पुलिस स्टेशन को अचानक नुक्लेअर-डिटेक्शन किट क्यों मिल र है हैं? क्या यह घोटाला या समझदार सुरक्षा उपाय है?...


user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमरजीत जो मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर है मैं उन्होंने सिर्फ सेफ्टी के हिसाब से एक एहतियात बरतने के लिए यह जो सेफ्टी में जैसे उनके लिए बेंगलुरु मैच शुरू होने वाली है कि जो पुलिस एक्शन से वहां पर न्यूक्लियर मटेरियल को डिटेक्ट करने के लिए उन्हें आंसर यह जो इंस्ट्रूमेंट है वह दिए जाएंगे जो यह मोबाइल रेडिएशन डिटेक्शन सिस्टम है यह पुलिस को दिए जाएंगे और अभी बेंगलुरु में वोट देने की बात ही जाएगी 40 पुलिस डिटेक्टर जो है यह देने की बात कही गई है इसका वो पल जो हुआ है वह यह है कि डिटेक्ट कर सके ऐसी किसी और लूट को ऐसी किसी न्यूक्लियर मेटीरियल को एलडीसी स्पर्धा की बड़ी चीज है ना हो सके देखिए और जो जो मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स उन्होंने बोला कि यह न्यूक्लीयर सिक्योरिटी की बात है तो ऐसे मैसेज भेजना इंपॉर्टेंट है आदित्य 2016 17 ऐसे बहुत सारे सालों में राजस्थान के अंदर से बहुत सारी चूड़ियां चूड़ियां पकड़ी गई है यूरेनियम की जो माइंस में से चुराते थे तो ऐसी चीजों को रोकने के लिए डिटेक्टर दिए गए हैं अभी ग्राउंड लेवल पर बाकी आप जानते हैं कि किम जोंग उन को ले लीजिए या फिर शाम को ले लीजिए बजे धमकी देते ही रहते हैं कि उनके देश के ऊपर Nokia बटन है बाकी इन रितिक रोशन का कुछ हो नहीं सकता कि तेरी डिटेक्टर का जो मोटे है वह यही है कि जो यह चोरियां हो रही है मैं इसमें से जो ऐसे जो चुराई जा रहे हैं यह पदार्थ चौकी डेंजरस एस एस आईटी के लिए अगर गलत यूज़ किया जाए तो उनकी चोरी रोकने के लिए यह चीज के सारे यह घोटाला मेरे साथ से नहीं है यह एक अच्छी शुरुआत है सबसे

amarjeet jo ministry of home affair hai main unhone sirf safety ke hisab se ek ehatiyaat bartane ke liye yah jo safety mein jaise unke liye bengaluru match shuru hone waali hai ki jo police action se wahan par nuclear material ko detect karne ke liye unhe answer yah jo instrument hai vaah diye jaenge jo yah mobile radiation detection system hai yah police ko diye jaenge aur abhi bengaluru mein vote dene ki baat hi jayegi 40 police detector jo hai yah dene ki baat kahi gayi hai iska vo pal jo hua hai vaah yah hai ki detect kar sake aisi kisi aur loot ko aisi kisi nuclear material ko el dee see spardha ki badi cheez hai na ho sake dekhiye aur jo jo ministry of home affairs unhone bola ki yah nyukliyar Security ki baat hai toh aise massage bhejna important hai aditya 2016 17 aise bahut saare salon mein rajasthan ke andar se bahut saree churian churian pakadi gayi hai uranium ki jo mines mein se churate the toh aisi chijon ko rokne ke liye detector diye gaye hain abhi ground level par baki aap jante hain ki kim jong un ko le lijiye ya phir shaam ko le lijiye baje dhamki dete hi rehte hain ki unke desh ke upar Nokia button hai baki in hrithik roshan ka kuch ho nahi sakta ki teri detector ka jo mote hai vaah yahi hai ki jo yah choriyan ho rahi hai main isme se jo aise jo churai ja rahe hain yah padarth chowki dangerous s s it ke liye agar galat use kiya jaaye toh unki chori rokne ke liye yah cheez ke saare yah ghotala mere saath se nahi hai yah ek achi shuruaat hai sabse

अमरजीत जो मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर है मैं उन्होंने सिर्फ सेफ्टी के हिसाब से एक एहतियात बरतन

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  183
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:58

