अगर मैं गोरखा हूँ और मैं अन्य समुदायों के पुरुषों जैसा स्ट्रोंग नहीं हूँ, तो क्या मुझे RPF परीक्षा के लिए आवेदन करते समय शारीरिक माप अनुभाग में कोई वरीयता मिलेगी?...


user
1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड साथ में क्वेश्चन किया है कि अगर मैं बोर खा रखा हूं और मैं अनशन गाय के पुरुष का स्पर्म नहीं हो तो क्या मुझे आरपीएफ परीक्षा के लिए आवेदन करते समय शारीरिक माप विभाग में कोई व्यवस्था मिलेगी तो फिर जिस प्रकार इंडियन आर्मी गोरखा उतार दी जाती है उस पर का उसमें भी आप को वरीयता दी जाएगी मिथ्रण साहब इसमें आवेदन करते हो तो आपको इसके लिए डाक्यूमेंट्स जो आपके हैं सभी डाक्यूमेंट्स में लगाने पड़ेंगे तभी आपको शारीरिक माप अनुभाग में बैठता तेजा रे कि जब आपके पास इसके डाक्यूमेंट्स ही नहीं होंगे तो आपको किस कारण से शारीरिक मापदंड अनुभाग में एकता मिलेगी फ्रेंड साहब पूरे डॉक्यूमेंट साहब सबमिट करो ताकि आप को मानता मिल सके

hello friend saath mein question kiya hai ki agar main bore kha rakha hoon aur main anshan gaay ke purush ka sperm nahi ho toh kya mujhe RPF pariksha ke liye avedan karte samay sharirik map vibhag mein koi vyavastha milegi toh phir jis prakar indian army gorkha utar di jaati hai us par ka usme bhi aap ko variyata di jayegi mithran saheb isme avedan karte ho toh aapko iske liye documents jo aapke hain sabhi documents mein lagane padenge tabhi aapko sharirik map anubhag mein baithta teja ray ki jab aapke paas iske documents hi nahi honge toh aapko kis karan se sharirik maapdand anubhag mein ekta milegi friend saheb poore document saheb submit karo taki aap ko manata mil sake

हेलो फ्रेंड साथ में क्वेश्चन किया है कि अगर मैं बोर खा रखा हूं और मैं अनशन गाय के पुरुष का

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  694
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Sarvesh Kumar Satyarthi

Admin Head@Career First

0:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीविका लोकप्रियता मिलती है जितने भी अकेले स्टेशन के उद्घाटन के लिए अलग से रखा गया है

jeevika lokpriyata milti hai jitne bhi akele station ke udghatan ke liye alag se rakha gaya hai

जीविका लोकप्रियता मिलती है जितने भी अकेले स्टेशन के उद्घाटन के लिए अलग से रखा गया है

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1079
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!