आपस में झगड़ा क्यों होता है, पैसा ही सबसे बड़ा कारण क्यों है?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाय अभी पदी यहां भी सवाल पूछा गया है कि आपस में झगड़ा क्यों होता है ऐसा ही सबसे बड़ा कारण क्यों है तो देखी झगड़ा का तो बहुत सारे कारण होते हैं लेकिन पैसा पैसे के लिए बहुत लोग जागते हैं आपस में देखिए मैं बस इतना कहना चाहूंगी कि यह चैनल बिल्कुल ही गलत हुआ कि पैसा है जो इंपॉर्टेंट नहीं है जब जब फॉर्टेंट फैमिली है परिवार है रिश्ते हैं नाते हैं ऐसा कुछ नहीं है पैसा भी बहुत ज्यादा इंपॉर्टेंट इंपॉर्टेंट है तो बस इतना ही पैसे एक गाड़ी में पेट्रोल का होता है नव से ज्यादा नव से कम ठीक है जिससे कि देखिए लोग आपस में अपने मां-बाप से लड़ जाते हैं मैं पिक स्टोरी सब लोग कहते हैं कि मुझे ज्यादा पैसा चाहिए दादा पैसा सब लोग बहुत ज्यादा पैसा चाहिए वह भी अमीर बनना चाहते होंगे सक्सेसफुल बनना चाहते हैं चाहते हो तो मैं बताती हूं किसान था ओके 2 किसान था एक किसान भगवान के पास जाता है और बोलते हैं मतलब भगवान उसको बोलते हैं कि बताओ तो क्या चाहिए पहले किसान को तो बोलता है कि आपने भगवान मुझे कुछ नहीं दिया इस जीवन में मैं मतलब दिनभर एक बैल की तरह काम करता हूं जितना पैसा आता है चला जाता है आशीर्वाद दीजिए कि बस मेरे पास पैसा आए आए आए मुझको देना ना पड़े फिर दूसरा किसान जाता है उससे ही पूछते हैं बताओ तुम्हें क्या चाहिए तो बोलता है कि भगवान आपने तो मुझे सब कुछ दिया अच्छा परिवार अच्छा पैसा बस अच्छा फैमिली अच्छा गांव बस आप एक चीज की कमी रह गई कि बस मुझे इतना आशीर्वाद दे दीजिए कि मेरे दरवाजे पर से कोई भूखा ना जाए क्या कोई भूखा ना जाए क्योंकि उनके पास इतने भी पैसे नहीं थे कि उसके दरवाजे पर सबको खिलाया पैसा दे दे इतना भी हो मैंने इसलिए वह बोले कि बस इतना कर दीजिए कि कोई मेरे दरवाजे से भूखा ना जाए भगवान ने उसको भी तथास्तु बोला वह पहला इंसान तो सोचा कि हम अमीर बन जाएंगे दोनों का जन्म हुआ उस गांव का सबसे बड़ा व सबसे ज्यादा गरीब आदमी बना आप लोग सो जाएंगे सबसे ज्यादा अमीर बना सबसे ज्यादा गरीब आदमी की उम्र तक भिखारी बना उस गांव का सबसे भिखारी आदमी क्योंकि उसको पैसा दिया सब लोग देते थे देते थे देते थे लेते कोई नहीं थे और एक दूसरा और उस गांव का सबसे अमीर आदमी बना तो यहां पर भी नहीं करना चाहिए पैसा के लिए बहुत ज्यादा इतना भी टाइम नहीं है इसलिए पैसा को भी मायने दीजिए अपने फैमिली कोई मायने दीजिए अगर आप खुशियां बांटो कि तभी आपको खुशियां मिलेगी ओके

hi abhi padi yahan bhi sawaal poocha gaya hai ki aapas me jhagda kyon hota hai aisa hi sabse bada karan kyon hai toh dekhi jhagda ka toh bahut saare karan hote hain lekin paisa paise ke liye bahut log jagte hain aapas me dekhiye main bus itna kehna chahungi ki yah channel bilkul hi galat hua ki paisa hai jo important nahi hai jab jab fartent family hai parivar hai rishte hain naate hain aisa kuch nahi hai paisa bhi bahut zyada important important hai toh bus itna hi paise ek gaadi me petrol ka hota hai nav se zyada nav se kam theek hai jisse ki dekhiye log aapas me apne maa baap se lad jaate hain main pic story sab log kehte hain ki mujhe zyada paisa chahiye dada paisa sab log bahut zyada paisa chahiye vaah bhi amir banna chahte honge successful banna chahte hain chahte ho toh main batati hoon kisan tha ok 2 kisan tha ek kisan bhagwan ke paas jata hai aur bolte hain matlab bhagwan usko bolte hain ki batao toh kya chahiye pehle kisan ko toh bolta hai ki aapne bhagwan mujhe kuch nahi diya is jeevan me main matlab dinbhar ek bail ki tarah kaam karta hoon jitna paisa aata hai chala jata hai ashirvaad dijiye ki bus mere paas paisa aaye aaye aaye mujhko dena na pade phir doosra kisan jata hai usse hi poochhte hain batao tumhe kya chahiye toh bolta hai ki bhagwan aapne toh mujhe sab kuch diya accha parivar accha paisa bus accha family accha gaon bus aap ek cheez ki kami reh gayi ki bus mujhe itna ashirvaad de dijiye ki mere darwaze par se koi bhukha na jaaye kya koi bhukha na jaaye kyonki unke paas itne bhi paise nahi the ki uske darwaze par sabko khilaya paisa de de itna bhi ho maine isliye vaah bole ki bus itna kar dijiye ki koi mere darwaze se bhukha na jaaye bhagwan ne usko bhi tathastu bola vaah pehla insaan toh socha ki hum amir ban jaenge dono ka janam hua us gaon ka sabse bada va sabse zyada garib aadmi bana aap log so jaenge sabse zyada amir bana sabse zyada garib aadmi ki umar tak bhikhari bana us gaon ka sabse bhikhari aadmi kyonki usko paisa diya sab log dete the dete the dete the lete koi nahi the aur ek doosra aur us gaon ka sabse amir aadmi bana toh yahan par bhi nahi karna chahiye paisa ke liye bahut zyada itna bhi time nahi hai isliye paisa ko bhi maayne dijiye apne family koi maayne dijiye agar aap khushiya banto ki tabhi aapko khushiya milegi ok

हाय अभी पदी यहां भी सवाल पूछा गया है कि आपस में झगड़ा क्यों होता है ऐसा ही सबसे बड़ा कारण

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  48
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!