आप महात्मा गांधी को हीरो मानते हो या विलेन?...


play
user

Abhishek Shekher Gaur

Civil Engineer

2:18

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ना मैं महात्मा गांधी को हीरो मानता हूं ना महात्मा गांधी को विलन मानता हूं मैं उनको एक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मानता हूं उनको वह इज्जत देता हूं जूता संग्राम सेनानी को दी जानी चाहिए और मैं यह भी नहीं मानता हूं कि गांधीजी नहीं आजादी दिलाई है मैं यह मानता हूं कि कई लोगों ने आजादी दिलाई कई लोगों के प्रयास से आजादी मिली है और गांधी जीवन में से एक है मैं किसी एक को श्रेय नहीं देता जैसे कि जाकर लोग करते हैं मैं किसी एक कुछ रह नहीं देता हूं मैं सबके जान की परवाह करता हूं कि सब ने अपनी जान दी है इस देश की मिट्टी के लिए और उन सबको ही मानना चाहिए किसी एक को नहीं मानना चाहिए मैं इसके पक्ष में कभी नहीं हूं कि एक को माना जाए इसलिए मैं महात्मा गांधी को बहुत ज्यादा नहीं मानता हूं लेकिन मैं उनको नहीं रोमान मानता हूं जिंदगी में कई लोगों से अच्छी चीजें भी होती बुरी चीजें भी होती है इंसान की असलियत है उनसे कई अच्छी चीज ही कई गलत चीजें भी हुई है और वह मैं इंसान के तौर पर उनके लिए सही मानता हूं ठीक है इंसान से होता है मुकेश भगवान नहीं थे उनके बारे में यह सोचना कि नहीं कई लोग तो उनकी गलतियों को तो गलत मानने को तैयार ही नहीं होते इतने बड़े भक्त हमके मोदी के भक्त हैं जो मोदी कुछ गलत कर देता उसको नहीं मानते हैं वैसे ही गांधी जी के बहुत सारे भक्त वह भी उनकी गलत चीजों को गलत मानने को तैयार नहीं होता लेकिन जब इतिहास पढ़ते हैं तो कुछ झूठा नहीं रहा था उसमें जो सच लिखा वह सच है जो आप से गलती हुई है वह दिखती हैं इतिहास में सबसे सस्ता अच्छा हुआ वह भी दिखता है इतिहास में तो अगर आप उनके दुश्मन को दुश्मन की तरह देखेंगे तो आप उनकी सिर्फ गलत चीजों पर ध्यान देंगे अगर आप उनको अच्छे के तौर पर देखेंगे तो सही चीजों पर ध्यान देंगे और अगर आप एक दिमागदार और निष्पक्ष होंगे तो दोनों चीज देखेंगे और एक इंसान मानते उनको ही मानेंगे कि उन्होंने काम भी किए हैं कुछ गलत काम भी किए हैं क्योंकि इंसान इंसान से गलतियां होती हैं इंसान गलतियों का पुतला है तो उनको एक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मानो उनको नहीं रोमानो ना विलन मानो उनको वैसी ही इज्जत दो जैसी भगत सिंह को देते हो उनको वैसे ही इज्जत दो जैसी चंद्र शेखर आजाद को देते हो ना अच्छा मानो ना बुरा मानो मैच के पक्ष में थैंक यू

na main mahatma gandhi ko hero manata hoon na mahatma gandhi ko vilen manata hoon main unko ek swatantrata sangram senani manata hoon unko vaah izzat deta hoon juta sangram senani ko di jani chahiye aur main yah bhi nahi manata hoon ki gandhiji nahi azadi dilai hai yah manata hoon ki kai logo ne azadi dilai kai logo ke prayas se azadi mili hai aur gandhi jeevan mein se ek hai kisi ek ko shrey nahi deta jaise ki jaakar log karte hain main kisi ek kuch reh nahi deta hoon main sabke jaan ki parvaah karta hoon ki sab ne apni jaan di hai is desh ki mitti ke liye aur un sabko hi manana chahiye kisi ek ko nahi manana chahiye main iske paksh mein kabhi nahi hoon ki ek ko mana jaaye isliye main mahatma gandhi ko bahut zyada nahi manata hoon lekin main unko nahi roman manata hoon zindagi mein kai logo se achi cheezen bhi hoti buri cheezen bhi hoti hai insaan ki asliyat hai unse kai achi cheez hi kai galat cheezen bhi hui hai aur vaah main insaan ke taur par unke liye sahi manata hoon theek hai insaan se hota hai mukesh bhagwan nahi the unke bare mein yah sochna ki nahi kai log toh unki galatiyon ko toh galat manne ko taiyar hi nahi hote itne bade bhakt hamake modi ke bhakt hain jo modi kuch galat kar deta usko nahi maante hain waise hi gandhi ji ke bahut saare bhakt vaah bhi unki galat chijon ko galat manne ko taiyar nahi hota lekin jab itihas padhte hain toh kuch jhutha nahi raha tha usme jo sach likha vaah sach hai jo aap se galti hui hai vaah dikhti hain itihas mein sabse sasta accha hua vaah bhi dikhta hai itihas mein toh agar aap unke dushman ko dushman ki tarah dekhenge toh aap unki sirf galat chijon par dhyan denge agar aap unko acche ke taur par dekhenge toh sahi chijon par dhyan denge aur agar aap ek dimagdar aur nishpaksh honge toh dono cheez dekhenge aur ek insaan maante unko hi manenge ki unhone kaam bhi kiye hain kuch galat kaam bhi kiye hain kyonki insaan insaan se galtiya hoti hain insaan galatiyon ka putalaa hai toh unko ek swatantrata sangram senani maano unko nahi romano na vilen maano unko vaisi hi izzat do jaisi bhagat Singh ko dete ho unko waise hi izzat do jaisi chandra shekhar azad ko dete ho na accha maano na bura maano match ke paksh mein thank you

ना मैं महात्मा गांधी को हीरो मानता हूं ना महात्मा गांधी को विलन मानता हूं मैं उनको एक स्वत

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  1852
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!