90 के दशक की फ़िल्मों में और आज की फ़िल्मों में आपके अनुसार सबसे बड़ा फ़र्क़ क्या है?...


user

Vishwajit Kumar

Director/Video Editor

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आई थिंग क्रीम किस काम में चेक कर चुका ऑलरेडी में पहले लाइन चलते के मोबाइल की पहली डेट इन यूपी कॉलेज के साथ काम करते थे साजना और ज्यादा अर्जेंट को इनक्रीस कर सकते हैं एंड स्टोरी लाइन पंप हाउस अच्छा दिखाने को पूछ एकाडिकी मोदी की वाइफ का प्लेटफार्म को यूज करने के लिए और ज्यादा अच्छे थे ऑडियंस को प्रेग्नेंट कैसे किया क्वालिटी एंड एवरीथिंग टू बॉलीवुड मूवी

I thing cream kis kaam mein check kar chuka already mein pehle line chalte ke mobile ki pehli date in up college ke saath kaam karte the sajna aur zyada urgent ko increase kar sakte hain end story line pump house accha dikhane ko puch ekadiki modi ki wife ka platform ko use karne ke liye aur zyada acche the odience ko pregnant kaise kiya quality end everything to bollywood movie

आई थिंग क्रीम किस काम में चेक कर चुका ऑलरेडी में पहले लाइन चलते के मोबाइल की पहली डेट इन य

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  594
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jeet Dholakia

Anchor and Media Professional

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

90 के दशक की जो फिल्में थी वह ऐसा कहा जाता है कि आज 90 का दशक था वह बहुत ही अच्छा था फिल्मों के लिए उन के गानों के लिए आप एक फिल्म कलाकारों के लिए बहुत ही अच्छा दशक के दौर था उसमें काफी सारे बहुत ही अच्छी-अच्छी फिल्में आई बहुत ही अच्छे अच्छे गाने आए और अगर हम ना इसकी बात करें हम 2011 से अभी 2019 तक की तो मुझे लगता है काफी सारा बदला हमें देखने को मिल रहा है बॉलीवुड के गानों में उनके लिरिक्स में बॉलीवुड की फिल्मों में दुख के बारे में बताना चाहता हूं कि जो टेक्नोलॉजी ने टेकओवर कर लिया है तो इसके कारण हमारे पास जो सिंगर जाते हैं उनको ज्यादा बहस करने के लिए हमारे पास टाइम एडिटिंग टेक्नोलॉजी अच्छी अच्छी आ गई है क्या आपको कहीं भी ऐसा लो इस लोकेशन पर जाने की जरूरत नहीं है आप इन हाउस शूट करके फिर राय कैसे दे सकते हो जैसे बाहुबली की बात करें बाहुबली कार्टून पूरा डिश पर फिर भी उस में जो आज यह फैसला लेते तो वह कहीं ना कहीं कंप्यूटर की कमाल थी टेक्नोलॉजी की कमाल थी इसी कारण ज्यादातर 90 के दशक में क्या था कि जो भी फिल्में आती थी उन लोगों को एकदम पसंद आने से कितने लोगों को डिलीट कर सकते थे कहीं ना कहीं से मेरी स्टोरी मेरी लाइफ की स्टोरी है तो ऐसे ऐसे करके उनके डायलॉग बहुत अच्छे बहुत अच्छे थे इसलिए आज भी आप देखना कि और 90 के दशक के जो गाने होते हैं वह आज भी लोगों को सुनना बहुत पसंद है और मेरी बात करो तो मुझे भी 90 के दशक के गाने सुनना बहुत ही पसंद है तो कहीं ना कहीं यह सारी चीज है जो कि 90 के दशक की फिल्मों को आज के दौरान को किस किस से अलग करता है

