इन्फ्लेशन में अचानक चढ़ाव कैसे हुई है?...


user

.

Hhhgnbhh

0:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर हम सरल भाषा में समझना चाहे तो इन्फ्लेशन रेट वह होता है जब किसी प्राइस का जो दाम होता है वह पहले के कंपटीशन में बढ़ जाता है क्योंकि उसकी डिमांड मार्केट के अंदर मतलब तो उसे उस चीज को खरीदने वाले जो लोग होते हैं उनकी गिनती बढ़ जाती है मार्केट के अंदर इस हम इन्फ्लेशन रेट कहते हैं l तो इन्फ्लेशन रेट जो है अचानक से बढ़ इसलिए चुका है क्योंकि हमने देखा है एक तो की पॉपुलेशन बहुत ज्यादा बढ़ गई है तो जितनी ज्यादा पॉपुलेशन होगी उतनी ज्यादा उन्हें चीजों की जरूरत पड़ेगी l इस वजह से जो इन्फ्लेशन रेट है वह बहुत ज्यादा बढ़ रहा है l और हम देखने की सोर्सेज हमारे पास कम होते जा रहे हैं क्योंकि हर एक एक चीज डिप्लीट होती जा रही है, नचुरल रिसौर्सस हमारे पास प्रतिदिन कम होते जा रहे हैं बहुत ही ते तेज़ी स्पीड पर उनकी जो जरूरत है वह अभी भी उतनी ही है और वह बढ़ती जा रही है l तोह यह और गैप प्रोड्यूस कर रहा है इस इन्फ्लेशन रेट के अंदर तो यह कुछ प्रमुख कारण है जिसकी वजह से इन्फ्लेशन रेट ने अचानक से चड़ाव हुई है l

agar hum saral bhasha mein samajhna chahen toh inflation rate vaah hota hai jab kisi price ka jo daam hota hai vaah pehle ke competition mein badh jata hai kyonki uski demand market ke andar matlab toh use us cheez ko kharidne waale jo log hote hain unki ginti badh jaati hai market ke andar is hum inflation rate kehte hain l toh inflation rate jo hai achanak se badh isliye chuka hai kyonki humne dekha hai ek toh ki population bahut zyada badh gayi hai toh jitni zyada population hogi utani zyada unhe chijon ki zarurat padegi l is wajah se jo inflation rate hai vaah bahut zyada badh raha hai l aur hum dekhne ki sources hamare paas kam hote ja rahe hain kyonki har ek ek cheez deplete hoti ja rahi hai nachural risaursas hamare paas pratidin kam hote ja rahe hain bahut hi te tezi speed par unki jo zarurat hai vaah abhi bhi utani hi hai aur vaah badhti ja rahi hai l toh yah aur gap produce kar raha hai is inflation rate ke andar toh yah kuch pramukh karan hai jiski wajah se inflation rate ne achanak se chadav hui hai l

अगर हम सरल भाषा में समझना चाहे तो इन्फ्लेशन रेट वह होता है जब किसी प्राइस का जो दाम होता ह

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  264
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!