CSE में सफलता हासिल करने के लिए कुछ "गुप्त" युक्तियां क्या हैं जो UPSC टॉपर्स सब के सामने कभी प्रकट नहीं करते?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक सिविल सर्विस एग्जाम का सवाल है और इसमें सफलता हासिल करने की बात तो युक्तियां कुछ गुप्त नहीं होती हर लोग जानते हैं पर उसका सही सदुपयोग नहीं करते और कोई बात नहीं है हम सब जानते हैं कि यदि हम पैदल चलें तो कश्मीर पहुंच जाएंगे थोड़ा टाइम लगेगा ऐसे यदि हम ट्रेन से जाएं तो 2 दिन में पहुंच जाएंगे प्लेन से जाए तो 2 घंटे में पहुंच जाएंगे यदि हेलीकॉप्टर से जाएं तो लगभग 4 घंटे में पहुंचेंगे यह मैं पटना से कश्मीर की दूरी के हिसाब से बता रहा हूं लेकिन पैदल भी चले तो हम पहुंच जाएंगे ऐसी बात नहीं है क्योंकि बहुत सारे ब्राह्मण कारी जो है वह पैदल पहुंचते हैं आज भी पहुंचते हैं कि नहीं कि पहले ही पहुंचे हैं आज भी कई लोग हैं जो कितने तीर्थस्थल साइकिल से घूम आते हैं लेकिन गुप्त युक्तियां की जहां तक बात है तो ऐसा कुछ नहीं होता हर चीज के लिए उसके हिसाब से मेरिट होना चाहिए अजमेरी कब आएगा जब आप कोशिश करेंगे हम तो यही समझते हैं सिविल सर्विस के बारे में कि आपको हर सब्जेक्ट का एक मिडिल स्तर तक आपको नॉलेज होना चाहिए हर चीज का डीप नॉलेज तो किसी को नहीं हो सकता चाहे कोई हो जहां तक मैं जानता हूं उसके हिसाब से बता रहा हूं कि चाहे कोई भी हो हर चीज का पूरा ज्ञान नहीं हो सकता लेकिन हाय खास लेवल तक हो सकता है जैसे कोई भी हो जल्दी को पड़ा है उससे पूछ दिया जाए कि हाइड्रोजन का एटॉमिक नंबर कितना है तो निश्चित रूप से बता देगा कि वह लेकिन उससे पूछिए दिया जाए कि इंडियन का कितना होगा और उसे बहुत दिन हो गया है पढ़े हुए तो शायद 49 नहीं बता सके हो सकता है कि नहीं बता सके और कई बार हमने ऐसा देखा है तो ऐसा कुछ नहीं है कुछ गुप्त गुप्त युक्तियां नहीं रुकती है हम तो इतना भी नहीं समझते युक्ति है और वह युक्ति आपका मेहनत अब सवाल यह है कि भाई हम कुछ लोग को देखे हैं अब बोल सकते हैं सब कुछ लोग को देखे हैं क्योंकि 24 में 20 घंटा पढ़ पढ़ फिर भी सिविल सर्विस में पास नहीं किए तो इसके रीजन है कि आप कितने इंटरेस्टेड है उस चीज में अब अनुभव कीजिए कि आपको जिस काम में ज्यादा मजा आता है वह काम ज्यादा करते हैं और कम समय में भी पूरा कर लेते हैं जैसे कि आपको आपके घर से बाजार की दूरी 500 मीटर है और जान और खासकर आपको पता तो बड़े मजे से वहां चल देंगे चलो मीटर है तो पहुंच जाएंगे लेकिन जल्दी आपको यह मालूम हो जाएगी नहीं हमें जहां जाना है वह 500 किलोमीटर है तो आपकी हिम्मत कुछ कम जाती है तो यह हिम्मत जो है वह कम नहीं होना चाहिए यदि ऐसा हो जाता है तो आप सफल हो जाएंगे यह कोई भी काम हो किसी भी राह में सफलता की बात है सबसे बड़ी चीज आपके अंदर हिम्मत होना चाहिए एक आत्मविश्वास होना चाहिए और साथ ही दहेज ही होना चाहिए क्योंकि संत तिरुवल्लुवर ने कहा है कि जिस व्यक्ति के पास भेज और आत्मविश्वास दोनों उसे तीसरे चीज की जरूरत ही नहीं है हो ही नहीं सकती थी इसलिए चीज के चलते और उन्होंने कहा है तो मैं भी यह कह सकता हूं कि दो नहीं यह तीन चीजें जिसके पास है हिम्मत आत्मविश्वास अध्यक्ष कहीं भी किसी भी राह में सफलता प्राप्त कर लेगा ऐसे तो हम देखते हैं हम जीवन में लोग बोलते हैं कि यूपीएससी पास करने के लिए 22 घंटा पढ़ना होता है अब आप सोचिए या हम तो सोचते हैं नहीं समझते हैं कि आदमी को कम से कम 6 घंटा सोना जरूरी है तभी वह स्वस्थ रहेगा नहीं तो तो पेशेंट हो जाएगा और बाकी भी आदमी काम करेगा खाना-पीना घूमना डालना तो उसके लिए भी तो 4 घंटे चाहिए तो 10 घंटा तो मिनिमम कट ही जाता है भाभी मैक्सिमम 14 घंटा पड़ सकता है लेकिन यह 14 घंटा भी हमें तो बहुत ज्यादा लगता है अलग बात है कि मैं यूपीएससी नहीं पास किया फिर भी हम समझ सकते हैं कि कितना देर पढ़ना चाहिए और मेरे साइकोलॉजिक हिसाब से आपको पढ़ने में जितना देर मजा आए जितना देर अच्छा लगे उतना ही देर पड़े जब वह भारी लगने लग जाए तो तंत्र किताब बंद करके छोड़ दीजिए निश्चित रूप से सफल होंगे अब यदि यह तीन चीजें आप कह कर ले तो

