नया प्लान कर सकते हैं या फिर आप पढ़ाई स्टार्ट कीजिए कुछ थोड़ी पढ़ सकते हैं मूवी देख सकते हैं कोई भी नया चीज सीखना है स्टार्ट कीजिए एक्सरसाइज कीजिए है जितने भी सोशल एक्टिविटीज है उसमें शामिल हो जाइए बहुत सारे ऑनलाइन करने के बाद भी उसे ज्वाइन कर सकते हैं जो भी आपका जो फेवरेट गेम है जो आपकी पसंद की खेल है वह खेलें फोटोग्राफी करें नई जगह पर घूमने जाए तो यह सब कुछ उपाय है जिससे आप अपने अकेलेपन को दूर कर सकता है

agar aap apna akelapan dur karna chahte hain toh iske liye aapko pehle toh yah ek karan jaane ki aap kis liye akelapan feel kar raha hai uske baad aap logo se meljol badhae apni dosti bana hai phir apne parivar walon se baat kar sakte hain aap kuch naya plan kar sakte hain ya phir aap padhai start kijiye kuch thodi padh sakte hain movie dekh sakte hain koi bhi naya cheez sikhna hai start kijiye exercise kijiye hai jitne bhi social activities hai usme shaamil ho jaiye bahut saare online karne ke baad bhi use join kar sakte hain jo bhi aapka jo favourite game hai jo aapki pasand ki khel hai vaah khele photography kare nayi jagah par ghoomne jaaye toh yah sab kuch upay hai jisse aap apne akelepan ko dur kar sakta hai

अगर आप अपना अकेलापन दूर करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पहले तो यह एक कारण जानें कि आप किस

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  69
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!