90 ke dashak ki jo filme thi wah aisa kaha jata hai ki aaj 90 ka dashak tha wah bahut hi accha tha filmo ke liye un ke gaano ke liye aap ek film kalakaro ke liye bahut hi accha dashak ke daur tha usme kaafi saare bahut hi acchi acchi filme I bahut hi acche acche gaane aaye aur agar hum na iski baat karein hum 2011 se abhi 2019 tak ki toh mujhe lagta hai kaafi saara badla humein dekhne ko mil raha hai bollywood ke gaano mein unke lyrics mein bollywood ki filmo mein dukh ke bare mein batana chahta hoon ki jo technology ne takeover kar liya hai toh iske kaaran hamare paas jo singer jaate hain unko zyada bahas karne ke liye hamare paas time editing technology acchi acchi aa gayi hai kya aapko kahin bhi aisa lo is location par jaane ki zarurat nahi hai aap in house shut karke phir rai kaise de sakte ho jaise bahubali ki baat karein bahubali cartoon pura dish par phir bhi us mein jo aaj yeh faisla lete toh wah kahin na kahin computer ki kamaal thi technology ki kamaal thi isi kaaran jyadatar 90 ke dashak mein kya tha ki jo bhi filme aati thi un logo ko ekdam pasand aane se kitne logo ko delete kar sakte the kahin na kahin se meri story meri life ki story hai toh aise aise karke unke dialogue bahut acche bahut acche the isliye aaj bhi aap dekhna ki aur 90 ke dashak ke jo gaane hote hain wah aaj bhi logo ko sunana bahut pasand hai aur meri baat karo toh mujhe bhi 90 ke dashak ke gaane sunana bahut hi pasand hai toh kahin na kahin yeh saree cheez hai jo ki 90 ke dashak ki filmo ko aaj ke dauran ko kis kis se alag karta hai

90 के दशक की जो फिल्में थी वह ऐसा कहा जाता है कि आज 90 का दशक था वह बहुत ही अच्छा था फिल्म

Romanized Version
Likes  110  Dislikes    views  2300
WhatsApp_icon
user

Manish Gopal krishnan

Youtuber and Anchor

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मूवी शुरू हुआ है और साथ-साथ वाला वीडियो का है ज्यादा बानो की आवाज में

movie shuru hua hai aur saath saath vala video ka hai zyada bano ki awaaz mein

मूवी शुरू हुआ है और साथ-साथ वाला वीडियो का है ज्यादा बानो की आवाज में

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  486
WhatsApp_icon
user

Md Shahbaz Alam

Filmmaker | Creative Director

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीजे 90 के दशक की फिल्में आज की फिल्मों में टेक्नोलॉजी बहुत ज्यादा चेंज हो गया है अभी 2020 में आप से देख रहा है जवाब 2340 में फिल्म देखेंगे तो आपको सिर्फ फर्क दिखेगा और टेक्नोलॉजी का हो सके पर अक्षय को कहीं ना कहीं रियलिस्टिक पार्ट की जो फिल्म है वह पूरी तरह से रियलिस्टिक सिनेमा बन रही है मतलब हम बहुत ज्यादा रियलिस्टिक पर काम करने लगे हैं तब जब फिल्में बनती थी वह हंड्रेड परसेंट शिक्षा जैसी होती थी जहां पर सिनेमास इस काल्पनिक होती तो कितना आदमी करते हैं लेकिन कहीं ना कहीं चले जाते हैं

DJ 90 ke dashak ki filme aaj ki filmo mein technology bahut zyada change ho gaya hai abhi 2020 mein aap se dekh raha hai jawab 2340 mein film dekhenge toh aapko sirf fark dikhega aur technology ka ho sake par akshay ko kahin na kahin realistic part ki jo film hai wah puri tarah se realistic cinema ban rahi hai matlab hum bahut zyada realistic par kaam karne lage hain tab jab filme banti thi wah hundred percent shiksha jaisi hoti thi jaha par cinemas is kalpnik hoti toh kitna aadmi karte hain lekin kahin na kahin chale jaate hain

डीजे 90 के दशक की फिल्में आज की फिल्मों में टेक्नोलॉजी बहुत ज्यादा चेंज हो गया है अभी 2020

Romanized Version
Likes  85  Dislikes    views  1448
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जस्टिकट्स हमेशा समय एक जैसा नहीं रहता है समुद्र की पहली फिल्मों में हम लोग लाउड एक्टिंग चलते थे अभी सेटेलाइट नाचो लगती है और नींद प्रॉब्लम थी कभी जब साउंड जाता है उसका बदन लता के ऑडियो ऑडियो ऑडियो ऑडियो

jastikats hamesha samay ek jaisa nahi rehta hai samudra ki pehli filmo mein hum log loud acting chalte the abhi satellite naacho lagti hai aur neend problem thi kabhi jab sound jata hai uska badan lata ke audio audio audio audio

जस्टिकट्स हमेशा समय एक जैसा नहीं रहता है समुद्र की पहली फिल्मों में हम लोग लाउड एक्टिंग चल