jahan tak civil service exam ka sawaal hai aur isme safalta hasil karne ki baat toh yuktiyan kuch gupt nahi hoti har log jante hain par uska sahi sadupyog nahi karte aur koi baat nahi hai hum sab jante hain ki yadi hum paidal chalen toh kashmir pohch jaenge thoda time lagega aise yadi hum train se jayen toh 2 din mein pohch jaenge plane se jaaye toh 2 ghante mein pohch jaenge yadi helicopter se jayen toh lagbhag 4 ghante mein pahunchenge yah main patna se kashmir ki doori ke hisab se bata raha hoon lekin paidal bhi chale toh hum pohch jaenge aisi baat nahi hai kyonki bahut saare brahman kaari jo hai vaah paidal pahunchate hain aaj bhi pahunchate hain ki nahi ki pehle hi pahuche hain aaj bhi kai log hain jo kitne tirthsthal cycle se ghum aate hain lekin gupt yuktiyan ki jaha tak baat hai toh aisa kuch nahi hota har cheez ke liye uske hisab se merit hona chahiye azmeri kab aayega jab aap koshish karenge hum toh yahi samajhte hain civil service ke bare mein ki aapko har subject ka ek middle sthar tak aapko knowledge hona chahiye har cheez ka deep knowledge toh kisi ko nahi ho sakta chahen koi ho jaha tak main jaanta hoon uske hisab se bata raha hoon ki chahen koi bhi ho har cheez ka pura gyaan nahi ho sakta lekin hi khaas level tak ho sakta hai jaise koi bhi ho jaldi ko pada hai usse puch diya jaaye ki hydrogen ka atomic number kitna hai toh nishchit roop se bata dega ki vaah lekin usse puchiye diya jaaye ki indian ka kitna hoga aur use bahut din ho gaya hai padhe hue toh shayad 49 nahi bata sake ho sakta hai ki nahi bata sake aur kai baar humne aisa dekha hai toh aisa kuch nahi hai kuch gupt gupt yuktiyan nahi rukti hai hum toh itna bhi nahi samajhte yukti hai aur vaah yukti aapka mehnat ab sawaal yah hai ki bhai hum kuch log ko dekhe hain ab bol sakte hain sab kuch log ko dekhe hain kyonki 24 mein 20 ghanta padh padh phir bhi civil service mein paas nahi kiye toh iske reason hai ki aap kitne interested hai us cheez mein ab anubhav kijiye ki aapko jis kaam mein zyada maza aata hai vaah kaam zyada karte hain aur kam samay mein bhi pura kar lete hain jaise ki aapko aapke ghar se bazaar ki doori 500 meter hai aur jaan aur khaskar aapko pata toh bade maje se wahan chal denge chalo meter hai toh pohch jaenge lekin jaldi aapko yah maloom ho jayegi nahi hamein jaha jana hai vaah 500 kilometre hai toh aapki himmat kuch kam jaati hai toh yah himmat jo hai vaah kam nahi hona chahiye yadi aisa ho jata hai toh aap safal ho jaenge yah koi bhi kaam ho kisi bhi raah mein safalta ki baat hai sabse badi cheez aapke andar himmat hona chahiye ek aatmvishvaas hona chahiye aur saath hi dahej hi hona chahiye kyonki sant tiruvalluvar ne kaha hai ki jis vyakti ke paas bhej aur aatmvishvaas dono use teesre cheez ki zarurat hi nahi hai ho hi nahi sakti thi isliye cheez ke chalte aur unhone kaha hai toh main bhi yah keh sakta hoon ki do nahi yah teen cheezen jiske paas hai himmat aatmvishvaas adhyaksh kahin bhi kisi bhi raah mein safalta prapt kar lega aise toh hum dekhte hain hum jeevan mein log bolte hain ki upsc paas karne ke liye 22 ghanta padhna hota hai ab aap sochiye ya hum toh sochte hain nahi samajhte hain ki aadmi ko kam se kam 6 ghanta sona zaroori hai tabhi vaah swasthya rahega nahi toh toh patient ho jaega aur baki bhi aadmi kaam karega khana peena ghumana dalna toh uske liye bhi toh 4 ghante chahiye toh 10 ghanta toh minimum cut hi jata hai bhabhi maximum 14 ghanta pad sakta hai lekin yah 14 ghanta bhi hamein toh bahut zyada lagta hai alag baat hai ki main upsc nahi paas kiya phir bhi hum samajh sakte hain ki kitna der padhna chahiye aur mere saikolajik hisab se aapko padhne mein jitna der maza aaye jitna der accha lage utana hi der pade jab vaah bhari lagne lag jaaye toh tantra kitab band karke chod dijiye nishchit roop se safal honge ab yadi yah teen cheezen aap keh kar le toh

