आप अपने बारे में क्या सोचते हो?...


user

Saurabh Kumar

Biology student

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप मेरे बारे में सोचना चाहते हैं कि मैं क्या सोचता हूं क्या करना चाहता हूं क्या नहीं करना चाहता हूं तुम्हें सांप से बात बता देना चाहता हूं आपको कि मैं अपने बारे में बस यही सोचता हूं तो मैं पहले एक खुद इस योग्य व्यक्ति बन जाऊं और एक योग्यता कहने का मतलब यह हुआ कि मैं एक बिजनेसमैन बनना चाहता हूं जिससे कि मैं खुद एक सफल बिजनेसमैन बनो साथ में बहुत सारे लोगों को बिज़नस दे सबको बहुत सारे लोग मेरे अंदर काम करें उनकी रोजगार रोजी रोटी मेरी जिम्मेदारी हो मैं यह चाहता हूं मेरी यह सोच सिर्फ मैं खुद एक सफल व्यक्ति बन जाऊं मेरी यह सोच नहीं है बल्कि मेरे अंदर जो है उसकी जिम्मेदारी मेरी होगी मेरी सोच इतनी सी है और एक स्वच्छ भारत समृद्ध भारत हो भ्रष्टाचार मुक्त सारी कानून व्यवस्था हो क्योंकि मैं कहीं भी जाता हूं किसी भी ऑफिस में अपना छोटा सा भी काम कराने के लिए तू हमें घूस देना पड़ता है मैं खुद कितनी बार देख चुका हूं मैं यह चाहता हूं कि कम से कम यह भ्रष्टाचार खत्म हो जाए बस वाली प्रथा खत्म हो जाए

aap mere bare mein sochna chahte hain ki main kya sochta hoon kya karna chahta hoon kya nahi karna chahta hoon tumhe saap se baat bata dena chahta hoon aapko ki main apne bare mein bus yahi sochta hoon toh main pehle ek khud is yogya vyakti ban jaaun aur ek yogyata kehne ka matlab yah hua ki main ek bussinessmen banna chahta hoon jisse ki main khud ek safal bussinessmen bano saath mein bahut saare logo ko business de sabko bahut saare log mere andar kaam kare unki rojgar rozi roti meri jimmedari ho main yah chahta hoon meri yah soch sirf main khud ek safal vyakti ban jaaun meri yah soch nahi hai balki mere andar jo hai uski jimmedari meri hogi meri soch itni si hai aur ek swachh bharat samriddh bharat ho bhrashtachar mukt saree kanoon vyavastha ho kyonki main kahin bhi jata hoon kisi bhi office mein apna chota sa bhi kaam karane ke liye tu hamein ghus dena padta hai khud kitni baar dekh chuka hoon main yah chahta hoon ki kam se kam yah bhrashtachar khatam ho jaaye bus wali pratha khatam ho jaaye

आप मेरे बारे में सोचना चाहते हैं कि मैं क्या सोचता हूं क्या करना चाहता हूं क्या नहीं करना

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  520
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
soch aapki ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!