हमेशा दिल ही क्यों दिया जाता है दिमाग क्यों नहीं?...


play
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

1:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह लेनदेन के चक्कर में आकर खड़े रिश्ते खराब हो रहे हैं इस जमाने में आप प्यार कर सकते हैं बिना दिल और दिमाग भी आपसे किसने कहा कि अगर आप किसी को प्यार करते हैं तो आपको दिल देना चाहिए और उनका दिल आपको लेना चाहिए यह क्या कोई फिल्म की बात है क्या कोई सर्जरी की बात हो रही थी कि दिल आप ट्रांसप्लांट कर रहे हैं अपने दिल को अपने पास रखिए हिफाजत से रखिए और उनको भी अपने पास ही रखें हमें टेंडर सुनिश्चित नहीं चाहिए जहां पर लेनदेन हो बिल्कुल अपने दिल को अपने पास रखकर आप उतना ही उससे कहीं ज्यादा प्यार कर सकते हैं क्योंकि वहां पर एक नोट आपको डिपेंडेंट लेशन शिप आप दोनों से सफिशिएंट लोग हैं जो अपने बलबूते पर खुश रह सकते हैं और दूसरों को भी उसके बाद आप उनको कुछ कर सकते आप नहीं भी इंसान नहीं है तो दिल या दिमाग दोनों देने की जरूरत नहीं है जहां पर आप दिल देते हैं वहां पर आपको इमोशनली ब्लैकमेल किया जा सकता है आपको दुख हो जहां पर आप दिमाग देंगे तो कोई आपको मजबूत कर सकता है कोई आपको मैंने फ्रेट कर सकता है आपके साथ खेल सकता है आपको नचा सकता है तो आपको क्या लगता है दिल ले देना चाहिए दिमाग चाहिए मेरे हिसाब से दोनों ही नहीं देना चाहिए दोनों अपने पास रखें फिर भी रिश्ते बनाए और खुश रहें

dekhiye yah lenden ke chakkar mein aakar khade rishte kharab ho rahe hain is jamane mein aap pyar kar sakte hain bina dil aur dimag bhi aapse kisne kaha ki agar aap kisi ko pyar karte hain toh aapko dil dena chahiye aur unka dil aapko lena chahiye yah kya koi film ki baat hai kya koi surgery ki baat ho rahi thi ki dil aap transplant kar rahe hain apne dil ko apne paas rakhiye hifajat se rakhiye aur unko bhi apne paas hi rakhen hamein tender sunishchit nahi chahiye jaha par lenden ho bilkul apne dil ko apne paas rakhakar aap utana hi usse kahin zyada pyar kar sakte hain kyonki wahan par ek note aapko dependent leshan ship aap dono se sufficient log hain jo apne balbute par khush reh sakte hain aur dusro ko bhi uske baad aap unko kuch kar sakte aap nahi bhi insaan nahi hai toh dil ya dimag dono dene ki zarurat nahi hai jaha par aap dil dete hain wahan par aapko emotionally blackmail kiya ja sakta hai aapko dukh ho jaha par aap dimag denge toh koi aapko majboot kar sakta hai koi aapko maine freight kar sakta hai aapke saath khel sakta hai aapko nacha sakta hai toh aapko kya lagta hai dil le dena chahiye dimag chahiye mere hisab se dono hi nahi dena chahiye dono apne paas rakhen phir bhi rishte banaye aur khush rahein

देखिए यह लेनदेन के चक्कर में आकर खड़े रिश्ते खराब हो रहे हैं इस जमाने में आप प्यार कर सकते

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  472
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न बहुत ही अच्छा है इंटरेस्टेड आपका प्रश्न ठीक है हमेशा दिल ही क्यों दिया जाता है दिमाग क्यों नहीं कवि जो होते हैं शायर जो होते वह लोग हमेशा दिल का उपयोग करते हैं तब से दिल दिल दिल दिल ही चल रहा है दिल चल रहा है मन चल रहा है दिमाग नहीं चल रहा है बाकी रियल में देखा जाए तो लोग दिमाग का गदा उपयोग करते दिल का कम ठीक है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद बुल्लब्बई लाइफ एंजॉय

aapka prashna bahut hi accha hai interested aapka prashna theek hai hamesha dil hi kyon diya jata hai dimag kyon nahi kavi jo hote hain shayar jo hote vaah log hamesha dil ka upyog karte hain tab se dil dil dil dil hi chal raha hai dil chal raha hai man chal raha hai dimag nahi chal raha hai baki real mein dekha jaaye toh log dimag ka gada upyog karte dil ka kam theek hai aapka din shubha ho dhanyavad bullabbai life enjoy

आपका प्रश्न बहुत ही अच्छा है इंटरेस्टेड आपका प्रश्न ठीक है हमेशा दिल ही क्यों दिया जाता है

Romanized Version
Likes  303  Dislikes    views  4334
WhatsApp_icon
user

Rajat sharma

वलको प्रोडक्ट

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिल इसलिए दिया जाता है कि दिल दिल से सोचने वाला इंसान हमेशा अच्छा होगा और दिल का साफ होगा दिमाग से सोचने वाला इंसान आपको आने वाले समय में यूज करेगा और आपसे हमेशा काम निकल जाता रहेगा वह भी आप के सामने बहुत प्यार से बोल कर दिल दिल भी दीजिए दिल से काम भी कीजिए बड़ा दिल से काम भी कीजिए पर थोड़ा सोचो कि आज की दुनिया फायदा उठाने वाले बहुत लोगों के साथ आने वाला इंसान

dil isliye diya jata hai ki dil dil se sochne vala insaan hamesha accha hoga aur dil ka saaf hoga dimag se sochne vala insaan aapko aane waale samay mein use karega aur aapse hamesha kaam nikal jata rahega vaah bhi aap ke saamne bahut pyar se bol kar dil dil bhi dijiye dil se kaam bhi kijiye bada dil se kaam bhi kijiye par thoda socho ki aaj ki duniya fayda uthane waale bahut logo ke saath aane vala insaan

दिल इसलिए दिया जाता है कि दिल दिल से सोचने वाला इंसान हमेशा अच्छा होगा और दिल का साफ होगा

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  83
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!