जो अपने इतिहास को भूल जाते है , उनका कोई भविष्य नहीं होता इस पर आपकी क्या राय है?...


play
user

Saurabh Kumar

Biology student

0:45

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल ऐसा हो सकता है जो अपने इतिहास को भूल जाता है उसका भविष्य की कोई ठिकाना नहीं रहता है उसका भविष्य क्या होगा और कैसा होगा यह बात सच है क्योंकि आप का इतिहास यह आपके शरीर में जुनून लगता है आप पहले क्या थे और कितने दर्द सहे कितने कष्ट हुए आपको अगर वह आपको हमेशा याद रहता है तो आप आगे लाइफ में जो करेंगे वह एक जुनून के साथ करें और अगर आप अपने इतिहास को भूल जाते हैं तो आपका प्रजेंट जो है वह उस दर्द को भूल जाएगा इतिहास के दर्द को भूल जाएगा इसके कारण कि आपका भविष्य अंधकार में जा सकता है

ji bilkul aisa ho sakta hai jo apne itihas ko bhool jata hai uska bhavishya ki koi thikana nahi rehta hai uska bhavishya kya hoga aur kaisa hoga yah baat sach hai kyonki aap ka itihas yah aapke sharir mein junun lagta hai aap pehle kya the aur kitne dard sahay kitne kasht hue aapko agar vaah aapko hamesha yaad rehta hai toh aap aage life mein jo karenge vaah ek junun ke saath kare aur agar aap apne itihas ko bhool jaate hain toh aapka present jo hai vaah us dard ko bhool jaega itihas ke dard ko bhool jaega iske karan ki aapka bhavishya andhakar mein ja sakta hai

जी बिल्कुल ऐसा हो सकता है जो अपने इतिहास को भूल जाता है उसका भविष्य की कोई ठिकाना नहीं रहत

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  448
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Raju Singh

IT professional

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सवाल बहुत ही दिलचस्प है आप सभी को सबसे पहले नमस्कार देखिए हम अपने पास्ट को में हुई कुछ घटनाओं को याद रखते जैसे कोई चीज हमारे हमने कोई एक्सपीरियंस किया हो कोई बेड एक्सपीरियंस किया हो कोई ऐसी चीज जो हमें तकलीफ पहुंचाई हो या दिल तक जो भी हो उसे हम याद रखते हैं और बाकी सब चीजें जैसे हमने कहा हम बहुत ज्यादा खुश हुए थे या फिर बहुत सारी ऐसी चीजें जो हमें याद नहीं रहती तो हम अपनी अच्छी चीजों को भूल जाते हैं ओवरऑल देखा जाए तो हम भूल भूल ही जाते हैं बहुत कम लोग ऐसे मिलते हैं जिनको अपना फास्ट में हुई अच्छी चीजें याद रहती है या तो रहती है लेकिन वह स्मृति की तरह होती है कि उसे याद करने पर याद आती हैं तो लाइक वैसे ही है कड़वी चीजें अगर आपने एक्सपीरियंस किया आपने जिंदगी में तो उसे भी याद करने की कोई जरूरत नहीं है अगर मार लीजिए ठीक है आप कुछ अच्छा करना चाहते हैं तो आप अपने बीते हुए कल को अगर आप देखें अपने कल को कि मैंने कि मैं असफल रहा है मेरा बीता हुआ कल अच्छा नहीं है तो फिर उस चीज को याद करके आप अगर उसे याद करेंगे तो वह आपके प्रजेंट में भी डिस्टर्ब करेगा तो मेरे हिसाब से किसी भी चीज को याद करने की जरूरत नहीं है चाहे वह अच्छी चीज हो चाहे बुरी हो बीते हुए कल को पीछे छोड़ दे आगे बढ़े आज को संभाले जिससे आपका भविष्य समझ सके तो आज आपको अपना वर्तमान संभावना है आगे बढ़ना है इस बात का जरूर ध्यान रखें कि इंसान जमीन से जुड़ा हो तभी जाकर उसकी हैसियत या फिर उस वह आगे बहुत ही अग्रसर होता है और आगे चलकर कामयाब होता है तो इंसान को अपने जमीन से जुड़ा रहना चाहिए जमीनी होना चाहिए बाकी चीजें याद करने की जरूरत नहीं है आप और निरंतर आगे प्रयास करके बढ़ते रहे वर्तमान को संभाले जिससे आपका भविष्य

dekhiye sawaal bahut hi dilchasp hai aap sabhi ko sabse pehle namaskar dekhiye hum apne past ko mein hui kuch ghatnaon ko yaad rakhte jaise koi cheez hamare humne koi experience kiya ho koi bed experience kiya ho koi aisi cheez jo hamein takleef pahunchai ho ya dil tak jo bhi ho use hum yaad rakhte hain aur baki sab cheezen jaise humne kaha hum bahut zyada khush hue the ya phir bahut saree aisi cheezen jo hamein yaad nahi rehti toh hum apni achi chijon ko bhool jaate hain overall dekha jaaye toh hum bhool bhool hi jaate hain bahut kam log aise milte hain jinako apna fast mein hui achi cheezen yaad rehti hai ya toh rehti hai lekin vaah smriti ki tarah hoti hai ki use yaad karne par yaad aati hain toh like waise hi hai kadavi cheezen agar aapne experience kiya aapne zindagi mein toh use bhi yaad karne ki koi zarurat nahi hai agar maar lijiye theek hai aap kuch accha karna chahte hain toh aap apne bite hue kal ko agar aap dekhen apne kal ko ki maine ki main asafal raha hai mera bita hua kal accha nahi hai toh phir us cheez ko yaad karke aap agar use yaad karenge toh vaah aapke present mein bhi disturb karega toh mere hisab se kisi bhi cheez ko yaad karne ki zarurat nahi hai chahen vaah achi cheez ho chahen buri ho bite hue kal ko peeche chod de aage badhe aaj ko sambhale jisse aapka bhavishya samajh sake toh aaj aapko apna vartaman sambhavna hai aage badhana hai is baat ka zaroor dhyan rakhen ki insaan jameen se juda ho tabhi jaakar uski haisiyat ya phir us vaah aage bahut hi agrasar hota hai aur aage chalkar kamyab hota hai toh insaan ko apne jameen se juda rehna chahiye zameeni hona chahiye baki cheezen yaad karne ki zarurat nahi hai aap aur nirantar aage prayas karke badhte rahe vartaman ko sambhale jisse aapka bhavishya

देखिए सवाल बहुत ही दिलचस्प है आप सभी को सबसे पहले नमस्कार देखिए हम अपने पास्ट को में हुई क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!