स्टटरिंग का इलाज कैसे करें?...


user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्टेट बैंक का इलाज कैसे बनाते हैं जवाब अपने सेल्फ रिस्पेक्ट आपके मन में कम रहता है ज्यादा घर के प्रोडक्शन की वजह से या ज्यादा संरक्षण की वजह से यह ज्यादा इंटिरीयरिटी हीन भावना कंपलेक्स के कारण वापस नहीं समझते हैं उन लोगों को बहुत कुछ नहीं रखते हैं दूसरे लोगों के लिए आप हमेशा अपने बड़े उम्र के लोग बात करें इस विश्वास के साथ बात करें कि आपका विचार सुनने योग्य है आपके विचार की स्वास्थ्य सेट करें अगर सामने कोई बड़ा पैसा अभ्यास कर सकते हैं परंतु को अतिरिक्त यदि आप अच्छी लगती है वह सामने वाले को भी अच्छी लगेगी इसलिए आप बहुत ज्यादा कॉन्शियस में होगा कि सामने वाला क्या सोचेगा अपने मन की बात बता से करें विश्वास के साथ पूर्ण भक्त

state bank ka ilaj kaise banate hain jawab apne self respect aapke man me kam rehta hai zyada ghar ke production ki wajah se ya zyada sanrakshan ki wajah se yah zyada intiriyriti heen bhavna complex ke karan wapas nahi samajhte hain un logo ko bahut kuch nahi rakhte hain dusre logo ke liye aap hamesha apne bade umar ke log baat kare is vishwas ke saath baat kare ki aapka vichar sunne yogya hai aapke vichar ki swasthya set kare agar saamne koi bada paisa abhyas kar sakte hain parantu ko atirikt yadi aap achi lagti hai vaah saamne waale ko bhi achi lagegi isliye aap bahut zyada kanshiyas me hoga ki saamne vala kya sochega apne man ki baat bata se kare vishwas ke saath purn bhakt

स्टेट बैंक का इलाज कैसे बनाते हैं जवाब अपने सेल्फ रिस्पेक्ट आपके मन में कम रहता है ज्यादा