जहां तक सिविल सर्विस एग्जाम का सवाल है और इसमें सफलता हासिल करने की बात तो युक्तियां कुछ ग

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुप्त क्यों जैसा जंगली कुछ नहीं होता है इसे हम सब के ऊपर एक जैसे जनरलाइज भी नहीं कर सकते कि यह ग्रुप सूक्तियां मैं तो यही कहूंगा कि गुप्ता सबकी अपनी अलग-अलग होती है कुत्तों क्यों से मतलब यानी कि हम कह सकते हैं कुछ लाइफ हैक्स या या कुछ आपके अंदर का की फैक्ट्री फैक्ट्री कैसे थे एक्स फैक्टर कहते सबके अंदर अपना अपना अलग एक्स फैक्टर फैक्टर होता है उसका एक यूनिक ही होता है जो आपके अंदर की फैक्ट्री वह आपके फ्रेंड के अंदर नहीं होगा जो फ्रेंड के अंदर वह आपके अंदर ही होगा तो आपके अंदर भी एक स्पेक्टर है उसे ही अपलोड करने की जरूरत है तो उसे एक्स लोड करिए उसको रिप्रेजेंट करिए अपने एग्जाम में तो यूपी सिंह टॉपर जो नहीं बताते हैं तो उनका भी कोई की फैक्टर गुप्त युक्तियां होती हैं एक्स होते हैं तो उनका इंस्टिट्यूशन होता है इनट्यूशन होता है उनका या उनका इनसाइट होता है जो कि वह नहीं बताते वह अलग जो अपनी अप्रोच बताते हैं वह उनकी वैसी अप्रोच होती है जो फिजिकली वह करते हैं वह अप्रोच होती है तो उस जो बताते हैं उसे हमें देख लेना चाहिए जो हमारे अडॉप्टेबल है ऐड कर लेना चाहिए बात बाकी हम अपनी जरूरतों के हिसाब से देखेंगे हमारी क्या स्टडी होनी चाहिए तो हमें अपना की फैक्टर अलग से सर्च करना चाहिए हमारे अंदर इनसाइट में हमारे इनट्यूशन में हमारे रहता है वह फैक्टर तो सबका अलग अलग होता है तो वह सबका की फैक्ट्री आने की आने की आपके जो समस्या है आपको जो एग्जाम उसके लिए कि उसका समाधान उसके चाबी ढूंढने उसको चाबी के लिए क्या टिप्स हो सकते हैं क्या रणनीति हो सकती तो आप ही तय कर सकते हैं हो सकता है आपका हिस्ट्री अच्छा हो तो आप साइंस टेक्नोलॉजी फिल्में अच्छी हूं कि आपका टी-शर्ट है एक्सपेक्ट गुपचुप है

