अखरावट के रचनाकार कौन हैं?...


play
user
1:09

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अग्रावत सृष्टि की रचना को उड़ने विषय बनाया गया है अखरोट के विषय में जायसी ने इसके काल का वर्णन कहीं नहीं किया है सैयद कल्बे मुस्तफा के अनुसार यह जायसी की अंतिम रचना है इससे यह स्पष्ट होता है कि अग्रावत पद्मावत के बाद लिखी गई होगी क्योंकि जायसी के अंतिम दिनों में उनकी भाषा ज्यादा श्रद्धालु सुबह व्यस्त हो गई थी इस रचना की भाषा ज्यादा व्यवस्थित है इसी में जायसी ने अपनी व्यक्ति भावनाओं का स्पष्टीकरण किया है इससे भी यही साबित होता है क्योंकि कभी प्रायः अपनी व्यक्तित्व भावनाओं स्पष्टीकरण अंतिम में ही करता है मनेर शरीफ से प्राप्त पद्मावत के साथ अखराघाट की गई हस्तलिखित परियों परियों में इसका रचनाकाल दिया है अगर आवट की हस्तलिखित प्रति पुस्तिका में जुम्मा 8 जुलाई 1911 911 एग्री का उल्लेख मिलता है इससे गिरावट का रचनाकाल 1911 हिजरी है उसके आसपास प्रमाणित होता है

agrawat shrishti ki rachna ko udane vishay BA naya gaya hai akhrot ke vishay mein jayasi ne iske kaal ka varnan kahin nahi kiya hai saiyed kalbe mustafa ke anusaar yah jayasi ki antim rachna hai isse yah spasht hota hai ki agrawat padmavat ke BA ad likhi gayi hogi kyonki jayasi ke antim dino mein unki bhasha zyada shraddhalu subah vyast ho gayi thi is rachna ki bhasha zyada vyavasthit hai isi mein jayasi ne apni vyakti bhavnao ka spashteekaran kiya hai isse bhi yahi saabit hota hai kyonki kabhi prayah apni vyaktitva bhavnao spashteekaran antim mein hi karta hai maner sharif se prapt padmavat ke saath akharaghat ki gayi hastlikhit pariyon pariyon mein iska rachanakal diya hai agar avat ki hastlikhit prati pustika mein jumma 8 july 1911 911 agree ka ullekh milta hai isse giraavat ka rachanakal 1911 hijri hai uske aaspass pramanit hota hai

अग्रावत सृष्टि की रचना को उड़ने विषय बनाया गया है अखरोट के विषय में जायसी ने इसके काल का व

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  325
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
akhrawat ke rachnakar kaun hai ; akhrawat ke rachnakar ; akhrawat ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!