Romanized Version
Likes  302  Dislikes    views  3020
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
4:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई नमस्कार ऐसा है इस केटरिंग अर्थात लाना एक आज के दौर में यह एक सामान्य रोग हो गया ना किया रोक नहीं है यह एक अवस्था कारण यह है कि आजकल न्यूक्लीयर फैमिली में आप देखते हैं पहले बच्चों बच्चे जब तक पूरे परिवार में होते थे तो स्टार्टिंग फ्रॉम ऑल ईयर पीरियड ऑफ लाइफ में उसके बचपन से जब से वह बोलना सीखता है तब से उसे कई तरह की चीजें बनाने वाले कई लोग हुआ करते थे घर में दादा दादी चाचा चाची और सभी लोग से बच्चा बहुत अच्छे तरीके से दीपक को बोल पाता था जो चीजों को दूसरे समझ भी पाते थे अब देखिए आज के जो बच्चे हैं उनके पास मायबाप सर क्लियर करने में सिर्फ आप और बच्चा है तो होता क्या है कि मायबापूजी वर्किंग है तो बच्चों को तो सिखाने वाला कोई नहीं है टूटी-फूटी चीजें बोलने लगता है और व्यक्ति क्या करते हैं कि तुतला का आप भी बोलते हैं तो बच्चा कुछ बोल रहा है तो आप भी अपनी एक बुरी आदत बना लेते हैं कि किसी चीज को सिखाने के बजाय जैसे बच्चा तोतला रहा है तो आप भी तो चला रहे हैं अभी आप देख लीजिए यदि आप अपने आसपास में 10 बच्चों को सोचेंगे जो 5 बरस के आसपास के पापा आएंगे उत्पाद बरस के बच्चे में 10 में से 8 बच्चे ऐसे होंगे जो साथ नहीं बोलते हैं यदि वह न्यूक्लियर फैमिली से बिलोंग करते तो तू पहले तो इन सब चीजों को छोड़ देना है सोशल होना ज्यादा अच्छा है आप देखेंगे बच्चे जब नीचे सी जगह खेलने जाते हैं अपने बच्चों के साथ दूसरे अपने हमउम्र बच्चों के साथ चलते हैं तुमको जैसा बोलते हैं उनको सी खिले बच्चों में सीखने की सीटी बहुत तीव्र होती बहुत सारी चीजों को भले ही वह जाहिर ना करें तो वह क्या सोचेंगे आप समझ ना पाए किसी के नहीं सीख जरूर लेते हैं और उनके जेहन में चीजें चली जाती चाइल्ड साइकोलॉजी को समझ पाना अभी भी मानव विज्ञान के लिए बहुत कठिन कार्य अभी भी बहुत अच्छे बालू हो जहां उसका डेरिंग के लिए सबसे बड़ी बात यह है कि लाने के लिए यह चीज है कि आपको सोशल होना इस बच्चे के साथ में कमी है उसको सामाजिक तौर पर एक चीज और ऐसे लोगों के पास ले जाइए जहां पर उसे बोलने में शर्म महसूस मतलब ऐसे ही आप फिर आप ऐसे ग्रुप को क्रिएट करें जहां पर कोई उसको इस बात के लिए बुरा ना कहें कि भाई तुम ठीक से नहीं बोलते कांट स्पीक तो ऐसा करने से बच्चे के अंदर जब आत्मविश्वास बढ़ जाता है तो वह बोलने लगता दुनिया में फंसे कई लोग हुए हैं आप इनको नेटवर्क सर्च कर सकते हैं ऐसा किया शर्मशार आयु 55 वर्ष ट्रैक्टर इन थे और कई बार ऐसा होता था के मैं भी नाम बोल रहा हूं एक बहुत नामी सुंदर हुआ करते थे मेरे पास वह बचपन में उनको कल आने की बीमारी थी लेकिन जब वह गाना गाते थे तो उनके हकलाने तुम्हारी चली जाती थी इसके पीछे कारण क्या था क्योंकि जीवन हम तो पहले भी थी वह अपने मां बाप के इकलौते बच्चे थे मां बाप ने मिठाई वर्ष हो गया तलाक हो गया जिसके कारण हुआ अकेले रहने लगे और उनका जीवन जब अकेला बीतने लगा तो वह चीजों को बहुत अच्छे ढंग से नहीं बोल पाते थे जब पिता के पास रहते हैं माता के पास रहते तो किसी बात को कहने लगते तो लोग डरते थे जिसकी वजह से वह सही शब्दों का इस्तेमाल नहीं कर पाते लेकिन उनके अंदर जब आपको विश्वास पड़ा उन्होंने कान्हा सीखना चाहिए था और जब आने लगे तुमको इतना इंटरेस्ट लगी तुमको यह बात विश्वास ही नहीं हुआ तो यह बात याद ही नहीं रहता था कि वह स्टेरिंग करोगी और वह बहुत सुंदर गाना तो सामाजिक होना ज्यादा बेहतर है और वैसे इसके लिए आप ऐसे डॉक्टर से मिल सकते हैं जिनमें स्पीच थैरेपिस्ट कहा जाता है बहुत अच्छे डॉक्टर होते हैं आपको बोलने में मदद कर सकते हैं धन्यवाद

