पृथ्वी सम्मेलन क्या था?...


play
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

1992 में रियो डी जने की जगह पर जो कि ब्राजील में स्थित है उस स्थान पर पहला पृथ्वी सम्मेलन हुआ था यह सम्मेलन 1972 के ह्यूमन एनवायरनमेंट यूनाइटेड नेशन ऑफ कन्वेंशन ऑन ह्यूमन एनवायरनमेंट की 20 साल की वजह से हुआ था इस यूनाइटेड नेशन ह्यूमन एनवायरनमेंट भारत की तरफ से इंदिरा गांधी जी ने प्रतिनिधित्व किया था पृथ्वी सम्मेलन भी जरूरी था 1992 में क्योंकि उस समय पृथ्वी सम्मेलन हुआ जिसमें काफी सारे गोलसर झंडा लगाए हुए थे उसमें सबसे पहले 787 कब मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल प्रोटोकॉल था उस प्रोटोकॉल के तहत हमें जो ओजोन होल हो गया था वह जानवर उसके कम करने के लिए जो सीएससी को कम करना और कई तरह की सस्टेनेबल डेवलपमेंट का सबसे पहला नारा उसी में दिया गया तो पृथ्वी सम्मेलन में 1992 का जो अर्थ मैच हुआ था वह 10 साल बाद जोहानेसबर्ग में दोबारा से हुआ दो 2002 में उसके बाद और 10 साल बाद यानी की 1992 की 20 साल की सालगिरह सालगिरह थी 20 साल का तीज 2012 में दोबारा से रियो डी जनेरियो में हुआ था यह चीज देखने के लिए क्या आज तक हम किसी से फॉलो कर पाए और कितना टाइगर डैम बना पाए हैं 2015 तक वह सारी चीजें खत्म हो गई 2015 में पेरिस क्लाइमेट चेंज एक ऐतिहासिक सम्मेलन हुआ उस सम्मेलन में भी यही चीज की गई कि कार्बन में कितनी कटौती की जाए वह जानना है 2015 का जो का कारण कटौती वाली चीज जो आई थी वह 1997 में क्योटो प्रोटोकॉल से आई थी क्यूटो प्रोटोकॉल क्यूट एक जगह जापान वहां पर कमिशन हुआ था उसकी आई थी तो पूरी दुनिया को पर्यावरण से बचाने के लिए जो प्रोटीन प्रोटोकॉल सारे बहुत सारे प्रोटोकॉल से बनाए गए थे उसे बहुत सारे देशों ने साइन की हुई सबसे ज्यादा दुर्गा की की जाती है कि अमेरिका ने तो क्यों टोटल को फॉलो करता है ना पेरिस क्लाइमेट चेंज को फॉलो करता है थैंक यू

1992 mein rio d jane ki jagah par jo ki brazil mein sthit hai us sthan par pehla prithvi sammelan hua tha yah sammelan 1972 ke human environment united nation of convention on human environment ki 20 saal ki wajah se hua tha is united nation human environment bharat ki taraf se indira gandhi ji ne pratinidhitva kiya tha prithvi sammelan bhi zaroori tha 1992 mein kyonki us samay prithvi sammelan hua jisme kaafi saare golasar jhanda lagaye hue the usme sabse pehle 787 kab Montreal protocol protocol tha us protocol ke tahat hamein jo ozone hole ho gaya tha vaah janwar uske kam karne ke liye jo CSC ko kam karna aur kai tarah ki sustainable development ka sabse pehla naara usi mein diya gaya toh prithvi sammelan mein 1992 ka jo arth match hua tha vaah 10 saal BA ad johanesabarg mein dobara se hua do 2002 mein uske BA ad aur 10 saal BA ad yani ki 1992 ki 20 saal ki salgirah salgirah thi 20 saal ka teej 2012 mein dobara se rio d janeriyo mein hua tha yah cheez dekhne ke liye kya aaj tak hum kisi se follow kar paye aur kitna tiger dam BA na paye hai 2015 tak vaah saree cheezen khatam ho gayi 2015 mein paris climate change ek etihasik sammelan hua us sammelan mein bhi yahi cheez ki gayi ki carbon mein kitni katauti ki jaaye vaah janana hai 2015 ka jo ka karan katauti wali cheez jo I thi vaah 1997 mein kyoto protocol se I thi kyuto protocol cute ek jagah japan wahan par commission hua tha uski I thi toh puri duniya ko paryavaran se BA chane ke liye jo protein protocol saare BA hut saare protocol se BA naye gaye the use BA hut saare deshon ne sign ki hui sabse zyada durga ki ki jaati hai ki america ne toh kyon total ko follow karta hai na paris climate change ko follow karta hai thank you

1992 में रियो डी जने की जगह पर जो कि ब्राजील में स्थित है उस स्थान पर पहला पृथ्वी सम्मेलन

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  127
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
prithvi sammelan kya hai ; prithvi sammelan ; पृथ्वी सम्मेलन क्या है ; prithvi shikhar sammelan ; prithvi shikhar sammelan 1992 par tippani ; prithvi shikhar sammelan kitne kitne gaya ; पृथ्वी सम्मेलन ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!