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  627
WhatsApp_icon
user

Satyam Agarwal

Sr. Graphic Designer/Creative Designer

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिफरेंट पहले जो होते थे मूवी वगैरा बनते थे उसमें ज्यादा हार्डवर्क लगता था जो भी होता था इंपोर्टेड के डब्लू रेगुलेशन बोल सकते हो या फिर लो टेक्निकल स्पेसिफिकेशंस डिजिटल फॉर्मेट हो चुका है जितना भी डिजिटल डिप्लैट हुआ है उसके लिए लिखा जाए तो सीबीआई जो है सीबीआई हुआ धनी का फिक्स हुआ तब ना तो यही करके इंपॉसिबल को ओपन दिखाते हैं लेकिन इनमें और अभी कितना टाइम है तो 2:20 से काफी अंतर है

different pehle jo hote the movie vagera bante the usme zyada hardwork lagta tha jo bhi hota tha imported ke w regulation bol sakte ho ya phir lo technical spesifikeshans digital format ho chuka hai jitna bhi digital diplait hua hai uske liye likha jaye toh cbi jo hai cbi hua dhani ka fix hua tab na toh yahi karke Impossible ko open dikhate hain lekin inme aur abhi kitna time hai toh 2:20 se kaafi antar hai

डिफरेंट पहले जो होते थे मूवी वगैरा बनते थे उसमें ज्यादा हार्डवर्क लगता था जो भी होता था इं

Romanized Version
Likes  48  Dislikes    views  1530
WhatsApp_icon
user

Gairik Paul

Web Content Manager

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीजे मूवी गाना दादा ड्रामा रहते थे जो कि कुछ सामान लेते थे आजकल के दौर के शायद वह कम हो रहा है और अतिथि और देखने को मिल रहा है और इसमें देते मूवीस के बीच में जो कि मतलब एक मूवी अच्छा बनता है उसमें गाना जरूरी नहीं होता है या फिर आइटम सॉन्ग दिल नहीं होता है इसका एक स्टोरी लाइन जरूरी होता है तो मेरे को लगता है इतना में यह सब बहुत कुछ होते तैयार ने तेरी चीज है जो आजकल के मूवीस में बहुत कम देखने को मिल रहे और मूवी में मूवी चाहिए सॉरी देखने को मिल रहा है तो शायद इस चीज के लिए 19th मूवी के आजकल के मूवी जो भी बन रहे हैं वह काफी हद तक अच्छे बन गए

DJ movie gaana dada drama rehte the jo ki kuch saamaan lete the aajkal ke daur ke shayad wah kam ho raha hai aur atithi aur dekhne ko mil raha hai aur ismein dete Movies ke beech mein jo ki matlab ek movie accha baata hai usme gaana zaroori nahi hota hai ya phir item song dil nahi hota hai iska ek story line zaroori hota hai toh mere ko lagta hai itna mein yeh sab bahut kuch hote taiyaar ne teri cheez hai jo aajkal ke Movies mein bahut kam dekhne ko mil rahe aur movie mein movie chahiye sorry dekhne ko mil raha hai toh shayad is cheez ke liye 19th movie ke aajkal ke movie jo bhi ban rahe hain wah kaafi had tak acche ban gaye

डीजे मूवी गाना दादा ड्रामा रहते थे जो कि कुछ सामान लेते थे आजकल के दौर के शायद वह कम हो रह

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  829
WhatsApp_icon
user

Jahid Khan

I Am Student

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

90 के दशक के पीएम बना करते थे अभी भारत की संस्कृति को दर्शाती है अभी जो फिल्म दिखा जाता है इस पर बहुत सारे फिल्म बचपन में और बहुत सारे फिल्म पर तो बच्चों पर एक बहुत गलत असर हो सकता है और अभी जो टेक्नोलॉजी यूज किया जाता है जैसे कि वह बहुत ही मानव से जुड़े हुए रहते हैं वह बहुत ही गलत प्रभाव पड़ सकता है आने वाले बच्चों के

90 ke dashak ke pm bana karte the abhi bharat ki sanskriti ko darshatee hai abhi jo film dikha jata hai is par bahut saare film bachpan mein aur bahut saare film par toh baccho par ek bahut galat asar ho sakta hai aur abhi jo technology use kiya jata hai jaise ki vaah bahut hi manav se jude hue rehte hain vaah bahut hi galat prabhav pad sakta hai aane waale baccho ke

90 के दशक के पीएम बना करते थे अभी भारत की संस्कृति को दर्शाती है अभी जो फिल्म दिखा जाता है

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  379
WhatsApp_icon
play
user

Akshansh Tripathy

Bachelor's of Mass Media

1:30

Likes  12  Dislikes    views  331
WhatsApp_icon
play
user

Aahil

Storyteller

0:00

Likes  10  Dislikes    views  297
WhatsApp_icon
play
user

Kavita

Writer

2:00

Likes  13  Dislikes    views  312
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
एकाडिकी ; जस्टिकट्स ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!