bhai namaskar aisa hai is Catering arthat lana ek aaj ke daur me yah ek samanya rog ho gaya na kiya rok nahi hai yah ek avastha karan yah hai ki aajkal nyukliyar family me aap dekhte hain pehle baccho bacche jab tak poore parivar me hote the toh starting from all year period of life me uske bachpan se jab se vaah bolna sikhata hai tab se use kai tarah ki cheezen banane waale kai log hua karte the ghar me dada dadi chacha chachi aur sabhi log se baccha bahut acche tarike se deepak ko bol pata tha jo chijon ko dusre samajh bhi paate the ab dekhiye aaj ke jo bacche hain unke paas maaybaap sir clear karne me sirf aap aur baccha hai toh hota kya hai ki maybapuji working hai toh baccho ko toh sikhane vala koi nahi hai tuti phooti cheezen bolne lagta hai aur vyakti kya karte hain ki tutla ka aap bhi bolte hain toh baccha kuch bol raha hai toh aap bhi apni ek buri aadat bana lete hain ki kisi cheez ko sikhane ke bajay jaise baccha totla raha hai toh aap bhi toh chala rahe hain abhi aap dekh lijiye yadi aap apne aaspass me 10 baccho ko sochenge jo 5 baras ke aaspass ke papa aayenge utpaad baras ke bacche me 10 me se 8 bacche aise honge jo saath nahi bolte hain yadi vaah nuclear family se belong karte toh tu pehle toh in sab chijon ko chhod dena hai social hona zyada accha hai aap dekhenge bacche jab niche si jagah khelne jaate hain apne baccho ke saath dusre apne hamaumra baccho ke saath chalte hain tumko jaisa bolte hain unko si khile baccho me sikhne ki city bahut tivra hoti bahut saari chijon ko bhale hi vaah jaahir na kare toh vaah kya sochenge aap samajh na paye kisi ke nahi seekh zaroor lete hain aur unke jehan me cheezen chali jaati child psychology ko samajh paana abhi bhi manav vigyan ke liye bahut kathin karya abhi bhi bahut acche baalu ho jaha uska daring ke liye sabse badi baat yah hai ki lane ke liye yah cheez hai ki aapko social hona is bacche ke saath me kami hai usko samajik taur par ek cheez aur aise logo ke paas le jaiye jaha par use bolne me sharm mehsus matlab aise hi aap phir aap aise group ko create kare jaha par koi usko is baat ke liye bura na kahein ki bhai tum theek se nahi bolte kant speak toh aisa karne se bacche ke andar jab aatmvishvaas badh jata hai toh vaah bolne lagta duniya me fanse kai log hue hain aap inko network search kar sakte hain aisa kiya sharmashar aayu 55 varsh tractor in the aur kai baar aisa hota tha ke main bhi naam bol raha hoon ek bahut nami sundar hua karte the mere paas vaah bachpan me unko kal aane ki bimari thi lekin jab vaah gaana gaate the toh unke hakalane tumhari chali jaati thi iske peeche karan kya tha kyonki jeevan hum toh pehle bhi thi vaah apne maa baap ke iklaute bacche the maa baap ne mithai varsh ho gaya talak ho gaya jiske karan hua akele rehne lage aur unka jeevan jab akela beetane laga toh vaah chijon ko bahut acche dhang se nahi bol paate the jab pita ke paas rehte hain mata ke paas rehte toh kisi baat ko kehne lagte toh log darte the jiski wajah se vaah sahi shabdon ka istemal nahi kar paate lekin unke andar jab aapko vishwas pada unhone kanha sikhna chahiye tha aur jab aane lage tumko itna interest lagi tumko yah baat vishwas hi nahi hua toh yah baat yaad hi nahi rehta tha ki vaah stering karogi aur vaah bahut sundar gaana toh samajik hona zyada behtar hai aur waise iske liye aap aise doctor se mil sakte hain jinmein speech thairepist kaha jata hai bahut acche doctor hote hain aapko bolne me madad kar sakte hain dhanyavad

भाई नमस्कार ऐसा है इस केटरिंग अर्थात लाना एक आज के दौर में यह एक सामान्य रोग हो गया ना कि

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
user

Dr. Naqui

Doctor

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्टेरिंग का इलाज कैसे करें स्ट्रैचिंग साधारण बीमारी है जो के जिसका मेन प्रॉब्लम है इंजॉय की क्या सोशल लाइफ इंश्योरेंस होने की वजह से बाद में या पहले से रहती है इसका बेस्ट एग्जांपल है कि मूवी आई है द बेस्ट स्पीच फॉर सी मूवी है जिसको देखकर आप समझ सकते हैं कि इस प्रॉब्लम कहां से जनरेट होता है और इससे के भाई बता रहे थे कि सपोर्ट की जरूरत है फैमिली सपोर्ट तक सोशल इंटरेक्शन इन का बेडरूम जाती नहीं हूं तो खत्म हो सकती है और भी कई तरह के तरीके ट्रिपी ट्रिपी ट्रिपी ट्रिपी काफी काम करती हैं रेपिस्ट किसी स्पीच ट्रैफिक से मिले तो फोन लाया जाएगा

stering ka ilaj kaise kare straiching sadhaaran bimari hai jo ke jiska main problem hai enjoy ki kya social life insurance hone ki wajah se baad mein ya pehle se rehti hai iska best example hai ki movie I hai the best speech for si movie hai jisko dekhkar aap samajh sakte hain ki is problem kahaan se generate hota hai aur isse ke bhai bata rahe the ki support ki zarurat hai family support tak social interaction in ka bedoom jaati nahi hoon toh khatam ho sakti hai aur bhi kai tarah ke tarike tripi tripi tripi tripi kaafi kaam karti hain rapist kisi speech traffic se mile toh phone laya jaega

