न्यूलैंड का अष्टक नियम क्या है?...


user
0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

न्यूलैंड का अष्टक नियम क्या था यानी कि लौटते हुए क्या था न्यूलैंड का तो मैं बताना चाहता हूं कि जो जेएनयू लेंथ 9865 में उन्होंने लो दिया था कि केमिकल एलिमेंट को लोग अरेंज करेंगे इनक्रीस इकनोमिक वेट से तो जिनका सिविल अजीज कल एंड केमिकल प्रॉपर्टी होगा वह हर इंटरवल के सेवंथ इंटरवल के बाद रिपीट करेंगे

Newland ka ashtak niyam kya tha yani ki lautate hue kya tha Newland ka toh main BA taana chahta hoon ki jo jnu length 9865 mein unhone lo diya tha ki chemical element ko log arrange karenge increase economic wait se toh jinka civil aziz kal and chemical property hoga vaah har interval ke sevanth interval ke BA ad repeat karenge

न्यूलैंड का अष्टक नियम क्या था यानी कि लौटते हुए क्या था न्यूलैंड का तो मैं बताना चाहता हू

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  711
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आवर्त सारणी में तत्वों को जो जमाया गया है उन तत्वों को जमाया जाने के लिए भी अलग-अलग नियम है उनमें से एक नियम है अष्टक नियम आज तक का अर्थ होता है तो उसके अनुसार इस नियम के अनुसार पहले तत्वों के गुणों 8 नेतृत्व के गुणों से मिलते हैं रासायनिक और भौतिक गुण दोनों एक दूसरे से मिलते हैं पहले तत्व के गुण 8:00 मिनट में के उसके अगले 8 में यानी सोल में से मिलेंगे इस तरह से अष्टक नियम के अनुसार जैसे सरगम होती है अपने सुरों की सरगम होती है सारेगामापदनीसा वापस आ जाता है तू सा के बाद दूसरा शादी आठवें नंबर पर आता है तो उसी प्रकार तत्वों के गुणों जो है पहला वाला तत्व जो है मान लो उसको सामान ने तो आप गुस्सा की जगह जब दोबारा आठवें स्थान पर कोई तत्व आएगा तो उसके गुण पहले तत्व के गुणों से मिलेंगे यही अष्टक का नियम है फिर 8:00 के बाद 16 तत्वों के गुण भी 8 ललितपुर से मिलेंगे जिस प्रकार सरगम मिश्रा के बाद दोबारा सातवें स्थान पर आता है ठीक उसी प्रकार अष्टक नियम के अनुसार भी तत्वों को अगर जमाया जाए तो तत्वों के पहले तत्वों के घाट में तत्वों से और 8:00 बजे तक दुबे को 16 मतों से हरा ठाट के क्रम में दो राय जाते हैं यही अष्टक नियम है

avart sarni mein tatvon ko jo Jamaya gaya hai un tatvon ko Jamaya jaane ke liye bhi alag alag niyam hai unmen se ek niyam hai ashtak niyam aaj tak ka arth hota hai toh uske anusaar is niyam ke anusaar pehle tatvon ke gunon 8 netritva ke gunon se milte hai Rasayanik aur bhautik gun dono ek dusre se milte hai pehle tatva ke gun 8 00 minute mein ke uske agle 8 mein yani soul mein se milenge is tarah se ashtak niyam ke anusaar jaise sargam hoti hai apne suron ki sargam hoti hai saregamapadanisa wapas aa jata hai tu sa ke BA ad doosra shadi aathven number par aata hai toh usi prakar tatvon ke gunon jo hai pehla vala tatva jo hai maan lo usko saamaan ne toh aap gussa ki jagah jab dobara aathven sthan par koi tatva aayega toh uske gun pehle tatva ke gunon se milenge yahi ashtak ka niyam hai phir 8 00 ke BA ad 16 tatvon ke gun bhi 8 lalitpur se milenge jis prakar sargam mishra ke BA ad dobara satve sthan par aata hai theek usi prakar ashtak niyam ke anusaar bhi tatvon ko agar Jamaya jaaye toh tatvon ke pehle tatvon ke ghat mein tatvon se aur 8 00 BA je tak dubey ko 16 maton se hara thaat ke kram mein do rai jaate hai yahi ashtak niyam hai

आवर्त सारणी में तत्वों को जो जमाया गया है उन तत्वों को जमाया जाने के लिए भी अलग-अलग नियम ह

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  196
WhatsApp_icon
play
user
0:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज तक का सिद्धांत केवल कैल्शियम तक ही लागू होता था क्योंकि कैल्शियम के बाद प्रत्येक 8 से तत्व के गुणधर्म पहले तत्वों से नहीं मिलता न्यूलैंड के कल्पना की थी कि प्रकृति में केवल 50 सेक्स तत्व विद्यमान हैं और भविष्य में कोई अन्य तत्वों नहीं मिलेगा अपनी सारणी में तत्वों को संबंधित करने के लिए न्यूलैंड्स ने दो तत्वों को एक साथ रख दिया था और कुछ सामान तत्वों को एक स्थान में रख दिया था जैसे कोबाल्ट तथा निकेल एक साथ में है न्यूजीलैंड अष्टक सिद्धांत केवल हल्के तत्वों के लिए ठीक से लागू हो पाया है

aaj tak ka siddhant keval calcium tak hi laagu hota tha kyonki calcium ke BA ad pratyek 8 se tatva ke gundharm pehle tatvon se nahi milta Newland ke kalpana ki thi ki prakriti mein keval 50 sex tatva vidyaman hai aur bhavishya mein koi anya tatvon nahi milega apni sarni mein tatvon ko sambandhit karne ke liye newlands ne do tatvon ko ek saath rakh diya tha aur kuch saamaan tatvon ko ek sthan mein rakh diya tha jaise cobalt tatha nickel ek saath mein hai new zealand ashtak siddhant keval halke tatvon ke liye theek se laagu ho paya hai

आज तक का सिद्धांत केवल कैल्शियम तक ही लागू होता था क्योंकि कैल्शियम के बाद प्रत्येक 8 से त

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  324
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
newland ka astak niyam ; newland ka ashtak niyam ; न्यूलैंड का अष्टक नियम ; astak niyam ; newland ka ashtak niyam kab diya ; newland ka ashtak niyam kab diya tha ; newland ka astak niyam kya hai ; अष्टक नियम ; अष्टक नियम का महत्व ; अष्टक नियम की परिभाषा ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!