भारत की सरकार किसान पर ध्यान क्यों नहीं देती है?...


user

Bharat lodhi

Private School Teacher

2:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ऐसा नहीं है जो भारत की सरकार है वह गरीबों का ध्यान ही नहीं देती बल्कि विशेष ध्यान देती हैं यह आपको लग रहा है वह अलग बात हो सकती हैं फिलहाल ऐसा कुछ भी नहीं है कि भारत सरकार ध्यान नहीं दे रही है हां हम और आप यह अनुमान लगा सकते हैं कि भारत सरकार के नीचे जो लोग बैठे हुए हैं वह करत हो चुके हैं वहीं उनकी वजह से ही किसानों पर किसानों के लिए जो पैसा रूपया आता है या उनके लिए जो योजनाएं आती है उनका उन्हें लाभ नहीं मिल पाता है उनकी वजह से होता है यह कौन होते हैं मालिनी हमारे गांव में सरपंच या सचिव हैं इनकी वजह से ही लोग गरीब होते हैं किसान होते हैं उनको पूरा लाभ नहीं मिल पाता है जो थोड़े बहुत दुख अभी पढ़े लिखे होते जो कुछ छोड़ा वह जानते हैं मैं तो समझ जाते हैं और उनका लाभ भी नहीं लेते हैं लेकिन जो बिल्कुल भी नहीं जानते जो अनपढ़ हैं वह इन सब के सब योजनाओं से रुपए पैसे बनते तरह जाते हैं क्योंकि वह कुछ जानते ही नहीं है इसलिए उनको इन सभी योजनाओं के बारे में कुछ बताया भी नहीं चाहता है तो भारत सरकार तुम ध्यान देती है बल्कि क्यों नीचे जो लोग हैं यह करत हो चुके हैं इनके इनको यह लगता है कि हम दोनों की बहुत बड़ी बेटी बन सकते हैं ऐसा नहीं करना चाहिए इनको किसानों का ध्यान देना चाहिए जो भारत सरकार की राज्य सरकार की जो योजनाएं हैं उनके बारे में गांव-गांव में जाकर उनको बताना चाहिए लोगों को जागरूक बनाने चाहिए तभी भारत आगे बढ़ पाएगा

dekhiye aisa nahi hai jo bharat ki sarkar hai vaah garibon ka dhyan hi nahi deti balki vishesh dhyan deti hain yah aapko lag raha hai vaah alag baat ho sakti hain filhal aisa kuch bhi nahi hai ki bharat sarkar dhyan nahi de rahi hai haan hum aur aap yah anumaan laga sakte hain ki bharat sarkar ke niche jo log baithe hue hain vaah karat ho chuke hain wahi unki wajah se hi kisano par kisano ke liye jo paisa rupya aata hai ya unke liye jo yojanaye aati hai unka unhe labh nahi mil pata hai unki wajah se hota hai yah kaun hote hain malini hamare gaon me sarpanch ya sachiv hain inki wajah se hi log garib hote hain kisan hote hain unko pura labh nahi mil pata hai jo thode bahut dukh abhi padhe likhe hote jo kuch choda vaah jante hain main toh samajh jaate hain aur unka labh bhi nahi lete hain lekin jo bilkul bhi nahi jante jo anpad hain vaah in sab ke sab yojnao se rupaye paise bante tarah jaate hain kyonki vaah kuch jante hi nahi hai isliye unko in sabhi yojnao ke bare me kuch bataya bhi nahi chahta hai toh bharat sarkar tum dhyan deti hai balki kyon niche jo log hain yah karat ho chuke hain inke inko yah lagta hai ki hum dono ki bahut badi beti ban sakte hain aisa nahi karna chahiye inko kisano ka dhyan dena chahiye jo bharat sarkar ki rajya sarkar ki jo yojanaye hain unke bare me gaon gaon me jaakar unko batana chahiye logo ko jagruk banane chahiye tabhi bharat aage badh payega

देखिए ऐसा नहीं है जो भारत की सरकार है वह गरीबों का ध्यान ही नहीं देती बल्कि विशेष ध्यान दे

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  362
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!