स्टेरिंग का इलाज कैसे करें स्ट्रैचिंग साधारण बीमारी है जो के जिसका मेन प्रॉब्लम है इंजॉय क

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  582
WhatsApp_icon
play
user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

0:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस बीमारी को मैं समझ नहीं पाया इसलिए आप इस बीमारी के लक्षण अगर बताएं हम आपको चीज जवाब देंगे

is bimari ko main samajh nahi paya isliye aap is bimari ke lakshan agar batayen hum aapko cheez jawab denge

इस बीमारी को मैं समझ नहीं पाया इसलिए आप इस बीमारी के लक्षण अगर बताएं हम आपको चीज जवाब देंग

Romanized Version
Likes  242  Dislikes    views  2406
WhatsApp_icon
user
1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसके लिए वैसे एलोपैथी मगर इसमें कोई नहीं है मेरे से नहीं है और अगर ए भी है कि बार-बार बार-बार ऐसे शब्द बोले जिससे हम लोग कहते हैं कि 5336 जैसे शब्द होते हैं चाचा ने चाची को चांदी के चम्मच से चटनी चटाई ए शब्द से संबोधित करते हैं इस बार बार भूलने की तो यह कम हो जाता है और अभी नहीं है कि आपको यह हो कोई कोई चैटिंग जो है वह टेंशन की वजह से भी होता है आप जवाब नहीं दे सकते हो अगर जवाब नहीं दे सकता काफी ज्यादा टेंशन आ जाता है तब होता है पहले कौन ढूंढना है कि क्यों हो रहा है उसके ऊपर जवाब नहीं है कि रिलैक्स रहना है और अगर शब्द नहीं आते तो उसे बार बार बार बार बार बार अकेले में रखना है क्योंकि एक कहावत है हम लोग करते हैं

iske liye waise allopathy magar isme koi nahi hai mere se nahi hai aur agar a bhi hai ki baar baar baar baar aise shabd bole jisse hum log kehte hain ki 5336 jaise shabd hote hain chacha ne chachi ko chaandi ke chammach se chatni chatai a shabd se sambodhit karte hain is baar baar bhulne ki toh yah kam ho jata hai aur abhi nahi hai ki aapko yah ho koi koi chatting jo hai vaah tension ki wajah se bhi hota hai aap jawab nahi de sakte ho agar jawab nahi de sakta kaafi zyada tension aa jata hai tab hota hai pehle kaun dhundhana hai ki kyon ho raha hai uske upar jawab nahi hai ki relax rehna hai aur agar shabd nahi aate toh use baar baar baar baar baar baar akele me rakhna hai kyonki ek kahaavat hai hum log karte hain

इसके लिए वैसे एलोपैथी मगर इसमें कोई नहीं है मेरे से नहीं है और अगर ए भी है कि बार-बार बार-