gupt kyon jaisa jungli kuch nahi hota hai ise hum sab ke upar ek jaise janaralaij bhi nahi kar sakte ki yah group suktiyan main toh yahi kahunga ki gupta sabki apni alag alag hoti hai kutto kyon se matlab yani ki hum keh sakte hain kuch life hacks ya ya kuch aapke andar ka ki factory factory kaise the x factor kehte sabke andar apna apna alag x factor factor hota hai uska ek Unique hi hota hai jo aapke andar ki factory vaah aapke friend ke andar nahi hoga jo friend ke andar vaah aapke andar hi hoga toh aapke andar bhi ek spector hai use hi upload karne ki zarurat hai toh use x load kariye usko represent kariye apne exam mein toh up Singh topper jo nahi batatey hain toh unka bhi koi ki factor gupt yuktiyan hoti hain x hote hain toh unka instityushan hota hai inatyushan hota hai unka ya unka insight hota hai jo ki vaah nahi batatey vaah alag jo apni approach batatey hain vaah unki vaisi approach hoti hai jo physically vaah karte hain vaah approach hoti hai toh us jo batatey hain use hamein dekh lena chahiye jo hamare adaptebal hai aid kar lena chahiye baat baki hum apni jaruraton ke hisab se dekhenge hamari kya study honi chahiye toh hamein apna ki factor alag se search karna chahiye hamare andar insight mein hamare inatyushan mein hamare rehta hai vaah factor toh sabka alag alag hota hai toh vaah sabka ki factory aane ki aane ki aapke jo samasya hai aapko jo exam uske liye ki uska samadhan uske chabi dhundhne usko chabi ke liye kya tips ho sakte kya rananiti ho sakti toh aap hi tay kar sakte hain ho sakta hai aapka history accha ho toh aap science technology filme achi hoon ki aapka T shirt hai expect gupchup hai

गुप्त क्यों जैसा जंगली कुछ नहीं होता है इसे हम सब के ऊपर एक जैसे जनरलाइज भी नहीं कर सकते क

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  438
WhatsApp_icon
play
user

Sanjay Sir

Director,Oriental Study Center

1:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण चीजें हैं जो हर एक में पाई जाती है और जिसका जिक्र कभी नहीं होता उम्मीद सबसे पहली चीज यह है कि काम की निर्धारित घंटे तक पढ़ने की निर्धारित घंटे नंबर एक नंबर दूसरी चीज स्थान एक निश्चित स्थान और तीसरी चीज है निश्चित किताब यदि आपके पास एक निश्चित स्थान है एक निश्चित किताब है और निश्चित समय बहुत कम लोग जिक्र करते हैं तो कम लोग बात करते हैं जबकि यह सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है पानी पड़ने की वजह भी होनी चाहिए आप पढ़ाई की घंटी निश्चित और कौन सी किताब आप पढ़ेंगे वह निश्चित होना चाहिए नंबर एक नंबर दूसरी चीज है किस यू कैन बेट यू कैन इंप्रूव आप जो कुछ भी पढ़ रहे हैं दिन भर में आपने 6 घंटा पड़ा तो कहीं किसी बाहरी में केवल 6 लिखी थी उसको सप्ताह में देखिए कि हम भी कितना अंदर इंप्रूवमेंट कितना कमेंट किया है उसी के माध्यम से अगर आप अपने ऊपर अपने आकलन कर सकते हैं कर सकते हैं अपनी तो आप उसको तेजी से इंप्रूव भी कर सकते हैं यह 2 चीजें हैं जिनका जिक्र आया लोग नहीं करते और जो कि यह बहुत महत्वपूर्ण है

kuch bahut hi mahatvapurna cheezen hain jo har ek mein payi jaati hai aur jiska jikarr kabhi nahi hota ummid sabse pehli cheez yah hai ki kaam ki nirdharit ghante tak padhne ki nirdharit ghante number ek number dusri cheez sthan ek nishchit sthan aur teesri cheez hai nishchit kitab yadi aapke paas ek nishchit sthan hai ek nishchit kitab hai aur nishchit samay bahut kam log jikarr karte hain toh kam log baat karte hain jabki yah sabse mahatvapurna chijon mein se ek hai paani padane ki wajah bhi honi chahiye aap padhai ki ghanti nishchit aur kaun si kitab aap padhenge vaah nishchit hona chahiye number ek number dusri cheez hai kis you can bet you can improve aap jo kuch bhi padh rahe hain din bhar mein aapne 6 ghanta pada toh kahin kisi bahri mein keval 6 likhi thi usko saptah mein dekhiye ki hum bhi kitna andar improvement kitna comment kiya hai usi ke madhyam se agar aap apne upar apne aakalan kar sakte hain kar sakte hain apni toh aap usko teji se improve bhi kar sakte hain yah 2 cheezen hain jinka jikarr aaya log nahi karte aur jo ki yah bahut mahatvapurna hai

कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण चीजें हैं जो हर एक में पाई जाती है और जिसका जिक्र कभी नहीं होता उम्

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1084
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!