वियतनाम में टॉकिंग फ्री स्कूल की स्थापना कब हुई थी...


play
user
0:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वियतनाम में जो टॉकिंग फ्री स्कूल है उसका नाम है द टॉकिंग फ्री स्कूल और यह सब फ्रेंच लैंग्वेज ऑफ पर भेज दें और हनोई नाम का बंदा था जिसने किसकी फाउंडेशन पर ध्यान दिया था और 1 घंटे सेंचुरी में बनाया गया था और इसमें लॉन्ग वन कैन जो कि बहुत बड़ा नेशनलिस्ट था और फैनबॉय जाओ और फैंसी ट्रेन इन तीनो ने मिलकर इसकी स्थापना की थी उसको बनवाया था

vietnam mein jo talking free school hai uska naam hai the talking free school aur yah sab french language of par bhej de aur Hanoi naam ka BA nda tha jisne kiski foundation par dhyan diya tha aur 1 ghante century mein BA naya gaya tha aur isme long van can jo ki BA hut BA da neshanalist tha aur fainbay jao aur fancy train in teeno ne milkar iski sthapna ki thi usko BA nwaya tha

वियतनाम में जो टॉकिंग फ्री स्कूल है उसका नाम है द टॉकिंग फ्री स्कूल और यह सब फ्रेंच लैंग्व

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  315
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kriti

Volunteer

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां पश्चिम ढंग की शिक्षा देने के लिए 1960 में टॉकिंग फ्री स्कूल खोला गया कि शिक्षा में विज्ञान स्वच्छता और फ्रांसीसी भाषा की कक्षाएं शामिल थी यह कक्षाएं शाम को लगती थी और उनके अलग अलग से फीस ली जाती थी इस स्कूल की नजर में आधुनिक के क्या मायने थे इससे उस समय की सोच को अच्छी तरह से समझा जा सकता है औपनिवेशिक पर चारों के अनुसार पश्चिमी विचारों की शिक्षा प्राप्त कर लेना ही काफी नहीं था बल्कि आधुनिक बनने के लिए अभ्यर्थियों को पश्चिम के लोगों जैसा दिखना भी पड़ेगा मसलन बच्चों को छोटे-छोटे बल रखने की सलाह दी जाती थी आ जाती है अभी 1 नामों वियतनाम योग के लिए यहां अपनी पहचान पूरी तरह बदल डालने वाली बात थी वे तो पारंपरिक रूप से ही बल रखते थे

haan paschim dhang ki shiksha dene ke liye 1960 mein talking free school khola gaya ki shiksha mein vigyan swachhta aur francisi bhasha ki kakshaen shaamil thi yah kakshaen shaam ko lagti thi aur unke alag alag se fees li jaati thi is school ki nazar mein aadhunik ke kya maayne the isse us samay ki soch ko achi tarah se samjha ja sakta hai aupniweshik par charo ke anusaar pashchimi vicharon ki shiksha prapt kar lena hi kaafi nahi tha BA lki aadhunik BA nne ke liye abhyarthiyon ko paschim ke logo jaisa dikhana bhi padega maslan BA cchon ko chote chote BA l rakhne ki salah di jaati thi aa jaati hai abhi 1 namon vietnam yog ke liye yahan apni pehchaan puri tarah BA dal dalne wali BA at thi ve toh paramparik roop se hi BA l rakhte the

हां पश्चिम ढंग की शिक्षा देने के लिए 1960 में टॉकिंग फ्री स्कूल खोला गया कि शिक्षा में विज

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  388
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
वियतनाम में टॉकिंग फ्री स्कूल की स्थापना कब हुई थी ; vietnam me tokin free school ki sthapna kab hui thi ; वियतनाम में टोकिन फ्री स्कूल की स्थापना कब हुई थी ; वियतनाम में टॉकिंग फ्री स्कूल की स्थापना कब हुई ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!