प्यार मैरिज और अर्रंगे मैरिज में फर्क क्या है?...


user

Kundan

backwoodsman brean&body Research

3:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्यार मेरी ओर अरेंज मैरिज पर क्या है अगर आप इसे सवाल को ही ध्यान से देख लेंगे तो आपको पता चल जाएगा सवाल का आंसर गया है लेकिन फिर भी मैं दे देता हूं जो आप क्या तू दोनों में अंतर क्या होता है तो पहला है लव मैरिज पकड़ते हैं लव मैरिज में अंतर क्या है लो मेरे क्या होता है लो मेरे ऐसा नहीं है कि उसे प्लान किया जाता है ठीक है लव मैरिज को प्लेन नहीं किया जाता है कि हां मैं इस लड़की से उधर जाकर मिलूंगा इस लड़के से मैं इधर जाकर मिलूंगी तो मेरे साथ मुझे इससे प्यार हो जाएगा फिर हम दोनों आगे जाकर शादी करेंगे ठीक है लव मैरिज में क्या होता है सब कुछ इंसटैंटली होता है होता है जाते नहीं किया नहीं जाता हो जाता है सब कुछ हो जाता है ठीक है आप गए आपको चलते चलते किसी पर आप की नजर पड़ गई वह आपको अंदर से काफी हैंडसम या फिर काफी खूबसूरत लगा और आपको से प्यार हो गया फिर आपने उसे पाने की इच्छा की लड़की को भी पसंद आया तो दोनों का मिलन हो गया ठीक है तो लव हो गया सीधी से बात अब यह भी लेशंस आगे जाकर बढ़ता है बढ़ता है और आगे जाकर बढ़ने पर एक ऐसा समय आता है जब दोनों एक डिसीजन लेता है कि हम शादी कर लेते हैं ठीक है तो लव मैरिज में शादी हो जाती है ठीक है तो इसमें क्या होता है लव मैरिज में कि दोनों पहले से एक दूसरे को जानते हैं दोनों एक दूसरे की कमियां जानते हैं खुफिया जानते हैं दोनों एक दूसरे के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं कि कौन कितना पानी में है ठीक है या को यह गुस्से वाला है यह हंसमुख है या फिर यह कटर है ठीक है तू यह लव मैरिज में सब कुछ पहले से ही पता होता है अब बात करते हैं अरेंज मैरिज में क्या होता है यह प्लान होता है हम प्ले नहीं करते हैं ठीक है हमारे घर वाले करते हैं अरे मेरे मेरे ख्याल से ज्यादातर घर वालों की तरफ से ही होता है कि घर वाले रिश्ते ढूंढते हैं वह जाकर पहले लड़की को देखते हैं पसंद करते हैं या फिर पंडित उनके पास फोटो लेकर आता है फिर फोटो देखकर पसंद करते हैं फिर उनके घर का रिश्ता लेकर जाते हैं उनके फैमिली से मिलते हैं मतलब सब कुछ जांच पड़ताल के साथ जाने के बाद फिर रिश्ता तय होता है अब इसमें लड़की के लिए एकदम नया होता है लड़के को घर वालों से उस लड़की के घरवालों से तो शादी कर रही नहीं है वह लड़का घर वालों से कोई जान पहचान भी नहीं है मेरे ख्याल से ज्यादा बना पाता हुआ बनाता है ठीक है आप शादी कैसे करता है लड़की से अब दोनों के लिए चीजें नहीं होती है यह एकदम गिफ्ट बॉक्स की तरह होता है पता नहीं खोलने पर उनसे तो तुम्हें जो चाहिए वह ही मिले या फिर तुम्हें जो नहीं चाहिए वह मिल जाए या फिर अच्छा भी हो सकते हैं बुरा भी हो सकता है इसमें कोई गारंटी नहीं था पंडित भी गारंटी नहीं देगा ठीक है चले इसके गुण कितने भी मिलते हो आगे राकेश विवाह सफल हुआ ठीक है तुम्हारी मेरे में यही अंतर होता है वैसे तो घंटी दोनों ने नहीं ली जा सके ताकि दोनों आगे जाकर सफल होंगे ओके ना रेंज में ना लव मैरिज में बसंत इतना ही अंतर है और क्या है लास्ट में दोनों की दोनों में शादी होनी है बस उसमें पहले से ही जानते हो तुम अपना नाम बताओ हमसफर को और दूसरे में नहीं जानते वह चल जानते जानते जानते हो मतलब शादी के बाद उसके साथ दिन कटते हैं समय कट बिताते हो उसके बाद धीरे-धीरे करके जानते हो तो यही अंतर है और कुछ है अंतर है नहीं