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स में जो है ना सिक्योरिटी को ज्यादा सेफ्टी देने अपनों के सकते हैं 2015 में जिसके कारण या घर के निर्माण में जो है मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स नहीं डिसाइड किया है कि वह यूपी और मटेरियल या फिर वैसे क्या चीज जो क्लियर मटेरियल को ठीक कर सकते हैं और बेटी रेडिएशन को जो है वह मोबाइल पर कर सकते हैं ऐसे क्या चीज जो है वह 930 पुलिस स्टेशन आने देंगे पूरे भारत करने मोबाइल रेडिएशन प्रोटेक्शन सिस्टम है क्या mrp के नाम से जाना चाहते हैं उन्हें यह 930 पुलिस स्टेशनों में चला जाएगा मुझे भी पुलिस पेट्रोल पंप कैसे इनस्टॉल किया जाएगा और ऐसा माना जाता है कि बेंगलुरु भारत का पहला शहर होगा कि आप 40 दिन से डिटेक्टर लगाए जाएंगे पुलिस वाहनों में पुलिस थानों में जो इसका कारण यह है समझदार सुरक्षा उपाय तो यही और इसे क्यों यह किड्स जो है वह क्यों मान रहे हैं ताकि इतने पुलिसकर्मी जो है वह ट्रेन हो पाए और यह जल्दी से जल्दी उठने पता लग सके इस ट्रेनिंग के हिसाब से या फिर कह सकते इसके हिसाब से गिरिडीह कितना ज्यादा है या फिर कितना गम है तो खाना कहां पर स्थित है बहुत मदद होगी और जब दोनों को डिटेक्टर भेजो कि एक लोकेशन में बता पाई जाने के लिए रिजर्वेशन कितना है और कितना टॉलरेंस लेवल है उसका यह भी क्या अजीब चीज आखिरी विकेट जो है वह दूसरों को मिलेगा तो खाना खा घोटाला नहीं है एक समझदार उपाय अगर हम देखें तुम 2017 में तो ऐसा कोई इंसिडेंट हुआ 19 मई 2003 2014 2013 में जो है यूरेनियम की चोरी होने के किसी भी आए तो एक आम कहां पर है किस समझता सुरक्षा उपाय है

ministry of home affairs mein jo hai na Security ko zyada safety dene apnon ke sakte hain 2015 mein jiske karan ya ghar ke nirmaan mein jo hai ministry of home affairs nahi decide kiya hai ki vaah up aur material ya phir waise kya cheez jo clear material ko theek kar sakte hain aur beti radiation ko jo hai vaah mobile par kar sakte hain aise kya cheez jo hai vaah 930 police station aane denge poore bharat karne mobile radiation protection system hai kya mrp ke naam se jana chahte hain unhe yah 930 police stationo mein chala jaega mujhe bhi police petrol pump kaise install kiya jaega aur aisa mana jata hai ki bengaluru bharat ka pehla shehar hoga ki aap 40 din se detector lagaye jaenge police vahanon mein police thanon mein jo iska karan yah hai samajhdar suraksha upay toh yahi aur ise kyon yah kids jo hai vaah kyon maan rahe hain taki itne policekarmi jo hai vaah train ho paye aur yah jaldi se jaldi uthane pata lag sake is training ke hisab se ya phir keh sakte iske hisab se girdih kitna zyada hai ya phir kitna gum hai toh khana kahaan par sthit hai bahut madad hogi aur jab dono ko detector bhejo ki ek location mein bata payi jaane ke liye reservation kitna hai aur kitna tolerance level hai uska yah bhi kya ajib cheez aakhiri wicket jo hai vaah dusron ko milega toh khana kha ghotala nahi hai ek samajhdar upay agar hum dekhen tum 2017 mein toh aisa koi incident hua 19 may 2003 2014 2013 mein jo hai uranium ki chori hone ke kisi bhi aaye toh ek aam kahaan par hai kis samajhata suraksha upay hai

मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स में जो है ना सिक्योरिटी को ज्यादा सेफ्टी देने अपनों के सकते हैं

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  203
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो पुलिस स्टेशन पर अचानक से न्यूक्लियर डिटेक्शन किट मिल रहा है यह बहुत ज्यादा समझदार सुरक्षा उपाय यही है क्योंकि इससे हो क्या रहा है कि जितने भी सूर्या होती थी महीनों के अंदर ओर माइंस में से उन सबको हम कम कर सकते हैं यह भी बेंगलुरु के अंदर शुरू हो रहा है वहां पर तो पुलिस है उनको यह वेतन मिलेगा लगभग लगभग 40 लोगों तक कोई 40 पुलिस वालों लोगों को यह वेतन मिलेगा उससे यह लोग आसपास पता लगा पाएंगे कि कहां पर हमारे पास न्यूक्लियर है ताकि कोई भी छोटी से छोटी स्टेज पर ही हमें किसी भी दुर्घटना को रोक

jo police station par achanak se nuclear detection kit mil raha hai yah bahut zyada samajhdar suraksha upay yahi hai kyonki isse ho kya raha hai ki jitne bhi shurya hoti thi mahinon ke andar aur mines mein se un sabko hum kam kar sakte hain yah bhi bengaluru ke andar shuru ho raha hai wahan par toh police hai unko yah vetan milega lagbhag lagbhag 40 logon tak koi 40 police walon logon ko yah vetan milega usse yah log aaspass pata laga payenge ki kahaan par hamare paas nuclear hai taki koi bhi choti se choti stage par hi hamein kisi bhi durghatna ko rok

जो पुलिस स्टेशन पर अचानक से न्यूक्लियर डिटेक्शन किट मिल रहा है यह बहुत ज्यादा समझदार सुरक्

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!