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

Chandrakant Shrivastav

Educationist N Counsellor. PD Trainer. Motivator

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि यदि स्टेरिंग का तात्पर्य से मतलब स्टैमरिंग हकलाना या तोतला बोलने से तो यह कोई बीमारी नहीं है उसको भी आप प्लस्पॉइंट बना सकते हैं इंडस्ट्री में अपना डबिंग आवाज देकर लाखों करोड़ों रुपए कमा सकते हैं सबसे पहले अपने मन से हीन भावना निकाल दीजिए भगवान को धन्यवाद दीजिए इस जीवन के लिए उन्होंने अच्छा जीवन दिया अब तो आप समझ रहे हो वह आपका अपना एटीट्यूड प्राचीन कीजिए अब आपको यदि तोतलापन यह कलापन दुर करना है इसका सबसे चलाने संस्कृत भगवत गीता आप सुनिए और कोशिश कीजिए यदा यदा ही धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत स्वर्ग कृष्णा इसका मतलब आपको एक 2 महीने के बाद क्लियर कट आ जाएगी आनंद आएगा सीखने में बोलने में आपका हसला पर निकल जाएगा आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि मैं भी बचपन में बहुत अकेला था मेरा सौभाग्य था उसने मुझे पता ही नहीं चला यह रियल कंडीशन है अब तो मेरे बच्चों को मैं टंग ट्विस्टर पढ़ाता हूं मेरे पीछे बोलिए न्यू तीन अक्षर वाले शब्द बोलने के लिए मुझे बहुत तकलीफ पड़ती थी

yadi yadi stering ka tatparya se matlab stammering haklana ya totla bolne se toh yah koi bimari nahi hai usko bhi aap plaspaint bana sakte hain industry me apna dubbing awaaz dekar laakhon karodo rupaye kama sakte hain sabse pehle apne man se heen bhavna nikaal dijiye bhagwan ko dhanyavad dijiye is jeevan ke liye unhone accha jeevan diya ab toh aap samajh rahe ho vaah aapka apna attitude prachin kijiye ab aapko yadi totlapan yah kalapan door karna hai iska sabse chalane sanskrit bhagwat geeta aap suniye aur koshish kijiye yada yada hi dharmasya glanirbhavati bharat swarg krishna iska matlab aapko ek 2 mahine ke baad clear cut aa jayegi anand aayega sikhne me bolne me aapka haslaa par nikal jaega aapki jaankari ke liye bata doon ki main bhi bachpan me bahut akela tha mera saubhagya tha usne mujhe pata hi nahi chala yah real condition hai ab toh mere baccho ko main tongue twister padhata hoon mere peeche bolie new teen akshar waale shabd bolne ke liye mujhe bahut takleef padti thi

यदि यदि स्टेरिंग का तात्पर्य से मतलब स्टैमरिंग हकलाना या तोतला बोलने से तो यह कोई बीमारी न

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पिस्टल चिंता कैसे इलाज करें तो हकलाने की जगह समस्या में सबसे बड़ा जो है महत्वपूर्ण गुर्जर परिवार का समर्थन होता है जो भी हकलाने से पीड़ित व्यक्ति होते हैं उनको जो है कोई भी सजाया सख्ती से पेश आना है और जब इसका कि व्यक्ति से बोल रहे हो तो अपने ध्यान से सुनने की कोशिश करें उनके साथ आराम से बातें करें जब भी वह आपस में बातें करें तो ध्यान रखें इस तरह की प्रॉब्लम को दूर कर सकते हैं इसके अलावा कह सकते हैं कि जब जब बात करते हो किसी से अब जल्दी-जल्दी बात ना करें आराम से जो हेय बात करी आपने सांस लेने पर फोकस करें से बात करें तो वह उसे अवॉइड करें एकदम की शादी करेंगे तो बिल्कुल इस प्रॉब्लम को दूर कर पाएंगे स्पीच थेरेपी ले सकते हैं इसके लिए

pistol chinta kaise ilaj kare toh hakalane ki jagah samasya mein sabse bada jo hai mahatvapurna gurjar parivar ka samarthan hota hai jo bhi hakalane se peedit vyakti hote hain unko jo hai koi bhi sajaya sakhti se pesh aana hai aur jab iska ki vyakti se bol rahe ho toh apne dhyan se sunne ki koshish kare unke saath aaram se batein kare jab bhi vaah aapas mein batein kare toh dhyan rakhen is tarah ki problem ko dur kar sakte hain iske alava keh sakte hain ki jab jab baat karte ho kisi se ab jaldi jaldi baat na kare aaram se jo haiya baat kari aapne saans lene par focus kare se baat kare toh vaah use avoid kare ekdam ki shadi karenge toh bilkul is problem ko dur kar payenge speech therapy le sakte hain iske liye

पिस्टल चिंता कैसे इलाज करें तो हकलाने की जगह समस्या में सबसे बड़ा जो है महत्वपूर्ण गुर्जर

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  244
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!