pyar meri aur arrange marriage par kya hai agar aap ise sawaal ko hi dhyan se dekh lenge toh aapko pata chal jaega sawaal ka answer gaya hai lekin phir bhi main de deta hoon jo aap kya tu dono mein antar kya hota hai toh pehla hai love marriage pakadten hain love marriage mein antar kya hai lo mere kya hota hai lo mere aisa nahi hai ki use plan kiya jata hai theek hai love marriage ko plane nahi kiya jata hai ki haan main is ladki se udhar jaakar milunga is ladke se main idhar jaakar milungi toh mere saath mujhe isse pyar ho jaega phir hum dono aage jaakar shadi karenge theek hai love marriage mein kya hota hai sab kuch insataintali hota hai hota hai jaate nahi kiya nahi jata ho jata hai sab kuch ho jata hai theek hai aap gaye aapko chalte chalte kisi par aap ki nazar pad gayi vaah aapko andar se kaafi handsome ya phir kaafi khoobsurat laga aur aapko se pyar ho gaya phir aapne use paane ki iccha ki ladki ko bhi pasand aaya toh dono ka milan ho gaya theek hai toh love ho gaya seedhi se baat ab yah bhi leshans aage jaakar badhta hai badhta hai aur aage jaakar badhne par ek aisa samay aata hai jab dono ek decision leta hai ki hum shadi kar lete hain theek hai toh love marriage mein shadi ho jaati hai theek hai toh isme kya hota hai love marriage mein ki dono pehle se ek dusre ko jante hain dono ek dusre ki kamiyan jante hain khufiya jante hain dono ek dusre ke bare mein achi tarah se jante hain ki kaun kitna paani mein hai theek hai ya ko yah gusse vala hai yah hansamukh hai ya phir yah Cutter hai theek hai tu yah love marriage mein sab kuch pehle se hi pata hota hai ab baat karte hain arrange marriage mein kya hota hai yah plan hota hai hum play nahi karte hain theek hai hamare ghar waale karte hain are mere mere khayal se jyadatar ghar walon ki taraf se hi hota hai ki ghar waale rishte dhoondhate hain vaah jaakar pehle ladki ko dekhte hain pasand karte hain ya phir pandit unke paas photo lekar aata hai phir photo dekhkar pasand karte hain phir unke ghar ka rishta lekar jaate hain unke family se milte hain matlab sab kuch jaanch padatal ke saath jaane ke baad phir rishta tay hota hai ab isme ladki ke liye ekdam naya hota hai ladke ko ghar walon se us ladki ke gharwaalon se toh shadi kar rahi nahi hai vaah ladka ghar walon se koi jaan pehchaan bhi nahi hai mere khayal se zyada bana pata hua banata hai theek hai aap shadi kaise karta hai ladki se ab dono ke liye cheezen nahi hoti hai yah ekdam gift box ki tarah hota hai pata nahi kholne par unse toh tumhe jo chahiye vaah hi mile ya phir tumhe jo nahi chahiye vaah mil jaaye ya phir accha bhi ho sakte hain bura bhi ho sakta hai isme koi guarantee nahi tha pandit bhi guarantee nahi dega theek hai chale iske gun kitne bhi milte ho aage rakesh vivah safal hua theek hai tumhari mere mein yahi antar hota hai waise toh ghanti dono ne nahi li ja sake taki dono aage jaakar safal honge ok na range mein na love marriage mein basant itna hi antar hai aur kya hai last mein dono ki dono mein shadi honi hai bus usme pehle se hi jante ho tum apna naam batao humsafar ko aur dusre mein nahi jante vaah chal jante jante jante ho matlab shadi ke baad uske saath din katate hain samay cut Bitate ho uske baad dhire dhire karke jante ho toh yahi antar hai aur kuch hai antar hai nahi

प्यार मेरी ओर अरेंज मैरिज पर क्या है अगर आप इसे सवाल को ही ध्यान से देख लेंगे तो आपको पता

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  69
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!